मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें

।। शुभ संध्या ।।

।। शुभ संध्या ।।

+44 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 14 शेयर

कामेंट्स

Nand kishore Gehlot Jun 11, 2019
जय शिवशंकर की जय हो शिवशक्ति की ज्यादा हो

Mukesh Shukla Rewa Jun 11, 2019
जया एकादशी व्रत मात्र से वर्ष की सभी एकादशियों का फल प्राप्त हो जाता है । 🙏🙏🙏🙏 जय श्रीकृष्ण

+606 प्रतिक्रिया 92 कॉमेंट्स • 288 शेयर

+330 प्रतिक्रिया 33 कॉमेंट्स • 124 शेयर

+273 प्रतिक्रिया 33 कॉमेंट्स • 117 शेयर

+43 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 17 शेयर
Swami Lokeshanand Jun 16, 2019

पिछले पन्द्रह दिनों से चल रहे शबरी प्रसंग का आखिरी लेख- याद का बदला याद है। शबरी ने भगवान को इतना याद किया, कि अब भगवान शबरी को कभी भूल नहीं पाएँगे। यह घटना राज्यभिषेक के बाद की है। जनकजी ने श्रीसीतारामजी सहित चारों जोड़ों को जनकपुर बुलवाया है। सीताजी और तीनों बहनें विवाह के इतने वर्ष बाद पहली बार जनकपुर आईं हैं। सभी की प्रसन्नता का कोई ठिकाना नहीं है। सुनयना माँ दौड़ दौड़ कर सब व्यवस्था संभाल रही हैं। सब और उमंग है। हो भी क्यों न, दुर्लभ अवसर है, सौभाग्य फल देने को खड़ा है। सीताजी की सब सखियाँ और जनकपुर के सामान्यजन भी, भगवान का दर्शन और सेवा करना चाहते हैं। सुनयनाजी ने अपने हाथों से रसोई बनाई है, और भी सब अपने अपने घर से पकवान बना बनाकर शाही रसोई तक पहुँचा रहे हैं, जनकपुर में किसी को भेददृष्टि से देखा ही नहीं जाता ना। एक भव्य कक्ष में, चारों ओर से सब सखियों से घिरे रामजी, तीनों भाइयों सहित विराज रहे हैं, सामने विशाल थाल रखा गया है। सब के लाए पकवानों का थोड़ा थोड़ा अंश परोसा गया है। इतने में कोई एक चंचला सखी रामजी के पास सरक आई है। हलके से कोहनी मारकर मधुर वाणी से रामजी से बोली- "ए जीजा! जरा चखकर बताओ तो, किसका बनाया पकवान सबसे स्वाद है?" वह तो प्रश्न पूछकर अन्य सखियों सहित खिलखिलाकर हंस पड़ी, पर यह क्या, रामजी की आँखों से तो टपाटप आँसू बरसने लगे। सीताजी, तीनों भाई, उर्मिला आदि, और सखियाँ सब अवाक रह गए। सुनयनाजी ने देखा, भागी आईं, चरणों में गिरकर पूछने लगीं, "भगवान हमसे कोई भूल हो गई क्या? आप रोने क्यों लगे?" रामजी कहने लगे, "माँ! किसी से कोई भूल नहीं हुई। इस सखी ने "स्वाद" की बात की ना, मुझे अपनी शबरी माँ की याद आ गई।" अब विडियो- शबरी की याद- https://youtu.be/1j0g9dZeBMw और, शबरी- https://youtu.be/7GQUn_aKFFI

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर
संकल्प Jun 16, 2019

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 33 शेयर

+281 प्रतिक्रिया 29 कॉमेंट्स • 373 शेयर
संकल्प Jun 16, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 28 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB