+8 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 7 शेयर

कामेंट्स

जय हिन्द🙏,🇮🇳, Mar 13, 2021
जो दूसरों की मजबूरियोंऔर कमजोरी का अनेक रूप धरके अनैतिक फायदा उठाते है,,, उन्हें,,,,,ही,,,नपुंसक सोच वाले कहते हैं,,,💯🔥🔥🔥🔱

Mahaveer Vaishnav May 5, 2021

+12 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 22 शेयर

+83 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 202 शेयर
saroj Singh May 5, 2021

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 18 शेयर
saroj Singh May 4, 2021

*🙏🌷🙏श्री गणेशाय नमः 🌹🙏🌹 🚩जय श्री राधे कृष्ण 🙏🙏🕉 🙏🌷 🌷जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम 🙏🌷🙏🌷🌷 🙏🌷🙏🌷जय बजरंग बली हनुमान 🙏🌷🙏🌷 सिया राम मै सब जग जानी करउँ प्रनाम जोरि जुग पाणी 🙏🌷 🌷🙏सादर शुभ प्रभात आप सभी भक्ततों को जी 🌷🙏 गरल सुधा रिपु करहिं मिताई। गोपद सिंधु अनल सितलाई॥1॥ जो मनुष्य श्री रघुनाथजी को हृदय में रखकर करके सब काम करता है उसके लिए विष अमृत हो जाता है, शत्रु मित्रता करने लगते हैं, समुद्र गाय के खुर के बराबर हो जाता है और अग्नि में शीतलता आ जाती है ।।🙏🙏 🌷🙏जय सिया राम 🌹🙏🌹 जीवन-----एक अनमोल उपहार 🙏 हमारे लिये संसार का अस्तित्व तभी तक है जब तक हम जिवित है वैसे जिसका सृजन हुआ है उसका मिटना निस्चीत है।। पदार्थ का भी रुप परिवर्तन होता है । दृश्यमान जगत में प्रतिपल परिवर्तन हो रहा है ।कुछ का हमे आभास होता है कुछ का नहीं।। लेकिन।परिवर्तन तो हो रहा है । पृकृति के नियमों का संचलन अबाघ गती से कार्यान्वित हो रहा है । और मंडल, ग्रह,नक्षत्र, सुर्य, पृथ्वी ,चन्द्रमा और अन्य सभी ग्रह के बारे मे जानकारी अत: मनुष्य जीवन अपने मे दुर्लभ है। हमें यह अमुल्य उपहार मिला है । इसका सदुपयोग या दुरुपयोग करना हम पर निर्भर करता है 🙏 इसे एक बार का ही उपहार मानकर चलना चाहिए । इस जन्म के बाद अगले जन्म की आशा में इसका दुरुपयोग न करें ।। अत: जीवन को सुखमय, आनन्दमय बनाने का प्रयास करें विचारों में स्पष्ट बनें । बुद्धि से निर्मल, तन से पवित्र व आचरण में सदाचारी बनें । आपके जीवन की पवित्रता की महक सुवासित होकर सबको सौरभयुक्त बना सके ।।इसमे आप मार्गदर्शक की सहायता लेवें ताकि इस जीवन में ही पुर्णत्व की सुख व शान्ति की और आनन्द की प्राप्ति की जा सके ।।🙏🙏🙏 🙏🌷🌷🌷जय गुरू देव 🙏🌷🌷🌷🙏🌷🙏🙏🌷🙏जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम जय श्री राम 🌷🙏🙏🙏🌷🙏* 🟩♻️🟪🌸🟩♻️🟪🌸🟩♻️🟩

+28 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 59 शेयर
Vinay Mishra May 3, 2021

+284 प्रतिक्रिया 65 कॉमेंट्स • 259 शेयर

💐🌿💐🌿💐🌿💐🌿💐 *अनमोल वचन :* प्रभु के प्रति समपर्णता ही निश्चित जीवन का आधार है.. जब तक हम अपने कर्मो के लिए दूसरे को जिम्मेवार समझेंगें तब तक हम दुःखी होते रहेंगे। यदि हम ये सोचे कि हमारे दुःखों का कारण कोई और हैं,तो हम खुश कैसे रह सकते है..! विचार करें कि क्या हमारे सारे दुःखों का कारण कोई दूसरा व्यक्ति है.. या हमारे द्वारा किये गये कर्म..! क्योंकि हम जैसे कर्म करते है,उसके फलस्वरूप ही हमें फल मिलता है..यह हमें याद रहे कि हम किसी भी व्यक्ति विशेष के द्वारा दुःखी नही होते है..! हम केवल अपने गलत कर्मो से ही दुःखी होते है..... 🙏 *ओम् शान्ति* 🙏 💥 *जय श्री कृष्णा* 💥 💐🌿💐🌿💐🌿💐🌿💐 🙏🙏 जय श्री कृष्णा *ॐ नमः भगवतेय वासुदेवाय नमः* हर वक्त हरे कृष्णा ओर इस महामंत्र का जाप करते रहिऐ *108 *बार* हरे कृष्णा हरे कृष्णा कृष्णा कृष्णा हरे हरे हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे *राधे राधे जी* 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
pandey ji May 5, 2021

+14 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 48 शेयर
Rani Kasturi May 4, 2021

+58 प्रतिक्रिया 11 कॉमेंट्स • 63 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB