मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें

💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💜💚💚💚💚श्री गणेशाय नमः 💚💚💚💚💚💚❤❤❤❤❤❤सुप्रभात जी ❤❤❤❤❤❤❤🧡🧡🧡गंगा दशहरा की हार्दिक शुभकामनाएं 🧡🧡💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚💚🌲🌲🌲🌲भोला भैया की तरफ से सभी भाई बहनों को राम राम जी 🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌲🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌳🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷

+378 प्रतिक्रिया 74 कॉमेंट्स • 845 शेयर

कामेंट्स

🌷🌷🌷भोला भैया 🌷🌷🌷 Jun 12, 2019
@queen1 सेम टू यू बहिन जटाधारी देवों के देव महादेव की जय माता भवानी जगत कल्याणी रुद्र काली की जय जय श्री राधे माधव की बहिन का जीवन मंगलमय हो परमपिता आपको और आपके परिवार को हमेशा खुश रख्खे बहिन जय भारत माता की

Manoj manu Jun 12, 2019
🚩🙏प्रथम स्मरण श्री गणेश जी महाराज की अनंत कोटी कृपा एवं आप सभी के हर पल की अनेकों मंगलमय शुभकामनाओं केसाथ सादर सप्रेम वंदन भाई जी 🌿🌿🌺🌿🌿🌺🙏

Ritu Sen Jun 12, 2019
Jai Shri Radhe Krishna ji good morning bhai ji have a very beautiful day bhai ji aapka Har Pal mangalmay Ho God bless you and your family bhai ji always be very happy bhai ji🙏🙏 Jai Mata Di happy Ganga Dussehra bhai ji Har Har Gange

Shivsanker Shukala Jun 12, 2019
जय श्री राधे कृष्णा भैया जी शुभ दोपहर राधे राधे

hiren Jun 12, 2019
Jai Shree Ganesh Good afternoon Bhai ji

hiren Jun 12, 2019
👌👌👌👌👌👌

Sandhya Nagar Jun 12, 2019
जय श्री राधे कृष्णा जय श्री वृंदावन धाम 💗श्री भगवान् का ऐश्वर्य लीला 💗 ब्रज में एक बार सब ग्वाल बाल जिद पे अड़ गए,और श्री भगवान से उनका ईश्वरिय रूप दिखाने की जिद करने लगे। बोलने लगे.... अरे कृष्णा मेरे बाबा बोलते है की तू भगवान है। क्या तू सच में भगवान ह? अगर है तो अपना भगवान वाला रूप दिखा, दूसरा गोप बालक बोला हा ये भगवान है मेरी मइया बोलती है जब ये पैदा हुआ था तो जेल के दरवाजे अपने आप खुल गए थे और देवी दुर्गा दुष्ट कंस को चेतावनी देते हुए बोली थी की रे मुर्ख कंस त्रिभुवन पति का जन्म हो चूका है तू उनसे नहीं बच सकता वो समस्त देवताओ के भी स्वामी है और वो ही तेरा संहार करेंगे। एक और ग्वाल बाल बोला मेरे बाबा बोलते है ना जब ये पैदा हुआ था तो भगवान शिव इसके दर्शन को आये थे। इसको गोद में लेकर खूब प्रेम कर रहे थे प्रेम वश महादेव की आँखों से अश्रु प्रवाहित हो रहे थे। और बार बार बोल रहे थे कि ये ही समस्त सृष्टि के ईश्वर है जो आज बाल रूप में मेरे गोद में है,मैं हमेशा समाधि लगाकर इनका ध्यान करता हूं,इनके ही नाम का सैदव जाप करता रहता हुँ । तो इसका मतलब हमारा कान्हा सच में भगवान हैं। एक गोप बालक बोला नहीं मेरी मैया बोलती है कि कान्हा तो हम लोग जिनको भगवान समझते है ये उनका भी भगवान है। शिव जी ,ब्रम्हा जी ,देवी जी,समस्त देवताओं ने इसके ऊपर पुष्प वर्षा की थी इसके जन्मोत्सव के अवसर पर .......और ये जन्म लेते ही असुरो को मारने लगा था। ये हमारा कान्हा ही सच्चा भगवान है। फिर तो सब गोप बालक मिल कर बोले.... सुन कान्हा आज अपना भगवान वाला रूप दिखा हम सबको। सब सुन लो भाई अगर आज कृष्णा ने हमको,अपना भगवान वाला रूप नहीं दिखाया तो इसको अपने साथ गेंद नहीं खेलने देंगे। और आगे से भी इसके साथ कोई नहीं खेलेगा। भक्तवत्सल श्री भगवान ग्वाल बालकों की जिद मान गए और अगले ही पल गोपवृन्द बैकुंठ धाम में पहुच गये। वहाँ का ऐश्वर्य भला कौन वर्णन कर सकता है। हजारों जन्मो की तपस्या से भी जिस धाम में जाना असम्भव है। योगी,मुनि ॐ जप कर लाख जतन करते हैं बैकुंठ दर्शन करने को,.... धन्य है वो गोप बालक जो अपने कृष्ण से इतना प्रेम करते है की स्वमं भगवान उनके संग खेल रहे है और प्रेमवश अपने बैकुंठ धाम का दर्शन भी करा रहे है। ये है जीव का ईश्वर से परम प्रेम जो पूर्ण पुरुषोत्तम भी अपने अधीन कर लेता है। ग्वाल बालक देखते है की बैकुंठ में कान्हा महाराजा के जैसे एक रत्नजड़ित ऊँचे सिंहासन पे विराजित है और और समस्त देवी देवता उनका उत्तम स्तोत्रों से स्तुति कर रहें हैं। गोप बालक सबसे पीछे है वो अपने कान्हा की स्तुति होते हुए देख रहें हैं।काफी समय हो गया श्री भगवान की स्तुति तो बंद ही नहीं हो रही समस्त देवगण उनकी स्तुति सेवा में लगे ही हैं। सेवा,आरती ,स्तुति ,पूजा चलती ही जा रही रही है....... अब तो बहुत समय हो गया, गोप बालकों से रहा नहीं गया किसी तरह से हिम्मत जुटा कर एक गोप बालक ने पीछे से आवाज दे ही दिया ........ये कान्हा गइया कब चऱायेगा ? गोधन बेला हो गई बालक के इतना बोलते ही श्री भगवान की स्तुति में लगें देवगण भी पीछे मुड़कर देखने लगें गोप बालक तो डर गए किन्तु देवगण सोचने लगे धन्य हैं ब्रज के ये सब बालक, ना जाने कितने जन्मों के उनके पुण्य है जो ब्रज में जन्म लिए और समस्त चराचर पति हम देवताओं के स्वामी उनसे इतना स्नेह करते है। मनुष्य रूप में उनके संग बाल लीला करते है। ब्रज के ग्वालबालों की जय हो। अगले ही पल श्री भगवान ने अपने ऐश्वर्य लीला का समापन कर दिया सभी गोपवृन्द वापस ब्रज में अपने सखा कृष्ण के साथ खेल खेलने में व्यस्त हो गए। वो अपने कृष्ण को भगवान नहीं अपना सखा मानते है। उनका कान्हा अब उनके साथ है,वो सब मिलकर गइया चऱायंगे, खेल खेलेंगे ,कान्हा उनके साथ भोजन करेंगे। समस्त ऐशवर्य कि देवी श्रीमती लक्ष्मी देवी भगवान के कोमल चरणकमलो की सेवा में सदा लगी रहती है। सारे देवगण श्री भगवान की सेवा में सदा लगे रहते है। भगवान कृष्ण समस्त जीवो के रचयिता है सबसे प्रेम करते है हम सबको भी उनसे प्रेम करना चाहिए। श्री भगवान अपने भक्तों के प्रेम के भूखे है। माधव भक्तवत्सल करुणासागर है। हम कृष्ण से थोड़ा सा भी प्रेम करे तो बदले में वो हमसे कई गुना ज्यादा प्रेम करते है ये उनकी दयालुता है। भगवान श्री कृष्ण की जय हो।

Sanjay Sharma Jun 12, 2019
जय श्री राधे श्याम जय श्री राधे कृष्णा जय श्री गणेश ओम् गण गणपतए नमः शुभ दोपहरी जी भाई आप कैसे हैं भाई आप सदा खुश रहिए और सदा तरक्की की राह पर अग्रसर रहे ईश्वर आपके जीवन में सदैव खुशियों का भंडार भरा रहे

Gautam Jun 12, 2019
mahesh mslhotra ek gsnda inshsn he wo geeta bhatt naam ki aurt ki bahen khekar use propose kiya tha us ki aur geeta bhatt ki comment ki mene follow kiya tha.

Maahi Maahi Jun 12, 2019
भाईया पोस्ट देखो मेरी

Dr. Ratan Singh Jun 12, 2019
🚩💐ॐ श्री गणेशाय नमः💐🚩 🎡🌹शुभरात्रि वन्दन जी 🌹🎡 🎭आपको और आपके पूरे परिवार को गंगा दशहरा की हार्दिक बधाई एवं ढेर सारे शुभकामनाएं 🙏 👏आप पर माँ गंगाऔरश्री गणेश की कृपा दृष्टि सदा बनी रहे जी🙏 🌸आपका बुधवार का रात्रि शुभ शांतिमय और मंगलमय व्यतीत हो जी 🙏 🕉🐚🚩ॐ गणपतये नमः🚩🐚🕉

🌷🌷🌷भोला भैया 🌷🌷🌷 Jun 13, 2019
@sumitrasoni2 जीजी पहले मेरी बात को ध्यान से समझना फिर सोच विचार करना नितिन सोनी से मेने कहा कि तेरी हिम्मत कैसे हुई मेरी पोस्ट पर आकर किसी बहिन बेटी को कमेन्ट करने की उसका रिप्लाई आया कि मे आपकी पोस्ट कब आया मुझे भी लगा कि मे किसी और की पोस्ट पर हूँ फिर मैंने अपनी पोस्ट चैक की तो पोस्ट मेरी ही थी उसी वक्त आपने कमेन्ट किया तब मैने आपको लिखा कि जीजी जरा नितिन सोनी को बताओं ये पोस्ट किसकी है मुझे लग रहा था कि शायद मे ही किसी और की पोस्ट पर जाकर नितिन सोनी को धमका रहा हूँ इसलिए मैंने आपको लिखा था रही बात मेंरे नंबर की तो मेरा नंबर है 6397272990 पर जीजी से हाथ जोड़कर निवेदन है कि कभी कोई जरूरत पडे तो ही फोन करना वर्ना कमेन्ट करके ही अपना सुझाव आदान-प्रदान होता रहेगा

sumitra Jun 13, 2019
@भोलाभैया koi nhi bhai ji आपको म अछे से जानती हु आप बहुत अछे इंसान ह 🙏

sumitra Jun 13, 2019
@भोलाभैया वो तो पागल ह उसका इलाज करो मेरे को कोई दिक्कत नही ह भाई जी🙏मेने भी उसको कई बार बोला ह वो मेरी पोस्ट पर भी नही आता

🌷🌷🌷भोला भैया 🌷🌷🌷 Jun 13, 2019
@sumitrasoni2 बहिन लिखता तो सही हू पर आप लोग गुस्से में उसे गलत समझ जाते हैं कल इतना ड्रामा हुआ एक यूजर महेश भार्गव तो कभी अमित ठाकुर बना शिवानी मनीषा शशी ये सबको भ्रम हो गया

Queen Jun 15, 2019

+514 प्रतिक्रिया 59 कॉमेंट्स • 35 शेयर
Anita sharma 25 Jun 17, 2019

जय जय श्री राधे 🙏 राधाजी भगवान श्री कृष्ण की परम प्रिया हैं तथा उनकी अभिन्न मूर्ति भी। श्रीमद्‌ भागवत में कहा गया है कि श्री राधा जी की पूजा नहीं की जाए तो मनुष्य श्रीकृष्ण की पूजा का अघिकार भी नहीं रखता। राधा जी भगवान श्रीकृष्ण के प्राणों की अधिष्ठात्री देवी हैं, अत: भगवान इनके अधीन रहते हैं। राधाजी का एक नाम कृष्णवल्लभा भी है क्योंकि वे श्रीकृष्ण को आनन्द प्रदान करने वाली हैं। माता यशोदा ने एक बार राधाजी से उनके नाम की व्युत्पत्ति के विषय में पूछा। राधाजी ने उन्हें बताया कि 'रा' तो महाविष्णु हैं और 'धा' विश्व के प्राणियों और लोकों में मातृवाचक धाय हैं। अत: पूर्वकाल में श्री हरि ने उनका नाम राधा रखा। भगवान श्रीकृष्ण दो रूपों में प्रकट हैं—द्विभुज और चतुर्भुज। चतुर्भुज रूप में वे बैकुंठ में देवी लक्ष्मी, सरस्वती, गंगा और तुलसी के साथ वास करते हैं परन्तु द्विभुज रूप में वे गौलोक घाम में राधाजी के साथ वास करते हैं। राधा-कृष्ण का प्रेम इतना गहरा था कि एक को कष्ट होता तो उसकी पीड़ा दूसरे को अनुभव होती। श्री राधे श्री राधे श्री राधे 🙏 Jai shree radhey Krishna ji shubh prabhat all friends happy Monday RADHEY RADHEY

+56 प्रतिक्रिया 31 कॉमेंट्स • 7 शेयर
poonam aggarwal Jun 18, 2019

+258 प्रतिक्रिया 44 कॉमेंट्स • 365 शेयर
Raj Rani Bansal Jun 17, 2019

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 7 शेयर

+76 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 107 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB