राधा चालीसा🌺

राधा चालीसा🌺

!! जय जय श्री राधे !!
वृन्दावन धाम को वास भलो || दोहा ||
"श्री राधे वृषभानुजा, भक्तिन प्राणाधार,
वृंदा विपिन विहारिणी,प्रणवो बारंबार
जैसो तैसो रावरौ, कृष्णा प्रिय सुख धाम,चरण शरण निज दीजिये सुन्दर सुखद ललाम"
||चौपाई ||
जय वृषभानु कुँवरि श्री श्यामा, कीरति नंदनी शोभा धामा
नित्य बिहारिनि श्यामा अधारा, अमित मोद मंगल दातारा ||
रास विलासिनि रस विस्तारिनि, सहचरि सुभग यूथ मन भाविनि
नत्य किशोरी राधा गोरी,
श्याम प्राण धन अति जिय भोरी ||
करुणा सागर हिय उमंगिनी, ललितादिक सखियन की संगिन
दिनकर कन्या कूल विहारिनि, कृष्ण प्राण प्रिय हिय हुल्सावनि ||
नित्य श्याम तुम्हारो गुण गावै, राधा राधा कहि हरषावै
मुरली में नित नाम उचारे, तुम कारण लीला वपु धारे ||
प्रेम स्वरूपण स्वरूपिणी अति सुकुमारी, श्याम प्रिया वृषभानु दुलारी
नवल किशोरी अति छवि धामा, धूति लघु लग कोटि रति कामा ||
गौरांगी शशि निंदक बदना, सुभग चपल अनियारे नयना
जावक युत युग पंकज चरना, नुपुर धुनि प्रीतम मन हरना ||
संतत सहचरी सेवा करहि, महा मोद मंगल मन भरहि
रसिकन जीवन प्राण अधारा, राधा नाम सकल सुख सारा ||
अगम अगोचर नित्य स्वरूपा, धयान धरत निशिदिन ब्रज भूपा
उपजेउ जासु अंश गुण खानी, कोटिन उमा रमा बह्मानी ||
नित्य धाम गौलोक विहारिनी, जन रक्षक दुख दोष नासविनी
शिव आज मुनि सनकादिक, नारद पार ना पाय शेष अरू शारद ||
राधा शुभ गुण रूप उजारी, निरखि प्रसन्न होत वनवारी
व्रज जीवन धन राधा रानी, महिमा अमित ना जाय बखानी ||
प्रीतम संग दीई गलबाही, बिहरत नित्य वृंदावन माही
राधा कृष्ण कृष्ण कहै राधा, एक रूप दोउ प्रीत अगाधा ||
श्री राधा मोहन मन हरनी, जन सुख दायक प्रफुलित बदनी
कोटिक रूप धरे नन्द नंदा, दर्श करन हित गोकुल चंदा ||
रास केलि करि रिझावे, मान करौ जब अति दुःख पावे
प्रफुलित होत दर्श जब पावे, विविध भांति नित विनय सुनावे ||
वृन्दारण्य विहारिनी श्यामा, नाम लेत पूरण सब कामा
कोटिन यज्ञ तपस्या करहू, विविध नेम व्रत हिय में धरहू ||
तऊ ना श्याम भक्तहि अपनावे, जब लगी राधा नाम ना गावे
वृंदावन विपिन स्वामिनी राधा, लीला वपु तब अमित अगाधा ||
स्वयं कृष्ण पवै नही पारा, और तुम्हे को जानन हारा
श्री राधा रस प्रीति अभेदा, सादर गान करत नित वेदा ||
राधा त्यागि कृष्ण को भजि है, ते सपनेहु जग जलधि ना तरी है
कीरति कुवरि लाडिली राधा, सुमिरत सकल मिटहि भाव बाधा ||
नाम अमंगल मूल नसावन, त्रिविध हर हरि मन भावन
राधा नाम लेय जो कोई, सहजहि दामोदर बस होई ||
राधा नाम परम सुखदाई, भजताही कृपा करहि युदुराई
यशुमाति नन्दन पीछे फिराहि, जो कोउ राधा नाम सुमिराहे ||
रास विहारिनी श्यामा प्यारी, करहु कृपा बरसाने वारी
वृंदावन है शरण तिहारी, जय जय जय वृषभानु दुलारी ||
|| दोहा ||
श्री राधा सर्वेश्वरी, रसिकेश्वर घनश्याम
करहु निरंतर वास में, श्री वृंदावन धाम ||

Pranam Flower Bell +166 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 72 शेयर

कामेंट्स

Rashmi ojha Oct 20, 2018

Pranam Like Dhoop +51 प्रतिक्रिया 29 कॉमेंट्स • 112 शेयर
babban kumar Oct 20, 2018

Jai Mata Di

Like Dhoop Pranam +34 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 18 शेयर
JAI SHRI KRISHNA Oct 20, 2018

दशहरे के अवसर पर पंजाब के अमृतसर में चौड़ा फ़ाटक के पास रावण दहन के दौरान तेज़ रफ़्तार ट्रेन की चपेट में आ जाने से 58 से अधिक लोगों की मौत और 72 से अधिक लोगों के घायल हो जाने की एक बहुत ही दिल दहलाने वाली दुर्घटना घटित हुई!पटाखों के शोर में लोग ट्रेन ...

(पूरा पढ़ें)
Flower Tulsi Like +95 प्रतिक्रिया 31 कॉमेंट्स • 148 शेयर
Gajendrabhai Pandya Oct 20, 2018

Pranam Like Belpatra +54 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 32 शेयर

हनुमान जी

हनुमान जी को रुद्र यानि शिव का अवतार माना गया है। कहते हैं कि मंगलवार के दिन हनुमानजी के 5 मंत्रों का उच्चारण करने से आपका मंगल दोष भी खत्म हो जाता है

हनुमान जी को हिन्दू धर्म में बड़ा ही शुभ और मंगलकारी माना गया है। मंगलवार को इनका पू...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Like Bell +32 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 15 शेयर
Som Prakash Gupta Oct 20, 2018

Pranam Jyot Fruits +106 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 27 शेयर
neeruguptayadav Oct 20, 2018

Pranam Jyot Like +18 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 12 शेयर
ramesh handa Oct 20, 2018

Flower Belpatra Pranam +179 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 148 शेयर
Radha Krishna Oct 20, 2018

Bell Pranam Like +24 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 117 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB