gopi kishan
gopi kishan Nov 14, 2017

हे अर्जुन !, मैं भूत , वर्तमान और भविष्य के सभी प्राणियों को जानता हूँ , किन्तु वास्तविकता में कोई मुझे नहीं जानता .

खवाहिश नही मुझे मशहूर होने की, आप मुझे पहचानते हो बस इतना ही काफी है, अच्छे ने अच्छा और बुरे ने बुरा जाना मुझे, क्यों की जीस की जीतनी जरुरत थी उस ने उतना ही पहचाना मुझे, ज़िन्दगी का फ़लसफ़ा भी कितना अजीब है, शामें कटती नहीं, और साल गुज़रते चले जा रहे हैं, एक अजीब सी दौड़ है ये ज़िन्दगी, जीत जाओ तो कई अपने पीछे छूट जाते हैं, और हार जाओ तो अपने ही पीछे छोड़ जाते हैं, बैठ जाता हूं मिट्टी पे अक्सर, क्यों कि मुझे अपनी औकात अच्छी लगती है, मैंने समंदर से सीखा है जीने का सलीक़ा, चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना, ऐसा नहीं है कि मुझमें कोई ऐब नहीं है पर सच कहता हूँ मुझ मे कोई फरेब नहीं है, जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन क्यूं कि एक मुद्दत से मैंने न मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले, एक घड़ी ख़रीद कर हाथ मे क्या बाँध ली, वक़्त पीछे ही पड़ गया मेरे, सोचा था घर बना कर बैठुंगा सुकून से, पर घर की ज़रूरतों ने मुसाफ़िर बना डाला, जीवन की भाग-दौड़ में - क्यूँ वक़्त के साथ रंगत खो जाती है हँसती-खेलती ज़िन्दगी भी आम हो जाती है, एक सवेरा था जब हँस कर उठते थे हम और आज कई बार बिना मुस्कुराये ही शाम हो जाती है, कितने दूर निकल गए, रिश्तो को निभाते निभाते, खुद को खो दिया हमने, अपनों को पाते पाते, लोग कहते है हम मुस्कुराते बहुत है और हम थक गए दर्द छुपाते छुपाते, "खुश हूँ और सब को खुश रखता हूँ, लापरवाह हूँ फिर भी सब की परवाह करता हूँ, मालूम है कोई मोल नहीं मेरा, फिर भी कुछ अनमोल लोगो से रिश्ता रखता हूँ !

+62 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 239 शेयर

कामेंट्स

Virtual Temple Mar 27, 2020

+5 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+18 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 32 शेयर

+4 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 17 शेयर

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 44 शेयर
harishgangrade Mar 25, 2020

+14 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 24 शेयर

+16 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 30 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB