murlidhargoyal39
murlidhargoyal39 Oct 21, 2017

श्री सूरदासजी के पद*

श्री सूरदासजी के पद*

देखो हरि जू को एक सुभाव।
अति गंभीर उदार उदधि जान शिरोमणि राय ।।
राई जितनी सेवा को फल मानत मेरु समान ।
कोटि सिंधु अपराध क्षमा करे बूंद ना एको मान ।।
वदन प्रसन्न कमल सन्मुख व्हे देखत हो हरि जेसे ।
विमुख भये कृपा या मुख की जब देखो तब तैसे ।।
भक्त विरह कातर करुणामय डोलत पाछे लागे ।
सूरदास ऐसे प्रभु को क्यों दीजे पीठ अभागे ।।

+29 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 9 शेयर

कामेंट्स

Anu Tiwari 🌷🌷 Feb 29, 2020

+14 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 2 शेयर
sandhya parihar Feb 29, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Arun Vishwakarma Feb 29, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
sandhya parihar Feb 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
krishan kumar Feb 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sunil Jhunjhunwala Feb 29, 2020

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
sandhya parihar Feb 29, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
arun agrawal Feb 29, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
sahil grover Feb 29, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB