Pt Vinod Pandey 🚩
Pt Vinod Pandey 🚩 Oct 18, 2018

🌞~ आज का हिन्दू #पंचांग ~🌞 ⛅ दिनांक 18 अक्टूबर 2018

🌞~ आज का हिन्दू #पंचांग ~🌞                                   ⛅ दिनांक 18 अक्टूबर 2018

*🌞~ आज का हिन्दू #पंचांग ~🌞*
⛅ दिनांक 18 अक्टूबर 2018
⛅ दिन - गुरुवार
⛅ विक्रम संवत - 2075 (गुजरात. 2074)
⛅ शक संवत -1940
⛅ अयन - दक्षिणायन
⛅ ऋतु - शरद
⛅ मास - अश्विन
⛅ पक्ष - शुक्ल
⛅ तिथि - नवमी दोपहर 03:28 तक तत्पश्चात दशमी
⛅ नक्षत्र - श्रवण रात्रि 12:34 तक तत्पश्चात धनिष्ठा
⛅ योग - धृति सुबह 09:48 तक तत्पश्चात शूल
⛅ राहुकाल - दोपहर 01:49 से शाम 03:16 तक
⛅ सूर्योदय - 06:36
⛅ सूर्यास्त - 18:11
⛅ दिशाशूल - दक्षिण दिशा में
*⛅ #व्रत पर्व विवरण* - महानवमी, शारदीय नवरात्र समाप्त, सरस्वती विसर्जन, विजयादशमी (पूरा दिन शुभ मुहूर्त), विजय मुहूर्त (दोपहर 02:20 से 03:07 तक), (संकल्प, शुभारंभ, नूतन कार्य, सीमोल्लंधन के लिए), दशहरा, गुरु-पूजन, अस्त्र-शस्त्र-शमी वृक्ष-आयुध-वाहन पूजन, वृद्ध जयंती
👉🏻https://goo.gl/EYNVVS

*💥 विशेष* - नवमी को लौकी खाना गोमांस के समान त्याज्य है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

*🌷 अंतिम दिन करें मां सिद्धिदात्री की उपासना*
🙏🏻 नवरात्रि के अंतिम दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। मां सिद्धिदात्री भक्तों को हर प्रकार की सिद्धि प्रदान करती हैं।
🙏🏻 अंतिम दिन भक्तों को पूजा के समय अपना सारा ध्यान निर्वाण चक्र जो कि हमारे कपाल के मध्य स्थित होता है, वहां लगाना चाहिए। ऐसा करने पर देवी की कृपा से इस चक्र से संबंधित शक्तियां स्वत: ही भक्त को प्राप्त हो जाती हैं। सिद्धिदात्री के आशीर्वाद के बाद श्रद्धालु के लिए कोई कार्य असंभव नहीं रह जाता और उसे सभी सुख-समृद्धि प्राप्त हो जाते हैं।
*➡ उपाय*- नवमी तिथि के दिन माता को विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाएं व यथाशक्ति गरीबों में दान करें। इससे लोक-परलोक में आनंद व वैभव मिलता है।

*🌷 दशहरे के दिन 🌷*
➡ 18 अक्टूबर 2018 गुरुवार को दशहरा, विजयादशमी (पूरा दिन शुभ मुहूर्त), संकल्प, शुभारम्भ, नूतन कार्य, सीमोल्लंघन के लिए विजय मुहूर्त (दोपहर 2-20 से 3-07 तक), गुरु-पूजन, अस्त्र-शस्त्र-शमी वृक्ष-आयुध-वाहन पूजन
19 अक्टूबर : दशहरा
🙏🏻 दशहरा के दिन शाम को जब सूर्यास्त होने का समय और आकाश में तारे उदय होने का समय हो वो सर्व सिद्धिदायी विजय काल कहलाता है |
👉🏻 उस समय घूमने-फिरने मत जाना | दशहरा मैदान मत खोजना ... रावण जलाता हो देखकर क्या मिलेगा ? धूल उड़ती होगी, मिटटी उड़ती होगी रावण को जलाया उसका धुआं वातावरण मे होगा .... गंदा वो श्वास में लेना .... धूल, मिटटी श्वास में लेना पागलपन है |
ये दशहरे के दिन शाम को घर पे ही स्नान आदि करके, दिन के कपडे बदल के शाम को धुले हुए कपडे पहनकर ज्योत जलाकर बैठ जाये | थोडा
*🌷 " राम रामाय नम: । "*
🙏🏻 मंत्र जपते, विजयादशमी है ना तो रामजी का नाम और फिर मन-ही-मन गुरुदेव को प्रणाम करके गुरुदेव सर्व सिद्धिदायी विजयकाल चल रहा है की हम विजय के लिए ये मंत्र जपते है -
*🌷 "ॐ अपराजितायै नमः "*
➡ ये मंत्र १ - २ माला जप करना और इस काल में श्री हनुमानजी का सुमिरन करते हुए इस मंत्र की एक माला जप करें :-
*🌷 "पवन तनय बल पवन समाना, बुद्धि विवेक विज्ञान निधाना ।*
कवन सो काज कठिन जग माहि, जो नहीं होत तात तुम पाहि ॥"
🙏🏻 पवन तनय समाना की भी १ माला कर ले उस विजय काल में, फिर गुरुमंत्र की माला कर ले । फिर देखो अगले साल की दशहरा तक गृहस्थ में जीनेवाले को बहुत-बहुत अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते है |
👉🏻https://goo.gl/EYNVVS

📖🌞🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏

*💥 | माँ सिद्धिदात्री | 💥*
*माँ भगवती दुर्गा का नौवां स्वरुप* 🚩
👇🏻👇🏻👇🏻
https://www.vkjpandey.in/2018/10/maa-siddhidatri.html?m=0

*मित्रों, आज नवमी तिथि है और आज काशीफल अर्थात कोहड़ा एवं कद्दू खाना अथवा दान देना भी वर्जित अथवा त्याज्य होता है । नवमी तिथि एक उग्र एवं कष्टकारी तिथि मानी जाती है ।।*

इसकी अधिष्ठात्री देवी माता दुर्गा जी हैं । यह तिथि रिक्ता नाम से विख्यात मानी जाती है । अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व और वशित्व ये आठ सिद्धियां हैं । जिनका उल्लेख भागवत पुराण में भी मिलता है ।।

*इसके अलावा मार्कंडेय पुराण एवं ब्रह्ववैवर्त पुराण में भी वर्णित है । जी हाँ आज शारदीय नवरात्रा की नवमी तिथि है और माता #सिद्धिदात्री का दिन है ।।*

यही माता सभी सिद्धियों की स्वामिनी हैं और इनकी पूजा से ही भक्तों को इन सिद्धियों की प्राप्ति सहज ही हो जाती है । माता दुर्गा की नवम शक्ति का ही नाम सिद्धिदात्री है और यही माता अपने उपासकों को सहज ही सम्पूर्ण सिद्धियों को देनेवाली हैं ।।

*सभी प्रकार की सिद्धियों को देने वाली माता इन्हीं को माना गया है । उपरोक्त सिद्धियों के अलावा इन दोनों पुराणों में और भी अनेक प्रकार की सिद्धियों का वर्णन है मिलता है ।।*

ये सिद्धियाँ जिन्होंने भी इस संसार में पायी है, वो भगवान की तरह पूजे गये हैं इस देश में । परन्तु इस सिद्धियों की प्राप्ति हेतु लगभग इन्सान का सबकुछ खो गया है तब इन सिद्धियों की प्राप्ति हुई है ।।

*लेकिन कुछ लोगों को इन सिद्धियों से साक्षात्कार सहज ही हो गया है । जिन्हें सहज ही इन सिद्धियों की प्राप्ति हुई है वो माता दुर्गा के नवम रूप माता सिद्धिदात्री के उपासक रहे हैं ।।*

इन दिनों में आदिशक्ति की आराधना कर इन्हें प्रशन्न किया जाता है जिसके फलस्वरूप जीवन में नयी खुशिओं का संचार नकारात्मक भावों से छुटकारा मिलता है ।।
👉🏻https://goo.gl/EYNVVS

*देवी माता अपने भक्तों पर सहज ही रीझ जाती हैं और अपना अटूट प्यार, दुलार और स्नेह आशीर्वाद के रूप प्रदान करती हैं ।।*

जिसके फलस्वरूप भक्तों को अन्य किसी सहायता की आवश्यकता ही नहीं पडती और वह हर प्रकार से समर्थ और समृद्ध हो जाता है क्योंकि माँ की करुणा का कोई पार कोई अंत नहीं है ।।

*मां सिद्धिदात्री को आज नवमी तिथि पर विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाना चाहिये । जैसे- हलवा, चने की सब्जी, पूरी, खीर और पुये-मालपूये का भोग लगाना चाहिये ।।*

उसके बाद उस भोग को गरीबों को दान कर देना चाहिये । इससे जीवन में हर प्रकार की सुख-शांति मिलती है । नवमी पर मां सिद्धिदात्री को आंवले का भी विशेष भोग लगाने का विधान है ।।

हे आज की तिथि (तिथि के स्वामी), आज के वार, आज के नक्षत्र (नक्षत्र के देवता और नक्षत्र के ग्रह स्वामी), आज के योग और आज के करण ।।
आप इस पंचांग को सुनने और पढ़ने वाले जातकों पर अपनी कृपा बनाए रखें ।।
इनको जीवन के समस्त क्षेत्रो में सदैव ही सर्वश्रेष्ठ सफलता प्राप्त हो । ऐसी मेरी आप सभी आज के अधिष्ठात्री देवों/देवियों से हार्दिक प्रार्थना है ।।

आज का पञ्चांग एवं इस प्रकार की जानकारियों को विस्तृत डिटेल में जानने के लिये इस लिंक को क्लिक करें,
👉🏻https://goo.gl/EYNVVS

*।।। नमो नारायण ।।।*

+17 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 126 शेयर

कामेंट्स

Pt Vinod Pandey 🚩 Oct 18, 2018
@ramnarayanbehl 💥 | माँ सिद्धिदात्री | 💥 माँ भगवती दुर्गा का नौवां स्वरुप 🚩 👇🏻👇🏻👇🏻 https://www.vkjpandey.in/2018/10/maa-siddhidatri.html?m=0

Prince Trivedi Apr 23, 2019

💧💧💧 ⚜🕉⚜ 💧💧💧 *🙏ॐ श्रीगणेशाय नम:🙏* *🙏शुभप्रभातम् जी🙏* *इतिहास की मुख्य घटनाओं सहित पञ्चांग-मुख्यांश ..* *📝आज दिनांक 👉* *📜 23 अप्रैल 2019* *मंगलवार* *🏚नई दिल्ली अनुसार🏚* *🇮🇳शक सम्वत-* 1941 *🇮🇳विक्रम सम्वत-* 2076 *🇮🇳मास-* बैशाख *🌓पक्ष-* कृष्णपक्ष *🗒तिथि-* चतुर्थी-11:05 तक *🗒पश्चात्-* पंचमी *🌠नक्षत्र-* ज्येष्ठा-17:17 तक *🌠पश्चात्-* मूल *💫करण-* बालव-11:05 तक *💫पश्चात्-* कौलव *✨योग-* परिघ-24:58 तक *✨पश्चात्-* शिव *🌅सूर्योदय-* 05:48 *🌄सूर्यास्त-* 18:51 *🌙चन्द्रोदय-* 22:52 *🌛चन्द्रराशि-* वृश्चिक-17:17 तक *🌛पश्चात्-* धनु *🌞सूर्यायण-* उत्तरायणे *🌞गोल-* उत्तरगोले *💡अभिजित-* 11:53 से 12:45 *🤖राहुकाल-* 15:35 से 17:13 *🎑ऋतु-* ग्रीष्म *⏳दिशाशूल-* उत्तर *✍विशेष👉* *_🔅आज मंगलवार को 👉 बैशाख बदी चतुर्थी 11:05 तक पश्चात् पंचमी शुरू , मूल संज्ञक नक्षत्र जारी , कुमार योग 16:17 से , सती अनुसूया जयन्ती , बाबू कुँवर सिंह जयन्ती , पण्डिता रमाबाई जयन्ती , विश्व पुस्तक एवं कॉपीराइट दिवस व ENGLISH LANGUAGE DAY {UN} ._* *_🔅कल बुधवार को 👉 बैशाख बदी पंचमी 11:33 तक पश्चात् षष्ठी शुरू , मूल संज्ञक नक्षत्र 18:35 तक , प्लुटो वक्री 24:10 पर , सर्वदोषनाशक रवि योग 18:34 से , कुमार योग 18:35 तक , गुरु श्री तेगबहादुर जयन्ती ( परम्परानुसार ) , श्री सत्य सांईं महाप्रयाण दिवस , विश्व प्रयोगशाला पशु दिवस , मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर जन्म दिवस , श्री विष्णु राम मेधी जयन्ती , राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस व मानव एकता दिवस (संत निरंकारी मिशन के बाबा गुरबचन सिंह जी स्मृति दिवस )।_* *🎯आज की वाणी👉* 🌹 *क्षणशः कणशश्चैव* *विद्यामर्थं च साधयेत् ।* *क्षणत्यागे कुतो विद्या* *कणत्यागे कुतो धनम्॥* *भावार्थ👉* _क्षण-क्षण विद्या के लिए और कण-कण धन के लिए प्रयत्न करना चाहिए। समय नष्ट करने पर विद्या और साधनों के नष्ट करने पर धन कैसे प्राप्त हो सकता है ।_ 🌹 *23 अप्रॅल की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ👉* 1660 – स्वीडन और पोलैंड के बीच ओलिवा संधि पर सहमति बनी। 1661 – ब्रिटिश सम्राट चार्ल्स द्वितीय का लंदन में राज्याभिषेक हुआ। 1774 – ब्रिटिश कमांडर कर्नल चैपमेन ने रोहिला सेना को हराया और रोहिलाखंड पर कब्जा किया। 1891 – रुस की राजधानी मास्को से यहूदियों को निकाला गया। 1896 – न्यूयार्क में पहला फ़िल्म-शो हुआ। 1908 – डेनमार्क, जर्मनी, ब्रिटेन, फ्रांस, हालैंड और स्वीडन के बीच उत्तरी अटलांटिक संगठन संधि पर हस्ताक्षर किये गये। 1913 – अक्वीतानी नाम युद्धपोत को पानी में उतारा गया। यह अकेला ऐसा युद्धपोत था, जिसने दोनों विश्व-युद्धों में भाग लिया। 1935 – यूरोपीय देश पोलैंड ने संविधान अपनाया। 1948 – पहला अरब-इज़रायल युद्ध शुरू हुआ, जिसके दौरान इज़रायलियों ने हायफ़ा बन्दरगाह को जीत लिया था। 1949 – चीन की रेड आर्मी ने नांजिंग पर फतह की। 1981 – सोवियत यूनियन ने अंडरग्राउंड न्यूक्लियर टेस्ट किया। 1984 – वैज्ञानिकों ने एड्स के वायरस के बारे में पता लगाया। अमेरिका की स्वास्थ्य मंत्री माग्रेट हेकलर ने एड्स वायरस खोज की घोषणा की। 1985 – कोल्ड ड्रिंक्स कंपनी कोकाकोला ने 99 साल बाजार में रहने के बाद एक नए फार्मूले के साथ नया कोक मार्केट में लाया। तीन महीने के विरोध के बाद यह कोक वापस ले लिया गया। 1990 – नामीबिया संयुक्त राष्ट्र संघ का 160 वां सदस्य बना। 1992 – पेइचिंग में मैकडॉनल्ड्स का 700 सीटों वाला दुनिया का सबसे बड़ा रेस्टोरेण्ट शुरू हुआ। 1999 - उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) की स्थापना के लिए 50 वर्ष पूरे होने पर वांशिगटन में तीन दिवसीय शिखर सम्मेलन का शुभारम्भ। 2002 - पेइचिंग में भारत तथा चीन के बीच सीमापार आतंकवाद पर वार्ता। 2003 - कुर्द और अरब विवादों को निपटाने के लिए आयोग गठित करने का निर्णय। 2005 – यू ट्यूब पर पहली बार वीडियो अपलोड किया गया। 2008 - क्षेत्रीय अनुसंधान और विश्लेषण केन्द्र, लखनऊ को केन्द्र सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने मान्यता दी। 2008 - इंडियन फरमर्स फर्टिलाइजर (इफ्को) और मिस्र की सेन्ट्रल एग्रीकल्चर व कोआपरेटिव यूनियन (कांकू) ने सहकारिता के क्षेत्र में नई परियोजनाओं के लिए एक समझौता किया। 2008 - अमेरिकी कांग्रेस ने म्यांमार की लोकतंत्र समर्थक नेता आंग सांग सूकी को शीर्ष नागरिक सम्मान अमेरिकी कांग्रेस स्वर्णपदक से सम्मानित करने की घोषणा की। 2013 – वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल ने क्रिकेट इतिहास का सबसे तेज (आईपीएल) शतक मात्र 30 गेंदों में जड़ा। 2014 – लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो में हुई एक भीषण ट्रेन दुर्घटना में तक़रीबन 60 लोगों की जान गयी और 80 से अधिक लोग घायल हो गए। *23 अप्रॅल को जन्मे व्यक्ति👉* 1751 – ईस्ट इंडिया कंपनी के गवर्नर जनरल गिल्बर्ट इलियट-मरे-कीनमाउंड, मिंटो के पहले अर्ल , का जन्म हुआ। 1775 – ब्रिटेन के चित्रकार और मूर्तिकार जोसेफ मैलॉर्ड विलियम टर्नर का लंदन में जन्म हुआ। 1777 - बाबू कुंवर सिंह भारतीय स्वतंत्रता के प्रथम संग्राम के सिपाही का जन्म बिहार के भोजपुर जिले में हुआ । 1858 – जर्मनी के भौतिकशास्त्री और गणितज्ञ , वैज्ञानिक मैक्स प्लांक का जन्म हुआ। 1858 - पंडिता रमाबाई - प्रख्यात भारतीय विदुषी महिला और समाज सुधारक। 1889 - जी.पी. श्रीवास्तव - हिन्दी साहित्यकार थे। 1927 - अन्नपूर्णा देवी - सुरबहार वाद्ययंत्र बजाने वाली एकमात्र महिला उस्ताद । *23 अप्रॅल को हुए निधन👉* 1616 – अंग्रेजी साहित्य के महान कवि और नाटककार विलियम शेक्सपियर का निधन हुआ। 1926 - माधवराव सप्रे - राष्ट्रभाषा हिन्दी के उन्नायक, प्रखर चिंतक, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और सार्वजनिक कार्यों के लिये समर्पित कार्यकर्ता थे। 1973 - धीरेन्द्र वर्मा - हिन्दी और ब्रजभाषा के प्रसिद्ध कवि और लेखक। 1992 - सत्यजित राय निर्देशक, कहानीकार, साहित्यकार। 1996 - चेचेन्या के अलगाववादी नेता दुदायेव का एक हवाई हमले में निधन। 2007 – रूस के पूर्व राष्ट्रपति बोरिस निकोलाइएविच ऐल्तसिन का निधन हुआ। 2013 - शमशाद बेगम - हिन्दी फ़िल्मों की प्रसिद्ध पार्श्वगायिका। *23 अप्रॅल के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव👉* 🔅 सती अनुसूया जयन्ती । 🔅 बाबू कुँवर सिंह जयन्ती । 🔅 पण्डिता रमाबाई जयन्ती । 🔅 विश्व पुस्तक एवं कॉपीराइट दिवस । 🔅 ENGLISH LANGUAGE DAY {UN} . *कृपया ध्यान दें जी👉* *🙏🙏यद्यपि इसे तैयार करने में पूरी सावधानी रखने की कौशिश रही है। फिर भी किसी घटना , तिथि या अन्य त्रुटि के लिए कोई जिम्मेदारी नहीं है ।* 🌻आपका दिन *_मंगलमय_* हो जी ।🌻 ⚜⚜ 🌴 💎 🌴⚜⚜

+9 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Sajjan Singhal Apr 22, 2019

+3 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Prince Trivedi Apr 22, 2019

💧💧💧 ⚜🕉⚜ 💧💧💧 *🙏ॐ श्रीगणेशाय नम:🙏* *🙏शुभप्रभातम् जी🙏* *इतिहास की मुख्य घटनाओं सहित पञ्चांग-मुख्यांश ..* *📝आज दिनांक 👉* *📜 22 अप्रैल 2019* *सोमवार* *🏚नई दिल्ली अनुसार🏚* *🇮🇳शक सम्वत-* 1941 *🇮🇳विक्रम सम्वत-* 2076 *🇮🇳मास-* बैशाख *🌓पक्ष-* कृष्णपक्ष *🗒तिथि-* तृतीया-11:26 तक *🗒पश्चात्-* चतुर्थी *🌠नक्षत्र-* अनुराधा-16:46 तक *🌠पश्चात्-* ज्येष्ठा *💫करण-* विष्टि-11:26 तक *💫पश्चात्-* बव. *✨योग-* वरियान-25:55 तक *✨पश्चात्-* परिघ *🌅सूर्योदय-* 05:49 *🌄सूर्यास्त-* 18:50 *🌙चन्द्रोदय-* 21:55 *🌛चन्द्रराशि-* वृश्चिक-दिनरात *🌞सूर्यायण-* उत्तरायणे *🌞गोल-* उत्तरगोले *💡अभिजित-* 11:53 से 12:46 *🤖राहुकाल-* 07:26 से 09:04 *🎑ऋतु-* ग्रीष्म *⏳दिशाशूल-* पूर्व *✍विशेष👉* *_🔅आज सोमवार को 👉 बैशाख बदी तृतीया 11:26 तक पश्चात् चतुर्थी शुरु , संकष्टी श्री गणेश चतुर्थी व्रत , सर्वार्थसिद्धियोग / कार्यसिद्धियोग 05:52 से 16:44 तक , विघ्नकारक भद्रा 11:27 तक , मूल संज्ञक नक्षत्र 16:46 से , वक्री गुरू ज्येष्ठा नक्षत्र और वृश्चिक राशि में 25:02 पर , ब्रह्मावर्त (बिठूर) में अभिषेक , श्री जोगेश चन्द्र चटर्जी स्मृति दिवस व विश्व वसुन्धरा / पृथ्वी दिवस।_* *_🔅कल मंगलवार को 👉 बैशाख बदी चतुर्थी 11:05 तक पश्चात् पंचमी शुरू , मूल संज्ञक नक्षत्र जारी , कुमार योग 16:17 से , सती अनुसूया जयन्ती , बाबू कुँवर सिंह जयन्ती , पण्डिता रमाबाई जयन्ती , विश्व पुस्तक एवं कॉपीराइट दिवस व ENGLISH LANGUAGE DAY {UN} ._* *🎯आज की वाणी👉* 🌹 *अधमाः धनमिच्छन्ति* *धनं मानं च मध्यमाः ।* *उत्तमाः मानमिच्छन्ति* *मानो हि महताम् धनम् ।।* *भावार्थ👉* _निम्न कोटि के लोगों को सिर्फ धन की इच्छा रहती है, ऐसे लोगो को सम्मान से मतलब नहीं होता । एक मध्यम कोटि का व्यक्ति धन और सम्मान दोनों की इच्छा करता है वहीं एक उच्च कोटि के व्यक्ति के सम्मान ही मायने रखता है । सम्मान धन से अधिक मूल्यवान है ।_ 🌹 *22 अप्रॅल की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ👉* 1500 – पुर्तगाली नाविक पेड्रो अलवेयर कैब्राल ने ब्राजील की खोज की। 1517 – तुर्की ने काहिरा पर कब्जा किया। 1521 – फ्रांसीसी सम्राट फ्रेंकाइस प्रथम ने स्पेन पर आक्रमण की घोषणा की। 1673 – न्यूयॉर्क एवं बोस्टन के बीच डाक सेवा की शुरुआत हुई। 1760 – वांदीवाश के युद्ध में अंग्रेजों ने फ्रांसिसियों को हराया। 1792 – अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज वॉशिंगटन ने यूरोप के युद्ध में अमेरिकी तटस्थता की घोषणा की। 1837 – दक्षिणी सीरिया में भूकंप से हजारों लोग मरे। 1895 – क्यूबा वासियों ने स्पेन के साम्राज्यवाद से छुटकारा पाने के लिए पुन: व्रिदोह किया। 1905 – रूस के सेंट पीट्सबर्ग में मजदूरों पर गोलियां चलाई गयी जिसमें 500 से ज्यादा लोग मरे। 1906 – यूनान के एथेंस में 10वें ओलंपिक खेलों की शुरूआत हुई। 1915 – प्रथम विश्व युद्ध के दौरान जर्मन सेना ने पहली बार जहरीली गैस का इस्तेमाल किया। 1921 – स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने देश सेवा के लिए भारतीय सिविल सेवा की नौकरी से इस्तीफा दिया। 1924 – रैमसे मैकडोनाल्ड ब्रिटेन में लेबर पार्टी के पहले प्रधानमंत्री बने। 1926 – पर्सिया, तुर्की और अफगानिस्तान के बीच सुरक्षा संधि पर हस्ताक्षर किए गए। 1931 – मिस्र और इराक ने शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए। 1944 – द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मित्र राष्ट्रों ने न्यू गिनी में जापानी के खिलाफ एक बड़े हमले की शुरुआत की। 1948 – अवैध इस्राईल के गठन के दौरान ज़ायोनियों ने पश्चिमोत्तरी फ़िलिस्तीन के तटवर्ती नगर हैफ़ा पर आक्रमण किया जिसमें 500 फ़िलिस्तीनी शहीद और 200 घायल हो गये। 1954 – तत्कालीन सोवियत रूस यूनेस्को में शामिल हुआ। 1958 – एडमिरल आर डी कटारी भारतीय नौसेना में पहले प्रमुख बने। 1961 – अलजीरिया की राजधानी में फ़्रांस की विशेष सेना ने कम से कम 1200 लोगों की हत्या की। 1963 – देहरादून में दृष्टिहीनों के लिए राष्ट्रीय पुस्तकालय की स्थापना हुई। 1966 – तत्कालीन सोवियत रूस ने भूमिगत परमाणु परीक्षण किया। 1970 – बोइंग 747 का न्यूयॉर्क एवं लंदन के बीच पहली व्यावसायिक उड़ान शुरु हुई। 1970 – पृथ्वी पर मौजूद पेड़-पौधों और जीव-जन्तुओं को बचाने और दुनियाभर में पर्यावरण के प्रति जागरुकता बढ़ाने के लक्ष्य के लिए अमेरिका के लाखों लोगों ने पहली बार ‘पृथ्वी दिवस’ यानि 'अर्थ डे' मनाया। 1977 – आॅप्टिकल फाइबर को पहली बार टेलीफोन ट्रैफिक में यूज किया गया। 1983 – अंतरिक्ष यान सोयूज टी-8 पृथ्वी पर लौटा। 1992 – मैक्सिको में सीवर गैस विस्फोट में करीब 200 लोगों की मौत हुई। 1993 – इंडियन एयरलांइस का विमान औरंगाबाद मे दुर्घटनाग्रस्त, 61 यात्रियों की मौत। 2002 - पाकिस्तान में पर्ल हत्याकांड की सुनवाई प्रारम्भ। 2004 - उत्तर कोरिया में ट्रेनों की भीषण टक्कर, लगभग 3000 हताहत। 2005 - बांडुंग (इंडोनेशिया) में 50 वर्षों के बाद दूसरा एशियाई-अफ़्रीकी सम्मेलन आरम्भ। 2006 – इवा मोराल्स ने बोलीविया के राष्ट्रपति पद की शपथ ली। 2008 - भाजपा के महासचिव गोपीनाथ मुण्डे ने अपना इस्तीफ़ा वापस लिया। 2008 - रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन को लुडविग नोबल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 2010 - दिल्ली के ज़िला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीश एसपी गर्ग ने वर्ष 1996 में लाजपत नगर बाज़ार में हुए विस्फ़ोट मामले में दोषी छह लोगों में से तीन मोहम्मद नौशाद, मोहम्मद अली बट्ट और मिर्जा निशार हुसैन को मौत की सज़ा सुनायी। 2010 – लंबे समय से इनकार करते आ रहे चीन ने ब्रह्मपुत्र नदी पर तिब्बत के पास सांग्पो में बांध बनाने की बात स्वीकार कर ली। 2012 – लंदन मैराथन के दौरान एक 30 वर्षीय महिला प्रतिभागी की अचानक गिरकर मौत हुई। 2015 – उक्रेन के दोनेत्स्क में हुए विस्फोट में 13 लोगों की माैत। *22 अप्रॅल को जन्मे व्यक्ति👉* 1760 - अकबर द्वितीय - मुग़ल वंश का 18वाँ बादशाह था। 1851 - सर गंगा राम - प्रसिद्ध इंजीनियर, समाजसेवी और भारत में हरित क्रांति के नायक थे। 1870 – रूस के मार्क्सवादी विचारक व्लादिमीर लेनिन का जन्म हुआ। लेनिन ने रुसी कम्युनिस्ट पार्टी की स्थापना की और 1917 में हुई रुसी क्रांति का नेतृत्व किया। 1914 - बी. आर. चोपड़ा - हिन्दी फ़िल्म निर्माता-निर्देशक। 1916 - कानन देवी - भारत की प्रसिद्ध अभिनेत्री, गायिका और फ़िल्म निर्माता। 1936 - पी. चंद्रशेखर राव, अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में समुद्र के क़ानून के न्यायाधीश । 1952 - कमला प्रसाद बिसेसर - भारतीय मूल की कैरेबियन द्वीप त्रिनिनाद एवं टोबैगो की महिला प्रधानमंत्री। 1974 - चेतन भगत- मशहूर उपन्यास लेखक। *22 अप्रॅल को हुए निधन👉* 1969 - जोगेशचंद्र चटर्जी - 'काकोरी कांड' के प्रसिद्ध क्रांतिकारी थे। 1980 - मंगूराम - समाज सुधारक थे। 2001 - महमूद अली ख़ाँ - भारत के प्रसिद्ध राजनीतिज्ञों में से एक तथा मध्य प्रदेश के भूतपूर्व राज्यपाल। 2013 - लालगुड़ी जयरमण - भारत के प्रसिद्ध वायलिन वादक। *22 अप्रॅल के महत्त्वपूर्ण अवसर एवं उत्सव👉* 🔅 श्री जोगेश चन्द्र चटर्जी स्मृति दिवस । 🔅 विश्व वसुन्धरा / पृथ्वी दिवस। *कृपया ध्यान दें जी👉* 🙏🙏 *यद्यपि इसे तैयार करने में पूरी सावधानी रखने की कौशिश रही है। फिर भी किसी घटना , तिथि या अन्य त्रुटि के लिए कोई जिम्मेदारी नहीं है ।* 🌻आपका दिन *_मंगलमय_* हो जी ।🌻 ⚜⚜ 🌴 💎 🌴⚜⚜

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 7 शेयर

* आज का पंचांग ॐ केतकी चित्रापक्षीय * - स्थानीय समयानुसार - 74.30 - मध्यमान रेखांतर - 75.30 दिनांक............................25.04.2019 कलियुग संवत्.............................5121 विक्रम संवत्...............................2076 शक संवत्..................................1941 संवत्सर.................................श्री प्रमादी अयन..........................................उत्तर गोल...........................................उत्तर ऋतु...........................................ग्रीष्म मास.........................................वैशाख पक्ष...........................................कृष्ण तिथि......षष्ठी. अपरा. 12.46 तक/ सप्तमी वार.........................................गुरुवार नक्षत्र.....पू.षाढ़ा. सायं. 8.36 तक/ उ.षाढ़ा चंद्र राशि.......धनु. रात्रि. 3.13 तक / मकर योग.........सिद्ध. रात्रि. 12.53 तक /साध्य करण.............वणिज. अपरा. 12.46 तक विष्टि(भद्रा).............रात्रि. 1.43 तक / बव सूर्योदय.....................प्रातः 6.01.45 पर सूर्यास्त.....................सायं. 6.57.33 पर चंद्रोदय........................ रात्रि 12.39.35 सूर्य राशि................(मेष) 00.10.23.31 राहुकाल..........अपरा. 2.07 से 3.44 तक अभिजित..............12.04 से 12.56 तक पंचक................................अभी नहीं है अग्निवास(हवन मुहूर्त)..................आज है दिशाशूल............................दक्षिण दिशा चौघड़िया (चतुर्घटिका).....शुभकारक विशेष शुभ..................प्रातः 6.02 से 7.39 तक चंचल..........पूर्वाह्न. 10.53 से 12.30 तक लाभ............अपरा.. 12.30 से 2.07 तक अमृत..............अपरा. 2.07 से 3.44 तक शुभ..................सायं. 5.21 से 6.58 तक अमृत........ सायं-रात्रि. 6.58 से 8.20 तक चंचल................रात्रि. 8.20 से 9.43 तक कल...................दिनांक. 26.04. 2019 तिथि.......वैशाख. कृष्णा. सप्तमी. शुक्रवार दिन विशेष..............गुरु अर्जुन देव जयंती जन्मपत्रिका /ज्योतिष /वास्तु आधारित शिक्षा, नौकरी, आजीविका, शीघ्र विवाह, दांपत्य सुख, संतति लाभ,भाग्योन्नति संबंधी विशेषज्ञ परामर्श एवं प्रभावी समाधान हेतु संपर्क कर सकते हैं.. पं. रामपाल भट्ट (बरुंदनी निवासी) श्री ज्योतिष - सेवाश्रम 27-द्वारिका काॅलोनी - पांसल रोड़ भीलवाड़ा (राज.) 97996-70464. ।। जय श्री कृष्ण ॐ शुभ प्रभात्।।

+54 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 265 शेयर

🚩श्री गणेशाय नम:🚩 📜 दैनिक पंचांग अनुसार भगवान विष्णु का शुभ दिन 📜 ☀भगवान श्री सत्यनारायण आपको ब्रह्मदत्त त्यागी हापुड़ एवं सभी भक्तों का बारंबार प्रणाम🙏 नमन🙏 नमस्कार🙏 है आज आपका शुभ दिन बृहस्पतिवार /वीरवार/ गुरूवार है और यह है आज का पंचांग ☀ २५ - अप्रैल -२०१९ ☀ 25 - Apr - 2019 ☀ आज का पंचांग समस्त भारत वासियों के लिए ☀ हिंदू पंचांग 🔅 तिथि षष्ठी 12:48:11 🔅 नक्षत्र पूर्वाषाढा 20:37:43 🔅 करण : 🔅वणिज 12:48:11 🔅विष्टि 25:40:41 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग सिद्ध 24:53:03 🔅 वार 🤲बृहस्पतिवार 🤲 वीरवार🤲 गुरूवार🤲 ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 05:50:20 🔅 चन्द्रोदय 24:34:59 🔅 चन्द्र राशि धनु - 27:14:05 तक 🔅 सूर्यास्त 18:52:30 🔅 चन्द्रास्त 10:24:00 🔅 ऋतु ग्रीष्म ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1941 विकारी 🔅 कलि सम्वत 5121 🔅 दिन काल 13:06:09 🔅 विक्रम सम्वत 2076 🔅 मास अमांत चैत्र 🔅 मास पूर्णिमांत वैशाख ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित 11:53:13 - 12:45:38 ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त : 🔅10:08:24 - 🔅11:00:48 🔅15:22:52 - 🔅16:15:16 🔅 कंटक 15:22:52 - 16:15:16 🔅 यमघण्ट 06:38:45 - 07:31:10 🔅 राहु काल 13:57:42 - 15:35:58 🔅 कुलिक 10:08:24 - 11:00:48 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 17:07:41 - 18:00:06 🔅 यमगण्ड 05:46:20 - 07:24:37 🔅 गुलिक काल 09:02:53 - 10:41:09 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल दक्षिण ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 अश्विनी, भरणी, कृत्तिका, रोहिणी, आद्रा, पुष्य, मघा, पूर्वा फाल्गुनी, उत्तर फाल्गुनी, हस्त, स्वाति, अनुराधा, मूल, पूर्वाषाढा, उत्तराषाढा, श्रवण, शतभिषा, उत्तरभाद्रपदा ☀ चन्द्रबल 🔅 मिथुन, कर्क, तुला, धनु, कुम्भ, मीन ☀पंचांग के अंत में ‼️श्री स्वामी सत्यनारायण भगवान‼️ माँ दुर्गा‼️ माँ लक्ष्मी‼️ माँ सरस्वती‼️ देवी✳️ आपको ब्रह्मदत्त त्यागी हापुड़ एवं सभी भक्तों का बारंबार प्रणाम🙏 नमन🙏 नमस्कार🙏 कल आपका शुभ दिन शुक्रवार है

+12 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 29 शेयर

+675 प्रतिक्रिया 60 कॉमेंट्स • 738 शेयर
Swami Lokeshanand Apr 24, 2019

कौशल्याजी ने भरतजी को अपनी गोद में बैठा लिया और अपने आँचल से उनके आँसू पोंछने लगीं। कौशल्याजी को भरतजी की चिंता हो आई। दशरथ महाराज भी कहते थे, कौशल्या! मुझे भरत की बहुत चिंता है, कहीं राम वनवास की आँधी भरत के जीवन दीप को बुझा न डाले। राम और भरत मेरी दो आँखें हैं, भरत मेरा बड़ा अच्छा बेटा है, उन दोनों में कोई अंतर नहीं है। और सत्य भी है, संत और भगवान में मात्र निराकार और साकार का ही अंतर है। अज्ञान के वशीभूत होकर, अभिमान के आवेश में आकर, कोई कुछ भी कहता फिरे, उनके मिथ्या प्रलाप से सत्य बदल नहीं जाता कि भगवान ही सुपात्र मुमुक्षु को अपने में मिला लेने के लिए, साकार होकर, संत बनकर आते हैं। वह परमात्मा तो सर्वव्यापक है, सबमें है, सब उसी से हैं, पर सबमें वह परिलक्षित नहीं होता, संत में भगवान की भगवत्ता स्पष्ट झलकने लगती है। तभी तो जिसने संत को पहचान लिया, उसे भगवान को पहचानने में देरी नहीं लगी, जो सही संत की दौड़ में पड़ गया, वह परमात्मा रूपी मंजिल को पा ही गया। भरतजी आए तो कौशल्याजी को लगता है जैसे रामजी ही आ गए हों। भरतजी कहते हैं, माँ! कैकेयी जगत में क्यों जन्मी, और जन्मी तो बाँझ क्यों न हो गई ? कौशल्याजी ने भरतजी के मुख पर हाथ रख दिया। कैकेयी को क्यों दोष देते हो भरत! दोष तो मेरे माथे के लेख का है। ये माता तुम पर बलिहारी जाती है बेटा, तुम धैर्य धारण करो। यों समझते समझाते सुबह हो गई और वशिष्ठजी का आगमन हुआ। यद्यपि गुरुजी भी बिलखने लगे, पर उन्होंने भरतजी के माध्यम से, हम सब के लिए बहुत सुंदर सत्य सामने रखा। कहते हैं, छ: बातें विधि के हाथ हैं, इनमें किसी का कुछ बस नहीं है और नियम यह है कि अपरिहार्य का दुख नहीं मनाना चाहिए। "हानि लाभ जीवन मरण यश अपयश विधि हाथ"

+19 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Pt Vinod Pandey 🚩 Apr 24, 2019

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻गुरुवार, २५ अप्रैल २०१९🌻 सूर्योदय: 🌄 ०५:५० सूर्यास्त: 🌅 ०६:४८ चन्द्रोदय: 🌝 २४:३५ चन्द्रास्त: 🌜१०:१८ अयन 🌕 उत्तरायणे (उत्तरगोलीय) ऋतु: 🌳 ग्रीष्म शक सम्वत: 👉 १९४१ (विकारी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७६ (परिधापी) मास 👉 वैशाख पक्ष: 👉 कृष्ण तिथि: 👉 षष्ठी (१२:४६ तक) नक्षत्र: 👉 पूर्वाषाढा (२०:३८ तक) योग: 👉 सिद्ध (२४:५६ तक) प्रथम करण: 👉 वणिज  द्वितीय करण: 👉 विष्टि  〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 मेष चंद्र 🌟 मकर (२७:१३ से) मंगल 🌟 वृष बुध 🌟 मीन (मार्गी, अस्त पश्चिम) गुरु 🌟 वृश्चिक (उदित, वक्री) शुक्र 🌟 मीन (उदित) शनि 🌟 धनु (उदित, पूर्व) राहु 🌟 मिथुन केतु 🌟 धनु 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ अभिजित मुहूर्त: 👉 ११:४९ से १२:४१ अमृत काल: 👉 १५:२६ से १७:१० होमाहुति: 👉 गुरु अग्निवास: 👉 पृथ्वी भद्रावास: 👉 पाताललोक १२:४६ से २५:३९ दिशा शूल: 👉 दक्षिण नक्षत्र शूल: 👉 ❌❌❌ चन्द्र वास: 👉 पूर्व (दक्षिण २७:१५ से) दुर्मुहूर्त: 👉 १०:०५ से १०:५७ राहुकाल: 👉 १३:५३ से १५:३१ राहु काल वास: 👉 दक्षिण यमगण्ड: 👉 ०५:४४ से ०७:२२ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 ☄चौघड़िया विचार☄ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - शुभ २ - रोग ३ - उद्वेग ४ - चर ५ - लाभ ६ - अमृत ७ - काल ८ - शुभ ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - अमृत २ - चर ३ - रोग ४ - काल ५ - लाभ ६ - उद्वेग ७ - शुभ ८ - अमृत नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 दक्षिण-पूर्व (दही का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ ❌❌❌❌❌ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज २०:३८ तक जन्मे शिशुओ का नाम पूर्वाषाढ़ द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (धा, फा, ढा) तथा इसके बाद जन्मे शिशुओं का नाम उत्तराषाढ़ नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय चरण अनुसार क्रमशः (भे, भो) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त: ०५:४४ - ०६:४६ मेष ०६:४६ - ०८:४१ वृषभ ०८:४१ - १०:५६ मिथुन १०:५६ - १३:१८ कर्क १३:१८ - १५:३६ सिंह १५:३६ - १७:५४ कन्या १७:५४ - २०:१५ तुला २०:१५ - २२:३५ वृश्चिक २२:३५ - २४:३८ धनु २४:३८ - २६:१९ मकर २६:१९ - २७:४५ कुम्भ २७:४५ - २९:०९ मीन २९:०९ - २९:४३ मेष 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 🐐🐂💏💮🐅👩 मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज आप पूर्व में कई गई अपनी ही किसी गलती को लेकर शर्मिंदा होंगे। व्यवहारिकता की कमी और अहम की भावना आपसी संबंधों में खटास लाएगी। घर को छोड़ अन्य सभी जगह सम्मान में कमी का अनुभव करेंगे। आज किसी से भी बात करते समय हद पार ना करें अन्यथा लोगो मे आपके प्रति गलत धारणा बनेगी। कार्य व्यवसाय से लाभ की उम्मीद जागेगी लेकिन अंत समय मे निराशा में बदल जाएगी। लोग आपसे केवल अपना काम निकालने के लिये ही व्यवहार रखेंगे। खर्चो पर भी नियंत्रण रखें भावुकता में आवश्यकता से अधिक खर्च करेंगे बाद में आर्थिक संतुलन बिगड़ेगा। पति-पत्नी में थोड़ी बहुत कहासुनी के बाद स्थिति सामान्य हो जाएगी। जोड़ो में दुर्बलता महसूस करेंगे। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज के दिन आरम्भ से ही सेहत में उतार चढ़ाव लगा रहेगा इस वजह से दिनचर्या भी अस्त व्यस्त रहेगी। आप आज जहां भी जाएंगे या उठ बैठ करेंगे वही आलस्य प्रमाद फैलाएंगे। कार्य व्यवसाय को लेकर गंभीर तो रहेंगे लेकिन आर्थिक कमी के चलते विचार सिरे नही चढ़ पाएंगे। नौकरी पेशा जातक सब सुविधा मिलने पर भी प्रतिष्ठा की चाह ने अथवा अन्य किसी न किसी कारण से परेशान ही रहेंगे। व्यवसायी वर्ग को धन लाभ जुगाड़ करने पर अवश्य होगा लेकिन धन को रोक नही पाएंगे अनर्गल कार्यो में खर्च हो जाएगा। परिवार में किसी पुराने आपसी विवाद अथवा शत्रु पक्ष के कारण बेचैनी का वातावरण रहेगा। कल दे परिस्थिति बदलने लगेगी महत्त्वपूर्ण निर्णय आज ना लें। 🌐http://www.vkjpandey.in मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज के दिन आप जिस भी कार्य को करने का मन बनायेगे उसी में भ्रम की स्थित रहेगी कार्य आरंभ होने के बाद भी कोई ना कोई टांग अढायेगा लेकिन जिस भी कार्य को करें एकाग्र होकर लगे रहे विजय अवश्य मिलेगी। कार्य व्यवसाय की मध्यान तक धीमी रहेगी धन लाभ को लेकर चिंतित रहेंगे मध्यान बाद अकस्मात लाभ के सौदे मिलने से धन की आमद निश्चित होगी लेकिन तुरंत नही होगा जबरदस्ती भी ना करें अन्यथा हाथ आया भी निकल सकता है। गृहस्थ का वातावरण ठीक ठाक ही रहेगा लेकिन घरेलू सुख सुविधा संघर्ष के बाद ही जुटा पाएंगे। शत्रु पक्ष अथवा प्रतिस्पर्धियों के प्रति ढुलमुल रवैया आगे हानि का कारण बन सकता है इसका ध्यान रहे। पिता की सेहत को लेकर चिंतित रह सकते है। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज का दिन आशानुकूल रहेगा धन का खर्च विशेष रहेगा फिर भी सुख सुविधाओं में कुछ ना कुछ वृद्धि ही होगी। काम धन्धा आज ज्यादा बेहतर तो नही चलेगा फिर भी दैनिक खर्च आसानी से निकल जाएंगे। कार्य क्षेत्र पर नौकरी वालो के लिये कोई नई मुसीबत बढ़ने से मानसिक तनाव में रहेंगे। घर के सदस्यों का व्यवहार स्वार्थ सिद्धि से भरा रहेगा इच्छा पूर्ति करते रहने तक ही मीठा व्यवहार करेंगे माता अथवा पति-पत्नी में व्यवहारिकता की कमी रहेगी छोटी सी बात को प्रतिष्ठा से जोड़ने पर कलह होने की संभावना है। सरकारी कार्यो में आकस्मिक लाभ होने की संभावना है। व्यसन दुराचरण से बचे मान हानि हो सकती है। सेहत संबंधित शिकायत खान पान में संयम ना रखने पर ही होगी। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज का दिन आर्थिक दृष्टिकोण से निराश करने वाला रहेगा धन की आमद बुद्धि बल का प्रयोग करने पर ही होगी लेकिन क्रोध पर नियंत्रण ना रहने के कारण स्वयं ही अपना नुकसान कर लेंगे। बुद्धि विवेक आज प्रखर रहेगा लेकिन फिर भी धन संबंधित कार्यो में निराशा ही मिलेगी। घर के सदस्यों को छोड़ अन्य सभी लोग अपनी समस्याओं को लेकर आएंगे। अति आत्मविश्वास की भावना आज हानि करा सकती है इसका भी ध्यान रखें खास कर कर्क एवं कुम्भ राशि के लोगो से बच कर रहे अपने कार्य निकालने के लिये आपको परेशानी में डाल सकते है। जोड़ो में दर्द अथवा पेट संबंधित शिकायत हो सकती है। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन आपको मौन रहकर बिताने की सलाह है। किसी को भी बिना मांगे सलाह भूल कर भी ना दें अन्यथा लेने के देने पड़ सकते है। घर का माहौल छोटी सी बात पर उग्र होगा खास कर पति-पत्नी के बीच झगड़ा होने के प्रबल योग है संतान अथवा अन्य अनैतिक कार्य इसका कारण बनेंगे। कार्य क्षेत्र पर जिस कार्य से लाभ की उम्मीद लगाएंगे उसी में हानि होगिनिस्के विपरीत जहां से कोई उम्मीद नही रहेगी वहां से खर्च चलाना पड़ेगा। संताने मनमानी करेंगी नजर बनाए रखें सार्वजनिक क्षेत्र पर सम्मान हानि भी हो सकती है। धन लाभ किसी न किसी रूप में अवश्य होगा लेकिन झंझटो के बाद ही। रक्त पित्त संबंधित शिकायत हो सकती है। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज के दिन अनिर्णय की स्थित किसी भी कार्य को समय पर होने से रोकेगी। मेहनत करने के पक्ष में आज बिल्कुल नही रहेंगे इसके विपरीत महात्त्वकांक्षाये सामर्थ्य से अधिक रहेंगी। आलस्य प्रमाद में कार्यो को आगे के लिये टालेंगे बाद में सर पर आने पर जो भी निर्णय लेंगे अधिकांश तह जल्दबाजी में ही होंगे जिससे कोई न कोई भूल होगी। काम धंधा सामान्य रहने पर भी अपनी ही गलतियों के कारण जिस लाभ के अधिकारी है उससे वंचित रह जाएंगे। अविवाहितों को योग्य साथी मिलेगा लेकिन यहाँ भी असमंजस की स्थित के कारण बात बिगड़ ना जाये इसके लिये आज निर्णय ना ले तो ही बेहतर रहेगा। धन हाथ मे नही रुकेगा। सेहत के ऊपर खर्च होगा। 🌐http://www.vkjpandey.in वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज के दिन आप व्यवहारिकता में संतोष का प्रदर्शन करेंगे लेकिन अंदर ही अंदर उथल पुथल लगी रहेगी। कार्य व्यवसाय में भागदौड़ करने पर भी लाभ की जगह खर्च ही बढ़ेंगे आज धन लाभ केवल धैर्य धारण करने पर ही हो सकेगा जल्दबाजी में लिया निर्णय कोई नई मुसीबत ना खड़ी कर दे इसके लिये बाद में मिलने वाले परिणामो को ध्यान में रख कर ही कोई भी कार्य करें। अनैतिक कार्यो में मन जल्दी से भटकेगा आरम्भ में इसमें आनंद आएगा लेकिन बाद में परिणाम नेष्ट मिलेंगे। पिता अथवा पैतृक संबंधित कार्यो में नुकसान होने की संभावना है देखभाल कर ही करें। भाई बहनों से ईर्ष्या युक्त संबंध रहेंगे। शरीर मे तेज अथवा शक्ति की कमी अनुभव करेंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज आपका व्यक्तित्त्व निखरा हुआ रहेगा लेकिन स्वभाव में जिद और अकड़ रहने के कारण कोई भी आपसे अपने मन की बात बोलने से कतरायेगा। दिन के आरंभ में आलस्य रहेगा फिर भी मन ही मन नौकरी व्यवसाय संबंधित तिकडम लगी रहेगी। कार्य व्यवसाय में पुरानी योजनाओ से धन लाभ होगा लेकिन भाग्य पक्ष कमजोर होने के कारण कुछ ना कुछ कमी अनुभव करेंगे आज नए कार्य अनुबंध भी मिलने की सम्भवना है। धन धार्मिक अथवा परोपकार के कार्यो पर खर्च होगा। घर परिवार में वातावरण असामान्य रहेगा पत्नी की उम्मीदों का हनन करना महंगा पड़ सकता है। माता से भी संबंध में चंचलता आएगी। मूत्राशय संबंधित समस्या रहेगी। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज का दिन आपकी सोच के एकदम विपरीत रहेगा सोचेंगे कुछ होगा उसका उल्टा ही। मानसिक रूप से भी अंदर ही अंदर से जले भुने रहेंगे आवश्यकता होने पर भी अहम के कारण किसी की सहायता अथवा सलाह लेना पसंद नही करेंगे। लाभ की संभावनाए बनेगी अवश्य लेकिन आर्थिक हानि के डर से जोखिम नही लेंगे फलस्वरूप खर्च निकालने के लिये भी अन्य लोगो का मुह ताकना पड़ेगा। शत्रुओ पर पकड़ बनी रहेगी आपके आगे कोई सर नही उठायेगा फिर भी इसे अनदेखा न करें आपके संपर्क को लोभ देकर अपने पक्ष में कर सकते है सतर्क रहें वरना बाद में पछताना पड़ेगा। सेहत और गृहस्थ दोनो में उतार चढ़ाव लगे रहेंगे। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन आपका मन इधर उधर की बातों में अधिक रहेगा। एक काम करते हुए भी दिमाग अन्य जगह रहने पर कुछ त्रुटि होने की संभावना है। कार्य व्यवसाय से जितनी आशा लगाकर रहेगें उतना लाभ नही मिल पायेगा। धन की आमद होते होते किसी स्वजन परिचित की गलती से आगे के लिये टलेगी। नौकरी पेशा लोग सहकर्मियों के ऊपर अधिक निर्भर रहेंगे जाना बूझ कर अपना काम अन्य के ऊपर सरकाएँगे। भाई बंधुओ से आपसी तालमेल की कमी रहेगी आपके विचारों के उलट कार्य करने पर बहस भी हो सकती है लेकिन संतान सहयोगी बनने पर राहत मिलेगी। आरोग्य में कमी अनुभव करेंगे। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज का दिन आपके लिये सफलता दयाक तो रहेगा लेकिन आज आप अपनी ही किसी गलती से परेशानी को न्योता देंगे। दिन के आरंभ में जिस भी कार्य की रूप रेखा बनाएंगे मध्यान बाद तक ले देकर उसे पूरा कर ही लेंगे। व्यवसाय में जटिल समस्याए किसी वरिष्ठ व्यक्ति के परामर्श से सुलझेंगी। धन की आमद निश्चित होगी इसमे थोड़ा विलंब होने पर निराश ना हो। माता अथवा चल संपत्ति संबंधित सुखों में कमी देखने को मिलेगी। शत्रु पक्ष से कहासुनी भी हो सकती है मामला गंभीर होने की जगह तुरंत शांत भी हो जाएगा। परिवार में भाई बहनों को छोड़ अन्य सभी से विचार मेल नही खाएंगे। सेहत लगभग सामान्य ही रहेगी। 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

+11 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 135 शेयर

🕉श्री हरिहरो विजयतेतराम🕉 🌄सुप्रभातम🌄 🗓आज का पञ्चाङ्ग🗓 🌻गुरुवार, २५ अप्रैल २०१९🌻 सूर्योदय: 🌄 ०५:५० सूर्यास्त: 🌅 ०६:४८ चन्द्रोदय: 🌝 २४:३५ चन्द्रास्त: 🌜१०:१८ अयन 🌕 उत्तरायणे (उत्तरगोलीय) ऋतु: 🌳 ग्रीष्म शक सम्वत: 👉 १९४१ (विकारी) विक्रम सम्वत: 👉 २०७६ (परिधापी) मास 👉 वैशाख पक्ष: 👉 कृष्ण तिथि: 👉 षष्ठी (१२:४६ तक) नक्षत्र: 👉 पूर्वाषाढा (२०:३८ तक) योग: 👉 सिद्ध (२४:५६ तक) प्रथम करण: 👉 वणिज  द्वितीय करण: 👉 विष्टि  〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 ॥ गोचर ग्रहा: ॥ 🌖🌗🌖🌗 सूर्य 🌟 मेष चंद्र 🌟 मकर (२७:१३ से) मंगल 🌟 वृष बुध 🌟 मीन (मार्गी, अस्त पश्चिम) गुरु 🌟 वृश्चिक (उदित, वक्री) शुक्र 🌟 मीन (उदित) शनि 🌟 धनु (उदित, पूर्व) राहु 🌟 मिथुन केतु 🌟 धनु 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभाशुभ मुहूर्त विचार ⏳⏲⏳⏲⏳⏲⏳ अभिजित मुहूर्त: 👉 ११:४९ से १२:४१ अमृत काल: 👉 १५:२६ से १७:१० होमाहुति: 👉 गुरु अग्निवास: 👉 पृथ्वी भद्रावास: 👉 पाताललोक १२:४६ से २५:३९ दिशा शूल: 👉 दक्षिण नक्षत्र शूल: 👉 ❌❌❌ चन्द्र वास: 👉 पूर्व (दक्षिण २७:१५ से) दुर्मुहूर्त: 👉 १०:०५ से १०:५७ राहुकाल: 👉 १३:५३ से १५:३१ राहु काल वास: 👉 दक्षिण यमगण्ड: 👉 ०५:४४ से ०७:२२ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 ☄चौघड़िया विचार☄ ॥ दिन का चौघड़िया ॥ १ - शुभ २ - रोग ३ - उद्वेग ४ - चर ५ - लाभ ६ - अमृत ७ - काल ८ - शुभ ॥रात्रि का चौघड़िया॥ १ - अमृत २ - चर ३ - रोग ४ - काल ५ - लाभ ६ - उद्वेग ७ - शुभ ८ - अमृत नोट-- दिन और रात्रि के चौघड़िया का आरंभ क्रमशः सूर्योदय और सूर्यास्त से होता है। प्रत्येक चौघड़िए की अवधि डेढ़ घंटा होती है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 शुभ यात्रा दिशा 🚌🚈🚗⛵🛫 दक्षिण-पूर्व (दही का सेवन कर यात्रा करें) 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 तिथि विशेष 🗓📆🗓📆 〰️〰️〰️〰️ ❌❌❌❌❌ 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज जन्मे शिशुओं का नामकरण 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 आज २०:३८ तक जन्मे शिशुओ का नाम पूर्वाषाढ़ द्वितीय, तृतीय, चतुर्थ चरण अनुसार क्रमशः (धा, फा, ढा) तथा इसके बाद जन्मे शिशुओं का नाम उत्तराषाढ़ नक्षत्र के प्रथम, द्वितीय चरण अनुसार क्रमशः (भे, भो) नामाक्षर से रखना शास्त्र सम्मत है। 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 उदय-लग्न मुहूर्त: ०५:४४ - ०६:४६ मेष ०६:४६ - ०८:४१ वृषभ ०८:४१ - १०:५६ मिथुन १०:५६ - १३:१८ कर्क १३:१८ - १५:३६ सिंह १५:३६ - १७:५४ कन्या १७:५४ - २०:१५ तुला २०:१५ - २२:३५ वृश्चिक २२:३५ - २४:३८ धनु २४:३८ - २६:१९ मकर २६:१९ - २७:४५ कुम्भ २७:४५ - २९:०९ मीन २९:०९ - २९:४३ मेष 〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰 🐐🐂💏💮🐅👩 मेष🐐 (चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ) आज आप पूर्व में कई गई अपनी ही किसी गलती को लेकर शर्मिंदा होंगे। व्यवहारिकता की कमी और अहम की भावना आपसी संबंधों में खटास लाएगी। घर को छोड़ अन्य सभी जगह सम्मान में कमी का अनुभव करेंगे। आज किसी से भी बात करते समय हद पार ना करें अन्यथा लोगो मे आपके प्रति गलत धारणा बनेगी। कार्य व्यवसाय से लाभ की उम्मीद जागेगी लेकिन अंत समय मे निराशा में बदल जाएगी। लोग आपसे केवल अपना काम निकालने के लिये ही व्यवहार रखेंगे। खर्चो पर भी नियंत्रण रखें भावुकता में आवश्यकता से अधिक खर्च करेंगे बाद में आर्थिक संतुलन बिगड़ेगा। पति-पत्नी में थोड़ी बहुत कहासुनी के बाद स्थिति सामान्य हो जाएगी। जोड़ो में दुर्बलता महसूस करेंगे। वृष🐂 (ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो) आज के दिन आरम्भ से ही सेहत में उतार चढ़ाव लगा रहेगा इस वजह से दिनचर्या भी अस्त व्यस्त रहेगी। आप आज जहां भी जाएंगे या उठ बैठ करेंगे वही आलस्य प्रमाद फैलाएंगे। कार्य व्यवसाय को लेकर गंभीर तो रहेंगे लेकिन आर्थिक कमी के चलते विचार सिरे नही चढ़ पाएंगे। नौकरी पेशा जातक सब सुविधा मिलने पर भी प्रतिष्ठा की चाह ने अथवा अन्य किसी न किसी कारण से परेशान ही रहेंगे। व्यवसायी वर्ग को धन लाभ जुगाड़ करने पर अवश्य होगा लेकिन धन को रोक नही पाएंगे अनर्गल कार्यो में खर्च हो जाएगा। परिवार में किसी पुराने आपसी विवाद अथवा शत्रु पक्ष के कारण बेचैनी का वातावरण रहेगा। कल दे परिस्थिति बदलने लगेगी महत्त्वपूर्ण निर्णय आज ना लें। मिथुन👫 (का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, हा) आज के दिन आप जिस भी कार्य को करने का मन बनायेगे उसी में भ्रम की स्थित रहेगी कार्य आरंभ होने के बाद भी कोई ना कोई टांग अढायेगा लेकिन जिस भी कार्य को करें एकाग्र होकर लगे रहे विजय अवश्य मिलेगी। कार्य व्यवसाय की मध्यान तक धीमी रहेगी धन लाभ को लेकर चिंतित रहेंगे मध्यान बाद अकस्मात लाभ के सौदे मिलने से धन की आमद निश्चित होगी लेकिन तुरंत नही होगा जबरदस्ती भी ना करें अन्यथा हाथ आया भी निकल सकता है। गृहस्थ का वातावरण ठीक ठाक ही रहेगा लेकिन घरेलू सुख सुविधा संघर्ष के बाद ही जुटा पाएंगे। शत्रु पक्ष अथवा प्रतिस्पर्धियों के प्रति ढुलमुल रवैया आगे हानि का कारण बन सकता है इसका ध्यान रहे। पिता की सेहत को लेकर चिंतित रह सकते है। कर्क🦀 (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो) आज का दिन आशानुकूल रहेगा धन का खर्च विशेष रहेगा फिर भी सुख सुविधाओं में कुछ ना कुछ वृद्धि ही होगी। काम धन्धा आज ज्यादा बेहतर तो नही चलेगा फिर भी दैनिक खर्च आसानी से निकल जाएंगे। कार्य क्षेत्र पर नौकरी वालो के लिये कोई नई मुसीबत बढ़ने से मानसिक तनाव में रहेंगे। घर के सदस्यों का व्यवहार स्वार्थ सिद्धि से भरा रहेगा इच्छा पूर्ति करते रहने तक ही मीठा व्यवहार करेंगे माता अथवा पति-पत्नी में व्यवहारिकता की कमी रहेगी छोटी सी बात को प्रतिष्ठा से जोड़ने पर कलह होने की संभावना है। सरकारी कार्यो में आकस्मिक लाभ होने की संभावना है। व्यसन दुराचरण से बचे मान हानि हो सकती है। सेहत संबंधित शिकायत खान पान में संयम ना रखने पर ही होगी। सिंह🦁 (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे) आज का दिन आर्थिक दृष्टिकोण से निराश करने वाला रहेगा धन की आमद बुद्धि बल का प्रयोग करने पर ही होगी लेकिन क्रोध पर नियंत्रण ना रहने के कारण स्वयं ही अपना नुकसान कर लेंगे। बुद्धि विवेक आज प्रखर रहेगा लेकिन फिर भी धन संबंधित कार्यो में निराशा ही मिलेगी। घर के सदस्यों को छोड़ अन्य सभी लोग अपनी समस्याओं को लेकर आएंगे। अति आत्मविश्वास की भावना आज हानि करा सकती है इसका भी ध्यान रखें खास कर कर्क एवं कुम्भ राशि के लोगो से बच कर रहे अपने कार्य निकालने के लिये आपको परेशानी में डाल सकते है। जोड़ो में दर्द अथवा पेट संबंधित शिकायत हो सकती है। कन्या👩 (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) आज का दिन आपको मौन रहकर बिताने की सलाह है। किसी को भी बिना मांगे सलाह भूल कर भी ना दें अन्यथा लेने के देने पड़ सकते है। घर का माहौल छोटी सी बात पर उग्र होगा खास कर पति-पत्नी के बीच झगड़ा होने के प्रबल योग है संतान अथवा अन्य अनैतिक कार्य इसका कारण बनेंगे। कार्य क्षेत्र पर जिस कार्य से लाभ की उम्मीद लगाएंगे उसी में हानि होगिनिस्के विपरीत जहां से कोई उम्मीद नही रहेगी वहां से खर्च चलाना पड़ेगा। संताने मनमानी करेंगी नजर बनाए रखें सार्वजनिक क्षेत्र पर सम्मान हानि भी हो सकती है। धन लाभ किसी न किसी रूप में अवश्य होगा लेकिन झंझटो के बाद ही। रक्त पित्त संबंधित शिकायत हो सकती है। तुला⚖️ (रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते) आज के दिन अनिर्णय की स्थित किसी भी कार्य को समय पर होने से रोकेगी। मेहनत करने के पक्ष में आज बिल्कुल नही रहेंगे इसके विपरीत महात्त्वकांक्षाये सामर्थ्य से अधिक रहेंगी। आलस्य प्रमाद में कार्यो को आगे के लिये टालेंगे बाद में सर पर आने पर जो भी निर्णय लेंगे अधिकांश तह जल्दबाजी में ही होंगे जिससे कोई न कोई भूल होगी। काम धंधा सामान्य रहने पर भी अपनी ही गलतियों के कारण जिस लाभ के अधिकारी है उससे वंचित रह जाएंगे। अविवाहितों को योग्य साथी मिलेगा लेकिन यहाँ भी असमंजस की स्थित के कारण बात बिगड़ ना जाये इसके लिये आज निर्णय ना ले तो ही बेहतर रहेगा। धन हाथ मे नही रुकेगा। सेहत के ऊपर खर्च होगा। वृश्चिक🦂 (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू) आज के दिन आप व्यवहारिकता में संतोष का प्रदर्शन करेंगे लेकिन अंदर ही अंदर उथल पुथल लगी रहेगी। कार्य व्यवसाय में भागदौड़ करने पर भी लाभ की जगह खर्च ही बढ़ेंगे आज धन लाभ केवल धैर्य धारण करने पर ही हो सकेगा जल्दबाजी में लिया निर्णय कोई नई मुसीबत ना खड़ी कर दे इसके लिये बाद में मिलने वाले परिणामो को ध्यान में रख कर ही कोई भी कार्य करें। अनैतिक कार्यो में मन जल्दी से भटकेगा आरम्भ में इसमें आनंद आएगा लेकिन बाद में परिणाम नेष्ट मिलेंगे। पिता अथवा पैतृक संबंधित कार्यो में नुकसान होने की संभावना है देखभाल कर ही करें। भाई बहनों से ईर्ष्या युक्त संबंध रहेंगे। शरीर मे तेज अथवा शक्ति की कमी अनुभव करेंगे। धनु🏹 (ये, यो, भा, भी, भू, ध, फा, ढा, भे) आज आपका व्यक्तित्त्व निखरा हुआ रहेगा लेकिन स्वभाव में जिद और अकड़ रहने के कारण कोई भी आपसे अपने मन की बात बोलने से कतरायेगा। दिन के आरंभ में आलस्य रहेगा फिर भी मन ही मन नौकरी व्यवसाय संबंधित तिकडम लगी रहेगी। कार्य व्यवसाय में पुरानी योजनाओ से धन लाभ होगा लेकिन भाग्य पक्ष कमजोर होने के कारण कुछ ना कुछ कमी अनुभव करेंगे आज नए कार्य अनुबंध भी मिलने की सम्भवना है। धन धार्मिक अथवा परोपकार के कार्यो पर खर्च होगा। घर परिवार में वातावरण असामान्य रहेगा पत्नी की उम्मीदों का हनन करना महंगा पड़ सकता है। माता से भी संबंध में चंचलता आएगी। मूत्राशय संबंधित समस्या रहेगी। मकर🐊 (भो, जा, जी, खी, खू, खा, खो, गा, गी) आज का दिन आपकी सोच के एकदम विपरीत रहेगा सोचेंगे कुछ होगा उसका उल्टा ही। मानसिक रूप से भी अंदर ही अंदर से जले भुने रहेंगे आवश्यकता होने पर भी अहम के कारण किसी की सहायता अथवा सलाह लेना पसंद नही करेंगे। लाभ की संभावनाए बनेगी अवश्य लेकिन आर्थिक हानि के डर से जोखिम नही लेंगे फलस्वरूप खर्च निकालने के लिये भी अन्य लोगो का मुह ताकना पड़ेगा। शत्रुओ पर पकड़ बनी रहेगी आपके आगे कोई सर नही उठायेगा फिर भी इसे अनदेखा न करें आपके संपर्क को लोभ देकर अपने पक्ष में कर सकते है सतर्क रहें वरना बाद में पछताना पड़ेगा। सेहत और गृहस्थ दोनो में उतार चढ़ाव लगे रहेंगे। कुंभ🍯 (गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा) आज के दिन आपका मन इधर उधर की बातों में अधिक रहेगा। एक काम करते हुए भी दिमाग अन्य जगह रहने पर कुछ त्रुटि होने की संभावना है। कार्य व्यवसाय से जितनी आशा लगाकर रहेगें उतना लाभ नही मिल पायेगा। धन की आमद होते होते किसी स्वजन परिचित की गलती से आगे के लिये टलेगी। नौकरी पेशा लोग सहकर्मियों के ऊपर अधिक निर्भर रहेंगे जाना बूझ कर अपना काम अन्य के ऊपर सरकाएँगे। भाई बंधुओ से आपसी तालमेल की कमी रहेगी आपके विचारों के उलट कार्य करने पर बहस भी हो सकती है लेकिन संतान सहयोगी बनने पर राहत मिलेगी। आरोग्य में कमी अनुभव करेंगे। मीन🐳 (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची) आज का दिन आपके लिये सफलता दयाक तो रहेगा लेकिन आज आप अपनी ही किसी गलती से परेशानी को न्योता देंगे। दिन के आरंभ में जिस भी कार्य की रूप रेखा बनाएंगे मध्यान बाद तक ले देकर उसे पूरा कर ही लेंगे। व्यवसाय में जटिल समस्याए किसी वरिष्ठ व्यक्ति के परामर्श से सुलझेंगी। धन की आमद निश्चित होगी इसमे थोड़ा विलंब होने पर निराश ना हो। माता अथवा चल संपत्ति संबंधित सुखों में कमी देखने को मिलेगी। शत्रु पक्ष से कहासुनी भी हो सकती है मामला गंभीर होने की जगह तुरंत शांत भी हो जाएगा। परिवार में भाई बहनों को छोड़ अन्य सभी से विचार मेल नही खाएंगे। सेहत लगभग सामान्य ही रहेगी। 〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️〰️

+18 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 114 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB