Suvichar

Suvichar

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 24 शेयर

कामेंट्स

k$singh Dec 7, 2019
dhngurunanakdevjiter alakhlakhsukrana

+22 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 18 शेयर

+5 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 6 शेयर
Sahil Grover Jan 26, 2020

+42 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 19 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sahil Grover Jan 26, 2020

एक दिन माता पार्वती ने महादेव से पूछा -" प्रभु श्री राम और रावण दोनो ही आपके परम भक्त थे तो आप किसके साथ थे? महादेव ने कहा -" देवी ! दोनो के साथ क्योंकि मै दोनो ही पक्ष मे था " इससे माता पार्वती ने आश्चर्य से पूछा ये कैसे सम्भव है आप दोनो पक्ष मे कैसे हो सकते है? तब महादेव ने कहा - " देवी ! अपने ग्यारहवे अंश हनुमान के रूप मे मै प्रभु का सहायक बना परन्तु रावण के पक्ष मे रह कर मै अपने प्रभु के योद्धा रूप को देख रहा था ? जिज्ञासा वश माता ने पूछा क्या देखा आपने? महादेव ने कहा - सुनिए देवी ! ऐसा लगा जैसे खुद काल विकराल रूप धारण कर रण मे आ गया है पाप और अधर्म करने वालो के ह्रदय मे भय उत्पन्न कर रहे थे मेरे राम परन्तु भक्तो और साधुजनो को निर्भय कर रहे थे मेरे राम सत्य कहूं तो ज्ञान की देवी सरस्वती भी मेरे प्रभु श्री राम के रूप का वर्णन करने मे असमर्थ है देवी " ऐसे कह महादेव प्रभु के रूप मे डूब गए ।।

+18 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 28 शेयर
Makhan Gurjar Jan 26, 2020

+19 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Minakshi Tiwari Jan 25, 2020

+419 प्रतिक्रिया 92 कॉमेंट्स • 247 शेयर

+29 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+15 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 12 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB