मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
शनिदेव
शनिदेव Aug 11, 2017

शनिदेव आरती दर्शन, शिंगणापुर से।

शनिदेव आरती:
जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी।
सूर्य पुत्र प्रभु छाया महतारी॥
जय जय श्री शनि देव....

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टि चतुर्भुजा धारी।
नीलाम्बर धार नाथ गज की असवारी॥
जय जय श्री शनि देव....

क्रीट मुकुट शीश राजित दिपत है लिलारी।
मुक्तन की माला गले शोभित बलिहारी॥
जय जय श्री शनि देव....

मोदक मिष्ठान पान चढ़त हैं सुपारी।
लोहा तिल तेल उड़द महिषी अति प्यारी॥
जय जय श्री शनि देव....

देव दनुज ऋषि मुनि सुमिरत नर नारी।
विश्वनाथ धरत ध्यान शरण हैं तुम्हारी॥
जय जय श्री शनि देव भक्तन हितकारी।।

+1315 प्रतिक्रिया 75 कॉमेंट्स • 420 शेयर

कामेंट्स

गणेश मामीडवार Aug 12, 2017
निलांजन समाहासम रविपुत्रम यमाग्रजम छायामार्तंड शंभुतम तननमामी शनिष्चनम

गणेश मामीडवार Aug 12, 2017
निलांजन समाहासम रविपुत्रम यमाग्रजम छायामार्तंड शंभुतम तननमामी शनिष्चनम

Ashish Garg Aug 12, 2017
जय शनिदेव महाराज जी

Sushila Sharma. Aug 12, 2017
जय शनि देव महाराज प्रणाम ।

bhagwan bajaj Aug 12, 2017
जय श्री शनिदेव महाराज की जय

गणेश मामीडवार May 26, 2018
निलांजन समाहासम रविपुत्रम यमाग्रजम छायामार्तंड शंभुतम तननमामी शनिष्चनम

+116 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 266 शेयर

एक चीटी अपने मुँह मे चावल ले कर जा रही थी, चलते - चलते उसको रास्ते में दाल मिल गई । उसे भी लेने की उसकी इच्छा हुई, लेकिन चावल मुँह में रखने पर दाल कैसे मिलेगी ? दाल लेने को जाती तो चावल नही मिलता । चीटी का दोनों को लेने का प्रयत्न था । कबीर जी कहते है, ---- "दो ना मिले इक ले " --- चावल हो या दाल । हमारी स्थिति भी उसी चींटी -- जैसी है, हम भी संसार के विषय -- भोगों में फँसकर अतृप्त ही रहते हैं, एक चीज मिलती है तो चाहते हैं कि दुसरी भी मिल जाय, दुसरी मिलती तो चाहते हैं कि तीसरी मिल जाय । यह परम्परा बंद नहीं होती और हमारे जाने का समय आ जाता है । वस्तुत: प्रारब्ध से जो कुछ प्राप्त है,उसी में संतोष करना चाहिए, मन के अनुसार न किसी को कभी वस्तु मिली है और न मिलने वाली है, क्योंकि तृष्णा का कामना का कोई अंत नहीं है । अत:" इक ले दूजी ड़ाल " अर्थात जो मिल जाय उसे प्रभू -- प्रसाद मान कर ग्रहण करें और अधिक की लालसा कदापि न करें ॥ ••••••••••●◆❁✿❁◆●••••••••••• जय श्री राम जय हनुमान शुभ शनिवार 15-06-2019

+300 प्रतिक्रिया 50 कॉमेंट्स • 254 शेयर
shuchi arora Jun 15, 2019

+188 प्रतिक्रिया 60 कॉमेंट्स • 85 शेयर
Rajendra Prajapati Jun 15, 2019

+213 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 6 शेयर
kiran Jun 15, 2019

+147 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 53 शेयर
Shanti Pathak Jun 15, 2019

+29 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 54 शेयर

+10 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 19 शेयर
Sanjay Singh Jun 15, 2019

+71 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 27 शेयर
Ramgiri Goswami Jun 15, 2019

+22 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 27 शेयर
Shanti Pathak Jun 15, 2019

+15 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 25 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB