आरती के बाद क्यों है मंत्र का इनता महत्व ।

आरती के बाद क्यों है मंत्र का इनता महत्व ।
आरती के बाद क्यों है मंत्र का इनता महत्व ।

कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारं

कर्पूरगौरं करुणावतारं संसारसारं भुजगेन्द्रहारम्।
सदा बसन्तं हृदयारबिन्दे भबं भवानीसहितं नमामि।।


मंत्र का अर्थ...
1. कर्पूरगौरं- कर्पूर के समान गौर वर्ण वाले.
करुणावतारं- करुणा के जो साक्षात् अवतार हैं.
संसारसारं- समस्त सृष्टि के जो सार हैं.
भुजगेंद्रहारम्- इस शब्द का अर्थ है जो सांप को हार के रूप में धारण करते हैं.

2. सदा वसतं हृदयाविन्दे भवंभावनी सहितं नमामि- इसका अर्थ है कि जो शिव, पार्वती के साथ सदैव मेरे हृदय में निवास करते हैं, उनको मेरा नमन है.
मंत्र का पूरा अर्थ: जो कर्पूर जैसे गौर वर्ण वाले हैं, करुणा के अवतार हैं, संसार के सार हैं और भुजंगों का हार धारण करते हैं, वे भगवान शिव माता भवानी सहित मेरे ह्रदय में सदैव निवास करें और उन्हें मेरा नमन है.


आरती के बाद क्यों है मंत्र का इनता महत्व….
किसी भी पूजा के पहले जैसे भगवान गणेश की स्तुति की जाती है. उसी तरह किसी भी देवी-देवता की आरती के बाद कर्पूरगौरम् करुणावतारं….मंत्र का जाप करने का अपना महत्व है. भगवान शिव की ये स्तुति शिव-पार्वती विवाह के समय विष्णु द्वारा गाई हुई मानी गई है. शिव शंभू की इस स्तुति में उनके दिव्य रूप का बखान किया गया है. शिव को जीवन और मृत्यु का देवता माना गया है. इसी के साथ इन्हें पशुपतिनाथ भी कहा जाता है....

Pranam Like Milk +259 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 112 शेयर

कामेंट्स

Purvin kumar Oct 15, 2018

Belpatra Like Pranam +21 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 31 शेयर
Renu Sharma Oct 15, 2018

Pranam Like Flower +51 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 50 शेयर
Renu Sharma Oct 15, 2018

Belpatra Pranam Flower +71 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 29 शेयर
Aman Chauhan Oct 15, 2018

Flower Jyot Pranam +31 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 23 शेयर
Dr.ratan Singh Oct 15, 2018

🎎🌷नवरात्रि🌷🎎

🌹🌿ॐ नमः शिवाय🌿🌹

🌋🌳षष्ठम् दुर्गा 🌳🌋

🚩🌺माँ कात्यायनी देवी🌺🚩

🔱🐚ॐ गणेशाय नमः🐚🔱

🌸🍀शुभ सोमवार🍀🌸

🌹या देवी सर्वभू‍तेषु माँ कात्यायनी रूपेण संस्थिता।
🌸नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

🎡आप सभी पर देवो के...

(पूरा पढ़ें)
Jyot Water Dhoop +200 प्रतिक्रिया 80 कॉमेंट्स • 48 शेयर

ॐ श्री गणेशाय नमः
ॐ नमः शिवाय शिवजी सदा सहाय
ॐ नमः शिवाय गुरू जी सदा सहाय
ॐ जय हो माता रानी जी की
15.10.2018 माता रानी जी के छठे नवरात्रि की सह दिल से आप सब भक्त परिवार को हार्दिक शुभकामनाएँ एवं बधाई हो जी
आज शुभ तिथि पन्द्रह अक्तूबर शुभ वर्ष...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Flower Like +14 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Renu Sharma Oct 15, 2018

Fruits Flower Milk +27 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Panchanand Singh Oct 15, 2018

Dhoop Flower Bell +33 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 13 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB