Smt Neelam Sharma
Smt Neelam Sharma Apr 14, 2021

*किसी ने पुछा खाटू के दरबार में ऐसा क्या है,*      *जो चारों ओर उसी का डंका बजता है..?* *छोटा_सा_जबाब..*       *हारे को और हराना ये जग की रीत हैं..* *पर श्याम के दरबार में हारे की जीत है..!!*           🌹 *।जय श्री श्याम।*🌹

+165 प्रतिक्रिया 33 कॉमेंट्स • 148 शेयर

कामेंट्स

Ajit sinh Parmar Apr 14, 2021
गुड न।इट र।धेकृषण 🌺🙏🌺🙏🌺🙏🌺🙏

GOVIND CHOUHAN Apr 14, 2021
Jai Jai Jai Khatu Shyam Baba 🌹💮🌹💮🌹💮🌹💮🌹💮🙏🙏Subh Ratri Jiiii 🌹🌹 Prabhu Shyam Baba ki kripa Hamesha Aap V Aapke Sampurn parivaar Pr bni rhe Jii 🙏🌹🙏 Vvvery Beautiful Post Jii 👌👌👌

Anju Mishra Apr 14, 2021
राधे राधे बहना शुभ रात्रि

dhruv wadhwani Apr 14, 2021
जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे जय श्री राधे राधे

P L Chouhan bwr Apr 14, 2021
जय श्याम दरबार खाटू नरेश जय जय

Ramesh Soni.33 Apr 14, 2021
जय श्री राम जय श्री राम 🌹🚩🌹ओम भगवते वासुदेवाय नमः🚩🚩🚩🌹🌹🙏🙏🌹🌹

Mamta Chauhan Apr 14, 2021
Jai Shri Shyam ji shubh ratri vandan pyari bahan ji aapka har pal mangalmay ho 👌👌👌🌷🙏🌷🙏

Renu Singh Apr 14, 2021
Jai Mata Di 🌹🙏 Good Night Dear Sister 🙏🌹 Jai Shree Shyam 🙏🌹🙏

Ravi Kumar Taneja Apr 14, 2021
जय माता दी 🙏🌹🙏 या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः 🌷🙏🌷 शुभ प्रभात वंदना जी🙏🌸🙏 जगदम्बे माताकी कृपा दृष्टि आप पर हमेशा बनी रहे 🙏🌹🙏 माता रानी का आशीर्वाद सपरिवार आपको मिले🙏 🌼🙏 आपकी सब मनोकामना माता रानी पूरी करे 🙏🌷🙏

sanjay Sharma Apr 15, 2021
जय श्री राधे कृष्णा जय श्री सीताराम जय माता दी या देवी सर्वभूतेषु विद्या रूपेण संस्थिता नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम शुभ प्रभात जी मेरी बहन आप कैसे हैं बहन आप सदा सुखी रहिए और जीवन में सदैव कामयाबी हासिल करते रहे मां चंद्रघंटा देवी का विशेष आशीर्वाद सदैव आपके साथ हो

A mishra ji Apr 15, 2021
Jay shri krishna राधे राधे राधे राधे ji 🙏 Jay mata di good morning ji 💞 💞 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷 🌷

Manoj Gupta AGRA Apr 15, 2021
jai shree radhe krishna ji 🙏🙏🌷🌸💐🌀 shubh prabhat vandan ji 🙏🙏🌷 aapka din shubh aur mangalmay ho 🙏🙏🌷🌸💐

🌹bk preeti 🌹 Apr 15, 2021
शुभ दिवस🙏🌹 आज व्रत रखना है - दूसरों के साथ साथ स्वयं की भी सेवा करनी है । स्वयं सेवा अर्थात अपने पुराने दुखदायी संस्कारों का संस्कार करना जैसे - बहुत ज्यादा सोचने, बोलने का संस्कार, ईर्ष्या, नफरत, बदला लेन का, क्रोध, लालच, अभिमान,अपमान, Feeling का संस्कार । इनका संस्कार करने वाले को लोग मन से नमस्कार करेंगे । जय माता दी ❤️ शुभ प्रभात वंदन जी जय जिनेंद्र 🚩🚩🚩🚩🌹🌹🙏🙏🍵🍹

SunitaSharma May 10, 2021

+110 प्रतिक्रिया 24 कॉमेंट्स • 43 शेयर
Gopal Jalan May 10, 2021

+14 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 64 शेयर
SunitaSharma May 10, 2021

+77 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 33 शेयर
Gopal Jalan May 9, 2021

+22 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 118 शेयर
Papa's proud May 10, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Papa's proud May 10, 2021

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

*एक बहुत सुंदर कहानी* 👌🏻👌🏻👌🏻👌🏻👌🏻👌🏻👌🏻👌🏻 *नारद मुनि जहां भी जाते थे, बस ‘नारायण , नारायण’ कहते रहते थे।नारद को तीनों लोकों में जाने की छूट थी। वह आराम से कहीं भी आ-जा सकते थे। एक दिन उन्होंने देखा कि एक किसान परमानंद की अवस्था में अपनी जमीन जोत रहा था।नारद को यह जानने की उत्सुकता हुई कि उसके आनंद का राज क्या है, जब वह उस किसान से बात करने पहुंचे, तो वह अपनी जमीन को जोतने में इतना डूबा हुआ था, कि उसने नारद पर ध्यान भी नहीं दिया। दोपहर के समय, उसने काम से थोड़ा विराम लिया और खाना खाने के लिए एक पेड़ के नीचे बैठा। उसने बर्तन को खोला, जिसमें थोड़ा सा भोजन था। उसने सिर्फ नारायण, नारायण, नारायण’ कहा और खाने लगा। किसान अपना खाना उनके साथ बांटना चाहता था मगर जाति व्यवस्था के कारण नारद उसके साथ नहीं खा सकते थे। नारद ने पूछा, ‘तुम्हारे इस आनंद की वजह क्या है?’ किसान बोला, ‘हर दिन नारायण अपने असली रूप में मेरे सामने आते हैं। मेरे आनंद का बस यही कारण है। नारद ने उससे पूछा, तुम कौन सी साधना करते हो? किसान बोला, मुझे कुछ नहीं आता।मैं एक अज्ञानी,अनपढ़ आदमी हूं। बस सुबह उठने के बाद मैं तीन बार ‘नारायण’ बोलता हूं। अपना काम शुरू करते समय मैं तीन बार ‘नारायण’ बोलता हूं, अपना काम खत्म करने के बाद मैं फिर तीन बार ‘नारायण’ बोलता हूं। जब मैं खाता हूं, तो तीन बार ‘नारायण’ बोलता हूं और जब सोने जाता हूं, तो भी तीन बार ‘नारायण’ बोलता हूं। ’नारद ने गिना कि वह खुद 24 घंटे में कितनी बार ‘नारायण’ बोलते हैं। वह लाखों बार ऐसा करते थे, मगर फिर भी उन्हें नारायण से मिलने के लिए वैकुण्ठ तक जाना पड़ता था,जो बहुत ही दूर था,मगर खाने, हल चलाने या बाकी कामों से पहले सिर्फ तीन बार ‘नारायण’बोलने वाले इस किसान के सामने नारायण वहीं प्रकट हो जाते थे। नारद को लगा कि यह ठीक नहीं है, इसमें जरूर कहीं कोई त्रुटि है।* *वह तुरंत वैकुण्ठ पहुंच गए और उन्होंने विष्णु से पुछा, ‘मैं हर समय आपका नाम जपता रहता हूं, मगर आप मेरे सामने नहीं प्रकट नहीं होते। मुझे आकर आपके दर्शन करने पड़ते हैं। मगर उस किसान के सामने आप रोज प्रकट होते हैं और वह परमानंद में जीवन बिता रहा है!’ विष्णु ने नारद की ओर देखा और लक्ष्मी को तेल से लबालब भरा हुआ एक बर्तन लाने को कहा। उन्होंने नारद से कहा, ‘पहले आपको एक काम करना पड़ेगा।तेल से भरे इस बर्तन को भूलोक ले जाइए। मगर इसमें से एक बूंद भी तेल छलकना नहीं चाहिए।इसे वहां छोड़कर आइए, फिर हम इस प्रश्न का जवाब देंगे। ’नारद तेल से भरा बर्तन ले कर भूलोक गए, उसे वहां छोड़ कर वापस आ गए और बोले, ‘अब मेरे प्रश्न का जवाब दीजिए।’ विष्णु ने पूछा, ‘जब आप तेल से भरा यह बर्तन लेकर जा रहे थे, तो आपने कितनी बार नारायण बोला?’ नारद बोले, ‘उस समय मैं नारायण कैसे बोल सकता था? आपने कहा था कि एक बूंद तेल भी नहीं गिरना चाहिए, इसलिए मुझे पूरा ध्यान उस पर देना पड़ा। मगर वापस आते समय मैंने बहुत बार ‘नारायण’ कहा।’ विष्णु बोले, ‘यही आपके प्रश्न का जवाब है। उस किसान का जीवन तेल से भरा बर्तन ढोने जैसा है जो किसी भी पल छलक सकता है। उसे अपनी जीविका कमानी पड़ती है, उसे बहुत सारी चीजें करनी पड़ती हैं। मगर उसके बावजूद, वह नारायण बोलता है। जब आप इस बर्तन में तेल लेकर जा रहे थे, तो आपने एक बार भी नारायण नहीं कहा। यानी यह आसान तब होता है जब आपके पास करने के लिए कुछ नहीं होता।’* *इसलिए ईश्वर कहते हैं "जो अपने कर्म करते हुए भी मुझे याद करता है उसके द्वार पर उसके दुख हरने मैं स्वयं जाता हूँ और जो फुरसत मिलने पर मुझे याद करता है उसे दुख के समय मेरे द्वार पर आना होगा"* *🙏🙏 भगवत्कृपा हि केवलम्🙏🙏* *जय श्री राम*🙏🙏

+11 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Kavita Yadav May 8, 2021

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 22 शेयर

+8 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 14 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB