Ramdevsinh zala
Ramdevsinh zala Oct 8, 2017

desh ki surksha karte karte apne patiki bhi Raxa karti jabaz ledi sainik

desh ki surksha karte karte apne patiki bhi Raxa karti jabaz ledi sainik

Like Jyot Gulal +191 प्रतिक्रिया 22 कॉमेंट्स • 54 शेयर

कामेंट्स

Sandeep Chatterjee Oct 9, 2017
गर्व है इन वीरांगनाओ पर, जय श्री राम

Bharatsinh Sjadav Oct 9, 2017
Hame bhut garv hai apnedeski inbetiyopar joapna nhipurebhartvarshki sanskrutikidharoharko kaym rakhtehuye jayhind jaybhart

Kanchan Bhagat Oct 9, 2017
धर्म की जय हो जय हिन्द

Ramdevsinh zala Oct 9, 2017
post par pratikriya comment aur share karne k liye sub ka dhanyawad

Ramdevsinh zala Oct 9, 2017
whatsapp par ek group banate he ek badiya sundar group to please Sub Apna Apna whatsapp no dijiye

Virendra Sachdeva Oct 10, 2017
देश की वीर नारी दुश्मन पर भारी जय हिन्द

SUNIL Thakkar Aug 22, 2018

👦🏻एक बेटे ने पिता से पूछा-
पापा.. ये 'सफल जीवन' क्या होता है ??🤔

पिता, बेटे को पतंग 🔶 उड़ाने ले गए।
बेटा पिता को ध्यान से पतंग उड़ाते देख रहा था...🤔

थोड़ी देर बाद बेटा बोला-
पापा.. ये धागे की वजह से पतंग अपनी आजादी से और ऊपर की और नहीं जा पा...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Like Jyot +6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 14 शेयर
kashiram jharbade Aug 22, 2018

https://youtu.be/D4IHRYJToTc

Tulsi Jyot Flower +23 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 50 शेयर
MySuvichar Aug 22, 2018

Pranam +3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Lakhan B . Barmaiya Aug 22, 2018

Milk Like Sindoor +26 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर
Ravi Kumar sharma Aug 22, 2018

Pranam Flower Bell +36 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर

*रोगानुसार गाय के घी के उपयोग* :

१. गाय का घी नाक में डालने से पागलपन दूर होता है ।
२. गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है
३. गाय का घी नाक में डालने से लकवा का रोग में भी उपचार होता है ।

४. 20-25 ग्राम गाय का घी व मिश्री खिलाने स...

(पूरा पढ़ें)
Pranam +1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर

बहुत समय पहले की बात है वृन्दावन में
श्रीबांके
बिहारी जी के मंदिर में रोज
पुजारी जी बड़े भाव से सेवा
करते थे। वे रोज बिहारी जी की
आरती करते , भोग
लगाते और उन्हें शयन कराते और रोज चार लड्डू
भगवान के बिस्तर के पास रख देते थे। उनका यह भाव
था कि बिहारी...

(पूरा पढ़ें)
Flower Pranam Like +40 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 50 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB