Ranveer Thakur
Ranveer Thakur Jan 8, 2017

Durga Devi Mandir Kitdwara Dugdda Durga Devi is a very old temple, where Maa Durga's existence was

Durga Devi Mandir Kitdwara  Dugdda Durga Devi is a very old temple, where Maa Durga's existence was
Durga Devi Mandir Kitdwara  Dugdda Durga Devi is a very old temple, where Maa Durga's existence was
Durga Devi Mandir Kitdwara  Dugdda Durga Devi is a very old temple, where Maa Durga's existence was
Durga Devi Mandir Kitdwara  Dugdda Durga Devi is a very old temple, where Maa Durga's existence was

Durga Devi Mandir Kitdwara Dugdda

Durga Devi is a very old temple, where Maa Durga's existence was there in ancient time. In this temple there are many caves which are so beautiful even, it is does not seem to be a realistic it seems like a Natural painting.The specialty of this temple is, many people thought that "if devotee through coin from their true heart in the roof of this temple God fulfill there wishes" which is true even in present time.
When you walk Down to this temple there is a big river where people comes with their family for the enjoyment.This temple located in Dugdda which is approximately 9 Km away from Kotdwara.
Top Most Temples In "Kotdwara"

+100 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 11 शेयर

कामेंट्स

ramkumarverma Feb 28, 2021

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 26 शेयर
Sharad Yadav Feb 28, 2021

+9 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 19 शेयर
Devidas Chitale Feb 28, 2021

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Mamta Chauhan Feb 28, 2021

+8 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर

Har har mahadev*-शब्दों का संसार-* शब्द रचे जाते हैं, शब्द गढ़े जाते हैं, शब्द मढ़े जाते हैं, शब्द लिखे जाते हैं, शब्द पढ़े जाते हैं, शब्द बोले जाते हैं, शब्द तौले जाते हैं, शब्द टटोले जाते हैं, शब्द खंगाले जाते हैं, *#अंततः* शब्द बनते हैं, शब्द संवरते हैं, शब्द सुधरते हैं, शब्द निखरते हैं, शब्द हंसाते हैं, शब्द मनाते हैं, शब्द रूलाते हैं, शब्द मुस्कुराते हैं, शब्द खिलखिलाते हैं, शब्द गुदगुदाते हैं, शब्द मुखर हो जाते हैं, शब्द प्रखर हो जाते हैं, शब्द मधुर हो जाते हैं, *#फिर भी-* शब्द चुभते हैं, शब्द बिकते हैं, शब्द रूठते हैं, शब्द घाव देते हैं, शब्द ताव देते हैं, शब्द लड़ते हैं, शब्द झगड़ते हैं, शब्द बिगड़ते हैं, शब्द बिखरते हैं शब्द सिहरते हैं, *#किंतु-* शब्द मरते नहीं, शब्द थकते नहीं, शब्द रुकते नहीं, शब्द चुकते नहीं, *#अतएव-* शब्दों से खेले नहीं, बिन सोचे बोले नहीं, शब्दों को मान दें, शब्दों को सम्मान दें, शब्दों पर ध्यान दें, शब्दों को पहचान दें, ऊँची लंबी उड़ान दे, शब्दों को आत्मसात करें... उनसे उनकी बात करें, शब्दों का अविष्कार करें... गहन सार्थक विचार करें, *#क्योंकि-* शब्द अनमोल हैं... ज़ुबाँ से निकले बोल हैं, शब्दों में धार होती है, शब्दों की महिमा अपार होती, शब्दों का विशाल भंडार होता है, *और सच तो यह है कि-* *शब्दों का अपना एक संसार होता है*🍅✴☀❣जय मां अंबे भवानी ❣☀✴🍅❣ 🍂🐚 गंगा गीता गायत्री 🍂🐚 (¯`•.•´¯) *`•.¸(¯`•.•´¯)¸.•´ `•.¸.•´ ჱܓ*“ 🍅✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴☀✴🍅 ☆*´¨`☽  ¸.★* ´¸.★*´¸.★*´☽ (  ☆** Ψ त्रिवेणी घाट हरिद्वार .Ψ `★.¸¸¸. ★• ° 🙏सेवक भरत व्यास बांगा हिसार हरिद्वार 👏👏🌺👏👏👏 🙏🏼🌹‼️जय माता दी‼️🌹🙏🏼"गीता में बहुत सुंदर कथन लिखा हुआ है... अहँकार से जिस व्यक्ति का मन मैला है, करोड़ों की भीड़ में भी वो सदा अकेला है। मैं मोक्ष चाहता हूँ, मैं मोक्ष को कैसे पाऊँ...?? विचित्र बात है अगर *"मैं"* हो तो मोक्ष कैसा ?? *"मैं"* से मुक्त होना ही मोक्ष है🌷🙏🏻

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर
Kailash Prasad Feb 28, 2021

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
hunny singh Feb 28, 2021

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 7 शेयर
bhavanamishra Feb 28, 2021

+38 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 29 शेयर
nisha singh Feb 28, 2021

+15 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 19 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB