om namo Shiva 🌸🌿

+20 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर
some math garg Oct 25, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर
some math garg Oct 25, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर
some math garg Oct 25, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर
Hardyal Singh Oct 24, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Govindjha Oct 24, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Govindjha Oct 24, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Hari shankar Shukla Oct 24, 2020

+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 27 शेयर
Kumarpal Shah Oct 24, 2020

+19 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Kumarpal Shah Oct 24, 2020

🕉️ Namah shivay 🙏 @🌞 ~ आज का हिन्दू पंचांग ~ 🌞 ⛅ दिनांक 24 अक्टूबर 2020 ⛅ दिन - शनिवार ⛅ विक्रम संवत - 2077 (गुजरात - 2076) ⛅ शक संवत - 1942 ⛅ अयन - दक्षिणायन ⛅ ऋतु - हेमंत ⛅ मास - अश्विन ⛅ पक्ष - शुक्ल ⛅ तिथि - अष्टमी सुबह 06:58 तक तत्पश्चात नवमी ⛅ नक्षत्र - श्रवण 25 अक्टूबर रात्रि 02:38 तक तत्पश्चात धनिष्ठा ⛅ योग - शूल 25 अक्टूबर रात्रि 12:42 तक तत्पश्चात गण्ड ⛅ राहुकाल - सुबह 09:32 से सुबह 10:57 तक ⛅ सूर्योदय - 06:38 ⛅ सूर्यास्त - 18:06 ⛅ दिशाशूल - पूर्व दिशा में ⛅ व्रत पर्व विवरण - दुर्गाष्टमी, महानवमी, सरस्वती विसर्जन 💥 विशेष - अष्टमी को नारियल का फल खाने से बुद्धि का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34) 💥 अष्टमी तिथि के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38) 🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞 🌷 नेत्रज्योति बढ़ाने के लिए 🌷 🌙 दशहरे से शरद पूनम तक चन्द्रमा की चाँदनी में विशेष हितकारी रस, हितकारी किरणें होती हैं । इन दिनों चन्द्रमा की चाँदनी का लाभ उठाना, जिससे वर्षभर आप स्वस्थ और प्रसन्न रहें । नेत्रज्योति बढ़ाने के लिए दशहरे से शरद पूर्णिमा तक प्रतिदिन रात्रि में 15 से 20 मिनट तक चन्द्रमा के ऊपर त्राटक (पलकें झपकाये बिना एकटक देखना) करें । 🙏🏻 पूज्य बापूजी 🌞 ~ हिन्दू पंचाग ~ 🌞 🌷 दशहरे के दिन 🌷 ➡ 25 अक्टूबर 2020 रविवार को दशहरा, विजयादशमी (पूरा दिन शुभ मुहूर्त), संकल्प, शुभारम्भ, नूतन कार्य, सीमोल्लंघन के लिए विजय मुहूर्त (दोपहर 2:18 से 3:04 तक), गुरु-पूजन, अस्त्र-शस्त्र-शमी वृक्ष-आयुध-वाहन पूजन 🙏🏻 दशहरा के दिन शाम को जब सूर्यास्त होने का समय और आकाश में तारे उदय होने का समय हो वो सर्व सिद्धिदायी विजय काल कहलाता है | 👉🏻 उस समय घूमने-फिरने मत जाना | दशहरा मैदान मत खोजना ... रावण जलता हो देखकर क्या मिलेगा ? धूल उड़ती होगी, मिटटी उड़ती होगी रावण को जलाया उसका धुआं वातावरण में होगा .... गंदा वो श्वास में लेना .... धूल, मिटटी श्वास में लेना पागलपन है | ये दशहरे के दिन शाम को घर पे ही स्नान आदि करके, दिन के कपडे बदल के शाम को धुले हुए कपडे पहनकर ज्योत जलाकर बैठ जाये | थोडा 🌷 " राम रामाय नम: । " 🙏🏻 मंत्र जपते, विजयादशमी है ना तो रामजी का नाम और फिर मन-ही-मन गुरुदेव को प्रणाम करके गुरुदेव सर्व सिद्धिदायी विजयकाल चल रहा है की हम विजय के लिए ये मंत्र जपते है - 🌷 "ॐ अपराजितायै नमः " ➡ ये मंत्र १ - २ माला जप करना और इस काल में श्री हनुमानजी का सुमिरन करते हुए इस मंत्र की एक माला जप करें :- 🌷 "पवन तनय बल पवन समाना, बुद्धि विवेक विज्ञान निधाना । कवन सो काज कठिन जग माहि, जो नहीं होत तात तुम पाहि ॥" 🙏🏻 पवन तनय समाना की भी १ माला कर ले उस विजय काल में, फिर गुरुमंत्र की माला कर ले । फिर देखो अगले साल की दशहरा तक गृहस्थ में जीनेवाले को बहुत-बहुत अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते है | 🙏🏻 Sureshanandji Faridabad - 29th Sep.2012 🌞 ~ हिन्दू पंचांग ~ 🌞 🙏🍀🌷🌻🌺🌸🌹🍁🙏 T.me/HinduPanchang

+24 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 16 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB