अर्जुन का अहंकार

अर्जुन का अहंकार
अर्जुन का अहंकार

एक बार अर्जुन को अहंकार हो गया कि वही भगवान के सबसे बड़े भक्त हैं। उनकी इस भावना को श्रीकृष्ण ने समझ लिया। एक दिन वह अर्जुन को अपने साथ घुमाने ले गए। रास्ते में उनकी मुलाकात एक गरीब ब्राह्मण से हुई। उसका व्यवहार थोड़ा विचित्र था। वह सूखी घास खा रहा था और उसकी कमर से तलवार लटक रही थी। अर्जुन ने उससे पूछा, ‘आप तो अहिंसा के पुजारी हैं। जीव हिंसा के भय से सूखी घास खाकर अपना गुजारा करते हैं। लेकिन फिर हिंसा का यह उपकरण तलवार क्यों आपके साथ है?’ ब्राह्मण ने जवाब दिया, ‘मैं कुछ लोगों को दंडित करना चाहता हूं।’

‘ आपके शत्रु कौन हैं?’ अर्जुन ने जिज्ञासा जाहिर की। ब्राह्मण ने कहा, ‘मैं चार लोगों को खोज रहा हूं, ताकि उनसे अपना हिसाब चुकता कर सकूं। सबसे पहले तो मुझे नारद की तलाश है। नारद मेरे प्रभु को आराम नहीं करने देते, सदा भजन-कीर्तन कर उन्हें जागृत रखते हैं। फिर मैं द्रौपदी पर भी बहुत क्रोधित हूं। उसने मेरे प्रभु को ठीक उसी समय पुकारा, जब वह भोजन करने बैठे थे। उन्हें तत्काल खाना छोड़ पांडवों को दुर्वासा ऋषि के शाप से बचाने जाना पड़ा। उसकी धृष्टता तो देखिए। उसने मेरे भगवान को जूठा खाना खिलाया।’

‘आपका तीसरा शत्रु कौन है?’ अर्जुन ने पूछा।

‘ वह है हृदयहीन प्रह्लाद। उस निर्दयी ने मेरे प्रभु को गरम तेल के कड़ाह में प्रविष्ट कराया, हाथी के पैरों तले कुचलवाया और अंत में खंभे से प्रकट होने के लिए विवश किया। और चौथा शत्रु है अर्जुन। उसकी दुष्टता देखिए। उसने मेरे भगवान को अपना सारथी बना डाला। उसे भगवान की असुविधा का तनिक भी ध्यान नहीं रहा। कितना कष्ट हुआ होगा मेरे प्रभु को।’ यह कहते ही ब्राह्मण की आंखों में आंसू आ गए। यह देख अर्जुन का घमंड चूर-चूर हो गया। उसने श्रीकृष्ण से क्षमा मांगते हुए कहा, ‘मान गया प्रभु, इस संसार में न जाने आपके कितने तरह के भक्त हैं। मैं तो कुछ भी नहीं हूं।’

Flower Like Bell +172 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 106 शेयर

कामेंट्स

Anju Mishra Aug 20, 2018

एक बार एक बुजुर्ग को उनके बातो से प्रभावित हो एक औरत ने उन्हें अपने घर खाने का निमंत्रण दिया । बुजुर्ग निमंत्रण स्वीकार कर उस औरत के घर भोजन के लिए चल पड़े । रास्ते में जब लोगों ने उस औरत के साथ बुजुर्ग को देखा तो, एक आदमी उनके पास आया और बोला कि ...

(पूरा पढ़ें)
Flower Pranam Jyot +55 प्रतिक्रिया 32 कॉमेंट्स • 50 शेयर

🙏🌹जय श्री महाकाल 🌹🙏
श्री महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग का आज का संध्या आरती श्रृंगार दर्शन
🔱21 अगस्त 2018 ( मंगलवार )🔱

Pranam Jyot Dhoop +144 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 64 शेयर
RAKESH PATEL Aug 21, 2018

Pranam Like Bell +33 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 130 शेयर

🌺🌻🌼jai Shri Krishna 🌺🌻🌼🍃

Pranam Flower Like +17 प्रतिक्रिया 13 कॉमेंट्स • 99 शेयर

*एक लघु कथा*

दुनिया क्या कहेगी...

एक *साधू* किसी नदी के पनघट पर गया और पानी पीकर पत्थर पर सिर रखकर सो गया....!!!

पनघट पर पनिहारिन आती-जाती रहती हैं!!!

तो पनिहारिन आईं तो एक ने कहा- *"आहा! साधु हो गया, फिर भी तकिए का मोह नहीं गया*...
*पत्थर का...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Jyot Like +47 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 34 शेयर
Gopal Krishan Aug 21, 2018

*🙏🏻शिवाय 🔱 ॐ 🔥 नमः 🚩
*शिव को गुरु बनाने की विधि🙏🏻🚩🔱
*🙏🏻शंभू🔱 शंकर🔱 नमः🔱 शिवाय🚩*

1. आंखें बंद करके आराम से बैठ जायें.
भगवान शिव से कहें हे शिव मै आप को अपना गुरु बनने का आग्रह कर रहा हूं. आप मुझे शिष्य के रूप में स्वीकार करें.

2. द...

(पूरा पढ़ें)
Jyot Belpatra Pranam +14 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 50 शेयर
🔔Meena Sharma Aug 21, 2018

Fruits Jyot Flower +35 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 50 शेयर
Anju Mishra Aug 21, 2018

जब भगवान किसी पर कृपा करते है, तब उसके ऐश्वर्य का विनाश कर देते हैं | एक बार तो वह दुखी हो जाता है | इसी प्रकार जिसके सम्मान की वृद्धि हो जाती है, भगवान उसका अपमान करवा देते है, लज्जित कर देते है, जिससे वह मान-की माया से छूटकर भगवान की ओर बढ़े | ज...

(पूरा पढ़ें)
Pranam Fruits Jyot +34 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 11 शेयर
Nisha Kuthey Aug 21, 2018

🌸🌸🌹🌹💞💞🌻🌻 Very nice thought jay Shree Krishna Radhe Radhe 🌻🌻💞💞🌹🌹🌸🌸

Tulsi Like Flower +46 प्रतिक्रिया 16 कॉमेंट्स • 209 शेयर
Anuradha Tiwari Aug 21, 2018

Like Jyot Pranam +23 प्रतिक्रिया 6 कॉमेंट्स • 77 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB