Vinod Kumar Dwivedi
Vinod Kumar Dwivedi Nov 14, 2017

ॐ दाशरथाय् विद्महे सीतावल्लभाय् धीमहि तन्नो राम: प्रचोदयात्।।

ॐ दाशरथाय् विद्महे सीतावल्लभाय् धीमहि
तन्नो राम: प्रचोदयात्।।
ॐ आंजनेयाय् विद्महे वायुपुत्राय धीमहि
तन्नो हनुमत् प्रचोदयात्
रामराज्य रामराज्य रामराज्य रामराज्य
खुश रहिये खुशियां बांटिए
ॐ सियाराम ॐ

+22 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 41 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB