+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 13 शेयर
Rani May 7, 2021

+50 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 52 शेयर
Jai Mata Di May 6, 2021

+65 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 99 शेयर
Shanti Pathak May 7, 2021

,*जय श्री राधे कृष्णा जी* *शुभरात्रि वंदन* पाजिटिव रिपोर्ट। 15 दिनों की जद्दोजहद के बाद एक आदमी अपनी कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट हाथ में लिए अस्पताल के रिसेप्शन पर खड़ा था। आसपास के कुछ लोग तालियां बजा कर उसका अभिनंदन कर रहे थे! जंग जो जीत कर आया था वो! लेकिन उस शख्स के चेहरे पर बेचैनी की गहरी छाया थी। गाड़ी में घर के पूरे रास्ते भर उसे आता रहा आइसोलेशन नामक खतरनाक ओर असहनीय दौर का वो मंजर। न्यूनतम सुविधाओं वाला वो छोटा सा कमरा अपर्याप्त उजाला मनोरंजन के किसी साधन की अनुपलब्धता और कोई बात नहीं करता था और न ही कोई नजदीक आता था खाना भी बस प्लेट में रख कर सरका दिया जाता था। कैसे गुजारे उसने वे 15 दिन वही जानता था। घर पहुंचते ही स्वागत में खड़े उत्साहित पत्नी और बच्चों को छोड़कर वह शख्स सीधे घर के एक उपेक्षित कोने के कमरे में गया जहाँ उसकी माँ पिछले पाॉच वर्षों से पडी़ थी। माँ के पावों में गिरकर वह खूब रोया और माँ को लेकर बाहर आया। पिता की मृत्यु के बाद पिछले 5 वषोॅ से एकांतवास (आइसोलेशन) भोग रही माँ से कहा , माँ आज से आप हम सब एक साथ एक जगह पर ही रहेंगे। माँ को भी बड़ा आश्चर्य हुआ कि बेटे ने उसकी पत्नी के सामने ऐसा कहने की हिम्मत कैसे कर ली? इतना बड़ा हृदय परिवर्तन अचानक कैसे हो गया? बेटे ने फिर अपने एकांतवास की सारी परिस्थितियों माँ को बताई और बोला अब मुझे अहसास हुआ कि एकांतवास कितना दुखदायी होता है? बेटे की नेगेटिव रिपोर्ट उसकी जिन्दगी की पाजिटिव रिपोर्ट बन गयी। संदेश - आज बहुत से बुजुर्गों के साथ यही समस्या है। जिस उम्र में उसे अपनों के सहारे की जरुरत महसूस होती है ,जब उन्हें बच्चों का साथ संजीवनी सा काम करता है उसी समय वे नितांत अकेले रह जाते हैं | असुरक्षा की भावना उनके अंतर्मन में इस कदर व्याप्त है कि उन्हें अपना जीवन व्यर्थ सा लगने लगा है ऐसे में हमारी यह जिम्मेदारी बनती है कि हम अपने बुजुर्गों का ध्यान रखें और उनका सहारा बनें। याद रहे जैसा व्यवहार आज आप अपने माँ बाप के साथ करेंगे,जैसा उदाहरण प्रस्तुत करेंगे, वैसा ही व्यवहार आपकी आने वाली पीढी आप के साथ करेगी।

+174 प्रतिक्रिया 48 कॉमेंट्स • 398 शेयर
Jai Mata Di May 5, 2021

+72 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 137 शेयर
oooooooo May 5, 2021

+53 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Arun Kumar Sharma May 7, 2021

🌟🌟🌟एक गरीब आदमी था।🌟🌟🌟 वो हर रोज अपने गुरु के आश्रम जाकर वहां साफ-सफाई करता और फिर अपने काम पर चला जाता था। अक्सर वो अपने गुरु से कहता कि आप मुझे आशीर्वाद दीजिए तो मेरे पास ढेर सारा धन-दौलत आ जाए। एक दिन गुरु ने पूछ ही लिया कि क्या तुम आश्रम में इसीलिए काम करने आते हो। उसने पूरी ईमानदारी से कहा कि हां, मेरा उद्देश्य तो यही है कि मेरे पास ढेर सारा धन आ जाए, इसीलिए तो आपके दरशन करने आता हूं। पटरी पर सामान लगाकर बेचता हूं। पता नहीं, मेरे सुख के दिन कब आएंगे। गुरु ने कहा कि तुम चिंता मत करो। जब तुम्हारे सामने अवसर आएगा तब ऊपर वाला तुम्हें आवाज थोड़ी लगाएगा। बस, चुपचाप तुम्हारे सामने अवसर खोलता जाएगा। युवक चला गया। समय ने पलटा खाया, वो अधिक धन कमाने लगा। इतना व्यस्त हो गया कि आश्रम में जाना ही छूट गया। कई वर्षों बाद वह एक दिन सुबह ही आश्रम पहुंचा और साफ-सफाई करने लगा। गुरु ने बड़े ही आश्चर्य से पूछा--क्या बात है, इतने बरसों बाद आए हो, सुना है बहुत बड़े सेठ बन गए हो। वो व्यक्ति बोला--बहुत धन कमाया। अच्छे घरों में बच्चों की शादियां की, पैसे की कोई कमी नहीं है पर दिल में चैन नहीं है। ऐसा लगता था रोज सेवा करने आता रहूं पर आ ना सका। गुरुजी, आपने मुझे सब कुछ दिया पर जिंदगी का चैन नहीं दिया। गुरु ने कहा कि तुमने वह मांगा ही कब था? जो तुमने मांगा वो तो तुम्हें मिल गया ना। फिर आज यहां क्या करने आए हो ? उसकी आंखों में आंसू भर आए, गुरु के चरणों में गिर पड़ा और बोला --अब कुछ मांगने के लिए सेवा नहीं करूंगा। बस दिल को शान्ति मिल जाए। गुरु ने कहा--पहले तय कर लो कि अब कुछ मागने के लिए आश्रम की सेवा नहीं करोगे, बस मन की शांति के लिए ही आओगे। गुरु ने समझाया कि चाहे मांगने से कुछ भी मिल जाए पर दिल का चैन कभी नहीं मिलता इसलिए सेवा के बदले कुछ मांगना नहीं है। वो व्यक्ति बड़ा ही उदास होकर गुरु को देखता रहा और बोला--मुझे कुछ नहीं चाहिए। आप बस, मुझे सेवा करने दीजिए। सच में, मन की शांति सबसे अनमोल है।।* कर दिया तूने उजाला जीवन के हर मोड़ पे, वरना इस दुनिया में हर कोई चला जाता है दिल तोड़ के.. तेरे दर पे जबसे आया,कोई कमी नहीं है मेरे घर में, मेरा हर काम हो जाता है तेरे सामने हाथ जोड़ के.....। जब भी मैं बुरे हालातों से घबराता हूँ..! तब मेरे प्रभु जी कि आवाज़ आती है "रुक मैं आता हूँ"..!! https://youtu.be/_HCRWxkROyg

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 15 शेयर
Deep May 7, 2021

+4 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Jai Mata Di May 6, 2021

+65 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 85 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB