🌹🌹जय श्री राधे कृष्ण 🌹🌹

राधे राधे जपा करो कृष्ण नाम रस पिया करो.. बहुत ही सुंदर भजन है शांत मन से सुनें आपके मन में भी प्रभु की भक्ति जगेगी और ऐसा होने पर इसे अपने तक ही सीमित नहीं रखेंअपने प्रियजनों तक भी पहुंचा कर पुन्य के भागी बनें l👉 कमेंट में जय श्री राधे कृष्ण जरूर लिखें 👈
🌹🌹जय श्री राधे कृष्ण 🌹🌹

+26 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 74 शेयर

कामेंट्स

Shanti Pathak Aug 6, 2020

+116 प्रतिक्रिया 26 कॉमेंट्स • 37 शेयर
Shanti Pathak Aug 6, 2020

(((( कन्हैया की बाल लीला )))) . कबहुं बोलत तात खीझत जात माखन खात। अरुन लोचन भौंह टेढ़ी बार बार जंभात॥ . कबहुं रुनझुन चलत घुटुरुनि धूरि धूसर गात। कबहुं झुकि कै अलक खैंच नैन जल भरि जात॥ . कबहुं तोतर बोल बोलत कबहुं बोलत तात। सूर हरि की निरखि सोभा निमिष तजत न मात॥ . यह पद राग रामकली में बद्ध है। . एक बार श्रीकृष्ण माखन खाते-खाते रूठ गए और रूठे भी ऐसे कि रोते-रोते नेत्र लाल हो गए। . भौंहें वक्र हो गई और बार-बार जंभाई लेने लगे। . कभी वह घुटनों के बल चलते थे जिससे उनके पैरों में पड़ी पैंजनिया में से रुनझुन स्वर निकलते थे। . घुटनों के बल चलकर ही उन्होंने सारे शरीर को धूल-धूसरित कर लिया। . कभी श्रीकृष्ण अपने ही बालों को खींचते और नैनों में आंसू भर लाते। . कभी तोतली बोली बोलते तो कभी तात ही बोलते। . सूरदास कहते हैं कि श्रीकृष्ण की ऐसी शोभा को देखकर यशोदा उन्हें एक पल भी छोड़ने को न हुई अर्थात् श्रीकृष्ण की इन छोटी-छोटी लीलाओं में उन्हें अद्भुत रस आने लगा। ~~~~~~~~~~~~~~~~~ ((((((( जय जय श्री राधे ))))))) ~~~~~~~~~~~~~~~~~

+84 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 20 शेयर
Manoj Kumar dhawan Aug 6, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
jyoti Aug 4, 2020

+68 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 27 शेयर
Manoj Kumar dhawan Aug 5, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Durgesh Aug 5, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Kamal kishor Kamal Aug 5, 2020

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB