Ramesh Kumar Shiwani
Ramesh Kumar Shiwani Mar 3, 2021

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 17 शेयर

कामेंट्स

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
ramkumarverma Apr 14, 2021

+23 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 56 शेयर
Atul Tiwari Apr 14, 2021

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Dolly Rawal Apr 14, 2021

+5 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 29 शेयर

🔹अपनी रक्षा ख़ुद करें ! कोरोना महामारी के इस दूसरे और ज्यादा खतरनाक समय में ऐसा लगता है कि लोग बचाव के लिए अपनी बुद्धि-विवेक पर कम, ईश्वरीय शक्ति पर ज्यादा भरोसा करने लगे हैं। ईश्वर, गॉड या अल्लाह के पास चलाने के लिए अनंत ब्रह्मांड है। शायद इसीलिए उसने हमें बुद्धि और विवेक दिया ताकि हम सही और गलत, ज़रूरी और गैरज़रूरी में फ़र्क़ कर अपनी सुरक्षा ख़ुद सुनिश्चित कर सकें। कोरोना वायरस के ख़िलाफ़ लड़ाई में लोग अपनी बुद्धि-विवेक का कैसा इस्तेमाल कर रहे हैं, इसे देखना है तो चुनाव वाले राज्यों के सियासी रोड शो और रैलियों में धार्मिक-राजनीतिक नारे लगाते लोगों की अपार भीड़ पर नज़र डालिए ! इन दिनों चल रहे हरिद्वार के महाकुंभ में मुक्ति-स्नान के लिए जुटी हज़ारों साधु-संतों और भक्तों की लापरवाह भीड़ को देखिए। दूर क्या जाना, अपने आसपास के ही पूजा-स्थलों, इबादतगाहों, बाजारों और ट्रेनों पर भी दृष्टि डाल आइए । ऐसा लगता है जैसे हम सबने सामुहिक आत्महत्या के लिए कमर कस ली है। यकीन मानिए, इस आफ़त में कहीं से कोई ईश्वर, ख़ुदा या गॉड आपको बचाने नहीं आने वाला। आस्था और अन्ध आस्था में फ़र्क़ होता है। ईश्वर आपके भीतर ही मौजूद है । उसकी आवाज़ सुनिए ! उसकी दी हुई बुद्धि-विवेक का सही इस्तेमाल करिए ! इस महामारी में तमाम सावधानियाँ बरतते हुए अपने आप को भी बचाइए, अपने परिवार को भी और अपने समाज को भी। #_keep_distance #_stay_safe #_use_mask"देख लूंगा तुझे" ये वो अचूक भारतीय डायलॉग है! जो बुरी तरह से कुटाई होने के बाद भी आपके "सम्मान" को जिंदा बनाए रखता है।🤭🌹🌹🌹ਜੈ ਮਾਤਾ ਦੀ 🌹🌹🌹"ॐ जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु‍ते।।" || ओम ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चै: || 🙏🌺#_जय_श्री_महाकाली_माँ सेवक भरत व्यास बांगा हिसार हरिद्वार वान_प्रस्थ ऋषिकेश,हरिद्वार ।

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 14 शेयर
Dolly Rawal Apr 14, 2021

0 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Dolly Rawal Apr 14, 2021

+2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 6 शेयर

🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞 ⛅ *दिनांक 15 अप्रैल 2021* ⛅ *दिन - गुरुवार* ⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)* ⛅ *शक संवत - 1943* ⛅ *अयन - उत्तरायण* ⛅ *ऋतु - वसंत* ⛅ *मास - चैत्र* ⛅ *पक्ष - शुक्ल* ⛅ *तिथि - तृतीया शाम 03:27 तक तत्पश्चात चतुर्थी* ⛅ *नक्षत्र - कृत्तिका रात्रि 08:33 तक तत्पश्चात रोहिणी* ⛅ *योग - आयुष्मान् शाम 05:20 तक तत्पश्चात सौभाग्य* ⛅ *राहुकाल - दोपहर 02:14 से शाम 03:48 तक* ⛅ *सूर्योदय - 06:20* ⛅ *सूर्यास्त - 18:56* ⛅ *दिशाशूल - दक्षिण दिशा में* ⛅ *व्रत पर्व विवरण - मत्सय जयंती, गौरी-आंदोलन-मनोरथ तृतीया* 💥 *विशेष - तृतीया को परवल खाना शत्रुओं की वृद्धि करने वाला है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *चैत्र नवरात्रि* 🌷 🙏🏻 *कष्टों से मुक्ति दिलाती हैं मां चंद्रघंटा* *नवरात्रि की तृतीया तिथि यानी तीसरा दिन माता चंद्रघंटा को समर्पित है। यह शक्ति माता का शिवदूती स्वरूप हैं । इनके मस्तक पर घंटे के आकार का अर्धचंद्र है, इसी कारण इन्हें चंद्रघंटा देवी कहा जाता है। असुरों के साथ युद्ध में देवी चंद्रघंटा ने घंटे की टंकार से असुरों का नाश किया था। नवरात्रि के तृतीय दिन इनका पूजन किया जाता है। इनके पूजन से साधक को मणिपुर चक्र के जाग्रत होने वाली सिद्धियां स्वत: प्राप्त हो जाती हैं तथा सांसारिक कष्टों से मुक्ति मिलती है।* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *चैत्र नवरात्रि* 🌷 *तृतीया तिथि यानी की तीसरे दिन को माता दुर्गा को दूध का भोग लगाएं ।इससे दुखों से मुक्ति मिलती है ।* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🌷 *गणगौर तीज* 🌷 🙏🏻 *चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को गणगौर तीज का उत्सव मनाया जाता है। इस बार यह पर्व 15 अप्रैल, गुरुवार को है। गणगौर उत्सव में मुख्य रूप से माता पार्वती व भगवान शिव का पूजन किया जाता है।भगवान शंकर-माता पार्वती को प्रसन्न करने के लिए इस दिन कुछ उपाय भी कर सकते हैं। ये उपाय इस प्रकार है-* 👉🏻 *1. देवी भागवत के अनुसार, माता पार्वती का अभिषेक आम अथवा गन्ने के रस से किया जाए तो लक्ष्मी और सरस्वती ऐसे भक्त का घर छोड़कर कभी नहीं जातीं। वहां संपत्ति और विद्या का वास रहता है।* 👉🏻 *2. शिवपुराण के अनुसार, लाल व सफेद आंकड़े के फूल से भगवान शिव का पूजन करने से भोग व मोक्ष की प्राप्ति होती है।* 👉🏻 *3. माता पार्वती को घी का भोग लगाएं तथा उसका दान करें। इससे रोगी को कष्टों से मुक्ति मिलती है तथा वह निरोगी होता है।* 👉🏻 *4. माता पार्वती को शक्कर का भोग लगाकर उसका दान करने से भक्त को दीर्घायु प्राप्त होती है। दूध चढ़ाकर दान करने से सभी प्रकार के दु:खों से मुक्ति मिलती है। मालपुआ चढ़ाकर दान करने से सभी प्रकार की समस्याएं अपने आप ही समाप्त हो जाती है।* 👉🏻 *5. भगवान शिव को चमेली के फूल चढ़ाने से वाहन सुख मिलता है। अलसी के फूलों से शिव का पूजन करने से मनुष्य भगवान विष्णु को प्रिय होता है।* 👉🏻 *6. भगवान शिव की शमी पत्रों से पूजन करने पर मोक्ष प्राप्त होता है। बेला के फूल से पूजन करने पर शुभ लक्षणों से युक्त पत्नी मिलती है। धतूरे के फूल के पूजन करने पर भगवान शंकर सुयोग्य पुत्र प्रदान करते हैं, जो परिवार का नाम रोशन करता है। लाल डंठल वाला धतूरा पूजन में शुभ माना गया है।* 👉🏻 *7. भगवान शिव पर ईख (गन्ना) के रस की धारा चढ़ाई जाए तो सभी आनंदों की प्राप्ति होती है। शिव को गंगाजल चढ़ाने से भोग व मोक्ष दोनों की प्राप्ति होती है।* 👉🏻 *8. देवी भागवत के अनुसार वेद पाठ के साथ यदि कर्पूर, अगरु (सुगंधित वनस्पति), केसर, कस्तूरी व कमल के जल से माता पार्वती का अभिषेक करने से सभी प्रकार के पापों का नाश हो जाता है तथा साधक को थोड़े प्रयासों से ही सफलता मिलती है।* 👉🏻 *9. जूही के फूल से भगवान शिव का पूजन करने से घर में कभी अन्न की कमी नहीं होती। दूर्वा से पूजन करने पर आयु बढ़ती है। हरसिंगार के फूलों से पूजन करने पर सुख-सम्पत्ति में वृद्धि होती है।* 👉🏻 *10. देवी भागवत के अनुसार, माता पार्वती को केले का भोग लगाकर दान करने से परिवार में सुख-शांति रहती है। शहद का भोग लगाकर दान करने से धन प्राप्ति के योग बनते हैं। गुड़ की वस्तुओं का भोग लगाकर दान करने से दरिद्रता का नाश होता है।* 👉🏻 *11. भगवान शिव को चावल चढ़ाने से धन की प्राप्ति हो सकती है। तिल चढ़ाने से पापों का नाश हो जाता है।* 👉🏻 *12. द्राक्षा (दाख) के रस से यदि माता पार्वती का अभिषेक किया जाए तो भक्तों पर देवी की कृपा बनी रहती है।* 👉🏻 *13. शिवजी को जौ अर्पित करने से सुख में वृद्धि होती है व गेहूं चढ़ाने से संतान वृद्धि होती है।* 👉🏻 *14. देवी भागवत के अनुसार, माता पार्वती को नारियल का भोग लगाकर उसका दान करने से सुख-समृद्धि की प्राप्ति होती है। माता को विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाकर गरीबों को दान करने से लोक-परलोक में आनंद व वैभव मिलता है।* 👉🏻 *15. माता पार्वती का अभिषेक दूध से किया जाए तो व्यक्ति सभी प्रकार की सुख-समृद्धि का स्वामी बनता है।* 🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞 🙏🏻🌷💐🌸🌼🌹🍀🌺💐🙏🏻

+44 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 76 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB