।। आज का स्पेशल ।।

।। आज का स्पेशल ।।

+244 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 1162 शेयर

कामेंट्स

Gour.... Apr 18, 2019
सुबह की राम राम जी। ऊँ नमः भगवते वासुदेव जी *** ऊं साँई राम जी ****** भगवान् हरि विष्णु जी का आशीर्वाद आप पर हमेशा बनी रहे।

Sapna Apr 18, 2019
Jai Shri Radhe Krishna ji 🙏🙏

deepak kumar Apr 18, 2019
JAI ANNAPURNA MATA TERI SADA HI JAI HO SUPRABHAT

Amit Kumar 7508442727 Apr 18, 2019
Jai shiri Krishna is mantra ka hindi anuwad bhi kare ta ki sab ise jan sake jo Sanskrit nahi jante danayawad

pramod singh Apr 18, 2019
bahut sunder post ji Jai shree ram krishna hari Good morning ji

prashant sharma Apr 18, 2019
Jis Bhajan Mein Pyajj Ho wah bhojan Prasad nahi ban sakta cahee koi bi mantra pad llo aap

Luna Mali Gujrat Dahod Apr 18, 2019
Radhe Radhe 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹 Shubh parbhat 🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻

Ramprakash Pal Apr 18, 2019
Jay ho anndevta ki Jay ho radhe radhe g.... om sai ram jay baba ki jay

NARENDER KUMAR SONI Apr 18, 2019
जय श्री राधे कृष्णा जी शुभ प्रभात वन्दन जी

rajendra Lodha Apr 18, 2019
सर जी इसका हिन्दी अनुवाद बताने की कृपा करे धन्यवाद ओर विड़ीयो मे बोल कर बताये धन्यवाद

Shivcharanparmar Apr 21, 2019
श्रीमान राजेंद्र जी इन मन्त्रों का अनुवाद अपनी प्रोफाइल में समय मिलतें ही करने की कोशिश करेंगे। इनमें तीन मन्त्र श्रीमद्भगवद्गीता के है ओर एक ऋचा (मन्त्र) ऋग्वेद से है में प्रयास करूगाँ विडियो में बोलने का सफल नहीं हुएं तो पोस्ट बनाएंगे धन्यवाद जी शिवचरण भुलवाना

+72 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 193 शेयर
Jasbir Singh nain May 21, 2019

: संकष्ठी चतुर्थी के दिन ऐसे करें गणेश जी की पूजा, होगी हर मनोकामना पूर्ण संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी का अर्थ होता है- संकटों को हरने वाली। भगवान गणेश बुद्धि, समृद्धि और सौभाग्य को देने वाले हैं । इनकी उपासना शीघ्र फलदायी मानी गई है । जानें शुभ मुहूर्त, व्रत विधि के बारें में। : आज ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि और बुधवार का दिन है । शास्त्रों में बुधवार का दिन भगवान गणेश की पूजा के लिए बड़ा ही विशेष माना जाता है और आज के दिन तो संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत भी है।  अत: आज बुधवार के दिन संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत के उपलक्ष्य में भगवान श्री गणेश की उपासना बड़ी ही फलदायी श्री गणेश को चतुर्थी तिथि का अधिष्ठाता माना जाता है । इस हिसाब से हर माह के कृष्ण और शुक्ल, दोनों पक्षों की चतुर्थी को भगवान गणेश की पूजा का विधान है। बस फर्क केवल इतना है कि कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी, जबकि शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को वैनायकी श्री गणेश चतुर्थी के रूप में मनाया जाता है। संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी का अर्थ होता है- संकटों को हरने वाली। भगवान गणेश बुद्धि, समृद्धि और सौभाग्य को देने वाले हैं । इनकी उपासना शीघ्र फलदायी मानी गई है । कहते हैं कि जो व्यक्ति आज के दिन व्रत करता है, उसके जीवन में चल रही सभी समस्याओं का समाधान निकलता है और उसके सुख-सौभाग्य में वृद्धि होती है । संकष्ठी चतुर्थी व्रत का पारण आपको बता दूं कि ये व्रत सुबह से लेकर शाम को चन्द्रोदय होने तक किया जाता है और चन्द्रोदय होने पर चन्द्रमा को अर्घ्य देने के बाद व्रत का पारण किया जाता है । जानकारी के लिये आपको बता दूं कि चन्द्रोदय आज रात 10 बजकर 35 मिनट पर होगा । संकष्ठी चतुर्थी व्रत की पूजा विधि इस दिन सूर्योदय से पहले उठकर नित्य क्रिया करने के बाद स्नान करें और फिर लाल रंग का वस्त्र पहनें। दोपहर के समय घर में देवस्थान पर सोने, चांदी, पीतल, मिट्टी या फिर तांबे की श्रीगणेश की प्रतिमा स्थापित करें। इसके बाद संकल्प करें और षोडशोपचार पूजन करने के बाद भगवान गणेश की आरती करें। 'ऊं गं गणपतयै नम:' का जाप करें अब भगवान गणेश की प्रतिमा पर सिंदूर चढ़ाएं और 'ऊं गं गणपतयै नम:' का जाप करते हुए 21 दूर्वा भी चढ़ाएं। इसके बाद श्रीगणेश को 21 लड्डूओं का भोग लगाएं और इन लड्डूओं को चढ़ाने के बाद इनमें से पांच लड्डू ब्राह्मणों को दान कर दें, जबकि पांच लड्डू गणेश देवता के चरणों में छोड़ दें और बाकी प्रसाद के रुप में बांट दें। पूरी विधि विधान से श्री गणेश की पूजा करते हुए श्री गणेश स्तोत्र, अथर्वशीर्ष, संकटनाशक गणेश स्त्रोत का पाठ करें। शुभ प्रभात जय श्री गणेशाय नम

+88 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 192 शेयर

+23 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 29 शेयर
Ashish shukla May 21, 2019

+26 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 164 शेयर

+14 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 9 शेयर

+18 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 53 शेयर
Naresh Shakya May 21, 2019

+3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 17 शेयर
Ashish shukla May 21, 2019

+250 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 446 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB