मनुष्य जीवन पानी की तरह हैं जो चलते ही रहता है

मनुष्य  जीवन पानी की तरह हैं जो चलते ही रहता है

मन तथा धन दोनों ही चंचल होते हैं

+15 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 49 शेयर

कामेंट्स

sudarshan Gupta May 28, 2018
very good happy neic laien Mamta g wow so butifoul hai g 🏹🏹🏹🏹🏹🏹🏹🏹🏹 🏹🏹🏹🏹🏹🏹🏹🏹🏹

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 5 शेयर

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+329 प्रतिक्रिया 101 कॉमेंट्स • 275 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB