Ravi Kumar
Ravi Kumar Aug 11, 2017

"कैसा पड़ा मां शक्ति का नाम दुर्गा?"

"कैसा पड़ा मां शक्ति का नाम दुर्गा?"

#दुर्गा
पुरातन काल में दुर्गम नामक दैत्य हुआ था। उसने भगवान ब्रह्मा को प्रसन्न कर सभी वेदों को अपने वश में कर लिया, जिससे देवताओं का बल क्षीण हो गया। फिर दुर्गम ने देवताओं से युद्ध किया जिसमें उसने देवताओं को हरा कर स्वर्ग पर कब्जा कर लिया। जब देवता दुर्गम की यातनाओं से परेशान हो गए, तब उन्होंने देवी भगवती का स्मरण हुआ। देवताओं ने शुभ-निशुभ, मधु-कैटभ तथा चण्ड-मुण्ड का वध करने वाली शक्ति का आह्वान किया।
देवताओं के आह्वान पर देवी प्रकट हुईं। उन्होंने देवताओं से उन्हें बुलाने का कारण पूछा। सभी देवताओं ने एक स्वर में बताया कि दुर्गम नामक दैत्य ने सभी वेद तथा स्वर्ग पर अपना अधिकार कर लिया है तथा हमें अनेक यातनाएं दी हैं। आप उसका वध कर दीजिए। देवताओं की परेशानी सुनकर देवी ने उन्हें दुर्गम का वध करने का आश्वासन दिया।
यह बात जब दैत्यों के राजा दुर्गम को पता चली, तो उसने देवताओं पर पुन: आक्रमण कर दिया। तब माता भगवती ने देवताओं की रक्षा की तथा दुर्गम की सेना का संहार कर दिया। सेना का संहार होते देख दुर्गम स्वयं युद्ध करने आया। तब माता भगवती ने काली, तारा, छिन्नमस्ता, श्रीविद्या, भुवनेश्वरी, भैरवी, बगला आदि कई सहायक शक्तियों का आह्वान कर उन्हें भी युद्ध करने के लिए प्रेरित किया। भयंकर युद्ध में भगवती ने दुर्गम का वध कर दिया। दुर्गम नामक दैत्य का वध करने के बाद मां भगवती का नाम दुर्गा के नाम से विख्यात हुआ।

Agarbatti Fruits Like +229 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 37 शेयर

कामेंट्स

SUNIL Thakkar Aug 22, 2018

👦🏻एक बेटे ने पिता से पूछा-
पापा.. ये 'सफल जीवन' क्या होता है ??🤔

पिता, बेटे को पतंग 🔶 उड़ाने ले गए।
बेटा पिता को ध्यान से पतंग उड़ाते देख रहा था...🤔

थोड़ी देर बाद बेटा बोला-
पापा.. ये धागे की वजह से पतंग अपनी आजादी से और ऊपर की और नहीं जा पा...

(पूरा पढ़ें)
Like Pranam Jyot +7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 14 शेयर
kashiram jharbade Aug 22, 2018

https://youtu.be/D4IHRYJToTc

Pranam Tulsi Jyot +24 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 50 शेयर
MySuvichar Aug 22, 2018

Pranam +5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Lakhan B . Barmaiya Aug 22, 2018

Sindoor Flower Milk +27 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर
Ravi Kumar sharma Aug 22, 2018

Flower Pranam Bell +37 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर

*रोगानुसार गाय के घी के उपयोग* :

१. गाय का घी नाक में डालने से पागलपन दूर होता है ।
२. गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है
३. गाय का घी नाक में डालने से लकवा का रोग में भी उपचार होता है ।

४. 20-25 ग्राम गाय का घी व मिश्री खिलाने स...

(पूरा पढ़ें)
Pranam +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB