!! भगवान विष्णू जी की आरती !!

!! भगवान विष्णू जी की आरती !!

#विष्णु जी की #आरती
त्रिदेवों में भगवान विष्णु का स्थान पालनकर्ता का है। भगवान विष्णु की आराधना कर भक्त अपने स्वस्थ जीवन और खुशहाल परिवार की कामना करते हैं।

 आरती

जय जगदीश हरे, प्रभु! जय जगदीश हरे।
भक्तजनों के संकट, छन में दूर करे॥ जय जगदीश हरे

जो ध्यावै फल पावै, दु:ख बिनसै मनका।
सुख सम्पत्ति घर आवै, कष्ट मिटै तनका॥ जय जगदीश हरे

मात-पिता तुम मेरे, शरण गहूँ किसकी।
तुम बिन और न दूजा, आस करूँ जिसकी॥ जय जगदीश हरे

तुम पूरन परमात्मा, तुम अंतर्यामी।
पार ब्रह्म परमेश्वर, तुम सबके स्वामी॥ जय जगदीश हरे

तुम करुणा के सागर, तुम पालनकर्ता।
मैं मुरख खल कामी, कृपा करो भर्ता॥ जय जगदीश हरे

तुम हो एक अगोचर, सबके प्राणपति।
किस विधि मिलूँ दयामय, तुमको मैं कुमती॥ जय जगदीश हरे

दीनबन्धु, दु:खहर्ता तुम ठाकुर मेरे।
अपने हाथ उठाओ, द्वार पडा तेरे॥ जय जगदीश हरे

विषय विकार मिटाओ, पाप हरो देवा।
श्रद्धा-भक्ति बढाओ, संतन की सेवा॥ जय जगदीश हरे

जय जगदीश हरे, प्रभु! जय जगदीश हरे।
मायातीत, महेश्वर मन-वच-बुद्धि परे॥ जय जगदीश हरे

आदि, अनादि, अगोचर, अविचल, अविनाशी।
अतुल, अनन्त, अनामय, अमित, शक्ति-राशि॥ जय जगदीश हरे

अमल, अकल, अज, अक्षय, अव्यय, अविकारी।
सत-चित-सुखमय, सुन्दर शिव सत्ताधारी॥ जय जगदीश हरे

विधि-हरि-शंकर-गणपति-सूर्य-शक्तिरूपा।
विश्व चराचर तुम ही, तुम ही विश्वभूपा॥ जय जगदीश हरे

माता-पिता-पितामह-स्वामि-सुहृद्-भर्ता।
विश्वोत्पादक पालक रक्षक संहर्ता॥ जय जगदीश हरे

साक्षी, शरण, सखा, प्रिय प्रियतम, पूर्ण प्रभो।
केवल-काल कलानिधि, कालातीत, विभो॥ जय जगदीश हरे

राम-कृष्ण करुणामय, प्रेमामृत-सागर।
मन-मोहन मुरलीधर नित-नव नटनागर॥ जय जगदीश हरे

सब विधि-हीन, मलिन-मति, हम अति पातकि-जन।
प्रभुपद-विमुख अभागी, कलि-कलुषित तन मन॥ जय जगदीश हरे

आश्रय-दान दयार्णव! हम सबको दीजै।
पाप-ताप हर हरि! सब, निज-जन कर लीजै॥ जय जगदीश हरे

Jyot Flower Bell +179 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 46 शेयर

कामेंट्स

Chetram Mehrra Dec 16, 2018

Like Pranam Tulsi +8 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 16 शेयर

ओम गणांनांत्वा गं हवा महे। निधिनां त्वा निधिपति गं हवा महे। प़ियांणां त्वा प़ियपति गं हवा महे । वसो मम आहम जानि गर्भध्मा: गर्भधम !! सुप्रभातम जय श्री गणेश देवा जी महाराज जी जय माता दी ओम हर हर महादेव‌ जय श्री राधे कृष्णा जी हरि ओम शान्ति । ओम गं ग...

(पूरा पढ़ें)
Milk Tulsi Dhoop +11 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
sushma Dec 18, 2018

Like Tulsi Pranam +55 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 19 शेयर
Jay Shree Krishna Dec 18, 2018

*🌹मोक्षदा एकादशी 19 दिसंबर*

*🌹19 दिसम्बर 2018 बुधवार को त्रिस्पृशा-मोक्षदा एकादशी का व्रत (उपवास) रखें । हजार एकादशियों का फल देनेवाला व्रत*

*🌹युधिष्ठिर बोले : देवदेवेश्वर ! मार्गशीर्ष मास के शुक्लपक्ष में कौन सी एकादशी होती है ? उसकी क्या वि...

(पूरा पढ़ें)
Tulsi Pranam Like +13 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 15 शेयर
Jay Shree Krishna Dec 18, 2018

_*🙏🏼🦋🙋🏻‍♂🌹~श्री राधे ~🌹🙋🏻‍♂🦋🙏🏼*_ _*१८ /१२ /२०१८*_ _*मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष नवमी*_

_*आज वैकुण्ठ एकादशी पर श्री वासवी कन्यका परमेश्वरी देवी के श्री वैंकटेश्वर गोविंदा जी स्वरूप मे श्रृंगार दर्शन ८वीं क्रोस रोड मल्लेश्वरम बेंगलुरु से*_

...

(पूरा पढ़ें)
Flower Jyot Bell +7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Ravi Verma Dec 18, 2018

_*🙏🏻🙏🏻🌸आज संध्या के जल दुग्ध पंचामृत अभिषेक दर्शन श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग के उज्जैन धाम से🌸🙏🏻🙏🏻*_

Water Belpatra Pranam +30 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Anuradha Tiwari Dec 18, 2018

हिन्दू धर्म में कहते हैं कि ब्रह्माजी जन्म देने वाले, विष्णु पालने वाले और शिव वापस ले जाने वाले देवता हैं। भगवान विष्णु तो जगत के पालनहार हैं। वे सभी के दुख दूर कर उनको श्रेष्ठ जीवन का वरदान देते हैं। जीवन में किसी भी तरह का संकट हो या धरती पर कि...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Lotus Like +14 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 27 शेयर

सफला एकादशी का व्रत पौष माह की कृष्ण पक्ष की एकादशी को किया जाता है और यह व्रत समस्त कार्यों में सफल होने का फल देता है इसलिए इसे सफला एकादशी व्रत कहा जाता है। इस व्रत के पुण्य से मनुष्य को सभी कार्यों में सफलता मिलती है।

अधिक जानकारी के लिए नीचे...

(पूरा पढ़ें)
Bell Pranam Like +71 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 34 शेयर
dhiraj katariya Dec 18, 2018

Like Flower +3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Raj Kumar Tiwari Dec 18, 2018

ज्योतिष से जानें व्यक्ति को कब मिलती है सफलता

*कई लोगों को खूब प्रयास करने के बाद भी यश की प्राप्ति नहीं होती है, आइए जानते हैं ज्योतिष के अनुसार कब और कैसे मिलता है यश.*

*कुंडली के चतुर्थ, सप्तम और दशम भाव से व्यक्ति के नाम और यश की स्थिति देखी...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Like +3 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 8 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB