sapan das
sapan das Jun 19, 2017

जय जय श्री शिव शक्ति जी हर हर #महादेव

#मंत्र
जय जय श्री शिव शक्ति जी हर हर #महादेव

+56 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 42 शेयर
Ravindra Rana Aug 3, 2020

#__________________ॐ_____________________ #___________क्यो_नही_होता_मंत्र_सिद्ध_________ #सर्व_प्रथम (१) - किसी योग्य गुरू का न मिलना (२) - पुरश्चण की विधी का ज्ञान न होना (३) - यम नियम का मार्ग दर्शन अभाव (४) - गुरू के प्रति समर्पण का अभाव (५) - शिष्य के प्रति गुरू का समर्पण का अभाव (६) - गुरू का लोभी व तंत्र मंत्र का व्यापार करना। ईष्ट के प्रति समर्पण की भाव की व स्वार्थ भाव का प्रबल होना । कुछ तंत्र साधना मिशन हमने देखे है, मंत्र बोर्ड पर लिख दिये जाते है और पॉच मिनट मौन होकर बैठनेको कहते है कि शक्तिपात हो रहा है ।आप लिखित मंत्र की पॉच माला सुबह व पॉच माला शाम को कर लेना। लोग लोग दीक्षा ऐसे देते है कि शिष्य का अलिगंन किया और माथा चूम लिया और हो गयी दीक्षा। मंत्र हंस सोंहं दे दिया । पर इसे भी शक्तिपात का नाम दिया जाता है। #पर_वास्तव_मे_शक्ति_पात_है_क्या_और_वह_किस_व्यक्ति_पर_किया_जा_सकता_है #_यह_उसकी_पात्रता_पर__निर्भर_करता_है और शक्तिपात करना भी एक बहुत ही योग्य साधक के लिये सम्भव है। दीक्षा एक सौ आठ प्रकार या एक हजार आठ प्रकार की भी नही होती। दीक्षा दो ही होती है। १- देव दीक्षा व २ - देवी दीक्षा देवी दीक्षा के दो कुल होते है ,काली कुल व श्री कुल। यही स्त्रीलिंग व पुरूलिंग देवता ओ की दीक्षा होती है। सारा तंत्र मंत्र भगवान महादेव के मुख से निकला है आदि गुरू तो वही है पर केवल मंत्र देने से चार पांच माला जपने से सिध्दि सम्भव कैसे हो सकतीै। न मंत्र के ऋषि का ज्ञान न मंत्र के छंद का ज्ञान न उसके ध्यान करन्यास ह्रदय न्यास ऋषि न्यास महाषोढा कुल्लका आदि का ज्ञान देना और देवता की गायत्री कवच ,ह्रदय स्तोत्र, पंज्जर स्तोत्र , आदि के रहित केवल मंत्र जाप से सिद्धि नही मिलती है। क्रमशः

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+13 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 22 शेयर
Anil Rathi Aug 4, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Dr. SEEMA SONI Aug 3, 2020

+760 प्रतिक्रिया 174 कॉमेंट्स • 150 शेयर
Aman Deep Aug 4, 2020

+29 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 5 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB