🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *********|| जय श्री राधे ||********* 🌺🙏 *महर्षि पाराशर पंचांग* 🙏🌺 🙏🌺🙏 *अथ पंचांगम्* 🙏🌺🙏 *********ll जय श्री राधे ll********* 🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺 *दिनाँक -: 12/02/2019,मंगलवार* सप्तमी, शुक्ल पक्ष माघ """""""""""""'"""""""""""""""""""""""(समाप्ति काल) तिथि------------सप्तमी15:54:24 तक पक्ष-----------------------------शुक्ल नक्षत्र-------------भरणी22:10:14 योग---------------शुक्ल11:27:06 करण-----------वाणिज15:54:24 करण---------विष्टि भद्र27:55:51 वार-------------------------मंगलवार माह------------------------------माघ चन्द्र राशि-----------मेष28:18:26 चन्द्र राशि----------------------वृषभ सूर्य राशि-----------------------मकर रितु----------------------------शिशिर आयन---------------------उत्तरायण संवत्सर----------------------विलम्बी संवत्सर (उत्तर)----------विरोधकृत विक्रम संवत-----------------2075 विक्रम संवत (कर्तक)-------2075 शाका संवत------------------1940 वृन्दावन सूर्योदय-----------------07:00:21 सूर्यास्त------------------18:06:51 दिन काल---------------11:06:29 रात्री काल--------------12:52:45 चंद्रोदय------------------11:22:38 चंद्रास्त------------------24:42:21 लग्न----मकर28°55' , 298°55' सूर्य नक्षत्र--------------------धनिष्ठा चन्द्र नक्षत्र--------------------भरणी नक्षत्र पाया---------------------स्वर्ण *🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩* लू----भरणी 09:46:06 ले----भरणी 15:59:24 लो----भरणी 22:10:14 अ----कृत्तिका 28:18:26 *💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮* ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद ======================= सूर्य=मकर 28°51. ' धनिष्ठा , 2 गी चन्द्र =मेष 18°29 ' भरणी' 2 लू बुध=कुम्भ 08°50 ' शतभिषा ' 1 गो शुक्र=धनु 15° 06, पू o षा o , 1 भू मंगल=मेष 04°37 ' अश्विनी' 2 चे गुरु=वृश्चिक 25°33 ' ज्येष्ठा , 3 यी शनि=धनु 22°57' पू o षा o ' 3 फा राहू=कर्क 01 ° 10 ' पुष्य , 4 ही केतु=मकर 01 ° 10' उo षाo, 2 भो *🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩* राहू काल 15:20 - 16:44अशुभ यम घंटा 09:47 - 11:10अशुभ गुली काल 12:34 - 13:57अशुभ अभिजित 12:11 -12:56शुभ दूर मुहूर्त 09:14 - 09:58अशुभ दूर मुहूर्त 23:16 - 24:01*अशुभ 💮चोघडिया, दिन रोग 07:00 - 08:24अशुभ उद्वेग 08:24 - 09:47अशुभ चाल 09:47 - 11:10शुभ लाभ 11:10 - 12:34शुभ अमृत 12:34 - 13:57शुभ काल 13:57 - 15:20अशुभ शुभ 15:20 - 16:44शुभ रोग 16:44 - 18:07अशुभ 🚩चोघडिया, रात काल 18:07 - 19:43अशुभ लाभ 19:43 - 21:20शुभ उद्वेग 21:20 - 22:57अशुभ शुभ 22:57 - 24:33*शुभ अमृत 24:33* - 26:10*शुभ चाल 26:10* - 27:46*शुभ रोग 27:46* - 29:23*अशुभ काल 29:23* - 30:59*अशुभ 💮होरा, दिन मंगल 07:00 - 07:56 सूर्य 07:56 - 08:51 शुक्र 08:51 - 09:47 बुध 09:47 - 10:43 चन्द्र 10:43 - 11:38 शनि 11:38 - 12:34 बृहस्पति 12:34 - 13:29 मंगल 13:29 - 14:25 सूर्य 14:25 - 15:20 शुक्र 15:20 - 16:11 बुध 16:16 - 17:11 चन्द्र 17:11 - 18:07 🚩होरा, रात शनि 18:07 - 19:11 बृहस्पति 19:11 - 20:16 मंगल 20:16 - 21:20 सूर्य 21:20 - 22:24 शुक्र 22:24 - 23:29 बुध 23:29 - 24:33 चन्द्र 24:33* - 25:38 शनि 25:38* - 26:42 बृहस्पति 26:42* - 27:46 मंगल 27:46* - 28:51 सूर्य 28:51* - 29:55 शुक्र 29:55* - 30:59 *नोट*-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार । शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥ रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार । अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥ अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें । उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें । शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें । लाभ में व्यापार करें । रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें । काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है । अमृत में सभी शुभ कार्य करें । *💮दिशा शूल ज्ञान----------------उत्तर* परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा गुड़ खाके यात्रा कर सकते है l इस मंत्र का उच्चारण करें-: *शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l* *भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll* *🚩 अग्नि वास ज्ञान -:* *यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,* *चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।* *दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,* *नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।।* *महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्* *नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।* 7 + 3 + 1= 11 ÷ 4 = 3 शेष पृथ्वी लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l *💮 शिव वास एवं फल -:* 7 + 7 + 5 = 19 ÷ 7 = 5 शेष ज्ञानवेलायां = कष्ट कारक *🚩भद्रा वास एवं फल -:* *स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।* *मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।* दोपहर 15:54 से 27:50 तक समाप्त स्वर्गलोक = शुभ कारक *💮🚩 विशेष जानकारी 🚩💮* *श्री नर्मदा जयन्ती * सर्वार्थ सिद्धि योग 22:10 से प्रारम्भ *💮🚩💮 शुभ विचार 💮🚩💮* वित्तंदेहि गुणान्वितेष मतिमन्नाऽन्यत्रदेहि क्वचित् । प्राप्तं वारिनिधेर्जलं घनमुचां माधुर्ययुक्तं सदा जीवाः स्थावरजड्गमाश्च सकला संजीव्य भूमण्डलं । भूयः पश्यतदेवकोटिगुणितंगच्छस्वमम्भोनिधिम् ।। ।।चा o नी o।। हे विद्वान् पुरुष ! अपनी संपत्ति केवल पात्र को ही दे और दूसरो को कभी ना दे. जो जल बादल को समुद्र देता है वह बड़ा मीठा होता है. बादल वर्षा करके वह जल पृथ्वी के सभी चल अचल जीवो को देता है और फिर उसे समुद्र को लौटा देता है. *🚩💮🚩 सुभाषितानि 🚩💮🚩* गीता -: संख्यायोग अo-02 गुरूनहत्वा हि महानुभावा-ञ्छ्रेयो भोक्तुं भैक्ष्यमपीह लोके ।, हत्वार्थकामांस्तु गुरूनिहैव भुंजीय भोगान्‌ रुधिरप्रदिग्धान्‌ ॥, इसलिए इन महानुभाव गुरुजनों को न मारकर मैं इस लोक में भिक्षा का अन्न भी खाना कल्याणकारक समझता हूँ क्योंकि गुरुजनों को मारकर भी इस लोक में रुधिर से सने हुए अर्थ और कामरूप भोगों को ही तो भोगूँगा॥,5॥, *💮🚩 दैनिक राशिफल 🚩💮* देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके। नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।। विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे। जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।। 🐏मेष अप्रत्याशित लाभ के योग हैं। सट्टे व लॉटरी के चक्कर में न पड़ें। व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता प्राप्त होगी। पार्टनरों से मतभेद दूर होकर सहयोग प्राप्त होगा। किसी बड़ी समस्या से मुक्ति मिलेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 🐂वृष पुराना रोग उभर सकता है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है। कुसंगति से हानि होगी। किसी भी व्यक्ति के उकसाने में न आएं। धैर्यशीलता में कमी होगी। कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय लेने में जल्दबाजी न करें। धनार्जन होगा। 👫मिथुन स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। कोई बुरी सूचना मिल सकती है। प्रसन्नता में कमी रहेगी। शत्रुता में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। कारोबारी लाभ में वृद्धि के योग हैं। प्रमाद न करें। 🦀कर्क शत्रुभय रहेगा। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। शारीरिक कष्ट से बाधा संभव है। सुख के साधन जुटेंगे। अच्छे समाचार मिल सकते हैं। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। मित्रों तथा संबंधियों की सहायता करने का अवसर प्राप्त होगा। आय बढ़ेगी। 🐅सिंह शत्रु परास्त होंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कोर्ट व कचहरी, सरकारी दफ्तरों में रुका कार्य पूर्ण अनुकूल होगा। प्रसन्नता तथा संतुष्टि रहेंगे। चोट व रोग से बचें। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। पूजा-पाठ में मन लगेगा। साधु-संत का आशीर्वाद मिल सकता है। व्यापार ठीक चलेगा। 🙎‍♀कन्या कुसंगति से हानि होगी। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। किसी व्यक्ति से अकारण विवाद हो सकता है। शांति बनाए रखें। पारिवारिक चिंता रहेगी। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बनी रहेगी। किसी भी महत्वपूर्ण निर्णय में जल्दबाजी न करें। ⚖तुला किसी प्रभावशाली प्रबुद्ध व्यक्ति से मार्गदर्शन व सहयोग प्राप्त होगा। धनलाभ के अवसर बार-बार प्राप्त होंगे। थकान व कमजोरी रह सकती है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। नौकरी में मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। व्यापार ठीक चलेगा। 🦂वृश्चिक शत्रुओं का पराभव होगा। सुख के साधन जुटेंगे। स्थायी संपत्ति में वृद्धि हो सकती है। कोई कारोबारी बड़ा सौदा बड़ा लाभ दे सकता है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। नौकरी में उन्नति होगी। लाभ में वृद्धि होगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। जल्दबाजी बिलकुल न करें। 🏹धनु दांपत्य जीवन में खुशहाली रहेगी। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग को पठन-पाठन व लेखन इत्यादि के कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। 🐊मकर चोट व दुर्घटना से शारीरिक हानि संभव है। किसी भी व्यक्ति के उकसाने में न आएं। दु:खद समाचार मिल सकता है। नए संबंध बनाने से पहले विचार कर लें। मन में काम के प्रति दुविधा रहेगी। गलतफहमी के कारण विवाद संभव है। आय में निश्चितता रहेगी। जोखिम न लें। 🍯कुंभ जल्दबाजी में कोई कार्य न करें। विवाद संभव है। नौकरी में नई जिम्मेदारी प्राप्त हो सकती है। प्रयास सफल रहेंगे। सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा मिलेगी। मान-सम्मान प्राप्त होगा। ऐश्वर्य के साधनों की प्राप्ति संभव है। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल चलेगा। 🐟मीन दूर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। घर में कोई मांगलिक कार्य का आयोजन हो सकता है। अतिथियों का आगमन होगा। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। राजमान व यश में वृद्धि संभव है। व्यापार ठीक चलेगा। *🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏* 🌺🌺🌺🌺🙏🌺🌺🌺🌺 🙏 पाण्डेय🙏🙏

🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺
*********|| जय श्री राधे ||*********
🌺🙏 *महर्षि पाराशर पंचांग* 🙏🌺
🙏🌺🙏 *अथ  पंचांगम्* 🙏🌺🙏
*********ll जय श्री राधे ll*********
🌺🌺🙏🙏🌺🌺🙏🙏🌺🌺

*दिनाँक -: 12/02/2019,मंगलवार*
सप्तमी, शुक्ल पक्ष
माघ
"""""""""""""'"""""""""""""""""""""""(समाप्ति काल)

तिथि------------सप्तमी15:54:24         तक
पक्ष-----------------------------शुक्ल
नक्षत्र-------------भरणी22:10:14
योग---------------शुक्ल11:27:06
करण-----------वाणिज15:54:24
करण---------विष्टि भद्र27:55:51
वार-------------------------मंगलवार
माह------------------------------माघ
चन्द्र राशि-----------मेष28:18:26
चन्द्र राशि----------------------वृषभ
सूर्य राशि-----------------------मकर
रितु----------------------------शिशिर
आयन---------------------उत्तरायण
संवत्सर----------------------विलम्बी
संवत्सर (उत्तर)----------विरोधकृत
विक्रम संवत-----------------2075
विक्रम संवत (कर्तक)-------2075
शाका संवत------------------1940

वृन्दावन
सूर्योदय-----------------07:00:21
सूर्यास्त------------------18:06:51
दिन काल---------------11:06:29
रात्री काल--------------12:52:45
चंद्रोदय------------------11:22:38
चंद्रास्त------------------24:42:21

लग्न----मकर28°55' , 298°55'

सूर्य नक्षत्र--------------------धनिष्ठा
चन्द्र नक्षत्र--------------------भरणी
नक्षत्र पाया---------------------स्वर्ण

*🚩💮🚩  पद, चरण  🚩💮🚩*

लू----भरणी 09:46:06 

ले----भरणी 15:59:24 

लो----भरणी 22:10:14

अ----कृत्तिका 28:18:26

*💮🚩💮  ग्रह गोचर  💮🚩💮*

ग्रह =राशी   , अंश  ,नक्षत्र,  पद
=======================
सूर्य=मकर 28°51. ' धनिष्ठा ,      2  गी
चन्द्र =मेष 18°29  ' भरणी'     2   लू
बुध=कुम्भ 08°50  '  शतभिषा '   1  गो
शुक्र=धनु 15° 06,  पू o षा o ,      1  भू
मंगल=मेष 04°37 '     अश्विनी'   2   चे
गुरु=वृश्चिक 25°33  '    ज्येष्ठा ,  3   यी
शनि=धनु 22°57' पू o षा o    '  3  फा
राहू=कर्क   01 ° 10  '     पुष्य ,   4   ही
केतु=मकर  01 ° 10'  उo षाo, 2   भो

*🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩*

राहू काल 15:20 - 16:44अशुभ
यम घंटा 09:47 - 11:10अशुभ
गुली काल 12:34 - 13:57अशुभ
अभिजित 12:11 -12:56शुभ
दूर मुहूर्त 09:14 - 09:58अशुभ
दूर मुहूर्त 23:16 - 24:01*अशुभ

💮चोघडिया, दिन
रोग 07:00 - 08:24अशुभ
उद्वेग 08:24 - 09:47अशुभ
चाल 09:47 - 11:10शुभ
लाभ 11:10 - 12:34शुभ
अमृत 12:34 - 13:57शुभ
काल 13:57 - 15:20अशुभ
शुभ 15:20 - 16:44शुभ
रोग 16:44 - 18:07अशुभ

🚩चोघडिया, रात
काल 18:07 - 19:43अशुभ
लाभ 19:43 - 21:20शुभ
उद्वेग 21:20 - 22:57अशुभ
शुभ 22:57 - 24:33*शुभ
अमृत 24:33* - 26:10*शुभ
चाल 26:10* - 27:46*शुभ
रोग 27:46* - 29:23*अशुभ
काल 29:23* - 30:59*अशुभ

💮होरा, दिन
मंगल 07:00 - 07:56
सूर्य 07:56 - 08:51
शुक्र 08:51 - 09:47
बुध 09:47 - 10:43
चन्द्र 10:43 - 11:38
शनि 11:38 - 12:34
बृहस्पति 12:34 - 13:29
मंगल 13:29 - 14:25
सूर्य 14:25 - 15:20
शुक्र 15:20 - 16:11
बुध 16:16 - 17:11
चन्द्र 17:11 - 18:07

🚩होरा, रात
शनि 18:07 - 19:11
बृहस्पति 19:11 - 20:16
मंगल 20:16 - 21:20
सूर्य 21:20 - 22:24
शुक्र 22:24 - 23:29
बुध 23:29 - 24:33
चन्द्र 24:33* - 25:38
शनि 25:38* - 26:42
बृहस्पति 26:42* - 27:46
मंगल 27:46* - 28:51
सूर्य 28:51* - 29:55
शुक्र 29:55* - 30:59

*नोट*-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। 
प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 
चर में चक्र चलाइये , उद्वेगे थलगार ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार करे,लाभ में करो व्यापार ॥
रोग में रोगी स्नान करे ,काल करो भण्डार ।
अमृत में काम सभी करो , सहाय करो कर्तार ॥
अर्थात- चर में वाहन,मशीन आदि कार्य करें ।
उद्वेग में भूमि सम्बंधित एवं स्थायी कार्य करें ।
शुभ में स्त्री श्रृंगार ,सगाई व चूड़ा पहनना आदि कार्य करें ।
लाभ में व्यापार करें ।
रोग में जब रोगी रोग मुक्त हो जाय तो स्नान करें ।
काल में धन संग्रह करने पर धन वृद्धि होती है ।
अमृत में सभी शुभ कार्य करें ।

*💮दिशा शूल ज्ञान----------------उत्तर*
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो घी अथवा गुड़ खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
*शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l*
*भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll*

*🚩  अग्नि वास ज्ञान  -:*
*यात्रा विवाह व्रत गोचरेषु,*
*चोलोपनिताद्यखिलव्रतेषु ।*
*दुर्गाविधानेषु सुत प्रसूतौ,*
*नैवाग्नि चक्रं परिचिन्तनियं ।।* *महारुद्र व्रतेSमायां ग्रसतेन्द्वर्कास्त राहुणाम्*
*नित्यनैमित्यके कार्ये अग्निचक्रं न दर्शायेत् ।।*

    7 + 3 + 1= 11 ÷ 4 = 3  शेष
पृथ्वी लोक पर अग्नि वास हवन के लिए शुभ कारक है l

*💮    शिव वास एवं फल -:*

 7 + 7 + 5 =  19  ÷ 7 = 5 शेष

ज्ञानवेलायां = कष्ट कारक

*🚩भद्रा वास एवं फल -:*

*स्वर्गे भद्रा धनं धान्यं ,पाताले च धनागम:।*
*मृत्युलोके यदा भद्रा सर्वकार्य विनाशिनी।।*

दोपहर 15:54 से 27:50 तक समाप्त

स्वर्गलोक = शुभ कारक

*💮🚩    विशेष जानकारी    🚩💮*

*श्री नर्मदा जयन्ती 

 * सर्वार्थ सिद्धि योग 22:10 से प्रारम्भ


*💮🚩💮   शुभ विचार   💮🚩💮*

वित्तंदेहि गुणान्वितेष मतिमन्नाऽन्यत्रदेहि क्वचित् ।
प्राप्तं वारिनिधेर्जलं घनमुचां माधुर्ययुक्तं सदा
जीवाः स्थावरजड्गमाश्च सकला संजीव्य भूमण्डलं ।
भूयः पश्यतदेवकोटिगुणितंगच्छस्वमम्भोनिधिम् ।।
।।चा o नी o।।

  हे विद्वान् पुरुष ! अपनी संपत्ति केवल पात्र को ही दे और दूसरो को कभी ना दे. जो जल बादल को समुद्र देता है वह बड़ा मीठा होता है. बादल वर्षा करके वह जल पृथ्वी के सभी चल अचल जीवो को देता है और फिर उसे समुद्र को लौटा देता है.

*🚩💮🚩  सुभाषितानि  🚩💮🚩*

गीता -: संख्यायोग अo-02

गुरूनहत्वा हि महानुभावा-ञ्छ्रेयो भोक्तुं भैक्ष्यमपीह लोके ।, हत्वार्थकामांस्तु गुरूनिहैव भुंजीय भोगान्‌ रुधिरप्रदिग्धान्‌ ॥,

इसलिए इन महानुभाव गुरुजनों को न मारकर मैं इस लोक में भिक्षा का अन्न भी खाना कल्याणकारक समझता हूँ क्योंकि गुरुजनों को मारकर भी इस लोक में रुधिर से सने हुए अर्थ और कामरूप भोगों को ही तो भोगूँगा॥,5॥,

*💮🚩   दैनिक राशिफल   🚩💮*

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत ।।

🐏मेष
अप्रत्याशित लाभ के योग हैं। सट्टे व लॉटरी के चक्कर में न पड़ें। व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता प्राप्त होगी। पार्टनरों से मतभेद दूर होकर सहयोग प्राप्त होगा। किसी बड़ी समस्या से मुक्ति मिलेगी। भाग्य का साथ मिलेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी।

🐂वृष
पुराना रोग उभर सकता है। अप्रत्याशित खर्च सामने आएंगे। आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है। कुसंगति से हानि होगी। किसी भी व्यक्ति के उकसाने में न आएं। धैर्यशीलता में कमी होगी। कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय लेने में जल्दबाजी न करें। धनार्जन होगा।

👫मिथुन
स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। कोई बुरी सूचना मिल सकती है। प्रसन्नता में कमी रहेगी। शत्रुता में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। कारोबारी लाभ में वृद्धि के योग हैं। प्रमाद न करें।

🦀कर्क
शत्रुभय रहेगा। जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। शारीरिक कष्ट से बाधा संभव है। सुख के साधन जुटेंगे। अच्छे समाचार मिल सकते हैं। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। मित्रों तथा संबंधियों की सहायता करने का अवसर प्राप्त होगा। आय बढ़ेगी।

🐅सिंह
शत्रु परास्त होंगे। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कोर्ट व कचहरी, सरकारी दफ्तरों में रुका कार्य पूर्ण अनुकूल होगा। प्रसन्नता तथा संतुष्टि रहेंगे। चोट व रोग से बचें। लेन-देन में जल्दबाजी न करें। पूजा-पाठ में मन लगेगा। साधु-संत का आशीर्वाद मिल सकता है। व्यापार ठीक चलेगा।

🙎‍♀कन्या
कुसंगति से हानि होगी। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। किसी व्यक्ति से अकारण विवाद हो सकता है। शांति बनाए रखें। पारिवारिक चिंता रहेगी। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। आय बनी रहेगी। किसी भी महत्वपूर्ण निर्णय में जल्दबाजी न करें।

⚖तुला
किसी प्रभावशाली प्रबुद्ध व्यक्ति से मार्गदर्शन व सहयोग प्राप्त होगा। धनलाभ के अवसर बार-बार प्राप्त होंगे। थकान व कमजोरी रह सकती है। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। नौकरी में मातहतों का सहयोग प्राप्त होगा। व्यापार ठीक चलेगा।

🦂वृश्चिक
शत्रुओं का पराभव होगा। सुख के साधन जुटेंगे। स्थायी संपत्ति में वृद्धि हो सकती है। कोई कारोबारी बड़ा सौदा बड़ा लाभ दे सकता है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। नौकरी में उन्नति होगी। लाभ में वृद्धि होगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। जल्दबाजी बिलकुल न करें।

🏹धनु
दांपत्य जीवन में खुशहाली रहेगी। किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त होगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। मनपसंद भोजन का आनंद प्राप्त होगा। विद्यार्थी वर्ग को पठन-पाठन व लेखन इत्यादि के कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। धन प्राप्ति सुगम होगी।

🐊मकर
चोट व दुर्घटना से शारीरिक हानि संभव है। किसी भी व्यक्ति के उकसाने में न आएं। दु:खद समाचार मिल सकता है। नए संबंध बनाने से पहले विचार कर लें। मन में काम के प्रति दुविधा रहेगी। गलतफहमी के कारण विवाद संभव है। आय में निश्चितता रहेगी। जोखिम न लें।

🍯कुंभ
जल्दबाजी में कोई कार्य न करें। विवाद संभव है। नौकरी में नई जिम्मेदारी प्राप्त हो सकती है। प्रयास सफल रहेंगे। सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा मिलेगी। मान-सम्मान प्राप्त होगा। ऐश्वर्य के साधनों की प्राप्ति संभव है। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल चलेगा।

🐟मीन
दूर से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। घर में कोई मांगलिक कार्य का आयोजन हो सकता है। अतिथियों का आगमन होगा। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। राजमान व यश में वृद्धि संभव है। व्यापार ठीक चलेगा।

*🙏आपका दिन मंगलमय हो🙏*
🌺🌺🌺🌺🙏🌺🌺🌺🌺

🙏 पाण्डेय🙏🙏

+39 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 16 शेयर

कामेंट्स

Asha Shrivastava Feb 12, 2019
जय श्री राम जय हनुमान शुभ प्रभात जी प्रणाम

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB