मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
Jay Shree Krishna
Jay Shree Krishna Jun 13, 2019

*📿सोलह अक्षरों का महामंत्र📿* हरे कृष्ण, हरे कृष्ण, कृष्ण कृष्ण, हरे हरे । हरे राम, हरे राम, राम राम, हरे हरे ।। सोलह अक्षरों का ये मंत्र, महामंत्र कहलाता है । कलयुग के सब दोषों से, बस, यही हमें बचाता है ।। शास्त्रों में कहा है, इसके अतिरिक्त कोई उपाय नही । कलयुग में और कुछ भी, हो सकता सहाय नही ।। सतयुग में तपस्या से, पास हरि के जाते थे । त्रेता युगमें यज्ञों से, हरि को हम, पास बुलाते थे ।। द्वापर युग में करते थे लोग, अर्चा-विग्रह की पूजा । कलयुग में महामंत्र के सिवाय, उपाय नही दूजा ।। इस घोर कल्मष के युग में, कीर्तन से ही, हरि मिल जाते है । महामंत्र उच्चारण से, प्रभु को, जिह्वा पे हम नचाते हैं ।। चित्त को हमारे, शुद्ध करता है ये हरि कीर्तन । जप-जप के हरि नाम, चमक जाता, मन का दर्पण ।। बड़ा ही सरल और सटीक, तरिका है जीने का । न गवाए हम मौका, इस अमृत्व को पीने का ।। बिना देर किये, जहाँ हैं वही से कर दे शुरुआत । कर ले कमाई कुछ, जब तक मौत करे आघात ।। फिर चिंता न हो कि, कब मौत से पाला पड़े । जब भी प्राण छूटे, दिखे बस, प्रभु सामने खड़े ।। 🙏🏻🌹🙌🏻🌹🙌🏻🌹🙏🏻 *📿।।हरे कृष्ण, हरे कृष्ण,* *कृष्ण कृष्ण, हरे हरे।।* *।।हरे राम, हरे राम,* *राम राम, हरे हरे।।📿* 🙏🏻🌹🙌🏻🌹🙌🏻🌹🙏🏻

*📿सोलह अक्षरों का महामंत्र📿*

हरे कृष्ण, हरे कृष्ण, 
कृष्ण कृष्ण, हरे हरे ।

हरे राम, हरे राम, 
राम राम, हरे हरे ।।

सोलह अक्षरों का ये मंत्र,
महामंत्र कहलाता है ।

कलयुग के सब दोषों से, 
बस, यही हमें बचाता है ।।

शास्त्रों में कहा है, 
इसके अतिरिक्त कोई उपाय नही ।

कलयुग में और कुछ भी, 
हो सकता सहाय नही ।।

सतयुग में तपस्या से, 
पास हरि के जाते थे ।

त्रेता युगमें यज्ञों से, 
हरि को हम, पास बुलाते थे ।।

द्वापर युग में करते थे लोग, 
अर्चा-विग्रह की पूजा ।

कलयुग में महामंत्र के सिवाय, 
उपाय नही दूजा ।।

इस घोर कल्मष के युग में, 
कीर्तन से ही, हरि मिल जाते है ।

महामंत्र उच्चारण से, 
प्रभु को, जिह्वा पे हम नचाते हैं ।।

चित्त को हमारे, 
शुद्ध करता है ये हरि कीर्तन ।

जप-जप के हरि नाम, 
चमक जाता, मन का दर्पण ।।

बड़ा ही सरल और सटीक, 
तरिका है जीने का ।

न गवाए हम मौका, 
इस अमृत्व को पीने का ।।

बिना देर किये, 
जहाँ हैं वही से कर दे शुरुआत ।

कर ले कमाई कुछ, 
जब तक मौत करे आघात ।।

फिर चिंता न हो कि, 
कब मौत से पाला पड़े ।

जब भी प्राण छूटे, 
दिखे बस, प्रभु सामने खड़े ।।

🙏🏻🌹🙌🏻🌹🙌🏻🌹🙏🏻

*📿।।हरे कृष्ण, हरे कृष्ण,*
          *कृष्ण कृष्ण, हरे हरे।।*

*।।हरे राम, हरे राम,* 
        *राम राम, हरे हरे।।📿*    
                               
🙏🏻🌹🙌🏻🌹🙌🏻🌹🙏🏻

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 20 शेयर

कामेंट्स

🙏🏻Meena Sharma Jun 17, 2019

+28 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 197 शेयर

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 22 शेयर
Rachna Jerath Jun 18, 2019

+7 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 8 शेयर

+12 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Sunil upadhyaya Jun 17, 2019

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 7 शेयर
R S Tiwari Jun 17, 2019

+124 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Priti Agarwal Jun 18, 2019

+2 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+23 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 17 शेयर
🙏🏻Meena Sharma Jun 18, 2019

+14 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 14 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB