Ramkrishna Shastri Ji
Ramkrishna Shastri Ji Dec 6, 2018

महाराज श्री के जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में श्रीमद भागवत कथा का आयोजन परम श्रद्धेय श्री रामकृष्ण शास्त्री जी महाराज के मुखारविंद से ।

महाराज श्री के जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में श्रीमद भागवत कथा का आयोजन परम श्रद्धेय श्री रामकृष्ण शास्त्री जी महाराज के मुखारविंद से ।

Pranam Belpatra Flower +78 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 36 शेयर

कामेंट्स

seema Dec 6, 2018
जय श्री कृष्णा जी| ईश्वर की कृपा आप पर बनी रहे और आप ऐसे ही समाज का मार्ग प्रशस्त करते रहें| मन्दिर में आपका स्वागत है|

Mahesh Bhargava Dec 6, 2018
जय श्री राधे कृष्णा प्रणाम जी

Purna Dec 7, 2018
Purna Nand बहूत अ

Pranam Like Flower +108 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 76 शेयर
Narendra padhiyar, Dec 15, 2018

धनुर्मास महत्व कथा व्रत पूजा विधि |



धनुर्मास महत्व कथा व्रत पूजा विधि भारत के दक्षिण भाग में यह तीस दिवसीय त्यौहार विस्तार से मनाया जाता हैं. धनुर्मास तीस दिनों का त्यौहार होता है, जिसमे खासतौर पर भगवान विष्णु की उपासना की जाती हैं. यह त्यौहार ...

(पूरा पढ़ें)
Jyot Flower Bell +15 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 50 शेयर

कई हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार भस्मासुर भगवान शिव का बहुत बड़ा भक्त था। वरदान प्राप्त करने के लिए उन्होंने शिव की तपस्या आरंभ की। उसकी तपस्या से खुश होकर, महादेव ने भस्मासुर को अपनी इच्छा व्यक्त करने के लिए कहा। भस्मासुर ने अमरत्व का वरदान मांगा...

(पूरा पढ़ें)
Flower Bell Pranam +173 प्रतिक्रिया 42 कॉमेंट्स • 10 शेयर

श्रीरामचरितमानस सप्तम सोपान
(उत्तरकाण्ड) नवम दिवस
〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️
अयोध्याजी की रमणीयता,

दोहा :

ग्यान गिरा गोतीत अज माया मन गुन पार।
सोइ सच्चिदानंद घन कर नर चरित उदार॥

अर्थ:-जो (बौद्धिक) ज्ञान, वाणी और इंद्रियों से परे और अजन...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Flower Jyot +15 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 5 शेयर
Anuradha Tiwari Dec 15, 2018

स्वयंभुव मनु और शतरुपा के दो पुत्र थे-प्रियवत और उत्तानपाद। उत्तानपाद की सुनीति और सुरुचि नामक दो पत्नियां थीं। राजा उत्तानपाद को सुनीति से ध्रुव और सुरुचि से उत्तम नामक दो पुत्र उत्पन्न हुए। यद्पि सुनीति बड़ी रानी थी परन्तु उत्तानपाद का प्रेम सुर...

(पूरा पढ़ें)
Water Milk Jyot +27 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Deepak Mishra Dec 15, 2018

Bell +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
S.r. Malviya Dec 15, 2018

कैसे अवतरित हुए शनिदेव शिला रूप में शनि शिंगणापुर में
==========================
शनि के प्रभावी मंदिरों में शनि शिंगणापुर
अग्रणीय रूप से अपनी पहचान
बना चूका है | शनि का सबसे चमत्कारी शनिधाम
के रूप में प्रसिद्ध है | इस जगह शनिदेव मूर्ति रूप में
नही...

(पूरा पढ़ें)
Jyot Belpatra Dhoop +9 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 63 शेयर

श्रीरामचरितमानस सप्तम सोपान
(उत्तरकाण्ड) अष्टम दिवस
〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️🔸〰️〰️
रामराज्य का वर्णन

चौपाई :

दैहिक दैविक भौतिक तापा।
राम राज नहिं काहुहि ब्यापा॥
सब नर करहिं परस्पर प्रीती।
चलहिं स्वधर्म निरत श्रुति नीती॥

अर्थ:-'रामराज्य' म...

(पूरा पढ़ें)
Flower Tulsi Like +39 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 32 शेयर
S.r. Malviya Dec 13, 2018

वैभवलक्ष्मी (शुक्रवार) व्रत पूजा विधि और कथा
=========================
माता लक्ष्मी देवी के अनेक रूप
हैं | इन रूपों में से इनका एक धनलक्ष्मी
स्वरूप ‘वैभवलक्ष्मी’ हैं जिसकी
पूजा – अर्चना शुक्रवार व्रत के रूप करने का विधान है |
इस व्रत को घर का कोई ...

(पूरा पढ़ें)
Fruits Bell Lotus +24 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 71 शेयर

दोहा :
करम बचन मानस बिमल तुम्ह समान तुम्ह तात।
गुर समाज लघु बंधु गुन कुसमयँ किमि कहि जात॥304॥
अर्थ:-हे तात! कर्म से, वचन से और मन से निर्मल तुम्हारे समान तुम्हीं हो। गुरुजनों के समाज में और ऐसे कुसमय में छोटे भाई के गुण किस तरह कहे जा सकते हैं?॥30...

(पूरा पढ़ें)
Like +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB