Bina Aggarwal
Bina Aggarwal May 1, 2018

🌻🌼 GOOD NIGHT 🌹🌼 SLEEP WELL AND SWEET DREAMS 🌹🌼

*very touching* 👇
____________________________
जब बचपन था, तो जवानी एक ड्रीम था...
जब जवान हुए, तो बचपन एक ज़माना था... !! ____________________________
जब घर में रहते थे, आज़ादी अच्छी लगती थी...
आज आज़ादी है, फिर भी घर जाने की जल्दी रहती है... !!
____________________________
कभी होटल में जाना पिज़्ज़ा, बर्गर खाना पसंद था...
आज घर पर आना और माँ के हाथ का खाना पसंद है... !!!
____________________________
स्कूल में जिनके साथ ज़गड़ते थे,
आज उनको ही इंटरनेट पे तलाशते है... !!
____________________________
ख़ुशी किसमे होतीं है, ये पता अब चला है...
बचपन क्या था, इसका एहसास अब हुआ है...
____________________________
काश बदल सकते हम ज़िंदगी के कुछ साल..
.काश जी सकते हम, ज़िंदगी फिर एक बार...!!
____________________________

👘 जब हम अपने शर्ट में हाथ छुपाते थे और लोगों से कहते फिरते थे देखो मैंने अपने हाथ जादू से हाथ गायब कर दिए
|🌀🌀
____________________________
✏जब हमारे पास चार रंगों से लिखने वाली एक पेन हुआ करती थी और हम सभी के बटन को एक साथ दबाने की कोशिश किया करते थे |❤💚💙💜
____________________________
👻 जब हम दरवाज़े के पीछे छुपते थे ताकि अगर कोई आये तो उसे डरा सके..👥
____________________________
👀जब आँख बंद कर सोने का नाटक करते
थे ताकि कोई हमें गोद में उठा के बिस्तर तक पहुचा दे |
____________________________
🚲सोचा करते थे की ये चाँद हमारी साइकिल के पीछे पीछे क्यों चल रहा हैं |🌙🚲
____________________________
🔦💡On/Off वाले स्विच को बीच में
अटकाने की कोशिश किया करते थे |
____________________________
🍏🍎🍉🍑🍈 फल के बीज को इस डर से नहीं खाते थे की कहीं हमारे पेट में पेड़ न उग जाए |
____________________________
🍰🎂🍧🏆🎉🎁 बर्थडे सिर्फ इसलिए मनाते थे
ताकि ढेर सारे गिफ्ट मिले |
____________________________
🔆फ्रिज को धीरे से बंद करके ये जानने की कोशिश करते थे की इसकी लाइट कब बंद होती हैं |
____________________________
🎭 सच , बचपन में सोचते हम बड़े
क्यों नहीं हो रहे ?

और अब सोचते हम बड़े क्यों हो गए ?⚡⚡
____________________________
🎒🎐ये दौलत भी ले लो.. ये शोहरत भी ले लो💕

भले छीन लो मुझसे मेरी जवानी...

मगर मुझको लौटा दो बचपन का सावन ....☔

वो कागज़ की कश्ती वो बारिश का पानी.. 🌊🌊🌊
..............
एक बात बोलु
इनकार मत करना
ये *msg* जीतने मरजी लोगों को *send* करो
जो इस *msg* को पढेगा
उसको उसका बचपन जरुर याद आयेगा.
क्या पता वो आपकी वजह से अपने बचपनमें चला जाए. चाहे कुछ देर के लीए ही सही।
और ये आपकी तरफ से उसको सबसे अच्छा गिफ्ट होगा.
____________________________
___________________________
*Special Doston Ko Snd karo...☺
____
_______________________
____________________________

+17 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 260 शेयर
SaarthakR Prajapat Oct 31, 2020

+2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Aruna Parmar Oct 31, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
gangaram manjani Oct 31, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
man Singh Bhati Oct 31, 2020

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Priti yadav Oct 31, 2020

+13 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 9 शेयर

+15 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Jai Mata Di Oct 31, 2020

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB