कथा सुनाऊ सबको यह पवन पुत्र बलवान की !जय बोलो हनुमान की।

कथा सुनाऊ सबको यह पवन पुत्र बलवान की !जय बोलो हनुमान की।
कथा सुनाऊ सबको यह पवन पुत्र बलवान की !जय बोलो हनुमान की।

#हनुमानजी #शनिदेव

कथा सुनाऊ सबको यह पवन पुत्र बलवान की !जय बोलो हनुमान की ,जय बोलो !!
पवन पुत्र बजरंगबली वो लाल लगोटे वाला !सिया राम का परम भक्त वो ,
जपे राम नाम की माला !राम नाम की धुन में रहता ,हरदम वो मतवाला !!
कोन बिगाड़ सके जग में,जिसका हो वो रखवाला !!!रोम रोम में बसती जिसके,
सूरत भगवान की ...जय बोलो हनुमान की ..

******************************************************************************

एक समय बजरंग बली के पास शनि जी आये !कहने लगे मुझे रहने को ,आप जगह बतलाये !!
हनुमान ने कहा क्या जग में ,कहीं ठोर नहीं पाए !!जो मेरी ही भक्ति में यहाँ ,विध्न डालने आये !
शनीदेव ने समझाई ,बाते प्रभु के विधान की !!..जय बोलो हनुमान की ..
*****************************************************************************************

मन में किया विचार बली ने ,लगा प्रभु का ध्यान !कैसे टाळ सकूँ इसको जब ,है ये प्रभु का विधान !!
शनिदेव बोले कहाँ बैठु ,मुझको जगह बतलाओ !!!हसं कर बोले हनुमान ,मेरे सिर पर बैठ जाओ !!
शनिदेव मुस्काये ,सुन बाते राम दीवाने की ,...जय बोलो हनुमान की ..
*****************************************************************************************

शनिदेव जब सिर पर बैठे ,हनुमान मुस्काये !जाकर उत्तराखंड से ,एक पहाड़ उठाकर लाये !रखा अपने सर के ऊपर ,
जब शनिदेव जी घबराए !किस के पाले पड़ गये अब ,कैसे छुटकारा पाए !!
आया था खुश होकर अब मुश्किल हो गई जान की ... जय बोलो हनुमान की ....
********************************************************************

नारद जी के कहने से मै लेने परीक्षा आया !ऐसी भक्ति और शक्ति का ,भेद नहीं था पाया !!
खुश होकर के देता हू ,ये शनिवार भी तेरा !तेरे भक्त को कष्ट ना दूंगा ,इतना वचन है मेरा !!
घर-घर में पूजा होती है ,मारुती नंदन बलवान की ..जय बोलो हनुमान की ...
**********************************************************************

शनिदेव और हनुमान को नाराद जी मिलवाए !सब ने मिलकर राम नाम की ,महिमा के गुण गाये !!
साईं कृषण कहे हनुमान का ,जो कोई ध्यान लगाए !मन की इच्छा पूरी हो और जीवन भर सुख पाए !!
हरदम दया रहे फिर ,उस पे दया निधान की ..

जय बोलो हनुमान की

((सीमा शरद वार्ष्णेय))

+259 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 64 शेयर

कामेंट्स

pramod mali Aug 26, 2017
जय हो शनि देव भगवान जय हो बालाजी

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB