जय श्री कृष्ण 🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹 राधे राधे🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 🌹🌹🌹🌹🙏🙏🙏🙏🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹

+65 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 61 शेयर

कामेंट्स

🔴 Suresh Kumar 🔴 Mar 2, 2021
राधे राधे जी 🙏 शुभ रात्रि वंदन मुरली मनोहर की कृपा आप पर सदा बनी रहे मेरी प्यारी बहन।

Krishna Kumar Mar 2, 2021
शुभ रात्रि वंदन 🌹 ईश्वर आपकी मनोकामना पूर्ण करे 🌹 राधे राधे 🌹

आप सभी को नवरात्रों की  हार्दिक शुभकामनाएं 🙏🌹🙏🌹🙏🌹🙏🌹🙏🌹🙏🌹🙏🌹 🙏🌹आज के शुभ दर्शन कालका धाम दिल्ली से 🙏 प्रथम माँ शैलपुत्री दुर्गा पूजा के प्रथम दिन माता शैलपुत्री की पूजा-वंदना इस मंत्र द्वारा की जाती है. मां दुर्गा की पहली स्वरूपा और शैलराज हिमालय की पुत्री शैलपुत्री के पूजा के साथ ही दुर्गा पूजा आरम्भ हो जाता है. नवरात्र पूजन के प्रथम दिन कलश स्थापना के साथ इनकी ही पूजा और उपासना की जाती है. माता शैलपुत्री का वाहन वृषभ है, उनके दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएं हाथ में कमल का पुष्प रहता है. नवरात्र के इस प्रथम दिन की उपासना में योगी अपने मन को 'मूलाधार' चक्र में स्थित करते हैं और यहीं से उनकी योग साधना प्रारंभ होता है. पौराणिक कथानुसार मां शैलपुत्री अपने पूर्व जन्म में प्रजापति दक्ष के घर कन्या रूप में उत्पन्न हुई थी. उस समय माता का नाम सती था और इनका विवाह भगवान् शंकर से हुआ था. एक बार प्रजापति दक्ष ने यज्ञ आरम्भ किया और सभी देवताओं को आमंत्रित किया परन्तु भगवान शिव को आमंत्रण नहीं दिया. अपने मां और बहनों से मिलने को आतुर मां सती बिना निमंत्रण के ही जब पिता के घर पहुंची तो उन्हें वहां अपने और भोलेनाथ के प्रति तिरस्कार से भरा भाव मिला. मां सती इस अपमान को सहन नहीं कर सकी और वहीं योगाग्नि द्वारा खुद को जलाकर भस्म कर दिया और अगले जन्म में शैलराज हिमालय के घर पुत्री रूप में जन्म लिया. शैलराज हिमालय के घर जन्म लेने के कारण मां दुर्गा के इस प्रथम स्वरुप को माँ शैलपुत्री कहा जाता है.

+24 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Gajendrasingh kaviya Apr 13, 2021

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 2 शेयर
deraj Sharma Apr 13, 2021

+151 प्रतिक्रिया 67 कॉमेंट्स • 525 शेयर
Gajendrasingh kaviya Apr 13, 2021

+11 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Gajendrasingh kaviya Apr 13, 2021

+18 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 1 शेयर

+28 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 7 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB