meena
meena Apr 12, 2021

https://youtu.be/2GatRd24Yvs

https://youtu.be/2GatRd24Yvs

1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

कामेंट्स

Mavjibhai patel Apr 12, 2021
जय श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम जय वीर हनुमान शुभ दोपहर वंदन आदरणीय दीदी सादर प्रणाम बहुत सुन्दर

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
M.S.Chauhan May 8, 2021

*हर हर महादेव* यह पोस्ट मेरे एक मित्र ने भेजी, आप अपने विचार प्रकट कर लिख सकते है 🌷🌷🌷🙏🌷🌷🌷 भगवान शिव की अर्ध परिक्रमा ही करनी चाहिए ? शिवजी की आधी परिक्रमा करने का विधान है। वह इसलिए की शिव के सोमसूत्र को लांघा नहीं जाता है। जब व्यक्ति आधी परिक्रमा करता है तो उसे चंद्राकार परिक्रमा कहते हैं। शिवलिंग को ज्योति माना गया है और उसके आसपास के क्षेत्र को चंद्र। आपने आसमान में अर्ध चंद्र के ऊपर एक शुक्र तारा देखा होगा। यह शिवलिंग उसका ही प्रतीक नहीं है बल्कि संपूर्ण ब्रह्मांड ज्योतिर्लिंग के ही समान है। ''अर्द्ध सोमसूत्रांतमित्यर्थ: शिव प्रदक्षिणीकुर्वन सोमसूत्र न लंघयेत ।। इति वाचनान्तरात।'' -- सोमसूत्र : ~~~~ शिवलिंग की निर्मली को सोमसूत्र की कहा जाता है। शास्त्र का आदेश है कि शंकर भगवान की प्रदक्षिणा में सोमसूत्र का उल्लंघन नहीं करना चाहिए, अन्यथा दोष लगता है। सोमसूत्र की व्याख्या करते हुए बताया गया है कि भगवान को चढ़ाया गया जल जिस ओर से गिरता है, वहीं सोमसूत्र का स्थान होता है। क्यों नहीं लांघते सोमसूत्र : ~~~~~~~~~~~~ सोमसूत्र में शक्ति-स्रोत होता है अत: उसे लांघते समय पैर फैलाते हैं और वीर्य ‍निर्मित और 5 अन्तस्थ वायु के प्रवाह पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। इससे देवदत्त और धनंजय वायु के प्रवाह में रुकावट पैदा हो जाती है। जिससे शरीर और मन पर बुरा असर पड़ता है। अत: शिव की अर्ध चंद्राकार प्रदशिक्षा ही करने का शास्त्र का आदेश है। तब लांघ सकते हैं : ~~~~~~~~~ शास्त्रों में अन्य स्थानों पर मिलता है कि तृण, काष्ठ, पत्ता, पत्थर, ईंट आदि से ढके हुए सोम सूत्र का उल्लंघन करने से दोष नहीं लगता है, लेकिन ‘शिवस्यार्ध प्रदक्षिणा’ का मतलब शिव की आधी ही प्रदक्षिणा करनी चाहिए। किस ओर से करनी चाहिये परिक्रमा ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ भगवान शिवलिंग की परिक्रमा हमेशा बांई ओर से शुरू कर जलाधारी के आगे निकले हुए भाग यानी जल स्रोत तक जाकर फिर विपरीत दिशा में लौटकर दूसरे सिरे तक आकर परिक्रमा पूरी करें। *ॐ नमः शिवाय* 🌼🌷💐🙏💐🌷🌼

+51 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 37 शेयर
HEMANT JOSHI May 9, 2021

*_ 🚩🙏🏼🔱जय श्री महाकालेश्वर महादेव 🙏🏻 🔱*🌺🌿🌿🌿🌿 _*🔱~❗अंत ही आरंभ है❗~🔱*_ 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 *_ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् ।_* *_उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात् ||_*🌿🌿 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 *_🚩जय श्री🕉 महाकालेश्वर ज्योतिर्लिन्गं नमो नम:||_*🚩🌿🌿 🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺 *_संपूर्ण ब्रह्मांड के राजा भस्माङ्गधारी स्वयम्भू 🕉 श्री ॐ महाकालेश्वर महाकाल महादेव जी के आज के दिव्य भस्मा आरती श्रृंगार दर्शन_*🚩🌿 🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺 *_🕉श्री महाकालेश्वर ॐ ज्योतिर्लिंग मन्दिर उज्जैन मध्यप्रदेश से_*🚩🌿 🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺 *09/ मई /(रविवार)* 🌿 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 _🌿🕉🕉🕉🕉🌿 🌹🌹🌹🌹🌹 _*❗🚩❗🚩❗🚩❗🚩❗~श्री महाकाल प्रभु* ❗🚩❗🚩❗🚩🌹🌹🌹🌹 *🙏🏻शुभ शिवमय प्रभात वंदन 🙏*

+8 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 7 शेयर

+305 प्रतिक्रिया 43 कॉमेंट्स • 32 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB