मायमंदिर फ़्री कुंडली
डाउनलोड करें
MeenaDubey
MeenaDubey May 20, 2019

Jai bholonath ki jai shmbhu nath ki🌺🌿🌺🌿🌺🌺🌿jai shree radhe kirshna ji 🌺🌻🌺🌻🌺

+129 प्रतिक्रिया 63 कॉमेंट्स • 53 शेयर

कामेंट्स

Sandhya Nagar May 20, 2019
*🌸 "कान्हा का नामकरण" 🌸💐👏🏻* एक दिन वासुदेव प्रेरणा से कुल पुरोहित गर्गाचार्य गोकुल पधारे। नन्द यशोदा ने आदर सत्कार किया और वासुदेव देवकी का हाल लिया। जब आने का कारण पूछा तो गर्गाचार्य ने बतलाया कि पास के गाँव में बालक ने जन्म लिया है नामकरण के लिए जा रहा हूँ। रास्ते में तुम्हारा घर पड़ता था सो मिलने को आया। यह सुन कर नन्द यशोदा ने अनुरोध किया बाबा हमारे यहाँ भी दो बालकों ने जन्म लिया उनका भी नामकरण कर दीजिए। पुरोहित गर्गाचार्य ने कहा कि यह कार्य तो काफी जोर-शोर से होनी चाहिए। नन्द बाबा कहने लगे भगवन गौशाला में चुपचाप नामकरण कर दीजिए। क्योंकि कंस से हमारे बालकों खतरा है। गर्गाचार्य तैयार हो गए। रोहिणी गर्गाचार्य की परीक्षा लेने के इरादे से बोलीं कि ऐसा करो हम अपने बच्चे बदल लेते हैं, तुम मेरे लाला को और मैं तुम्हारे पुत्र को लेकर जाऊँगी, देखती हूँ कैसे तुम्हारे कुल पुरोहित सच्चाई जानते हैं। माताएँ परीक्षा पर उतर आईं। बच्चे बदल गौशाले में पहुँच गईं। यशोदा के हाथ में बच्चे को देख गर्गाचार्य कहने लगे- ये रोहिणी का पुत्र है इसलिए एक नाम रौहणेय होगा। अपने गुणों से सबको आनंदित करेगा तो एक नाम राम होगा और बल में इसके समान कोई ना होगा तो एक नाम बल भी होगा मगर सबसे ज्यादा लिया जाने वाला नाम बलराम होगा। यह किसी में कोई भेद ना करेगा सबको अपनी तरफ आकर्षित करेगा तो एक नाम संकर्षण होगा। अब जैसे ही रोहिणी की गोद के बालक को देखा तो गर्गाचार्य मोहिनी मुरतिया में खो गए। अपनी सारी सुधि भूल गए, खुली आँखों से प्रेम समाधि लग गयी। गर्गाचार्य न बोलते थे, न हिलते थे, न जाने इसी तरह कितने पल निकल गए। यह देख बाबा यशोदा घबरा गए हिलाकर पूछने लगे बाबा क्या हुआ ? पुरोहित गर्गाचार्य एकदम बोल पड़े नन्द तुम्हारा बालक कोई साधारण इंसान नहीं है। यह तो, यह कहते हुए जैसे ही उन्होंने अंगुली उठाई तभी कान्हा ने आँख दिखाई। कहने वाले थे गर्गाचार्य कि यह तो साक्षात् भगवान हैं। तभी कान्हा ने आँखों ही आँखों में गर्गाचार्य को धमकाया "हे बाबा ! मेरे भेद नहीं खोलना। मैं जानता हूँ बाबा यहाँ दुनिया भगवान का क्या करती है। उसे पूज कर अलमारी में बंद कर देती है, और मैं अलमारी में बंद होने नहीं आया हूँ, मैं तो माखन मिश्री खाने आया हूँ, माँ की ममता में खुद को भिगोने आया हूँ। अगर आपने भेद बतला दिया तो मेरा हाल क्या होगा, यह मैंने तुम्हें समझा दिया।" अब गर्गाचार्य बोल उठे- आपके इस बेटे के नाम अनेक होंगे जैसे कर्म करता जाएगा, वैसे नए नाम होते जाएँगे, क्योंकि इसने इस बार काला रंग पाया है इसलिए इसका एक नाम कृष्ण होगा। इससे पहले यह कई रंगों में आया है। मैया बोली बाबा यह कैसा नाम बताया है। इसे बोलने में तो मेरी जीभ ने चक्कर खाया है। कोई आसान नाम बतला दीजिए। तब गर्गाचार्य कहने लगे मैया तुम इसे कन्हैया, कान्हा, किशन या किसना कह लेना। यह सुन मैया मुस्कुरा उठी और सारी उम्र कान्हा कहकर बुलाती रही। "जय जय श्री राधे"🙏🏻💫 *****************************

MeenaDubey May 20, 2019
@anjanagupta4 jai jai shree radhe mere pyari bahina aapko kanha ji sdev khus rkhe sda hasti or muskrati rho sisterji shubh sandhya vandan sisterji

Mukesh Kapoor May 20, 2019
Subh Sandhya Meenaji thnx fir ur sweet reply aap kaise ho Dost Radhe Radhe

MeenaDubey May 20, 2019
@mukeshkapoor2 jai jai shree radhe radhe kanha ji ki kirpa is sab theek hai jai shree Krishna jai shree Krishna jai shree Krishna shubh shndhya vandan ji

MeenaDubey May 20, 2019
@rk6 jai shree radhe kirshna ji shree radhe radhe ji shubh ratree vandan ji

MeenaDubey May 20, 2019
@mukeshkapoor2 jai shree radhe kirshna ji shubh ratree vandan ji my mandir me hme bahut acha lagta hai esme dost ke rup me bahut ache bhai mile jese aap

MeenaDubey May 21, 2019
@mukeshkapoor2 ji jai jai siyaram ji jai shree hanuman ji maharaja jai shree Krishna ji ki kirpa se aapka jeevan mangal may ho sda parsnn or sukhi rho bhai ji nhi mere parbhu ki pic rhti hai me bhi dekhu duniya dekhe jai shree Krishna jai shree radhe radhe ji shubh parbhat vandan ji

Mukesh Kapoor May 21, 2019
@meenadubeymandir Dhanya1ad Meenaji for ur sqeet reply Radhee Radhe Pawabputra hanumanji sada prasann rakhe aapko saprivar Jai Kangaiyalal ki

MeenaDubey May 21, 2019
@mukeshkapoor2 jai shree ram ram ram ram ram ji shubh dopahar vandan always keep smiling God bless you and your family bhiya ji radhe radhe mere bhai dhanybad bhai ji

MeenaDubey May 29, 2019
@mukeshkapoor2 jai shree radhe kirshna ji radhe radhe shubh sandhya vandan ji kese hai aap sda parsnn or sukhi svsthy or nirogi rho ji reply radhe radhe ji

अगर कोई मियाँ .. आपका पड़ोसी है अगर कोई मियाँ .. आपके बच्चों का दोस्त है अगर कोई मियाईन आपकी श्रीमती जी की बेस्ट फ्रेंड है अगर कोई मियाईन लड़की आपकी बिटिया की सहेली है.. अगर आपके ऑफिस कंपनी या घर में कोई एम्प्लोयी कटपीस है अगर आपका बिजनेस पार्टनर मियाँ है.. आपका घरेलू नौकर .. आपकी आया .. आपका कबाड़ी .. आपका ड्राईवर .. आपका टीचर या ट्यूटर .. आपका दर्जी .. आपका धोबी .. आपका नाई.. आपका किरायेदार .. आपकी कार का मैकेनिक .. आपका इलेक्ट्रीशियन .. आपका सब्जीवाला.. आपके मकान में काम करता राजमिस्त्री.. आपका प्लम्बर .. आपका वेल्डर .. कोई दाढ़ी बढ़ाया हुआ शांतिदूत है तो आपको सावधान रहने की आवश्यकता है आप कुछ भी कीजिए.. कितना भी उसको प्यार दीजिए.. सम्मान दीजिए.. आप उसके लिए काफिर हैं..!! ऐसा काफिर जिसको बर्बाद करने के लिए वह 5 बार रोज .. अपने खुदा से वादा करता है और हर जुम्मे को उसका मदरसा छाप मौलवी इसके लिए तरीके सिखाता है.. हर जुम्मे को ये टारगेट की चर्चा करते हैं.. अपनी प्लानिंग करते हैं.. आपको पता नहीं होता पर वे मस्जिद में आपकी संपत्ति.. आपकी बेटी की चर्चा करते हैं और एक ग्रुप मौलवी की सहमति से बन जाता है जो आपके पीछे लग जाता है आप सोच नहीं सकते.. आपको मारने कौन कौन जाएगा और आपकी बेटी कौन भगाएगा आपकी कार कौन चुराएगा किसकी गैरेज में कार कटेगी सब तय हो जाता है आप सोच नहीं सकते जो अपराध करेंगे उस टीम को बाद में जेल से कौन छुड़ाएगा .. यह भी उसी मस्जिद में तय हो जाता है आप वह काफिर हैं.. जिसकी हत्या करना.. जिसकी संपत्ति लूट लेना.. जिसकी बहू बेटी भगा लेना.. उस मिएँ के लिए पुण्य का .. शबाब का काम है और उसका खुदा आपकी हत्या कर देने पर उसको शाबाशी देता है हमारा काम है.. आपको सावधान करने का.. बाकी जैसी आपकी इच्छा.. जै राम जी की..!! #इस्लाम_मुक्त_भारत

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 10 शेयर
viveka nand VKND Jun 18, 2019

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर
कुसुम Jun 17, 2019

+21 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 8 शेयर
Indra Kapoor Jun 17, 2019

+16 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Naresh Yadav Jun 20, 2019

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 14 शेयर
shuchi singhal Jun 20, 2019

+7 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 19 शेयर
BhagwatilalAgrawal Jun 20, 2019

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 10 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 23 शेयर

संभलने की जरूरत है !! ••••••••🔅💠❁❁💠🔅••••••• चुटिया छोड़ी, टोपी, पगड़ी छोड़ी, तिलक, चंदन छोड़ा कुर्ता छोड़ा,धोती छोड़ी, यज्ञोपवीत छोड़ा, संध्या वंदन छोड़ा । रामायण पाठ गीता पाठ छोड़ा, महिलाओं, लडकियों ने, साडी छोड़ी, बिंदिया छोड़ी, बिछिया छोड़े, चूड़ी छोड़ी, दुपट्टा, चुनरी छोड़ी, मांग बिन्दी छोड़ी । पैसे के लिये, बच्चे छोड़े (आया पालती है ) संस्कृत छोड़ी, हिन्दी छोड़ी, श्लोक छोड़े, लोरी छोड़ी । बच्चों के सारे संस्कार ( बचपन के ) छोड़े, सुबह शाम मिलने पर राम राम छोड़ी, पांव लागूं, चरण स्पर्श, पैर छुना छोडे, घर परिवार छोड़े ( अकेले सुख की चाह में संयुक्त परिवार ) अब कोई रीति या परंपरा बची है ? ऊपर से नीचे तक गौर करो, तुम कहां पर हिन्दू हो, भारतीय हो, सनातनी हो, ब्राह्मण हो, क्षत्रिय हो, वैश्य हो ? कहीं पर भी उंगली रखकर बता दो कि हमारी परंपरा को मैंने ऐसे जीवित रखा हैं । केवल लाउडस्पीकर पर बजते शोर में हम जिन्दा हैं, क्या हमारा वजूद है ? सड़क पर किसी उद्देश्य की पूर्ति के लिये इकट्ठे होकर ओम या मंत्र कहने में हम डरते हैं ? जिस तरह से हम धीरे धीरे बदल रहे हैं- जल्दी समाप्त भी हो जाएंगे । अज्ञात-

+180 प्रतिक्रिया 36 कॉमेंट्स • 150 शेयर
V k Mishra Jun 19, 2019

+15 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 15 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB