मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें

जय श्री जगन्नाथ........🙏 "अच्छाई हमारे भीतर समाहित है, सिर्फ स्वयं को उस से जोड़ने की जरूरत है ...!!!" सुप्रभात............🌻 आपका दिन शुभ हो...........😁

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 39 शेयर
Anita Choudhary Jul 19, 2019

🌹🌹राम राम जी 🌷जय माता दी 🙌 🌹🌹 आज का चिंतन कहानी जो दिल छू जाये एक व्यक्ति ने एक नया मकान खरीदा ! उसमे एक फलों का बगीचा भी था , उसके पडौस का घर पुराना था और उसमे कई लोग भी रहते थे ! कुछ दिन बाद उसने देखा कि पडौस के घर से किसी ने बाल्टी भर कूड़ा , उसके घर के दरवाजे के सामने डाल दिया है ! शाम को उस व्यक्ति ने एक बाल्टी ली., उसमे अपने बगीचे के ताजे फल रखे और फिर पड़ौसी के दरवाजे की घंटी बजाई ! उस घर के लोगों ने जब झांककर देखा तो बेचैन हो गये और वो सोचने लगे कि ...वह शायद उनसे सुबह की घटना के लिये लड़ने आया है ! अतः वे पहले से ही तैयार हो गये और बुरा - भला , सोचने लगे ! मगर जैसे ही उन्होने दरवाजा खोला , उन्होंने देखा - रसीले ताजे फलों की भरी बाल्टी के साथ चेहरे पर मुस्कान लिए नया पडोसी सामने खडा था...! अब सब हैरान - परेशान थे ! उसने अंदर आने की इजाजत मांग घुसते ही कहा - " जो मेरे पास था , वही मैं आपके लिये ला सका ! " यह सच भी है इस जीवन में ... जिसके पास जो है , वही तो वह दूसरे को दे सकता है.! जरा सोचिये , कि आपके पास दूसरो के लिये क्या है..? दाग तेरे दामन के धुले ना धुले . नेकी तेरी कही पर तुले ना तुले.! मांग ले गल्तियों की माफी खुदा से , क्या पता ये आँख कल खुले ना खुले ? प्यार बांटो प्यार मिलेगा ...खुशी बांटो खुशी मिलेगी 🌹🌹🌹जय माता दी🌹🌹🌹

+77 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 19 शेयर
sonia Malhotra Jul 19, 2019

निवेदन है कि हमे सुबह और सायंकाल आरती के वक्त जो भी मंदिर पास हो वहाँ पहुंचना चाहिए. कुछ मंदिर हैं देश में जहां लोग घण्टों दर्शन के लिए खड़े रहते हैं, पर हमारे आस पास के मंदिरों की बात करें तो हालात बहुत बुरे है. वहाँ आरती के वक्त झालर, शंख, नगाड़ा बजाने को लोग नहीं होते है. कुछ लोगों ने इसका तोड़ निकाला है, इलेक्ट्रिक मशीनें ले आये हैं. यह कितना दुर्भाग्यपूर्ण है ? कोई इसपर विचार नहीं करता. कहने को हम करोड़ों हैं, पर मंदिरों में आरती के वक्त 4 लोग नहीं पहुँच पाते. इसी कारण मोहल्ले वाले भी एक दूसरे को पहचान नहीं पाते और हिंदुओं में एकता नहीं हो पाती है. इस पर विचार होना चाहिए. मंदिर ही हैं जो हमें एक दूसरे से जोड़ने में सहायक हो सकते हैं ।। आओ प्रयत्न करे अपने व्यस्त समय में से कुछ समय धर्म की रक्षा राष्ट्र की एकता, अखंडता अपने संस्कारो हेतु निकले 👏👏👏👏👏👏👏 🙏 दो मिनट मंदिरों के लिए🙏 🍁 राधे राधे🍁 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 5 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Brajkishor Dwivedi Jul 19, 2019

+16 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 118 शेयर
Vikash Srivastava Jul 19, 2019

+22 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 151 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB