🙏 जय शनिदेव 🙏 सुबह की सभी को राम राम सभी को नमस्कार 🙏 आप सभी का दिन शुभ मंगलमय हो 🙏🌹🙏 हरे कृष्णा 🌹 राधे राधे 🙏🌹🙏

+277 प्रतिक्रिया 34 कॉमेंट्स • 0 शेयर

कामेंट्स

Ranveer Soni Jan 23, 2021
🌹🌹जय हनुमान जी महाराज🌹🌹 🌹🌹जय शनिदेव जी महाराज🌹🌹

madan pal 🌷🙏🏼 Jan 23, 2021
जय श्री राम जी शुभ प्रभात वंदन जी पवन सुत हनुमान जी व सुर्य पुत्र शनि देव जी महाराज जी की कृपा आप व आपके परिवार पर बनीं रहे जी 🌷🙏🏼🌷🙏🏼🌷🙏🏼🌷🙏🏼

कुसुम सेन Jan 23, 2021
⛳🙏🕉️🙏🥀🌹Jay Shri Radhe Krishna Radhe Radhe Pyari Bahana ji suprabhat Vandana ji 🙏ram ram ji aapka Har din Har PalShubh mangalmay Ho shubhkamnaen Pyari Bahana Kaisi hain aap🙋😊🌹🕉️🌹👉☕🍫☕💐💐⛳⛳⛳

Brajesh Sharma Jan 23, 2021
जय शनि महाराज की जय ॐ नमः शिवाय, जय जय भोले

शामराव ठोंबरे पाटील Jan 23, 2021
जय श्री राम जय श्री हनुमान जी जय श्री शनि देव महाराज 👑 👏 जय श्री लक्ष्मी नारायण 🙏 🐚 🌹 💐 नमस्कार 🙏 🚩

s.r.pareek rajasthan Jan 23, 2021
🥀जय श्री राम जय हनुमानजी🥀 आपका दिन मंगलमय हो जी सुमधुर सप्रेम नमस्कार ,राम राम जी प्यारी बहना जी 🙏🏻🙏🏻🥀🌻🍁🌠🌠

Ajay Awasthi Jan 23, 2021
शुभ दोपहर जय शनिदेव 🙏

Sumitra Soni Jan 23, 2021
राम-राम🙏🏻🌹 बहना शनिदेव और हनुमान जी की कृपा दृष्टि आप और आपके परिवार पर सदैव बनी रहे आप सदा सुखी रहे स्वस्थ रहे इसी मंगल कामना के साथ आपका हर पल शुभ हो 🙏🏻🌹

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Jan 23, 2021
Good Afternoon My Sweet Sister ji 🙏🙏 Jay Shree Ram 🙏🙏🌹🌹🌹 Om Shree Shanidev 🙏🙏🌹🌹 Shanidev Maharaj 🙏🙏🌹🌹 Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐.

ಗಿರಿಜಾ ನೂಯಿ Jan 23, 2021
🙏🙏 Good Afternoon Ji🌹🌹 🕉️🕉️🕉️🕉️Om Shri Sham Shanishwaraye Namo Namah🙏✳️✳️🙏 Super Lines Ji 👍👍👍👍👍 🚩🚩🚩🚩Jai Shri Ram☀️☀️☀️☀️ 🚩🚩🚩🚩Jai Shri Hanuman Ji🌳🌳🌳🌳 Have a wonderful weekend, Shri Ram Hanuman, Shanidev ji bless you & your family always be happy, healthy & wealthy dear sister ji🙏🙏🙏🙏🌷🌷🌷🌷🌸🌸🌸🌸💐💐💐💐🏵️🏵️🏵️🏵️🌻🌻🌻🌻

Ravi Kumar Taneja Jan 23, 2021
🌷🌷🌷पवन पुत्र श्री हनुमान जी ,तथा सूर्य पुत्र श्री शनि देव जी की कृपा द्रष्टि आप एवं आपके परिवार पर सदैव बनी रहे 🦚🦢🙏🌺🙏🦢🦚 श्री मंगलमुर्ती हनुमंतेय नमः🙏🌹🙏 🕉️ शं शनैश्चराय नमः🙏🌻🙏

prem chand shami Jan 23, 2021
जय जय श्री राधे कृष्णा जी 🙏🙏 शुभ मंगलमय रात्रि की शुभकामनायें प्रणाम बहन जी 💐💐🙏

Narayan Tiwari Jan 23, 2021
🙏श्री सीता रामाय नमः🚩जय श्रीराम 🙏 विनती करूँ मैं आपसे, सुनिये दया निधान.! मुझे मिला दो राम से, हे वीर बली हनुमान.!! बन जायेंगें बिगड़े काम, प्रेम से बोलो श्रीराम,

Sanjay Rastogi Jan 23, 2021
Ram Ram ji jai sani dev ji jai veer bajrangbali Hanuman ji subh Ratri vandan ji

Kamlesh Mar 5, 2021

+5 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sarita Mar 5, 2021

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 7 शेयर
Pritam Chhabariy Mar 5, 2021

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

उपासना केवल एक इलाज नहीं है, यह प्रभु के साथ एक संवाद है; उसके लिए आपको 10 नियमों का पालन करना होगा! उपासना केवल एक इलाज नहीं है, यह प्रभु के साथ एक संवाद है; उसके लिए आपको 10 नियमों का पालन करना होगा! पहली बात हमें यह महसूस करना चाहिए कि उपचार के रूप में हम हर दिन जो पूजा करते हैं, वह भगवान के लिए नहीं है, बल्कि हमारे लिए है। पूजा ईश्वर के द्वार पर एक क्षण के लिए खड़े होने का अवसर है। जीव और शिव के बीच एक संवाद है। पूजा करते समय मन एकाग्र होने का मतलब है। इसलिए, इसके पीछे मुख्य भावना यह होनी चाहिए कि एक हार्दिक बिल या फूल भगवान तक पहुंचना चाहिए, उसे हमारे द्वारा किए गए प्रसाद को स्वीकार करना चाहिए। लेकिन वास्तव में कुछ अलग होता है! पति और पत्नी का तर्क है कि पूजा कौन करेगा। क्योंकि उनके पास इतना समय नहीं है। दो में से एक, धुसफुसैट, पूजा को पूरा करता है। अतीत में, घर के बुजुर्ग ईमानदारी और तल्लीनता के साथ यह काम करते थे और पोते उनके साथ बैठकर पूजा-अनुष्ठान सीखते थे। लेकिन अब ऐसा नहीं हो रहा है। जिस आत्मा के साथ हम दिन भर एक क्षण के लिए भी संवाद नहीं करते हैं, उससे हमारी परेशानियों में भाग जाने की उम्मीद की जाती है, और यदि वह कॉल नहीं सुनता है, तो वह दोषी है। इन गलतियों से बचने के लिए विज्ञान ने कुछ उपाय सुझाए हैं ... >> एक हाथ से भगवान का अभिवादन कभी न करें। >> पूजा के बाद घर में बड़ों का अभिवादन करें। >> जप करते समय एक स्थान पर आसन बिछाकर उस पर चुपचाप बैठ जाएं। जप माला को धारण करते हुए चेहरा हाथ पर रखना चाहिए। मेरा मतलब है, कितना जप बाकी है, यह अक्सर ध्यान नहीं दिया जाता है। मेरुमणि के आने तक जप पूरा हो जाता है। >> जप के बाद, भगवान को हृदय से नमस्कार करना चाहिए और उस स्थान को नमस्कार करना चाहिए जहां वह जमीन को छूकर बैठता है। >> हालांकि पूजा में तुलसी का स्थान महत्वपूर्ण है, लेकिन तुलसी के पत्ते को द्वादशी, पूर्णिमा, अमावस्या और रविवार को नहीं चढ़ाना चाहिए। >> घी के दीपक के साथ तेल का दीपक न रखें। इसे अलग से प्रज्वलित किया जाना चाहिए। >> शनिवार के दिन कलश में जल भरकर पीपल के वृक्ष को चढ़ाना चाहिए। ऐसा करना शुभ माना जाता है। >> भगवान की पूजा में सफेद तिल नहीं, बल्कि काले तिल का प्रयोग अनुष्ठान में करना चाहिए। >> दक्षिण के दाहिने हाथ को किसी भी धार्मिक अवसर पर दान करें। >> शंकर को बेल, गणपति को दूर्वा, विष्णु को तुलसा, लक्ष्मी को कमल। >> महादेव को महाशिवरात्रि के दिन को छोड़कर किसी भी दिन कुमकुम नहीं चढ़ाना चाहिए। >> जब भगवान को समर्पित फूलों को साफ किया जाता है, तो उन्हें बगीचे के पौधों को उर्वरक के रूप में जोड़ा जाना चाहिए और उन्हें गंदे या मैले पानी में फेंकने के बिना पुन: उपयोग किया जाना चाहिए। >> पूजा करते समय आपका मुख पूर्व की ओर होना चाहिए। अपने हाथ की बाईं ओर अगरबत्ती और दाईं ओर आरती की थाली रखें। >> भगवान की पूजा में घंटे बिताना शास्त्रों का उद्देश्य नहीं है, लेकिन जितना अधिक समय हम भगवान की उपस्थिति में बिताते हैं, उतना ही हमें दुनिया को भूलना चाहिए, यही पूजा का मुख्य उद्देश्य है। ॐ गं गणपतये नमः 👏 ॐ नमो नारायणाय ॐ नमो भगवते वासुदेवाय जय श्री राम 🌹 जय श्री लक्ष्मी नारायण 🙏 जय श्री गुरुदेव जय श्री कृष्ण राधे राधे 🙏 शुभ संध्या वंदन 🌹 👏 🚩 आप सभी भारतवासी मित्रों को मेरा 🙏 शुभ संध्या वंदन 🌹 🌄✨💥👏🐚🚩🌹🎪👪🌷👏☝

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+69 प्रतिक्रिया 18 कॉमेंट्स • 4 शेयर

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Mamta Chauhan Mar 5, 2021

+51 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 7 शेयर
Jyoti Kumari Mar 5, 2021

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+37 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 13 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB