Acharya Umesh Badola
Acharya Umesh Badola Aug 9, 2017

नीलकंठ महादेव मंदिर ऋषिकेश उत्तराखंड

नीलकंठ महादेव मंदिर ऋषिकेश उत्तराखंड

नीलकंठ महादेव मंदिर ऋषिकेश उत्तराखंड

उत्तरांचल में हिमालय पर्वतों के तल में बसा ऋषिकेश में नीलकंठ महादेव मंदिर प्रमुख पर्यटन स्थल है। नीलकंठ #महादेव #मंदिर ऋषिकेश के सबसे पूज्य मंदिरों में से एक है। कहा जाता है कि भगवान शिव ने इसी स्थान पर समुद्र मंथन से निकला विष ग्रहण किया गया था। उसी समय उनकी पत्नी, पार्वती ने उनका गला दबाया जिससे कि विष उनके पेट तक नहीं पहुंचे। इस तरह, विष उनके गले में बना रहा। विषपान के बाद विष के प्रभाव से उनका गला नीला पड़ गया था। गला नीला पड़ने के कारण ही उन्हें नीलकंठ नाम से जाना गया था। अत्यन्त प्रभावशाली यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। मंदिर परिसर में पानी का एक झरना है जहाँ भक्तगण मंदिर के दर्शन करने से पहले स्नान करते हैं।

स्थिति------
नीलकंठ महादेव मंदिर ऋषिकेश से लगभग 5500 फीट की ऊँचाई पर स्वर्ग आश्रम की पहाड़ी की चोटी पर स्थित है। मुनी की रेती से नीलकंठ महादेव मंदिर सड़क मार्ग से 50 किलोमिटर और नाव द्वारा गंगा पार करने पर 25 किलोमिटर की दूरी पर स्थित है।

विशेषता------
नीलकंठ महादेव मंदिर की नक़्क़ाशी देखते ही बनती है। अत्यन्त मनोहारी मंदिर शिखर के तल पर समुद्र मंथन के दृश्य को चित्रित किया गया है और गर्भ गृह के प्रवेश-द्वार पर एक विशाल पेंटिंग में भगवान शिव को विष पीते हुए भी दिखलाया गया है। सामने की पहाड़ी पर शिव की पत्नी, पार्वती जी का मंदिर है।

ऋषिकेश ----------
लक्ष्मण झूला · राम झूला · त्रिवेणी घाट · स्वर्ग आश्रम · वसिष्ठ गुफा · गीता भवन · योग केन्द्र · नीलकंठ महादेव मंदिर · भरत मंदिर · अय्यपा मन्दिर · कैलाश निकेतन मंदिर · परमार्थ निकेतन आश्रम

+105 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 3 शेयर

कामेंट्स

Mamta Sharma Mar 27, 2020

+64 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 86 शेयर
Lakhi Jhunjhunwala Mar 27, 2020

+6 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Mamta Sharma Mar 27, 2020

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 18 शेयर
Mamta Sharma Mar 27, 2020

+24 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 4 शेयर

+15 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB