Meena Pathak
Meena Pathak Mar 27, 2020

जय माता दी 🙏 कोरोनावायरस महामारी से निपटने के लिए तैयार हैं। माय मंदिर के सभी भाईयों बहनों को शुभ संध्या वंदन जी 🙏🍁🍀🌺🍀🌺🍀🌺🍀🌺🍀🌺🍀🌺🙏

+35 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 22 शेयर

कामेंट्स

Brajesh Sharma Mar 27, 2020
जय श्री राधे कृष्णा जी ॐ नमो भगवते वासुदेवाय जय माता दी.. जय माँ दुर्गे जय माता दी.... जय माता दी ॐ नमः शिवाय... हर हर महादेव, जय हनुमान जी शुभ रात्रि..

Mavjibhai Patel Mar 27, 2020
जय महाकाल शुभ संध्या वंदन

Meena Pathak Mar 27, 2020
@brajeshsharma1 जय माता दी शुभ रात्रि वंदन जी भाई जय श्री राधे कृष्णा जी

Meena Pathak Mar 27, 2020
@shivsankershukala जय माता दी जय श्री राधे कृष्णा जी भाई शुभ रात्रि वंदन जी शुभ नवरात्री नमस्कार भाई जी 🙏🍁🍀🌺🍀🙏

Meena Pathak Mar 27, 2020
@mavjibhaipatel जय माता दी जय श्री राधे कृष्णा जी भाई शुभ रात्रि वंदन जी 🙏🍁🍀🌺🍀🙏

Mavjibhai Patel Mar 27, 2020
@meenapathak2 जय माता दी जय माता दी जय श्री राधे कृष्णा राधे कृष्णा जय श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम श्रीराम जय महाकाल शुभ संध्या समय समय बलवान है

Meena Pathak Mar 27, 2020
@indin जय माता दी शुभ रात्रि वंदन जी भाई राम राम जी 🙏🍁🍀🌺🍀🙏

Meena Pathak Mar 28, 2020
@gourishankarcahcah जय माता दी शुभ रात्रि वंदन जी भाई माता रानी की कृपा आप पर सदैव बनी रहे 🙏🍀🌼🍀🌼🙏

Meena Pathak Mar 28, 2020
@vinodahirwar1 जय माता दी जय श्री राधे कृष्णा जी भाई शुभ रात्रि वंदन जी 🙏🍁🍀🌺🍀🙏

Meena Pathak Mar 28, 2020
@gourishankarcahcah जय माता दी शुभ रात्रि वंदन जी भाई माता रानी की कृपा आप पर सदैव बनी रहे 🙏🍀🌼🍀🌼🙏

Bantinewspaper May 9, 2020

+15 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 21 शेयर
b singh May 9, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 20 शेयर

+27 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 72 शेयर
Sunita Pawar May 10, 2020

माँ का कर्ज 〰️〰️〰️〰️ पत्नी बार बार मां पर इल्जाम लगाए जा रही थी और पति बार बार उसको अपनी हद में रहने की कह रहा था लेकिन पत्नी चुप होने का नाम ही नही ले रही थी व् जोर जोर से चीख चीखकर कह रही थी कि "उसने अंगूठी टेबल पर ही रखी थी और तुम्हारे और मेरे अलावा इस कमरें मे कोई नही आया अंगूठी हो ना हो मां जी ने ही उठाई है।। बात जब पति की बर्दाश्त के बाहर हो गई तो उसने पत्नी के गाल पर एक जोरदार तमाचा दे मारा अभी तीन महीने पहले ही तो शादी हुई थी । पत्नी से तमाचा सहन नही हुआ वह घर छोड़कर जाने लगी और जाते जाते पति से एक सवाल पूछा कि तुमको अपनी मां पर इतना विश्वास क्यूं है..?? तब पति ने जो जवाब दिया उस जवाब को सुनकर दरवाजे के पीछे खड़ी मां ने सुना तो उसका मन भर आया पति ने पत्नी को बताया कि "जब वह छोटा था तब उसके पिताजी गुजर गए मां मोहल्ले के घरों मे झाडू पोछा लगाकर जो कमा पाती थी उससे एक वक्त का खाना आता था मां एक थाली में मुझे परोसा देती थी और खाली डिब्बे को ढककर रख देती थी और कहती थी मेरी रोटियां इस डिब्बे में है बेटा तू खा ले मैं भी हमेशा आधी रोटी खाकर कह देता था कि मां मेरा पेट भर गया है मुझे और नही खाना है मां ने मुझे मेरी झूठी आधी रोटी खाकर मुझे पाला पोसा और बड़ा किया है आज मैं दो रोटी कमाने लायक हो गया हूं लेकिन यह कैसे भूल सकता हूं कि मां ने उम्र के उस पड़ाव पर अपनी इच्छाओं को मारा है, वह मां आज उम्र के इस पड़ाव पर किसी अंगूठी की भूखी होगी .... यह मैं सोच भी नही सकता तुम तो तीन महीने से मेरे साथ हो मैंने तो मां की तपस्या को पिछले पच्चीस वर्षों से देखा है... यह सुनकर मां की आंखों से छलक उठे वह समझ नही पा रही थी कि बेटा उसकी आधी रोटी का कर्ज चुका रहा है या वह बेटे की आधी रोटी का कर्ज...

+7 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 24 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 3 शेयर
Harcharan Pahwa May 9, 2020

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर
Rakesh May 9, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB