M.S.Chauhan
M.S.Chauhan Mar 6, 2021

*शुभ दिन शनिवार* *॥●॥ जय श्रीराम ॥●॥* *श्री राम कथा जरूर पढ़ें जी* *हनुमान जी जब संजीवनी बूटी का पर्वत लेकर लौटते है तो भगवान से कहते है:- ''प्रभु आपने मुझे संजीवनी बूटी लेने नहीं भेजा था, बल्कि मेरा भ्रम दूर करने के लिए भेजा था, और आज मेरा ये भ्रम टूट गया कि मैं ही आपका राम नाम का जप करने वाला सबसे बड़ा भक्त हूँ''।* *भगवान बोले:- वो कैसे ...?* *हनुमान जी बोले:- वास्तव में मुझसे भी बड़े भक्त तो भरत जी है, मैं जब संजीवनी लेकर लौट रहा था तब मुझे भरत जी ने बाण मारा और मैं गिरा, तो भरत जी ने, न तो संजीवनी मंगाई, न वैध बुलाया।* *कितना भरोसा है उन्हें आपके नाम पर, उन्होंने कहा कि यदि मन, वचन और शरीर से श्री राम जी के चरण कमलों में मेरा निष्कपट प्रेम हो, यदि रघुनाथ जी मुझ पर प्रसन्न हो तो यह वानर थकावट और पीड़ा से रहित होकर स्वस्थ हो जाए।* *उनके इतना कहते ही मैं उठ बैठा।* *सच कितना भरोसा है भरत जी को आपके नाम पर।* *🔥शिक्षा :- 🔥* *हम भगवान का नाम तो लेते है पर भरोसा नही करते, भरोसा करते भी है तो अपने पुत्रो एवं धन पर, कि बुढ़ापे में बेटा ही सेवा करेगा, धन ही साथ देगा।* *उस समय हम भूल जाते है कि जिस भगवान का नाम हम जप रहे है वे है, पर हम भरोसा नहीं करते।* *बेटा सेवा करे न करे पर भरोसा हम उसी पर करते है।* *🔥दूसरी बात प्रभु...! 🔥* *बाण लगते ही मैं गिरा, पर्वत नहीं गिरा, क्योकि पर्वत तो आप उठाये हुए थे और मैं अभिमान कर रहा था कि मैं उठाये हुए हूँ।* *मेरा दूसरा अभिमान भी टूट गया।* *🔥शिक्षा :- 🔥* *हमारी भी यही सोच है कि, अपनी गृहस्थी का बोझ को हम ही उठाये हुए है।* *जबकि सत्य यह है कि हमारे नहीं रहने पर भी हमारा परिवार चलता ही है।* *जीवन के प्रति जिस व्यक्ति कि कम से कम शिकायतें है, वही इस जगत में अधिक से अधिक सुखी है।* *🔥जय श्री सीताराम जय श्री बालाजी🔥* *लेख को पढ़ने के उपरांत जनजागृति हेतु साझा अवश्य करे।* *ये राम नाम बहुत ही सरल सरस ,मधुर,ओरअति मन भावन है मित्रो----- जिंदगी के साथ भी ओर जिंदगी के बाद भी* *⛳जय श्री राम⛳*

*शुभ दिन शनिवार* 
*॥●॥ जय श्रीराम ॥●॥* 
*श्री राम कथा जरूर पढ़ें जी*
*हनुमान जी जब संजीवनी बूटी का पर्वत लेकर लौटते है तो भगवान से कहते है:- ''प्रभु आपने मुझे संजीवनी बूटी लेने नहीं भेजा था, बल्कि मेरा भ्रम दूर करने के लिए भेजा था, और आज मेरा ये भ्रम टूट गया कि मैं ही आपका राम नाम का जप करने वाला सबसे बड़ा भक्त हूँ''।*

*भगवान बोले:- वो कैसे ...?*

*हनुमान जी बोले:- वास्तव में मुझसे भी बड़े भक्त तो भरत जी है, मैं जब संजीवनी लेकर लौट रहा था तब मुझे भरत जी ने बाण मारा और मैं गिरा, तो भरत जी ने, न तो संजीवनी मंगाई, न वैध बुलाया।*

*कितना भरोसा है उन्हें आपके नाम पर, उन्होंने कहा कि यदि मन, वचन और शरीर से श्री राम जी के चरण कमलों में मेरा निष्कपट प्रेम हो, यदि रघुनाथ जी मुझ पर प्रसन्न हो तो यह वानर थकावट और पीड़ा से रहित होकर स्वस्थ हो जाए।*
*उनके इतना कहते ही मैं उठ बैठा।*
*सच कितना भरोसा है भरत जी को आपके नाम पर।*

*🔥शिक्षा :- 🔥*
*हम भगवान का नाम तो लेते है पर भरोसा नही करते, भरोसा करते भी है तो अपने पुत्रो एवं धन पर, कि बुढ़ापे में बेटा ही सेवा करेगा, धन ही साथ देगा।*

*उस समय हम भूल जाते है कि जिस भगवान का नाम हम जप रहे है वे है, पर हम भरोसा नहीं करते।*

*बेटा सेवा करे न करे पर भरोसा हम उसी पर करते है।*

*🔥दूसरी बात प्रभु...! 🔥*

*बाण लगते ही मैं गिरा, पर्वत नहीं गिरा, क्योकि पर्वत तो आप उठाये हुए थे और मैं अभिमान कर रहा था कि मैं उठाये हुए हूँ।*

*मेरा दूसरा अभिमान भी टूट गया।*

*🔥शिक्षा :- 🔥*
*हमारी भी यही सोच है कि, अपनी गृहस्थी का बोझ को हम ही उठाये हुए है।*
*जबकि सत्य यह है कि हमारे नहीं रहने पर भी हमारा परिवार चलता ही है।*

*जीवन के प्रति जिस व्यक्ति कि कम से कम शिकायतें है, वही इस जगत में अधिक से अधिक सुखी है।*
 *🔥जय श्री सीताराम जय श्री बालाजी🔥*

*लेख को पढ़ने के उपरांत जनजागृति हेतु साझा अवश्य करे।*
*ये राम नाम बहुत ही  सरल सरस ,मधुर,ओरअति मन भावन है मित्रो----- जिंदगी के साथ भी ओर जिंदगी के बाद भी*
          *⛳जय श्री राम⛳*

+171 प्रतिक्रिया 30 कॉमेंट्स • 367 शेयर

कामेंट्स

JAI MAA VAISHNO Mar 6, 2021
SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHESHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHESHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE

मेरे साईं (indian women) Mar 6, 2021
🌹🙏जय श्री शनिदेव जय श्री हनुमान जी 🥦🥦🥦🥦🥦🥦🥦🥦 🌷🌷शुभ शनिवार 🌷 🥀🍀 सुप्रभात 🥀🍀 स्नेह 🥀🍀वंदन 🥀🍀 जी🥀🍀आपका 🥀🍀शुभ 🥀🍀दिन 🥀🍀मंगलमय 🥀🍀 हो 🍀🥀 🙏🙏🙏🙏

sanjay choudhary Mar 6, 2021
🙏🙏 जय शनिदेव 🙏🙏 ।।।।। शुभ प्र्भात् जी।।।। 🕉 *हँसते हुये चेहरों का अर्थ ये नही कि* *इनके जीवन में दुखों की* *गैरहाजिरी है,* *बल्कि* *इनके अन्दर* *परिस्थितियों को* *सँभालने की क्षमता है ।*🕉 *🌿🌹🙏🙏शुभप्रभात🙏🙏🌹🌿*

Madhuben patel Mar 6, 2021
जय सियाराम जी स्नेहनुराग प्रभात की स्नेहवंदन भाईजी आपका हर पल मंगलमय हो भाईजी

Sanjay Rastogi Mar 6, 2021
jai shri Ram jai veer Hanuman ji subh prabhat vandan Ram Ram ji

Renu Singh Mar 6, 2021
Shubh Shaniwar 🙏🌹Bhai Ji Sita Jayanti ki Hardik Shubh Kamnayein Ji 🙏 Shanidev Ji ki kripa Aap aur Aàpke Pariwar pr Sadaiv Bni rhe Aàpka Din Shubh ho Bhai Ji 🙏🌹

sunita yadav Mar 6, 2021
जय सियाराम🙏🙏💐💐💐💐💐

🇮🇳🇮🇳GEETA DEVI🇮🇳🇮🇳 Mar 6, 2021
🌹🙏JAI SHREE SANIDEV MAHARAJ JI 🙏🌹 🌷🌷JAI SHREE RAM 🌷🌷 GOOD MORNING JEE... 🎉 GOD BLESS U ALWAYS BE HAPPY... 🙏🙏🌹🌹 HAVE A GREAT DAY... 🙏🙏💐💐

HAZARI LAL JAISWAL Mar 6, 2021
जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री बजरंग बली जी ऊं हनुमते नमः 🙏🙏 शुभ प्रभात वंदन जी

JAI MAA VAISHNO Mar 6, 2021
SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHESHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHESHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE SHREE RADHE

My Mandir Apr 11, 2021

+321 प्रतिक्रिया 58 कॉमेंट्स • 67 शेयर

+140 प्रतिक्रिया 29 कॉमेंट्स • 134 शेयर
Garima Gahlot Rajput Apr 11, 2021

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 39 शेयर
M.S.Chauhan Apr 11, 2021

*कोरोना संक्रमण से सावधान रहें* *कोरोना वैक्सीन के दो ङोज लेने के बाद भी संक्रमित होने का कारण जानने लायक है।* ▪️*कोरोना वैक्सीन के पहले डोज के 28 दिन से 60 दिन बाद दूसरा डोज लेना होता है।* ▪️*वैक्सीन शरीर में प्रवेश करने के तुरंत बाद ही एंटीबाॅडी बनाना शुरू कर देता है।* ▪️*जब हमारे शरीर में एंटीबाॅडी बन रहा होता है तो हमारी इम्युनिटी बहुत कम हो जाती है।* ▪️*जब 28 दिन बाद वैक्सीन का दूसरा डोज लेते हैं तो उस समय हमारी इम्युनिटी और भी कम हो जाती है।* ▪️*दूसरे डोज के 14 दिन बाद हमारे शरीर में एंटीबाॅडी पूरी तरह बन जाते हैं तो हमारी इम्युनिटी तेजी से बढ़ने लगती है।* ▪️*इस डेढ महिने के दौरान इम्युनिटी कम रहने के कारण कोरोना वायरस के हमारे शरीर में प्रवेश करने की संभावना बहुत ज्यादा रहती है।* *उससे कोरोना का संक्रमण हो जाता है।* ▪️*जिससे इस डेढ महिने के दौरान घर के बाहर निकलना बहुत रिस्की रहता है।* ▪️*वैक्सीन के दो डोज लेने के बाद भी आप कोरोना का शिकार बन सकते है।* ▪️*डेढ महिने के बाद 100 से 200 गुना इम्युनिटी पावर हमारे शरीर में बन जाती है, उसके बाद आप सुरक्षित हो।* ▪️*पहले डोज से डेढ महिने तक ध्यान से एवं सुरक्षित रहने की जरूरत है।* *इसलिए* ▪️*मास्क जरूर पहनें* ▪️*जरूरी हो तो ही घर से बाहर निकलें* ▪️*आकर गरम पानी से स्नान करें।* ▪️*बच्चे और बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें।* ▪️*इस समय का अफ्रीकन स्ट्रैन पूरे परिवार को एक साथ चपेट में लेता है।* ▪️*परिवार की खातिर सचेत रहें और सुरक्षित रहें।* ●◆●◆●◆ *यदि आपको Corona को हराना चाहते हो तो कृपा करके ये सब ज्यादा से ज्यादा अपनाइए।* ◆●◆●◆◆◆● *आप सभी से निवेदन है कि कोरोना की दूसरी लहर का संक्रमण पहले से ज्यादा सतर्कता मांगता है* *शहरों के हॉस्पिटल में जगह नहीं मिल रही है,सारी पहचान पैसा कुछ भी काम नहीं आ रहा है!* -----///------ *सिर्फ और सिर्फ अपने आप को* *बचाना ही एक मात्र उपाय है।* --- ---///----- *सभी परिवार के सदस्य कृपया ध्यान दें:* *01 कोई भी खाली पेट न रहे* *02 उपवास न करें* *03 रोज थोड़ी देर धूप में रहें। *04 यदि हो सके तो AC का प्रयोग न करें* *05 गरम पानी पिएं, गले को गीला रखें* *06 सरसों का तेल नाक में लगाएं* *07 घर में कपूर व गूगल जलाएं* *08 आधा चम्मच सोंठ हर सब्जी में डालें* *09 दालचीनी का प्रयोग करें* *10 रात को एक कप दुध में हल्दी डालकर पिये* *11 हो सके तो एक चम्मच चवनप्राश खाएं* *12 घर में कपूर और लौंग डाल कर धूनी दें* *13 सुबह की चाय में एक लौंग डाल कर पिएं* *14 फल में सिर्फ संतरा ज्यादा से ज्यादा खाएं* *15. आंवला किसी भी रुप में चाहे अचार, मुरब्बा,चूर्ण इत्यादि खाएं।* ●◆●◆●◆ *🙏हाथ जोड़ कर प्रार्थना है, अपने जानने वालों को भी यह जानकारी भेजें।🙏* ●◆●◆●◆ *दूध में हल्दी आपके शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाएगा।* ●◆●◆●◆ *🙏🏼 सभी से मेरी अपील है इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें* 🌷🙋‍♀️😷🙏😷🙋‍♀️🌷

+64 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 235 शेयर
Poonam Aggarwal Apr 11, 2021

💗💗* जय श्री राधे गोविंद*💗💗🙏 💗💗💗💗💗💗💗💗💗 🌹🍃🌹🍃🌅🍃🌹🍃🌹🍃 ‼️‼️ राधे राधे जी ‼️‼️🙏 सुन्दर सुबह का मीठा मीठा नमस्कार..😊☺ ना कोई राह़ आसान चाहिए,,, ना ही हमें कोई पहचान चाहिए,,, एक चीज माँगते रोज भगवान से,,,दोस्तों व् रिस्तेदारो के चेहरे पे हर पल,,, प्यारी सी मुस्कान चाहिये !!! 🙏 सुप्रभात : 👌👌👌👌🌹🌹🌹🌹 *गुजरी हुई जिंदगी को* *कभी याद ना कर* *तकदीर में जो लिखा है* *उसकी फरियाद ना कर* *जो होना होगा वो होकर रहेगा* *तु कल की फिकर में* *अपनी आज की हंसी बर्बाद ना कर.* *हंस मरते हुए भी गाता है और* *मोर नाचते हुए भी रोता है.* *ये जिंदगी का फंडा है* *दुखो वाली रात नींद नहीं आती* *" और " खुशी वाली रात कौन सोता है* 🪴🪴🪴🪴🪴🪴🪴🪴 🎉🎉🎉🎉🎉🎉🎉🎉 ‼️‼️ राम राम सा जय श्री कृष्णा ‼️‼️🙏 ‼️🍃‼️🍃‼️🍃‼️🍃‼️

+130 प्रतिक्रिया 21 कॉमेंट्स • 315 शेयर
Anita Sharma Apr 11, 2021

।। सुखों की परछाई ।। . एक रानी अपने गले का हीरों का हार निकाल कर खूंटी पर टांगने वाली ही थी कि एक बाज आया और झपटा मारकर हार ले उड़ा. . चमकते हीरे देखकर बाज ने सोचा कि खाने की कोई चीज हो. वह एक पेड़ पर जा बैठा और खाने की कोशिश करने लगा. . हीरे तो कठोर होते हैं. उसने चोंच मारा तो दर्द से कराह उठा. उसे समझ में आ गया कि यह उसके काम की चीज नहीं. वह हार को उसी पेड़ पर लटकता छोड़ उड़ गया. . रानी को वह हार प्राणों सा प्यारा था. उसने राजा से कह दिया कि हार का तुरंत पता लगवाइए वरना वह खाना-पीना छोड़ देगी. राजा ने कहा कि दूसरा हार बनवा देगा लेकिन उसने जिद पकड़ ली कि उसे वही हार चाहिए. सब ढूंढने लगे पर किसी को हार मिला ही नहीं. रानी तो कोप भवन में चली गई थी. हारकर राजा ने यहां तक कह दिया कि जो भी वह हार खोज निकालेगा उसे वह आधे राज्य का अधिकारी बना देगा. . अब तो होड़ लग गई. राजा के अधिकारी और प्रजा सब आधे राज्य के लालच में हार ढूंढने लगे. . अचानक वह हार किसी को एक गंदे नाले में दिखा. हार दिखाई दे रहा था, पर उसमें से बदबू आ रही थी लेकिन राज्य के लोभ में एक सिपाही कूद गया. . बहुत हाथ-पांव मारा, पर हार नहीं मिला. फिर सेनापति ने देखा और वह भी कूद गया. दोनों को देख कुछ उत्साही प्रजा जन भी कूद गए. फिर मंत्री कूदा. . इस तरह जितने नाले से बाहर थे उससे ज्यादा नाले के भीतर खड़े उसका मंथन कर रहे थे. लोग आते रहे और कूदते रहे लेकिन हार मिला किसी को नहीं. . जैसे ही कोई नाले में कूदता वह हार दिखना बंद हो जाता. थककर वह बाहर आकर दूसरी तरफ खड़ा हो जाता. आधे राज्य का लालच ऐसा कि बड़े-बड़े ज्ञानी, राजा के प्रधानमंत्री सब कूदने को तैयार बैठे थे. सब लड़ रहे थे कि पहले मैं नाले में कूदूंगा तो पहले मैं. अजीब सी होड़ थी. . इतने में राजा को खबर लगी. राजा को भय हुआ कि आधा राज्य हाथ से निकल जाए, क्यों न मैं ही कूद जाऊं उसमें ? राजा भी कूद गया. . एक संत गुजरे उधर से. उन्होंने राजा, प्रजा, मंत्री, सिपाही सबको कीचड़ में सना देखा तो चकित हुए. . वह पूछ बैठे- क्या इस राज्य में नाले में कूदने की कोई परंपरा है ? लोगों ने सारी बात कह सुनाई. . संत हंसने लगे, भाई ! किसी ने ऊपर भी देखा ? ऊपर देखो, वह टहनी पर लटका हुआ है. नीचे जो तुम देख रहे हो, वह तो उसकी परछाई है. राजा बड़ा शर्मिंदा हुआ. हम सब भी उस राज्य के लोगों की तरह बर्ताव कर रहे हैं. हम जिस सांसारिक चीज में सुख-शांति और आनंद देखते हैं दरअसल वह उसी हार की तरह है जो क्षणिक सुखों के रूप में परछाई की तरह दिखाई देता है। . हम भ्रम में रहते हैं कि यदि अमुक चीज मिल जाए तो जीवन बदल जाए, सब अच्छा हो जाएगा. लेकिन यह सिलसिला तो अंतहीन है. . सांसारिक चीजें संपूर्ण सुख दे ही नहीं सकतीं. सुख शांति हीरों का हार तो है लेकिन वह परमात्मा में लीन होने से मिलेगा. बाकी तो सब उसकी परछाई है।

+19 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 33 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB