मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
Shyama Saksena
Shyama Saksena Jun 9, 2019

🌷🌷🌻🌻ॐ सूर्याय नमः। 🌸🌸 शुभ प्रभात💮💮🌼🌼🌼🌼🌺🌺🌺🌺🌻🌻🌻🌻🍀🌹🌹🌹

🌷🌷🌻🌻ॐ सूर्याय नमः। 🌸🌸 शुभ प्रभात💮💮🌼🌼🌼🌼🌺🌺🌺🌺🌻🌻🌻🌻🍀🌹🌹🌹

+49 प्रतिक्रिया 15 कॉमेंट्स • 4 शेयर

कामेंट्स

💞दीवाना राधे का🙏 Jun 9, 2019
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 राधे राधे जी राधेश्याम श्री कृष्ण शुभ प्रभात जी राधा रानी की कृपा आप पर व आपके पूरे परिवार पर सदैव बनी रहे आपकी सारि मनोकामना पूर्ण हो राधे राधे

अंजू जोशी Jun 9, 2019
सूर्याय नमः भानु सप्तमी के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं 🙏🌷

Anjana Gupta Jun 9, 2019
om Surya devay namah dear sister ji god bless you and your family shubh parbhat Vandan happy Sunday Ji 🌹🙏

Vinod Agrawal Jun 9, 2019
🌷Om Adityay Namah Om Suryay Namah Jai Shree Ram Jai Siyaram🌷

Sonu Tomar Jun 9, 2019
*जहाँ सूर्य ☀की किरण💥 हो…* *वही प्रकाश🌈 होता है…* *जहाँ मां👱🏻‍♀बाप 👨🏻‍🦰का सम्मान 🙏🏻हो…* *वही भव 🤷🏻‍♂पार होता है…* *जहाँ संतो 🎅🏻की वाणी 🗣हो…* *वही उद्धार 🙆🏻‍♂होता है…* *और…* *जँहा प्रेम 💞 की भाषा ✍🏻 हो…* *वही परिवार 👨‍👩‍👦‍👦होता है…* 💯 📈 ⛎ ✝🅾 ♏ 🅰 ♈ *🌹🌹ॐ सूर्याय नमः🌹🌹* *🌹🌹 शुभ प्रभात 🌹🌹* *🙏🏻आपका दिन शुभ हो 🙏🏻*

Mohanmira.nigam Jun 9, 2019
JayRadhe.KrishnaJi Radhe.Krishna Ji Radhe.Krishna Ji Radhe.KrishnaHanuman.ji I Jay shri Radhe.Krishna ji

Malkhan Singh UP Jun 9, 2019
* *🍁🙏🏼ऊँ सूर्याय नमः🙏🏼🍁* *सूर्यदेव जी आप को सपरिवार सदैव* *🌹प्रसन्न और स्वस्थ्य रखें🌹* *आपका हर पल शुभमंगलमय हो* *🙏🏼राम राम जी🙏🏼*

Malkhan Singh UP Jun 9, 2019
*💥🌿🌞🙏🕉️🙏🌞🌿💥* *॥हरि ॐ॥*ऊँ सूर्यदेवाय नमःII* *श्री कृष्ण गोविँद हरे मुरारे* *हे नाथ नारायण वासुदेव* *॥जय श्री राम॥*राधे राधे जीII* *सपरिवार आपकी रात्रि शुभ हो* *🙏राम राम जी🙏* *💥🌿🌞🙏🕉️🙏🌞🌿💥*

,OP JAIN (RAJ) Jun 10, 2019
राधे राधे जी शुभ दोपहर जी आप और आपके पूरे परिवार पर महाकाल का आशीर्वाद बना रहे जय श्री कृष्णा जी God bless you g

Sandhya Nagar Jun 10, 2019
⛳🙏🥀||"ԶเधॆԶเधॆ जी आप सभिन कूँ."||🌹🙏⛳ "पृथ्वी पर एक ऐसा "अलौकिक स्थान" है जो "वैकुण्ठ" से भी अधिक श्रेष्ठ है.जिसे वृंदावन कहते हैं और यहीं स्तिथ है"निधि वन"जहां आज भी हर रात्रि को महारास होता है.जिस में भाग लेने श्रीकृष्ण स्वयं आते हैं.इसलिए निधि वन को संध्या आरती के बाद दर्शनों के लिए बंद कर दिया जाता है.फिर यहाँ कोई नहीं रुकता.यहाँ तक की निधिवन में रहने वाले पशु-पक्षी भी संध्या होते ही निधिवन से बाहर चले जाते है.कई एकड़ में फैले इस निधिवन में जितने भी पेड़ है वे सभी कई वर्षों पुराने हैं फिर भी ये चमत्कार ही है कि ये पेड़ कभी सूखते नही हैं.और नीचे की ओर बढ़ते ये पेड़ फिर से हरे होना शुरू हो जाते हैं.निधि वन में खास बात ये है कि यहां तुलसी के सभी पौधे जोड़े में है जो कृष्ण और राधा जी के रूप में एक दूसरे से लिपटे हुए रहते हैं.कहते हैं कि रात्रि में जब महारास होता है तो ये पेड़ पौधे गोपियाँ और श्री कृष्ण बन जाते हैं और जैसे ही सुबह होती है तो यहां फिर से सब कुछ बदल जाता हैं. निधि वन के अंदर "रंग महल"नाम का एक स्थान है जहां रोजाना रात को श्री कृष्ण विश्राम करने आते है.रंग महल में चन्दन की लकड़ी से बना एक पलँग है जिसे रात होने से पहले सजाया जाता है.पलंग के बगल में ठाकुर जी के लिए एक लोटे में जल, एक दातुन और पान,रखा जाता है.सुबह जब ‘रंग महल’ के पट खोले जाते हैं तो बिस्तर अस्त -व्यस्त,लोटा खाली,दातुन चबाई हुई और पान खाया हुआ मिलता है.सुबह होते ही निधिवन में सब कुछ बदला हुआ नजर आता है.मथुरा योगेश्वर भगवान श्री कृष्ण की जन्मभूमि है लेकिन फिर भी मथुरा में भगवान के केवल दो ही प्रमुख बड़े मन्दिर श्री"द्वारिकाधीश"जी और गर्भगृह है परन्तु वृन्दावन में करीब 5000 से भी अधिक मन्दिर हैं.जिन जिन स्थानों पर भगवान श्री कृष्ण ने बाल लीलाएं की उनमे से 5 प्रमुख स्थान निधिवन में आते हैं.निधि वन में ही वंशी चोर राधिका जी का मंदिर भी है.कहते हैं कि जब राधा जी को लगने लगा कि श्री कृष्ण हर समय वंशी ही बजाते रहते हैं और उनकी तरफ ध्यान नहीं देते,तो उन्होंने श्री कृष्ण की वंशी चुरा ली इस कारण इस स्थान पर वंशी चोर राधिका जीे मंदिर का निर्माण किया गया.मंदिर में राधिका जी की सबसे प्रिय सखी ललिता जी की भी मूर्ति राधा जी के ही साथ विराजमान है.निधिवन में दूसरा स्थान है "विशाखा कुंड" जिसे भगवान श्री कृष्ण ने अपनी वंशी से खोदा था.भगवान श्रीकृष्ण सखियों के साथ जब रास रचा रहे थे,तभी विशाखा सखी को प्यास लगी. तब भगवान श्री कृष्ण ने अपनी वंशी से इस कुंड की रचना की.जिसमें से निकले जल को पीकर विशाखा सखी ने अपनी प्यास बुझायी. इसलिए कुंड को "विशाखा कुंड"के नाम से जाना गया.इसके अलावा संगीत सम्राट तानसेन के गुरुजी स्वामी श्री हरिदास जी महाराज ने भी भगवान श्री "बाँके बिहारी" जी को यहीं प्रकट किया था.निधिवन स्वामी श्री हरिदास जी की "तपोभूमि"है.निधिवन कि खास बात ये है कि अगर कोई निधिवन में छुपकर श्री कृष्ण और गोपियों के महारास को देखने का प्रयास करता है तो वह या तो पागल हो जाता है या शारीरिक रूप से अक्षम हो जाता है ऐसे ही एक कृष्ण भक्त सन्त थे "पागल बाबा" जिनकी समाधि निधिवन में बनी हुई है.कहते हैं की उन्होंने भी एक बार निधि वन में छुपकर महारास देखने की कोशिश की थी जिस के बाद वे पागल हो गए थे. कृष्ण भक्त होने के कारण उनकी मृत्यु के पश्चात मंदिर कमेटी ने निधि वन में ही उनकी समाधि का निर्माण कराया. हरे कृष्ण हरे कृष्ण ll मेरो प्यारो कन्हैया ll राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे राधे सबका दिन शुभ हो l"

,OP JAIN (RAJ) Jun 11, 2019
श्री राधे राधे दीदी सुप्रभात वंदन दीदी श्री राम और श्री हनुमान जी की कृपा सदा आप और आपके परिवार पर बनी रहे जय श्री राम

GADA MANGARAJ Jul 21, 2019

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Ajay hooda Jul 21, 2019

+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 17 शेयर
Sanjay Singh Jul 21, 2019

+8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Mukesh Kumar Talwar Jul 21, 2019

+15 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB