मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
shyam Singh tanwal
shyam Singh tanwal Jun 11, 2019

+15 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 88 शेयर

🚩🌿🌹जय श्री राम🌹🌿🚩 🕉🚩💐ॐ गणपतये नमः💐🚩🕉 🍑🌿🌷ॐ नमः शिवाय🌷🌿🍑 🌋🌲🌸शुभ शनिवार🌸🌲🌋 🌻🐚🌜शुभसंध्या🌜🐚🌻 🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆🎆 🎎॥ सिद्धि विनायक मंत्र ॥ 🎎 🌹ॐ नमो सिद्धि विनायकाय सर्व कार्य कर्त्रे सर्व विघ्न प्रशमनाय सर्व राज्य वश्यकरणाय सर्वजन सर्वस्त्री पुरुष आकर्षणाय श्रीं ॐ स्वाहा ।।🌹 💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐 👏हे भगवान गणेश आप हमारे हर क्षेत्र में सफलता ले आएं , यही मै कामना करता हूँ । आप को मेरा बारम्बार प्रणाम 🙏 🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲 🎭आप और आपके पूरे परिवार पर सिद्धि🎡 🍑विनायक,गणपति महाराज श्री हनुमान जी 💠 🌸और शनिदेव महराज की कृपा दृष्टि सदा बनी रहे🌸 🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑🍑 🙏आप सभी को गणेश संकष्ठी चतुर्थी और पवित्र सावन माह की हार्दिक शुभकामनाएं🙏 🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋🌋 🌹आपका शनिवार का दिन शुभ अतिसुन्दर और मंगलमय हो🙏 🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋🎋 🕉🚩💐ॐ वक्रतुण्डाय नमः💐🚩🕉 🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍🎍

+420 प्रतिक्रिया 88 कॉमेंट्स • 19 शेयर
Vijay Yadav Jul 20, 2019

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Anju Mishra Jul 20, 2019

जय श्री गणेशाय नमः 🙏🌹 श्रावण गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं प्रथम पूज्य श्री गणेश जी का आशीर्वाद सदा सभी पर सपरिवार बना रहे। श्रावण मास की गणेश चतुर्थी विशेष 👇 संध्या समय में भी भगवान गणेश और मां गौरी का पूजन करना चाहिए।  जब व्रत रखें तो सूर्य अस्त से पहले मीठा खाकर उपवास तोड़ें।  इस व्रत में अन्न ग्रहण करना निषेध माना जाता है, इसलिए अन्न की जगह फलाहार करना उचित रहता है।  अगर आपके घर में नकारात्मक ऊर्जा का भंडार है और कोई उपाए काम नहीं कर रहे हैं, तो इस दिन व्रत रखें।  अपने घर में श्रीगणेश जी की सफेद रंग की मूर्ति स्थापित करें। ऐसा करने से आपके घर की सभी नकारात्मक ऊर्जा बाहर निकल जाएगी। श्रीगणेश की पूजा करते समय अपना मुंह पूर्व अथवा उत्तर दिशा की ओर रखें। बाद में आसन पर बैठकर भगवान गणेश का पूजन करें। श्री गणेश को तिल से बनी वस्तुओं, तिल-गुड़ के लड्‍डू तथा मोदक का भोग लगाएं।  'ॐ सिद्धि बुद्धि सहित महागणपति आपको नमस्कार है। नैवेद्य के रूप में मोदक व ऋतु फल आदि अर्पित है। गणेश पूजन के दौरान धूप-दीप आदि से श्रीगणेश की आराधना करें। फल, फूल, रौली, मौली, अक्षत, पंचामृत आदि से श्रीगणेश को स्नान कराके विधिवत तरीके से पूजा करें।  गणेश जी को सिंदूर चढ़ाएं। सिंदूर चढ़ाते समय विशेष मंत्र को भी पढ़ें।  ॐ सिंदूरारूण देहाय, ज्येष्ठ राजाय मंगलम, विघ्नराति भयघ्नाय विश्वनाथाय मंगलम सप्तकोटि महामंत्र विघ्नायास्तु मंगलम, विघ्नेशस्य पठेनित्यं मंगलाष्टक मुत्तमम्।।  विघ्न सिद्धि धनं धान्यं श्रेय श्रियं वाप्नुयात्।।

+164 प्रतिक्रिया 24 कॉमेंट्स • 27 शेयर

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
🙏🏻Meena Sharma Jul 20, 2019

+56 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 16 शेयर

+23 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 184 शेयर

+39 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+30 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 10 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB