MADHUBEN PATEL
MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020

🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल नमस्कार 🙏🙏🙏🙏🙏 माय मंदिर के सभी आदरणीय भाईयों और बहेनो पर आरोग्य के देवता श्री भगवान सूर्यदेव का आशीर्वाद बनी रहेवे जी,,,,🌹🌄🌹

+289 प्रतिक्रिया 86 कॉमेंट्स • 391 शेयर

कामेंट्स

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@ramswaroopchaurasia 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल नमस्कार भाईजी भगवान भास्करजी के आशीर्वाद से आपके घर परिवार में सदैव सुख,समृद्धि बनी रहेवे भाईजी✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@sushilkumarsharma29 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल नमस्कार भाईजी भगवान भास्करजी के आशीर्वाद से आपकी हर मनोकामनाएं पूरी हो भाईजी✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@vinodagrawal1 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः स्नेहानुराग प्रभात की स्नेहवंदन भाईजी आपका हर पल मंगलमय हो भाईजी✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@shantipathak1 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल नमस्कार प्यारी बहना जी आप एव आपके परिवार पर श्री भगवान सूर्यदेव की कृपादृष्टि बनी रहेवे प्यारी बहना जी✋🙋✋

Anilkumar Marathe Apr 5, 2020
🙏 जय श्रीकृष्ण नमस्कार ममता का महासागर आदरणीय मोटिबेन श्री !! 🌹आप जहाँ रहे वहाँ दुआओं की छाँव हो वो शहर हो फिर चाहे गाँव हो आपकी आँखों में कभी कोई गम ना हो, जिंदगी आपकी सदा खुशियों से भरी रहे, आपका यश, कीर्ति और वैभव दिन प्रतिदिन बढ़ता जाए, भगवान आपकी कोरोना वायरस एवम आनेवाले सभी संकटो से रक्षा करे यही हमारी शुभकामनाएं, आज रात 9.00बजे दिया जलाकर कोरोना को भगाने की एकता दिखाए 🌹आपका हर काम सफल हो, सुप्रभात वंदन जी

Preeti jain Apr 5, 2020
om Surya devaya namaha my sweet didi ji 🌹🙏🌹👌 god bless you and your family have a great day always be happy good morning ji my lovely didi ji 🙏🏿🙋💐🍰☕🙏🌹🌹

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@anilkumarmarathe 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल स्नेहवंदन भाईजी आपका हर पल शुभ एव मंगलमय हो भाईजी आप और आपके परिवार को भगवान सूर्यदेव सदैव अपने प्रकाश से प्रकाशित रखे मेरे प्यारे भाईजी भगवान श्री भास्करजी कोरोना वायरस और आनेवाले सभी संकटो से रक्षा करें भाईजी आपका सदैव मंगल हो✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@preetijain1 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल स्नेहवंदन प्यारी बहना जी आप एव आपके परिवार पर श्री भगवान भास्करजी की कृपादृष्टि बनी रहेवे प्यारी बहना जी✋🙋✋

GEETA DEVI Apr 5, 2020
good morning ji jai shree Radhey krishna ji v.nice post ji 🌺🌺🌹🌹👌👌👌🌹🌹🌹🙏🙏🙏🙏🙏🌺🌺🌺🌹🌹 Namaskar vandan ji

r h Bhatt Apr 5, 2020
Om suriyay namah happy Sandhya ji Vandana ji

Ansouya Ansouya Apr 5, 2020
ॐ घृणी सुर्याय नमः सप्रेम नमस्कार मेरी प्यारी दीदी आप का दिन शुभ और मंगलमय हो सुर्य देव जी की कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बना रहे बहना आप सदा स्वस्थ और खुश रहें जी 🙏

Mohanmira.nigam Apr 5, 2020
Jay shri ganesh ji surya dev ji Bholay.baba.ki.jay Radhe krishna.ji nice

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@geetadevi22 🙏🙏धन्यवाद बहना🙏🙏 🌹✋🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल स्नेहवंदन प्यारी बहना जी आप एव आपके परिवार को भगवान श्री सूर्यदेव अपने प्रकाश से रोशन करे प्यारी बहना जी✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@rhbhatt 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल स्नेहवंदन भाईजी भगवान भास्करजी की कृपादृष्टि बनी रहेवे भाईजी✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@ansouya 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल स्नेहवंदन प्यारी बहना जी आप और आपके परिवार को भगवान श्री सूर्यदेव सदैव अपने प्रकाश से प्रकाशित करे प्यारी बहना जी✋🙋✋

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@mohan1734 🌹🌄🌹 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार प्रातःकाल नमस्कार भाईजी आपका हर पल मंगलमय हो भाईजी,✋🙋✋

Dharma Saini Apr 5, 2020
शुभ रविवार जय सूर्य देव जी सात घोड़ों के रथ पर सवार भगवान सूर्य देव जी आये द्वार किरनों से भरे आपका घर, संसार सदा सुखी रहे आपका परिवार 🌻ॐ सूर्य देवाये नमः🌻 🏵️🙏🙏🙏🙏🙏🏵️

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@धर्मराजसैनीटोंक 💅🥀💅 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभ रविवार शुभसंध्या की मंगल कामनाएं भाईजी आपका हर पल मंगलमय हो भाईजी✋🙋✋

Dr.ratan Singh Apr 5, 2020
🙏🕯️शुभरात्रि वंदन दीदी🕯️🙏 🔔माय मंदिर के सभी सनातन धर्म प्रेमियों से निवेदन है कि आज रात नव बजे नव मिनट देश के नाम एक दिया अवश्य जलाएं 🇮🇪🕯️ 🙏आपको सपरिवार को रवि प्रदोष व्रत की हार्दिक शुभकामनाएं🙏 🎎आप और आपके सम्पूर्ण परिवार पर भगवान सूर्यदेव जी और शिव _शक्ति की आशीर्वाद सदा बनी रहे जी🙏 🍑आपका रविवार की रात्री शुभ अतिसुन्दर शांतिमय और मंगलमय व्यतीत हो🎭

MADHUBEN PATEL Apr 5, 2020
@drratansingh 💅🥀💅 ॐ श्री सुर्यदेवाय नमः शुभरात्रि की मंगल कामनाएं भाईजी आपका हर पल मंगलमय हो भाईजी✋🙋✋

champalal m kadela May 10, 2020

+53 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 28 शेयर
Sunita Pawar May 10, 2020

*■◆●🌹*मातृ दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं*🌹 💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕💕 माँ- दुःख में सुख का एहसास है, माँ - हरपल मेरे आस पास है। माँ- घर की आत्मा है, माँ- साक्षात् परमात्मा है। माँ- आरती, अज़ान है, माँ- गीता और कुरआन है। माँ- ठण्ड में गुनगुनी धूप है, माँ- उस रब का ही एक रूप है। माँ- तपती धूप में साया है, माँ- आदि शक्ति महामाया है। माँ- जीवन में प्रकाश है, माँ- निराशा में आस है। माँ- महीनों में सावन है, माँ- गंगा सी पावन है। माँ- वृक्षों में पीपल है, माँ- फलों में श्रीफल है। माँ- देवियों में गायत्री है, माँ- मनुज देह में सावित्री है। माँ- ईश् वंदना का गायन है, माँ- चलती फिरती रामायन है। माँ- रत्नों की माला है, माँ- अँधेरे में उजाला है, माँ- बंदन और रोली है, माँ- रक्षासूत्र की मौली है। माँ- ममता का प्याला है, माँ- शीत में दुशाला है। माँ- गुड सी मीठी बोली है, माँ- ईद, दिवाली, होली है। माँ- इस जहाँ में हमें लाई है, माँ- की याद हमें अति की आई है। माँ- मैरी, फातिमा और दुर्गा माई है, माँ- ब्रह्माण्ड के कण कण में समाई है। माँ- ब्रह्माण्ड के कण कण में समाई है। अंत में मैं बस एक पुण्य का काम करता हूँ, दुनिया की सभी माँओं को दंडवत प्रणाम करता हूँ। 🙏 *हैपी मदर्स डे* 🙏

+133 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 289 शेयर

त्रिसंध्या संध्या उस समय को कहते हैं जब एक समय जा रहा होता है और दूसरा समय आ रहा होता है । जैसे सूर्योदय से कुछ समय पूर्व रात्रि जा रही होती है और दिन आ रहा होता है । ऐसे ही दोपहर में जब सूर्य चढ़ते-चढ़ते उतरने लगता है लगभग 12:00 बजे का समय वह भी संध्या होती है ।दोपहर म् पूर्वान्ह । मध्यान्ह । अपराह्न । ये तीन काल होते हैं । ठीक ऐसे ही शाम को जब दिन छुप रहा होता है और रात्रि आ रही है होती है उसको भी संध्या कहते हैं । इस प्रकार दिन में तीन संध्या होती है एक प्रातः वाली एक दोपहर वाली और एक शाम वाली संध्या का समय भजन के लिए, उपासना के लिए बहुत ही उपयुक्त माना गया है । वैष्णव लोग त्रिकाल संध्या करते हैं । जैसे काल भी तीन हैं भूत वर्तमान और भविष्य ऐसे ही संध्याएं भी तीन हैं । संध्या का समय शांत होता है, नीरव होता है । जो जा रहा होता है वह भी शांत होता है और जो आ रहा होता है वह भी शांत होता है । अतः हम वैष्णवजन को प्रयास करके त्रिकाल संध्या के समय अवश्य थोड़ा-थोड़ा भजन बन पड़े तो करना चाहिए । अन्यथा नाम के लिए तो कोई देश, कोई काल कोई परिस्थिति की अपेक्षा नहीं है । कभी भी, कैसे भी कर सकते हैं । जिनका मन अधिक चंचल हो, मन न लगता हो वह प्रयास करके इन तीनों संध्याओं में यदि कुछ भजन करें । कुछ उपासना करें , कुछ ध्यान लगाएं , कुछ नाम करें तो उनकी चंचलता अपेक्षाकृत जल्दी ठीक हो सकती है । संध्याओं का अपना एक महत्त्व है । उसका लाभ उठाना चाहिए । समस्त वैष्णव जन को राधादासी का प्रणाम जय श्री राधे जय निताई LBW- Lives Born Works at Vrindabn

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 3 शेयर

+40 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 89 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB