darshan Punni
darshan Punni Jul 30, 2017

darshan Punni ने यह पोस्ट की।

#आयुर्वेद

+23 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 9 शेयर
P. Tiwari Aug 10, 2020

+2 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 13 शेयर
soarabh Rastogi Aug 10, 2020

+12 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 11 शेयर
Madan Kaushik Aug 11, 2020

****अपना पोस्ट*** **नक्षत्रवाणी** *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻*  गजाननं भूतगनादि सेवितम, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम। उमासुतं शोकविनाशकारकम, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम।। श्रीमते रघुवीराय सेतूल्लङ्घितसिन्धवे। जितराक्षसराजाय रणधीराय मङ्गलम्।। भुजगतल्पगतं घनसुन्दरं गरुडवाहनमम्बुजलोचनम् । नलिनचक्रगदाकरमव्ययं भजत रे मनुजाः कमलापतिम् ।।  क्यों भटके मन बावरा, दर-दर ठोकर खाये...! शरण श्याम की ले ले प्यारे, जनम सफल हो जाये...!! 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ मित्रों...! सबसे पहले तो नक्षत्रवाणी की पोस्टिंग में व्यस्तत्तम शेड्यूल के चलते ना चाहते हुए भी होने वाले विलंब के लिए आप सभी से हृदयपूर्वक क्षमा प्रार्थना सहित.....🙏🙏 आप सभी परम प्रिय धर्मपारायण, ज्योतिषविद्या प्रेमी विद्वतजनों को आचार्य/पं.मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम 🌸 जय गणेश 🌸 जय अंबे 🌸 *जय श्री कृष्ण*🌷मंगल प्रभात🌷इसी के साथ आप सभी सनातनी, धर्म व उत्सवप्रेमी, परम रामभक्त तथा राष्ट्रप्रेमी मित्र-बंन्धुओं को आज **श्री कृष्ण जन्माष्टमी व्रत/पर्व स्मार्त गणों (गृहस्थी जनों) का, मन्वादि, मन्त्रादि, श्री कालाष्टमी, संत ज्ञानेश्वर जयन्ती (भाद्रपद कृष्ण अष्टमी, कल बुधवार को श्रेष्ठ) एवं बिश्नोई समाज के प्रवर्तक गुरू जम्भेश्वर जयन्ती (भाद्रपद कृष्ण अष्टमी, कल बुधवार को श्रेष्ठ) की भी बहुत-बहुत हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...!!!** 💐💐 ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ आइये...! अब चलें आपके प्रिय पोस्ट 'नक्षत्रवाणी' के अंतर्गत आज कुछ विशेष महत्वपूर्ण जानकारी, दृकपंचांग, चन्द्र राशिफल' एवं 'आरोग्य मंत्र' की ज्ञानयात्रा पर...🙏 ```༺⊰🕉⊱༻ ``` *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻* ☘️🌸!! ॐ श्री गणेशाय नमः!! 🌸☘️ ****************************** 𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :- आज दिनांक *11 अगस्त 2020 ईस्वी* मंगलवार/ट्यूजडे प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग:««« (यहाँ दिये गए तिथि, नक्षत्र,योग आदि के समय इनके समाप्ति काल हैं। सूर्योदयास्त व चंद्रोदय सहित इनका गणना स्थल मुंबई हैं)। कलियुगाब्द......5122 विक्रम संवत्.....2077 (प्रमादी नाम) शक संवत्......1942 🌤मास.......भाद्रपद/भादवो/भादों 🌓पक्ष........कृष्ण/बदी/अंधेर पछ/लागतो भादवो​ **तिथि........सप्तमी** **प्रातः 09.06 पर्यंत पश्चात अष्टमी** **वार/दिन...भौमवासर/मंगलवार** **नक्षत्र...........भरणी** रात्रि 12.57 पर्यंत पश्चात कृत्तिका योग............गंड प्रातः 08.34 पर्यंत पश्चात वृद्धि करण...........बव प्रातः 09.06 पर्यंत पश्चात बालव ऋतु (वैदिक)...वर्षा ऋतु (दृक)......वर्षा सूर्य (गोल)......उत्तर सूर्य (अयन)...दक्षिण सूर्योदय......प्रातः 06.22.00 पर। सूर्यास्त......संध्या 07.05.00 पर। चंद्रोदय......रात्रि 12.10 बजे। **सूर्य राशि...कर्क** **चन्द्र राशि...मेष** **गुरु राशि....धनु (वक्री, उदय पश्चिम दिशा में)** 🚦 *दिशाशूल :-* उत्तर दिशा - यदि अति आवश्यक हो तो गुड़ या खजूर का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ☸ शुभ अंक........2 🔯 शुभ रंग........रक्तिम या गाढ़ा लाल *अभिजीत मुहूर्त :-* मध्याह्न 12.18 से 13.09 तक 👁‍🗨 *राहुकाल :-* अपराह्न 03.54 से 05.30 तक । 👁‍🗨 *गुलिक काल :-* मध्याह्न 12.43 से 02.19 से तक । ************************** 🌞 *उदय लग्न मुहूर्त :-* *कर्क* 04:12:32 06:28:27 *सिंह* 06:28:27 08:40:32 *कन्या* 08:40:32 10:51:11 *तुला* 10:51:11 13:05:49 *वृश्चिक* 13:05:49 15:21:59 *धनु* 15:21:59 17:27:37 *मकर* 17:27:37 19:14:46 *कुम्भ* 19:14:46 20:48:20 *मीन* 20:48:20 22:19:31 *मेष* 22:19:31 24:00:14 *वृषभ* 24:00:14 25:58:51 *मिथुन* 25:58:51 28:12:32 ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 09.18 से 10.54 तक चंचल प्रात: 10.54 से 12.30 तक लाभ दोप. 12.30 से 02.07 तक अमृत दोप. 03.43 से 05.20 तक शुभ रात्रि 08.20 से 09.44 तक लाभ । ✍ आज के विशेष योगायोग/युति संयोग, वेध, ग्रहचार (ग्रहचाल), व्रत/पर्व/प्रकटोत्सव, जयंती/जन्मोत्सव व मोक्ष दिवस/स्मृतिदिवस/पुण्यतिथि आदि 🙏👇:- 👉 **आज भाद्रपद कृष्ण पक्ष मंगलवार को 👉 वर्ष का 140/एक सौ चालीसर्वाँ दिन, भाद्रपद बदी/कृष्ण सप्तमी 09:06 तक पश्चात् अष्टमी शुरु, श्री कृष्ण जन्माष्टमी व्रत स्मार्त गणों (गृहस्थी जनों) का, मन्वादि, मन्त्रादि, श्री कालाष्टमी, सर्वार्थसिद्धियोग/कार्यसिद्धियोग/ज्वालामुखी योग 24:57 से, भगवान शान्तिनाथ गर्भकल्याणक (जैन, भाद्रपद कृष्ण सप्तमी), संत ज्ञानेश्वर जयन्ती (भाद्रपद कृष्ण अष्टमी, कल बुधवार को श्रेष्ठ), गुरू जम्भेश्वर जयन्ती (भाद्रपद कृष्ण अष्टमी, कल बुधवार को श्रेष्ठ) व महान स्वतन्त्रता सेनानी श्री खुदीराम बोस शहीदी दिवस।** 🏡वास्तु टिप्स🏡 कृषिवास्तु के अनुसार कभी भी अनाज को ढोकर ईशान कोण की ओर से मंडी में ना लेकर जाएं। इससे फसल के उचित दाम नहीं मिलते। यदि अनाज बेचने के लिए ले जाना हो तो पूर्व या पश्चिमी वायव्य (NW) की ओर से ले जाने पर अच्छे दाम भी मिलते हैं तथा कृषक/भूस्वामी को अन्य सभी शुभ फल भी प्राप्त होते हैं। 🙏 💥 **विशेष ध्यातव्य 👉 सप्तमी यानि सातम को ताड़ का फल सेवन/प्रयोग करना या दान करना पूर्णतः वर्जित है। ऐसा करने से कलंक लगता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34।** 📿 *आज का आराधना/उपासना मंत्र* *🐚 🕉️ क्रां क्रींं क्रौं स: भौमाय नमः ‼️🚩* *🚩🕉 कपीशाय नमः ‼️ 🎪 🚩* * ।। ॐ नमो भगवते वासुदेवाय ।। ****************************** ⚜ 👉🙏 🚩 ☸ *तिथि विशेष :* 🚩 *तिथि विशेष :-* **श्री कृष्ण जन्माष्टमी व्रत/पर्व स्मार्त गणों (गृहस्थी जनों) का, कालाष्टमी व्रत।** *************************** 🙏**तिथी विशेष महात्म्य/महत्व** 👇 **श्री कृष्ण जन्माष्टमी (स्मार्त मतानुसार):-* **मथुरा के राजा कंस के अत्याचारों का शमन करने के लिए नारायण ने देवकी एवं वासुदेव की अष्टम संतति के रूप में अवतार लेकर दुष्ट का दमन किया एवं धर्म की स्थापना की । योगेश्वर श्री कृष्ण नारायण के पूर्ण कलावतार है। भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को रोहिणी नक्षत्र बुधवार के दिन श्री कृष्ण ने अवतार लेकर भक्तों का कल्याण किया। स्मार्त मतानुसार श्री जन्माष्टमी का पर्व आज मनाया जावेगा एवं वैष्णव दीक्षा धारी कृष्ण भक्त उदय काल तिथि का विचार कर जन्माष्टमी 12 अगस्त को मनाएंगे। इसलिए हम पंचदेव उपासक गृहस्थियों को व्रतोपवास आज करना श्रेष्ठ रहेगा।** ☯ 👉 मित्रों कृष्ण जन्माष्टमी महापर्व के साथ साथ आज मंगलवार भी है परन्तु कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते आप लोगों का मंदिर देवालय में ज्यादा संख्या में एकत्रित होना उपयुक्त नहीं है, अतः आप सभी से विनम्र आग्रह है कि दिनभर कृष्णनामामृत पान करने के बाद आप अपने घर के मंदिर में ही संध्या ०७.०० बजे सपरिवार हनुमान चालीसा के 9 पाठ या सस्वर एक पाठ तो अवश्य करे और यदि संभव होवे तो इसे फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर लाइव करके सम्पूर्ण जगत के साथ साझा करें जिससे विश्वभर के सनातनी भाई-बहनों को भी प्रेरणा मिले।** **************************** 📯 *संस्कृत सुभाषितानि :-* अपि शाकं पचानस्य सुखं वै मधवन् गृहे । अर्जितं स्वेन वीर्येण नाप्यपाश्रित्य कंचन ॥ अर्थात : हे इन्द्र ! किसी पर निर्भर न रहकर अपनी हिंमत से पायी हुई सुखी रोटी भी अपने घर खाने में सुख है । 🍃 *आरोग्य मंत्रं :*- माइग्रेन इलाज के लिए प्राकृतिक घरेलू नुस्खे :- *पुदीने का तेल* - इस तेल में एंटी इंफ्लैमटरी गुण होते हैं जो सिर दर्द में आपको राहत दे सकते हैं। इसकी कुछ बूंदे जीभ पर रखने और कुछ अपने सिर पर लगा कर मालिश करने से माइग्रेन से आराम मिलता है। *आराम करें* - ध्यान सिर दर्द को दूर करने में काफी कारगर होता है। माइग्रेन के इलाज के लिए ध्यान करना सबसे अच्छा तरीका होगा। * बर्फ का पैक* - बर्फ के टुकड़े एक पैक में लेकर सिर दर्द की जगह पर रखें। बर्फ में एंटी इंफ्लैमटरी गुण होते है जिससे सिर का दर्द ठीक हो सकता है। आप चाहें तो किसी और ठंडी चीज़ का पैक भी बना सकते है। **************************** ⚜ *आज का चन्द्र राशिफल* ⚜ 👉 🙏 एक निवेदन 🙏 👇:- मित्रों आपकी इस परमप्रिय ज्ञानवर्धक 'अपना पोस्ट' *नक्षत्रवाणी* को आप जितना हो सकता हो उतना लाइक व शेयर/फॉरवर्ड तो करें ही, आलस्य त्याग कर कृपया इसपर अपनी बुद्धि व विवेक के अनुसार अपने सही-सही कमैंट्स भी अवश्य करें। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और अपने फीडबैक से व लाइक/सराहना करके भी अवश्य ही मेरा उत्साहवर्धन करेंगे। नक्षत्रवाणी के संदर्भ में आप सभी के बहुमूल्य सुझाव भी सादर आमंत्रित हैं। धन्यवाद...!!! 💐💐 *************************** 🙏 👉,**एक शुभ सूचना:👇** ** मित्रों हमारे 'ऐस्ट्रो वर्ल्ड' के दिव्य कोष में शुद्ध केसर (काश्मीरी व ईरानी A तथा B दोनों ग्रेड की), पारिजात, चम्पा, अनन्त, पुन्नाग, श्वेत/सफ़ेद ऊद, केसर, खस, भीना गुलाब व असली चंदन जैसे दिव्य इत्रों की पूरी रेंज, भीमसेनी कर्पूर, उत्तम क्वालिटी की शुद्ध गुग्गल व शुद्ध लोबान, शुद्ध राशि रत्न-उपरत्न, असली नेपाली रुद्राक्ष रत्न व गण्डकी नदी से प्राप्त असली शालग्राम जी भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे इस संग्रहालय में और भी कई दिव्य व चमत्कारिक वस्तुएं उपलब्ध हैं। ये सभी दिव्य वस्तुएं हम अपने ज्योतिष-वास्तु एवं वैदिक पूजा-अनुष्ठानों के नियमित यजमानों के लिए बहुत ही सही रेट पर और कम मार्जिन पर देते हैं तथा इनके असली होने की मनी बैक गारंटी के साथ भी। तो आप 'नक्षत्रवाणी' के सभी पाठक भी हमारे परम प्रिय होने से इसका लाभ निःसन्देह ले सकते हैं। इसके लिए आप हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। जल्दी रिप्लाई ना मिलने पर आप कॉल भी कर सकते हैं। धन्यवाद।।।** ***************************** 🐏 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* नए उपक्रम प्रारंभ हो सकते हैं। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। पार्टनरों से मतभेद दूर होंगे। जल्दबाजी से बचें। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। सरकारी कामकाज में वृद्धि के योग हैं। बाधाएं समाप्त होंगी। सामाजिक प्रतिष्ठा बढ़ेगी। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* कानूनी अड़चन दूर होकर स्थिति अनुकूल होगी। धनार्जन होगा। जीवन सुखद व्यतीत होगा। व्यापार-व्यवसाय, निवेश व नौकरी मनोनुकूल लाभ देंगे। नए मित्रों से लाभ होगा। ऐश्वर्य के साधन प्राप्त होंगे। तंत्र-मंत्र में रुचि रहेगी। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* भावना में बहकर कोई निर्णय न लें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। दूसरों के कार्य में हस्तक्षेप न करें। दूसरों की अपेक्षाएं बढ़ेंगी। तनाव रहेगा। आवागमन में विशेष सावधानी रखें। चोट लग सकती है। विवाद से बचें। कार्यक्षमता में कमी रहेगी। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* नए काम मिलेंगे। धन प्राप्ति सुगम होगी। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। पारिवारिक चिंता बनी रहेगी। आवश्यक वस्तु समय पर नहीं मिलेगी। तनाव रहेगा। थकान रह सकती है। रुका हुआ धन प्राप्ति के योग हैं। व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* नौकरी में चैन रहेगा। निवेश लाभदायक रहेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। घर-बाहर प्रसन्नता का वातावरण निर्मित होगा। जीवनसाथी का सहयोग प्राप्त होगा। व्यापार-व्यवसाय से मनोनुकूल लाभ होगा। कार्य की बाधा दूर होगी। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। दुष्टजनों से दूर रहें। परिवार के किसी व्यक्ति के स्वास्थ्‍य की चिंता रहेगी। सही बात का भी विरोध हो सकता है। हित शत्रुओं से सावधान रहें। संपत्ति का कोई बड़ा सौदा बड़ा लाभ दे सकता है। प्रयास भरपूर करें। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* यात्रा मनोरंजक हो सकती है। स्वास्थ्‍य कमजोर रह सकता है। किसी तरह से धनहानि के योग हैं। सावधानी रखें। किसी रचनात्मक कार्य में सफलता प्राप्त होगी। मन में नए विचार आएंगे। स्वादिष्ट भोजन का आनंद प्राप्त होगा। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। तनाव व चिंता बने रहेंगे। अप्रसन्नतादायक सूचना प्राप्त हो सकती है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। पुराना रोग बाधा का कारण बन सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। भागदौड़ रहेगी। धनार्जन होगा। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* अचानक बड़ा खर्च होगा। यात्रा में जल्दबाजी न करें। किसी अपने ही व्यक्ति से कहासुनी हो सकती है। लेन-देन में धोखा खा सकते हैं। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। व्यर्थ भागदौड़ से खिन्नता रहेगी। व्यापार-व्यवसाय से आवक बनी रहेगी। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। घर-बाहर सभी ओर से सहयोग प्राप्त होगा। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। आत्मविश्वास बना रहेगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। कारोबार अच्छा चलेगा। जल्दबाजी न करें। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। कोई बड़ा कार्य करने की इच्छा पूर्ण हो सकती है। घर-बाहर सभी ओर से सफलता प्राप्त होगी। लाभ होगा। दांपत्य जीवन सुखमय रहेगा। मित्रों के सहयोग से कार्य की बाधा दूर होगी। 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* पारिवारिक सहयोग से कार्य बनेंगे। जीवन सुखद व्यतीत होगा। आय में वृद्धि होगी। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। थकान रह सकती है। प्रयास सफल रहेंगे। सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा प्राप्त होगी। घर-बाहर पूछ-परख रहेगी। 🚩🚩 *आप समस्त सनातन धर्मियों को श्री कृष्ण जन्मोत्सव/प्रकाटोसव (जन्माष्टमी) के परम पावन शुभावसर पर पुनः अनंत कोटि बधाई एवं मंगलकामनाएं...!!!*🌷🌷🚩 🚩 ****************************************** *🎊🎉🎁 आज जिनका जन्मदिवस या विवाह की वर्षगांठ हैं, उन सभी प्रिय मित्रो को कोटिशः शुभकामनायें🎁🎊🎉* ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ और ज़रा इन बातों पर भी ज़रूर ध्यान दें मित्रों...! अगर...??? 1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं....? 2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है...? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं...? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं...? 3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..? 4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं...? 5) बिमारी आपको छोड़ ही रही है...? घर का हरएक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है...? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है...? 6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं...? 7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है...? 8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है...? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं...? 9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं...? 10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं...? 11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही...? 12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा...? यदि हाँ...??? तो यह सब अकारण ही नहीं है...! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं...? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें...! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं...! ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.) (चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai साभार: बाँके बिहारी (धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच) कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा (सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान) अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान) नोट: हमारी या हमारे संस्थान 'एस्ट्रो-वर्ल्ड' तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच 'सातफेरे डॉट कॉम' मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, सियारसिंगी, हत्थाजोड़ी, नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे... सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514 ईमेल आई डी: [email protected] 🌺आपका दिन आदि वैद्य (भगवान धन्वंतरि जी) की कृपा से परम मंगलमय हो मित्रो! *🚩जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्रम🚩* 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩 ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※

+15 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 8 शेयर
dev sharma Aug 9, 2020

रात्रि भोजन गलत कैसे ?? 〰️〰️🌼〰️🌼〰️〰️ हमने देखा होगा की सूर्य की पहली पहली किरणो से सूर्यमुखी और कमल जैसे पुष्‍प खिलते है.. और सूर्यास्त के साथ वापिस वो पुष्‍प की पंखुड़िया अपने आप बन्द होजाती है… क्या इस प्रक्रिया का इंसान के साथ कुछ सम्बंध है ?? जी हा.. जैसे सूर्यमुखी की पंखुड़िया सूर्य की हाजरी मे खुलती है वैसे ही हमारा जठर (होज़री) का छोटा सा मूह भी खुल जाता है और सूर्यास्त होने के बाद वो अपने आप सिकुड़ जाता है… वैज्ञानिक और वैध कहते है भोजन पचाने के लिये जरूरी ऑक्सिजन सूर्य की हाज़री से मिलता है। रात को लोग सोते क्यू है ?? रात को सुस्ती क्यू आती है ?? रात को डर क्यू लगता है ?? रात को कौनसे जानवर शिकार के लिये बाहर निकलते है ?? उल्लू ? बिल्ली ? कुत्ते ? भेड़िये ? जंगली जानवर?? रात को ही काले काम क्यू होते है ?? जैसे की चोरी, मार-काट ?? रात को ही भूत – प्रेत जैसी बुरी शक्तिया क्यू महसूस होती है ?? रात को ही आवारा, मक्कार और गन्दे लोग क्यू दिखाई देते है ?? उपर के कुछ सवालो से महसूस किया जाता है की … रात सोने लिये है.. हर प्राणी और जानवर नई उर्जा पाने के लिये सोते है… दिन भर की भगदड़ से शरीर थकान महसूस करता है.. जो लोग बुरी तरह से ठक गये है उनसे ज्यादा काम हम नही करवा सकते.. वैसे ही.. हमारे शरीर खुद एक यन्त्र है.. जो दिनभर खाई हुई खुराक को चयापचय की प्रक्रिया से पूरी करते हुए शर्करा के रूप मे उत्पादन करता है.. जो हमे पोषण देती है.. रात का खाना मतलब शरीर के यन्त्र से “ ओवर टाइम “ करवाना। सूर्यास्त के 2 घंटे के बाद शरीर मे आई हुई खुराक अन्ननली से जठर के मूह तक आती है। सूर्य प्रकाश की मोजूदगी ना होने से खुराक पर होने वाली प्रक्रिया मंद हो जाती है। धीरे धीरे से वो जठर मे उतरती है। बहुत खाने पर पूरा पाचनतंत्रा ठप्प हो जाता है मानो की ट्रेफिक जाम !! कई बार पूरा का पूरा खुराक सुबह तक पेट मे पड़ा रहता है। ऐसे इंसान को रात भर नींद नही आती। हाज़त की बीमारी के साथ वॉमिट हो सकती है। उसी से आंखे, पेट, अजीर्ण, ज़ाडा जैसी बीमारी जन्म लेती है।। आयुर्वेद कहता है। की जो लोग अपने पेट को नरम रखते है, दिमाग को ठंडा रखते है और पैर को गरम रखते है उनको कभी भी डॉक्टर या वैध के पास जाना नही पड़ता। आज साइन्स की इतनी सारी दवाइया है फिर भी करोड़ो लोग अस्पताल मे दिखाई देते है। ऐसा क्यो ?? उसका एक बड़ा कारण है की हमारी दिनचर्या व आहारचर्या बदल गई है। जंक फुड, रात का खाना, खाने का कोई समय ना होना, पेप्सी और कॉक जैसे पेय है। उसी से सुस्ती आती है… उसी की वजह से गुस्सा आता है। क्या कहते है अपने शास्त्र : पद्मपुराण – प्रभासखण्ड “” चत्वारो नरकद्वारा: प्रथमं रात्रिभोजनम | परस्त्रीगमानम् चैव, सन्धानान्तकाइये || “” मतलब, नर्क याने जहन्नुम के चार द्वार है.. पहला रात्रि भोजन, दूसरा परस्त्रीगमन, तीसरा सूर्य के ताप मे रखे बिना बनाया हुआ अचार और चौथा कंदमूल खाने से। मारकण्डेय ऋषि का कथन है .. मार्कंड पुराण.. “” सूर्यास्त के बाद पिया हुआ पानी लहू के बराबर है और खुराक मांस खाने के बराबर है ???”” “” मांस, मदिरा, रात को खाना और कंदमूल खाने वाले नर्क मे जाने का प्रबंध करते है…”” “” हे, युधिस्थिर.. देवताओ ने दिन के प्रथम प्रहर मे भोजन किया, दूसरे प्रहर मे संत महात्मा, तीसरे प्रहर मे पूर्वज और चौथे प्रहर मतलब रात को दैत्य व राक्षसो ने किया हुआ है..”” जैन धर्म : केवल ज्ञानी बताते है की अनेक जीवो को अभयदान देने के लिये और जीव हिंसा से बचाने के लिये रात्रि भोजन का निषेध है.. इसलिये जैन धर्म मे रात्रि भोजन को “” महापाप”” माना गया है.. योग शास्त्र : “” रात को खानेवाले लोग सींग और पूछ के बगैर घूमने फिरने वाले जानवर है.. रात को कम रोशनी मे हमे बहुत कम दिखाई देता है… एसे मे भोजन मे यदि ज़ू यानी बालो मे होने वाली लीख से जलोदर की बीमारी आती है.. भोजन मे यदि मक्खी आती है तो वॉमिट हो सकती है। भोजन मे यदि स्पाइडर आ जाता है तो सफेद कोढ़ की बीमारी आ सकती है। भोजन मे यदि कंटक आ जाता है तो गले मे भारी दर्द होता है। भोजन मे यदि बॉल आ जाता है तो स्वरभंग हो सकता है। रात को भोजन मे बिजली के प्रकाश से आकर्षित होकर कई उड़ते कीडे मर जाते है..यदि भोजन बिजली के बल्ब के नीचे बन रहा हो तो वो सीधे खुराक मे घुलमिल जाते है.. उसी से फ़ूड पाइज़न होता है.. कभी कभार छिपकली और कॉंक्रोच भी खुराक मे घुलमिल जाते है। पहले के जमाने के लोग 100 बरस बहुत ही आरम से निकलते थे आज 40 बरस मे मानसिक और शारीरिक बीमारिया शुरु हो जाती है.. उसके पीछे कहीं ना कही हमारे बदले हुए आहार और विचार है.. रात्रि भोजन के मुद्दे पर अरबी रिवाज़ आर्या संस्कृति से पूरी तरह भिन्न है.. क्या इस भगदड भरी दुनिया मे रात्रिभोज को कंट्रोल किया जा सकता है ?? 〰️〰️🌼〰️〰️🌼〰️〰️🌼〰️〰️🌼〰️〰️🌼〰️〰️

+20 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 46 शेयर
Madan Kaushik Aug 10, 2020

****अपना पोस्ट*** **नक्षत्रवाणी** *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻*  गजाननं भूतगनादि सेवितम, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम। उमासुतं शोकविनाशकारकम, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम।। श्रीमते रघुवीराय सेतूल्लङ्घितसिन्धवे। जितराक्षसराजाय रणधीराय मङ्गलम्।। भुजगतल्पगतं घनसुन्दरं गरुडवाहनमम्बुजलोचनम् । नलिनचक्रगदाकरमव्ययं भजत रे मनुजाः कमलापतिम् ।।  क्यों भटके मन बावरा, दर-दर ठोकर खाये...! शरण श्याम की ले ले प्यारे, जनम सफल हो जाये...!! 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ मित्रों...! सबसे पहले तो नक्षत्रवाणी की पोस्टिंग में व्यस्तत्तम शेड्यूल के चलते ना चाहते हुए भी होने वाले विलंब के लिए आप सभी से हृदयपूर्वक क्षमा प्रार्थना सहित.....🙏🙏 आप सभी परम प्रिय धर्मपारायण, ज्योतिषविद्या प्रेमी विद्वतजनों को आचार्य/पं.मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम 🌸 जय गणेश 🌸 जय अंबे 🌸 *जय श्री कृष्ण*🌷मंगल प्रभात🌷इसी के साथ आप सभी सनातनी, धर्म व उत्सवप्रेमी, परम रामभक्त तथा राष्ट्रप्रेमी मित्र-बंन्धुओं को आज **श्री शीतला सप्तमी व्रत/पर्व, श्री वी. वी. गिरि जयन्ती, डेंगू निरोधक (रोकथाम) दिवस, विश्व सिंह/शेर दिवस (World Lion Day) एवं विश्व जैव ईंधन दिवस की भी बहुत-2 हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...!!!** 💐💐 ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ आइये...! अब चलें आपके प्रिय पोस्ट 'नक्षत्रवाणी' के अंतर्गत आज कुछ विशेष महत्वपूर्ण जानकारी, दृकपंचांग, चन्द्र राशिफल' एवं 'आरोग्य मंत्र' की ज्ञानयात्रा पर...🙏 ```༺⊰🕉⊱༻ ``` *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻* ☘️🌸!! ॐ श्री गणेशाय नमः!! 🌸☘️ ****************************** 𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :- आज दिनांक *10 अगस्त 2020 ईस्वी* सोमवार/मंडे प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग:««« (यहाँ दिये गए तिथि, नक्षत्र,योग आदि के समय इनके समाप्ति काल हैं। सूर्योदयास्त व चंद्रोदय सहित इनका गणना स्थल मुंबई हैं)। कलियुगाब्द......5122 विक्रम संवत्.....2077 (प्रमादी नाम) शक संवत्......1942 🌤मास.......भाद्रपद/भादवो/भादों 🌓पक्ष........कृष्ण/बदी/अंधेर पछ/लागतो भादवो​ **तिथि........षष्ठी/छठ** प्रातः 06.42 पर्यंत पश्चात सप्तमी **वार/दिन....चन्द्रवार/सोमवार** **नक्षत्र...........अश्विनी** रात्रि 10.06 पर्यंत पश्चात भरणी योग............शूल प्रातः 07.38 पर्यंत पश्चात गंड करण..........वणिज प्रातः 06.43 पर्यंत पश्चात विष्टि ऋतु (वैदिक)...वर्षा ऋतु (दृक)......वर्षा सूर्य (गोल)......उत्तर सूर्य (अयन)...दक्षिण सूर्योदय......प्रातः 06.22.00 पर। सूर्यास्त......संध्या 07.05.00 पर। चंद्रोदय......रात्रि 11.33 बजे। **सूर्य राशि...कर्क** **चन्द्र राशि...मेष** **गुरु राशि....धनु (वक्री, उदय पश्चिम दिशा में)** 🚦 *दिशाशूल :-* पूर्व दिशा- यदि बहुत ही आवश्यक हो तो खोये की बनी कोई मिठाई खाकर या दर्पण देखकर यात्रा प्रारंभ करें । ☸ शुभ अंक........1 🔯 शुभ रंग........श्वेत/सफ़ेद *अभिजीत मुहूर्त :-* मध्याह्न 12.18 से 13.09 तक 👁‍🗨 *राहुकाल :-* प्रात: 07.57 से 09.33 तक । 👁‍🗨 *गुलिक काल :-* अपराह्न 02.19 से 03.55 तक । ************************** 🌞 *उदय लग्न मुहूर्त :-* *कर्क* 04:16:29 06:32:28 *सिंह* 06:32:28 08:44:28 *कन्या* 08:44:28 10:55:08 *तुला* 10:55:08 13:09:45 *वृश्चिक* 13:09:45 15:25:56 *धनु* 15:25:56 17:31:34 *मकर* 17:31:34 19:18:43 *कुम्भ* 19:18:43 20:52:16 *मीन* 20:52:16 22:23:28 *मेष* 22:23:28 24:04:11 *वृषभ* 24:04:11 26:02:48 *मिथुन* 26:02:48 28:16:29 ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 06.01 से 07.39 तक अमृत प्रात: 09.16 से 10.54 तक शुभ दोप. 02.09 से 03.47 तक चंचल अप. 03.47 से 05.24 तक लाभ सायं 05.24 से 07.02 तक अमृत सायं 07.02 से 08.24 तक चंचल । **************************** ✍ आज के विशेष योगायोग/युति संयोग, वेध, ग्रहचार (ग्रहचाल), व्रत/पर्व/प्रकटोत्सव, जयंती/जन्मोत्सव व मोक्ष दिवस/स्मृतिदिवस/पुण्यतिथि आदि 🙏👇:- 👉 **आज भाद्रपद कृष्ण पक्ष सोमवार को 👉 वर्ष का 139/एक सौ उनतालीसर्वाँ दिन, भाद्रपद बदी/कृष्ण षष्ठी प्रातः 06:42 तक पश्चात् सप्तमी शुरु (षष्ठी तिथि वृद्धि), श्री शीतला सप्तमी व्रत, बुध आश्लेषा नक्षत्र में 19:50 पर, मूल संज्ञक नक्षत्र 22:06 तक, सर्वदोषनाशक रवि योग 22:06 तक, कुमार योग, विघ्नकारक भद्रा 06:43 से 19:55 तक, महाकाल स्वारी (उज्जैन), भगवान शान्तिनाथ गर्भ कल्याणक (जैन, भाद्रपद कृष्ण सप्तमी कल मंगलवार को श्रेष्ठ), श्री वी. वी. गिरि जयन्ती, श्री हेमन्त सोरेन जन्म दिवस, डेंगू निरोधक (रोकथाम) दिवस, विश्व सिंह/शेर दिवस (World Lion Day) व विश्व जैवईंधन दिवस।** 🏡वास्तु टिप्स🏡 कृषिवास्तु के अनुसार कभी भी अनाज को ढोकर ईशान कोण की ओर से मंडी में ना लेकर जाएं। इससे फसल के उचित दाम नहीं मिलते। यदि अनाज बेचने के लिए ले जाना हो तो पूर्व या पश्चिमी वायव्य (NW) की ओर से ले जाने पर अच्छे दाम भी मिलते हैं तथा इससे कृषक/भूस्वामी को अन्य सभी शुभ फल भी प्राप्त होते हैं। 🙏 💥 **विशेष ध्यातव्य 👉 षष्टी यानि छठ को नीम की पत्ती, निंबोली फल या दातुन आदि का किसी भी रूप में सेवन/प्रयोग करना या दान करना पूर्णतः वर्जित है। ऐसा करने से नीच योनियों में होता है एवं कलंक लगता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34।** 📿 *आज का आराधना/उपासना मंत्र* *🐚🕉️ श्रां श्रींं श्रौं स: चन्द्राय नमः ‼️🚩* *🚩🕉 कपर्दिने नमः ‼️ 🎪 🚩* * ।। ॐ रुद्रप्रियाय नम: ।। ****************************** ⚜ 👉🙏 🚩 ☸ *तिथि विशेष :* 🚩 *तिथि विशेष :-* **श्री शीतला सप्तमी व्रत/पर्व।** *************************** 📢 *संस्कृत सुभाषितानि :-* शोकस्थानसहस्त्राणि भयस्थान शतानि च । दिवसे दिवसे मूढमाविशन्ति न पण्डितम् ॥ *अर्थात :-* हर दिन हजारों दुःखकारक और सैंकडों भयप्रद प्रसंग अज्ञानी मानव पर कब्जा पाते हैं, ज्ञानी मानव पर नहीं । (शोक करने वाले युधिष्ठिर और पुत्र शोक करने वाले धुतराष्ट्र को सांत्वन देते हुए व्यास और विदूर की उक्ति) 🍃 *आरोग्य मंत्र:-* रक्ताल्पता या खून की कमी (ANAEMIA ) - १- खून की कमी को दूर करने के लिए,अनार के रस में थोड़ी सी काली मिर्च और सेंधा नमक मिलाकर पीने से लाभ होता है | २- मेथी,पालक और बथुआ आदि का प्रतिदिन सेवन करने से खून की कमी दूर हो जाती है | मेथी की सब्ज़ी खाने से भी बहुत लाभ होता है क्यूंकि मेथी में आयरन प्रचुर मात्रा में होता है | ३- गिलोय का रस सेवन करने से खून की कमी दूर हो जाती है | आप यह अपने निकटवर्ती आयुर्वेदिक औषधालय या औषधि केंद्र से प्राप्त कर सकते हैं | ⚜ *आज का चन्द्र राशिफल* ⚜ 👉 🙏 एक निवेदन 🙏 👇:- मित्रों आपकी इस परमप्रिय ज्ञानवर्धक 'अपना पोस्ट' *नक्षत्रवाणी* को आप जितना हो सकता हो उतना लाइक व शेयर/फॉरवर्ड तो करें ही, आलस्य त्याग कर कृपया इसपर अपनी बुद्धि व विवेक के अनुसार अपने सही-सही कमैंट्स भी अवश्य करें। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और अपने फीडबैक से व लाइक/सराहना करके भी अवश्य ही मेरा उत्साहवर्धन करेंगे। नक्षत्रवाणी के संदर्भ में आप सभी के बहुमूल्य सुझाव भी सादर आमंत्रित हैं। धन्यवाद...!!! 💐💐 *************************** 🙏 👉,**एक शुभ सूचना:👇** ** मित्रों हमारे 'ऐस्ट्रो वर्ल्ड' के दिव्य कोष में शुद्ध केसर (काश्मीरी व ईरानी A तथा B दोनों ग्रेड की), पारिजात, चम्पा, अनन्त, पुन्नाग, श्वेत/सफ़ेद ऊद, केसर, खस, भीना गुलाब व असली चंदन जैसे दिव्य इत्रों की पूरी रेंज, भीमसेनी कर्पूर, उत्तम क्वालिटी की शुद्ध गुग्गल व शुद्ध लोबान, शुद्ध राशि रत्न-उपरत्न, असली नेपाली रुद्राक्ष रत्न व गण्डकी नदी से प्राप्त असली शालग्राम जी भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे इस संग्रहालय में और भी कई दिव्य व चमत्कारिक वस्तुएं उपलब्ध हैं। ये सभी दिव्य वस्तुएं हम अपने ज्योतिष-वास्तु एवं वैदिक पूजा-अनुष्ठानों के नियमित यजमानों के लिए बहुत ही सही रेट पर और कम मार्जिन पर देते हैं तथा इनके असली होने की मनी बैक गारंटी के साथ भी। तो आप 'नक्षत्रवाणी' के सभी पाठक भी हमारे परम प्रिय होने से इसका लाभ निःसन्देह ले सकते हैं। इसके लिए आप हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। जल्दी रिप्लाई ना मिलने पर आप कॉल भी कर सकते हैं। धन्यवाद।।।** ***************************** 🐏 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। थकान व कमजोरी रह सकती है। भागदौड़ रहेगी। कोई दु:खद सूचना प्राप्त हो सकती है। जोखिम न लें। वाणी पर नियंत्रण रखें। विवाद को बढ़ावा न दें। फालतू खर्च होगा। यात्रा में सावधानी आवश्यक है। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* चोट व रोग से बचें। नए काम मिलेंगे। व्यापार-व्यवसाय मनोनुकूल चलेगा। शेयर मार्केट लाभ होगा। प्रसन्नता रहेगी। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है। मित्रों व रिश्तेदारों की सहायता कर पाएंगे। यात्रा लाभदायक रहेगी। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* नए अनुबंध हो सकते हैं। लाभ में वृद्धि होगी। सरकारी कामों में सफलता प्राप्त होगी। कारोबार में वृद्धि होगी। जल्दबाजी न करें। आर्थिक उन्नति के लिए नई नीति बन सकती है। तत्काल लाभ नहीं होगा। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। शत्रुओं से सावधानी आवश्यक है । नए संपर्क बनेंगे। घरेलू खर्च में वृद्धि होगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। सरकारी कार्यों में गतिरोध दूर होकर स्थिति लाभदायक बनेगी। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* नौकरी में प्रभाव बढ़ेगा। शेयर मार्केट व म्युचुअल फंड से मनोनुकूल लाभ होगा। घर-बाहर प्रसन्नता बनी रहेगी। स्थायी संपत्ति के कार्य बड़ा लाभ दे सकते हैं। विवाद से बचें। बेरोजगारी दूर करने के प्रयास सफल रहेंगे। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* दु:खद समाचार प्राप्त हो सकता है। स्वास्थ्य का पाया कमजोर रहेगा। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। भावना में बहकर कोई निर्णय न लें। बेचैनी रहेगी। बनते काम में देरी होगी। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। नौकरी में कार्यभार रहेगा। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* चोट व दुर्घटना से हानि की आशंका है, सावधान रहें। कोई पुराना रोग परेशानी का कारण बन सकता है। क्रोध व उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। अपेक्षित काम में देरी होगी। तनाव रहेगा। आय बनी रहेगी। जोखिम न लें। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* किसी पार्टी व पिकनिक का कार्यक्रम बन सकता है। विद्यार्थी वर्ग अपने कार्य में सफलता प्राप्त करेगा। संगीत इत्यादि में रुचि रहेगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। नौकरी में नए कार्य कर पाएंगे। जीवन सुखद रहेगा। थकान रह सकती है। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* सुखद समाचार की प्राप्ति होगी। कारोबार अच्‍छा चलेगा। आत्मसम्मान बना रहेगी। घर में अतिथियों का आगमन होगा। व्यय होगा। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। नए मित्र बनेंगे। उत्साह व प्रसन्नता में वृद्धि होगी। जल्दबाजी न करें। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। राजकीय सहयोग प्राप्त होगा। कारोबार अच्‍छा चलेगा। घर-बाहर सभी ओर से सहयोग प्राप्त होगा। प्रसन्नता का वातावरण रहेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। निवेश में जल्दबाजी न करें। धनार्जन होगा। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। किसी बड़ी समस्या का हल प्राप्त होगा। यात्रा लाभदायक रहेगी। निवेश लाभदायक रहेगा। नए काम करने का मन बनेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। प्रमाद न करें 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* मेहनत का फल पूरा-पूरा प्राप्त होगा। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। सामाजिक कार्य करने का मन बनेगा। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। व्यापार-व्यवसाय अच्‍छा चलेगा। नौकरी में अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। आय में वृद्धि होगी। थकान व कमजोरी रह सकती है। **************************** *👉 🙏मित्रों Covid-19 महामारी के कारण आज की अमूलचूल रूप से बदली हुई इन वैश्विक परिस्थितियों के फलस्वरूप यह राशिफल किसी भी जातक विशेष पर यानि आप या आपकी राशि पर पूरी तरह सटीक बैठे यह आवश्यक नहीं है। कारण आप समझते ही हैं कि हम में से अधिकांश लोग घर पर ही बैठे हैं और कोई कार्य नहीं कर रहे और फ़िलहाल कुछ नहीं करना ही सब्से उत्तम कार्य है क्योंकि कहावत भी है ना कि 'जान बची तो लाखों पाए'। इसलिए वास्तव में तो इस समय सभी १२ राशियों का एक ही राशिफल है कि शासन-प्रशासन के निर्देशों का पालन कीजिये, केवल और केवल अपने-अपने घरों में रहें। बार-बार साबुन, sanitizer, फिटकरी या डेटोलयुक्त पानी से अपने हाथ धोते रहें। एक-दूसरे से आवश्यक शारीरिक दूरी मतलब सोशल distancing बनाए रहें (हाँ मन से सभी एक बने रहें) तथा अनुशासन भी बनाये रखेें...! विश्वास करें कि हम पर ईश्वर की कृपा अवश्य होगी और हम हमारे बैरियों के बुरे इरादे नाकाम करते हुए यह लड़ाई जीत लेंगे यानि निश्चित रूप से कोरोना को समूल उखाड़ फैंकेंगें। धन्यवाद...!!! *🏆कोरोना को जड़ से उखाड़ने के लिए "बस अपने घर पर पैर जमाए रहिये -सुरक्षित रहिये"।* ****************************************** *🎊🎉🎁 आज जिनका जन्मदिवस या विवाह की वर्षगांठ हैं, उन सभी प्रिय मित्रो को कोटिशः शुभकामनायें🎁🎊🎉* ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ और ज़रा इन बातों पर भी ज़रूर ध्यान दें मित्रों...! अगर...??? 1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं....? 2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है...? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं...? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं...? 3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..? 4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं...? 5) बिमारी आपको छोड़ ही रही है...? घर का हरएक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है...? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है...? 6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं...? 7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है...? 8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है...? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं...? 9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं...? 10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं...? 11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही...? 12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा...? यदि हाँ...??? तो यह सब अकारण ही नहीं है...! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं...? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें...! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं...! ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.) (चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai साभार: बाँके बिहारी (धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच) कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा (सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान) अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान) नोट: हमारी या हमारे संस्थान 'एस्ट्रो-वर्ल्ड' तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच 'सातफेरे डॉट कॉम' मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, सियारसिंगी, हत्थाजोड़ी, नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे... सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514 ईमेल आई डी: [email protected] 🌺आपका सप्ताहारंभ आदि वैद्य (भगवान धन्वंतरि जी) की कृपा से परम मंगलमय हो मित्रो! *🚩जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्रम🚩* 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩 ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※

+12 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Madan Kaushik Aug 9, 2020

****अपना पोस्ट*** **नक्षत्रवाणी** *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻*  गजाननं भूतगनादि सेवितम, कपित्थजम्बू फलचारु भक्षणम। उमासुतं शोकविनाशकारकम, नमामि विघ्नेश्वर पादपंकजम।। श्रीमते रघुवीराय सेतूल्लङ्घितसिन्धवे। जितराक्षसराजाय रणधीराय मङ्गलम्।। भुजगतल्पगतं घनसुन्दरं गरुडवाहनमम्बुजलोचनम् । नलिनचक्रगदाकरमव्ययं भजत रे मनुजाः कमलापतिम् ।।  क्यों भटके मन बावरा, दर-दर ठोकर खाये...! शरण श्याम की ले ले प्यारे, जनम सफल हो जाये...!! 🚩🚩🚩🚩🚩🚩🚩 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~ मित्रों...! सबसे पहले तो नक्षत्रवाणी की पोस्टिंग में व्यस्तत्तम शेड्यूल के चलते ना चाहते हुए भी होने वाले विलंब के लिए आप सभी से हृदयपूर्वक क्षमा प्रार्थना सहित.....🙏🙏 आप सभी परम प्रिय धर्मपारायण, ज्योतिषविद्या प्रेमी विद्वतजनों को आचार्य/पं.मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम 🌸 जय गणेश 🌸 जय अंबे 🌸 *जय श्री कृष्ण*🌷मंगल प्रभात🌷इसी के साथ आप सभी सनातनी, धर्म व उत्सवप्रेमी, परम रामभक्त तथा राष्ट्रप्रेमी मित्र-बंन्धुओं को आज **हल षष्ठी व्रत (सायान्हव्यापिनी षष्ठी में, पुत्रार्थियों को एवं सन्तानवती को यह व्रत करना चाहिए), श्री वृहद्गौरी व्रत, श्री कपिला षष्ठी व्रत, श्री चम्पा षष्ठी, चन्द्र/चन्दन षष्ठी व्रत (मरुस्थल में), रंधन छठ व्रत/पर्व की एवं श्री बलराम जयंती (हल षष्ठी, भाद्रपद कृष्ण षष्ठी), श्री हितेंद्र कन्हैयालाल देसाई जयन्ती, भारतीय क्रान्ति दिवस अथवा 'अगस्त क्रांति दिवस' की तथा विश्व आदिवासी दिवस** की भी बहुत-बहुत हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...!!!** 💐💐 ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ आइये...! अब चलें आपके प्रिय पोस्ट 'नक्षत्रवाणी' के अंतर्गत आज कुछ विशेष महत्वपूर्ण जानकारी, दृकपंचांग, चन्द्र राशिफल' एवं 'आरोग्य मंत्र' की ज्ञानयात्रा पर...🙏 ```༺⊰🕉⊱༻ ``` *༺⊰०║|। ॐ ।|║०⊱༻* ☘️🌸!! ॐ श्री गणेशाय नमः!! 🌸☘️ ****************************** 𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉 🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :- आज दिनांक *09 अगस्त 2020 ईस्वी* रविवार/संडे प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग:««« (यहाँ दिये गए तिथि, नक्षत्र,योग आदि के समय इनके समाप्ति काल हैं। सूर्योदयास्त व चंद्रोदय सहित इनका गणना स्थल मुंबई हैं)। कलियुगाब्द......5122 विक्रम संवत्.....2077 (प्रमादी नाम) शक संवत्......1942 🌤मास.......भाद्रपद/भादवो/भादों 🌓पक्ष........कृष्ण/बदी/अंधेर पछ/लागतो भादवो​ **तिथि........षष्ठी/छठ अहोरात्र/संपूर्ण दिनरात्रि *वार/दिन....रविवार/भानुवासर/दीतवार/इतवार **नक्षत्र..........रेवती** प्रातः 07.07 पर्यंत पश्चात अश्विनी योग............धृति प्रातः 06.46 पर्यंत पश्चात शूल करण..........गरज संध्या 05.30 पर्यंत पश्चात वणिज ऋतु (वैदिक)...वर्षा ऋतु (दृक)......वर्षा सूर्य (गोल)......उत्तर सूर्य (अयन)...दक्षिण सूर्योदय......प्रातः 06.22.00 पर। सूर्यास्त......संध्या 07.06.00 पर। चंद्रोदय.......रात्रि 10.59 बजे। **सूर्य राशि...कर्क** **चन्द्र राशि...मीन (सांय 07.07 पर्यंत पश्चात मेष)** **गुरु राशि....धनु (वक्री, उदय पश्चिम दिशा में)** 🚦 *दिशाशूल :-* पश्चिम दिशा - यदि अति आवश्यक हो तो दलिया, घी या पान का सेवनकर यात्रा प्रारंभ करें । ☸ शुभ अंक........9 🔯 शुभ रंग........केसरीया या नारंगी लाल *अभिजीत मुहूर्त :-* मध्याह्न 12.18 से 13.09 तक 👁‍🗨 *राहुकाल :-* संध्या 05.30 से 07.06 तक । 👁‍🗨 *गुलिक काल :-* अपराह्न 03.55 से 05.30 तक । ************************** 🌞 *उदय लग्न मुहूर्त :-* *कर्क* 04:20:25 06:36:29 *सिंह* 06:36:29 08:48:25 *कन्या* 08:48:25 10:59:04 *तुला* 10:59:04 13:13:42 *वृश्चिक* 13:13:42 15:29:52 *धनु* 15:29:52 17:35:31 *मकर* 17:35:31 19:22:39 *कुम्भ* 19:22:39 20:56:13 *मीन* 20:56:13 22:27:24 *मेष* 22:27:24 24:08:07 *वृषभ* 24:08:07 26:06:44 *मिथुन* 26:06:44 28:20:25 ✡ *चौघडिया :-* प्रात: 07.41 से 09.17 तक चंचल प्रात: 09.17 से 10.54 तक लाभ प्रात: 10.54 से 12.31 तक अमृत दोप. 02.08 से 03.44 तक शुभ सायं 06.58 से 08.21 तक शुभ संध्या 08.21 से 09.44 तक अमृत रात्रि 09.44 से 11.08 तक चंचल । ✍ आज के विशेष योगायोग/युति संयोग, वेध, ग्रहचार (ग्रहचाल), व्रत/पर्व/प्रकटोत्सव, जयंती/जन्मोत्सव व मोक्ष दिवस/स्मृतिदिवस/पुण्यतिथि आदि 🙏👇:- 👉 **आज भाद्रपद कृष्ण पक्ष रविवार को 👉 वर्ष का 138/एक सौ अड़त्तीसर्वाँ दिन, भाद्रपद बदी/कृष्ण षष्ठी पूर्णरात्रि, हल षष्ठी व्रत (सायान्हव्यापिनी षष्ठी में, पुत्रार्थियों को एवं सन्तानवती को यह व्रत करना चाहिए), श्री वृहद्गौरी व्रत, श्री कपिला षष्ठी व्रत, श्री चम्पा षष्ठी, चन्द्र/चन्दन षष्ठी व्रत (मरुस्थल में), रंधन छठ, सर्वार्थसिद्धियोग / कार्यसिद्धियोग 19:06 से सूर्योदय तक, सर्वदोषनाशक रवि योग 19:06 से, पंचक 19:06 तक, मूल संज्ञक नक्षत्र जारी, अगस्त्य दर्शन, श्री बलराम जयंती (हल षष्ठी, भाद्रपद कृष्ण षष्ठी), श्री हितेंद्र कन्हैयालाल देसाई जयन्ती, श्री कलिखो पुल स्मृति दिवस, भारतीय क्रान्ति दिवस अथवा 'अगस्त क्रांति दिवस', भारत छोड़ो आन्दोलन स्मृति दिवस, विश्व आदिवासी दिवस व नागासाकी दिवस।** 🏡वास्तु टिप्स🏡 कृषिवास्तु के अनुसार कभी भी अनाज को ढोकर ईशान कोण की ओर से मंडी में ना लेकर जाएं। इससे फसल के उचित दाम नहीं मिलते। यदि अनाज बेचने के लिए ले जाना हो तो पूर्व या पश्चिमी वायव्य (NW) की ओर से ले जाने पर अच्छे दाम भी मिलते हैं तथा इससे कृषक/भूस्वामी को सभी प्रकार के शुभ फल प्राप्त होते हैं। 🙏 💥 **विशेष ध्यातव्य 👉 षष्टी यानि छठ को नीम की पत्ती, निंबोली फल या दातुन आदि का किसी भी रूप में सेवन/प्रयोग करना पूर्णतः वर्जित है। ऐसा करने से नीच योनियों में वास होता है एवं कलंक लगता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34।** 📿 *आज का आराधना/उपासना मंत्र* *🐚 🕉️ ह्रां ह्रींं ह्रौं स: सूर्याय नमः ‼️🚩* *🚩🕉 हिरण्यगर्भाय नमः ‼️ 🎪 🚩* * ।। ॐ ईशानपुत्राय नम: ।। ****************************** ⚜ 👉🙏 🚩 ☸ *तिथि विशेष :* 🚩 *तिथि विशेष :-* **हल षष्ठी व्रत (सायान्हव्यापिनी षष्ठी में, पुत्रार्थियों को एवं सन्तानवती को यह व्रत करना चाहिए), श्री वृहद्गौरी व्रत, श्री कपिला षष्ठी व्रत, श्री चम्पा षष्ठी, चन्द्र/चन्दन षष्ठी व्रत (मरूप्रदेश/राज.में), रंधन छठ।** ***************************  *संस्कृत सुभाषितानि :-* यस्य स्नेहो भयं तस्य स्नेहो दुःखस्य भाजनम् । स्नेहमूलानि दुःखानि तानि त्यक्त्वा सुखं वसेत् ॥ अर्थात :- जिसके ह्रदय में स्नेह है उसे भय लगता है, स्नेह यह दुःखका पात्र है, सभी दुःखका मूल है । इसलिए वह दुःख (याने कि स्नेह) छोडकर मानवी ने सुख से रहना चाहिए । 🍃 *आरोग्य मंत्र :-* पेट में कीड़े - छुटकारा पाने के कुछ सरल उपाय :----- 1-अनार के छिलकों को सुखाकर चूर्ण बना लें | यह चूर्ण दिन में तीन बार एक -एक चम्मच लें , इससे पेट के कीड़े नष्ट हो जाते हैं | 2 -टमाटर को काटकर ,उसमें सेंधा नमक और कालीमिर्च का चूर्ण मिलाकर सेवन करें | इस प्रयोग से पेट के कीड़े मर कर गुदामार्ग से बाहर निकल जाते हैं | 3-लहसुन की चटनी बनाकर उसमें थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर सुबह -शाम खाने से पेट के कीड़े नष्ट होते हैं | 4 -नीम के पत्तों का रस शहद में मिलकर पीने से पेट के कीड़े समाप्त हो जाते हैं | **************************** ⚜ *आज का चन्द्र राशिफल* ⚜ 👉 🙏 एक निवेदन 🙏 👇:- मित्रों आपकी इस परमप्रिय ज्ञानवर्धक 'अपना पोस्ट' *नक्षत्रवाणी* को आप जितना हो सकता हो उतना लाइक व शेयर/फॉरवर्ड तो करें ही, आलस्य त्याग कर कृपया इसपर अपनी बुद्धि व विवेक के अनुसार अपने सही-सही कमैंट्स भी अवश्य करें। मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप मुझे निराश नहीं करेंगे और अपने फीडबैक से व लाइक/सराहना करके भी अवश्य ही मेरा उत्साहवर्धन करेंगे। नक्षत्रवाणी के संदर्भ में आप सभी के बहुमूल्य सुझाव भी सादर आमंत्रित हैं। धन्यवाद...!!! 💐💐 *************************** 🙏**एक शुभ सूचना:**👇 ** मित्रों हमारे 'ऐस्ट्रो वर्ल्ड' के दिव्य कोष में शुद्ध केसर (काश्मीरी व ईरानी A तथा B दोनों ग्रेड की), पारिजात, चम्पा, अनन्त, पुन्नाग, श्वेत/सफ़ेद ऊद, केसर, खस, भीना गुलाब व असली चंदन जैसे दिव्य इत्रों की पूरी रेंज, भीमसेनी कर्पूर, उत्तम क्वालिटी की शुद्ध गुग्गल व शुद्ध लोबान, शुद्ध राशि रत्न-उपरत्न, असली नेपाली रुद्राक्ष रत्न व गण्डकी नदी से प्राप्त असली शालग्राम जी भी उपलब्ध हैं। इसके अलावा हमारे इस संग्रहालय में और भी कई दिव्य व चमत्कारिक वस्तुएं उपलब्ध हैं। ये सभी दिव्य वस्तुएं हम अपने ज्योतिष-वास्तु एवं वैदिक पूजा-अनुष्ठानों के नियमित यजमानों के लिए बहुत ही सही रेट पर और कम मार्जिन पर देते हैं तथा इनके असली होने की मनी बैक गारंटी के साथ भी। तो आप 'नक्षत्रवाणी' के सभी पाठक भी हमारे परम प्रिय होने से इसका लाभ निःसन्देह ले सकते हैं। इसके लिए आप हमें इसी नम्बर पर व्हाट्सएप्प करें। जल्दी रिप्लाई ना मिलने पर आप कॉल भी कर सकते हैं। धन्यवाद।।।** ***************************** 🐏 *राशि फलादेश मेष :-* *(चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, आ)* कोई पुराना रोग दु:ख का कारण बन सकता है। लापरवाही न करें। शत्रुभय बना रहेगा। फालतू खर्च पर नियंत्रण रखें। कोर्ट-कचहरी व सरकारी कामों में सहूलियत रहेगी। जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। कारोबार से लाभ होगा। नौकरी में सहकर्मी साथ देंगे। 🐂 *राशि फलादेश वृष :-* *(ई, ऊ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)* वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। शारीरिक हानि हो सकती है। किसी अपने से बेबात विवाद हो सकता है। मान कम होगा। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। निवेश में जल्दबाजी न करें। सुख के साधनों पर व्यय होगा। 👫🏻 *राशि फलादेश मिथुन :-* *(का, की, कू, घ, ङ, छ, के, को, ह)* लेन-देन में सावधानी रखें। चोट व रोग से बचें। अज्ञात भय सताएगा। स्थायी संपत्ति की खरीद-फरोख्त लाभकारी रहेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। जोखिम उठाने का साहस कर पाएंगे। भाग्य का साथ मिलेगा। नए बड़े काम मिल सकते हैं। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 🦀 *राशि फलादेश कर्क :-* *(ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)* धार्मिक कृत्यों पर व्यय होगा। पूजा-पाठ में मन लगेगा। व्यापार-व्यवसाय लाभप्रद रहेंगे। आशंका-कुशंका के चलते निर्णय लेने की क्षमता कम हो सकती है। आत्मविश्वास बनाए रखें। शारीरिक कष्ट संभव है। विवेक से कार्य करें, लाभ होगा। प्रसन्नता में वृद्धि होगी। 🦁 *राशि फलादेश सिंह :-* *(मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)* अकारण विवाद हो सकता है। स्वाभिमान को ठेस पहुंच सकती है। दूर से शोक समाचार मिल सकता है। पुराना रोग उभर सकता है। मन खिन्न रहेगा। काम में मन नहीं लगेगा। कुसंगति से हानि संभव है। व्यापार ठीक चलेगा। नौकरी में कार्यभार बढ़ सकता है। 🙎🏻‍♀️ *राशि फलादेश कन्या :-* *(ढो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)* संतान पक्ष से स्वास्थ्य व अध्ययन संबंधी चिंता रहेगी। वाणी में हल्के शब्दों के प्रयोग से बचें। आवश्यक वस्तु गुम हो सकती है। धनलाभ के अवसर प्राप्त होंगे। थोड़ प्रयास से ही कार्यसिद्धि होगी। घर-बाहर सम्मान मिलेगा। व्यापार अच्छा चलेगा। ⚖ *राशि फलादेश तुला :-* *(रा, री, रू, रे, रो, ता, ती, तू, ते)* बेचैनी रहेगी। थकान रह सकती है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ के योग हैं। लॉटरी व सट्टे से दूर रहें। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। नौकरी में उच्चाधिकारी की प्रसन्नता प्राप्त होगी। कारोबार में वृद्धि होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 🦂 *राशि फलादेश वृश्चिक :-* *(तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)* यात्रा लाभदायक रहेगी। जल्दबाजी न करें। शारीरिक कष्ट संभव है। स्वास्थ्य कमजोर रह सकता है। बेवजह विवाद हो सकता है। चिंता तथा तनाव रहेंगे। स्वास्थ्य पर बड़ा खर्च हो सकता है। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। लाभ होगा। जोखिम न लें। 🏹 *राशि फलादेश धनु :-* *(ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढा, भे)* किसी आनंदोत्सव में भाग लेने का अवसर प्राप्त हो सकता है। यात्रा मनोरंजक रहेगी। विद्यार्थी वर्ग का अध्ययन में मन लगेगा। शोध इत्यादि कार्य सफल रहेंगे। स्वादिष्ट भोजन का लाभ प्राप्त होगा। व्यापार-व्यवसाय ठीक चलेगा। नौकरी में नया कार्य कर पाएंगे। 🐊 *राशि फलादेश मकर :-* *(भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)* दूर से शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। थकान रह सकती है। बड़ा काम करने का मन बनेगा। शत्रु नतमस्तक होंगे। बुरे लोगों से दूर रहें। व्यापार-व्यवसाय लाभदायक रहेगा। नौकरी में चैन रहेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। 🏺 *राशि फलादेश कुंभ :-* *(गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)* पुरानी वसूली जो नहीं हो पा रही थी, अब वसूली जा सकती है, प्रयास करें। व्यावसायिक यात्रा लाभदायक रहेगी। लाभ के अवसर हाथ आएंगे। कारोबार में वृद्धि होगी। नौकरी में प्रमोशन मिल सकता है। भाग्य का साथ मिलेगा। नेत्र पीड़ा हो सकती है। 🐋 *राशि फलादेश मीन :-* *(दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, चा, ची)* हल्के हंसी-मजाक से बचें। जल्दबाजी से हानि हो सकती है। शारीरिक कष्ट संभव है। कानूनी अड़चन आ सकती है। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार हो सकता है। नए काम मिलेंगे। भाग्य की अनुकूलता का लाभ लें। आलस्य से बचें। 📢 *संस्कृत सुभाषितानि -* शक्तिं करोति सञ्चारे शीतोष्णे मर्षयत्यपि । दीपयत्युदरे वह्निः दारिद्र्यं परमौषधम् ॥ *अर्थात :-* दारिद्र्य परम् औषधि है, क्योंकि वह संचार करने की शक्ति देता है । शीत और उष्ण सहन कराता है और पेट में अग्नि प्रज्वलित करता है । 🍃 *आरोग्य मंत्र :-* बाल झड़ने की समस्या :- 1. नीम का पेस्ट सिर में कुछ देर लगाए रखें। फिर बाल धो लें। बाल झड़ना बंद हो जाएगा। 2. चाय पत्ती के उबले पानी से बाल धोएं। बाल कम गिरेंगे। 3. बेसन मिला दूध या दही के घोल से बालों को धोएं। फायदा होगा। 4. दस मिनट का कच्चे पपीता का पेस्ट सिर में लगाएं। बाल नहीं झड़ेंगे और डेंड्रफ (रूसी) भी नहीं होगी। ****************************** *👉 🙏मित्रों Covid-19 महामारी के कारण आज की अमूलचूल रूप से बदली हुई इन वैश्विक परिस्थितियों के फलस्वरूप यह राशिफल किसी भी जातक विशेष पर यानि आप या आपकी राशि पर पूरी तरह सटीक बैठे यह आवश्यक नहीं है। कारण आप समझते ही हैं कि हम में से अधिकांश लोग घर पर ही बैठे हैं और कोई कार्य नहीं कर रहे और फ़िलहाल कुछ नहीं करना ही सब्से उत्तम कार्य है क्योंकि कहावत भी है ना कि 'जान बची तो लाखों पाए'। इसलिए वास्तव में तो इस समय सभी १२ राशियों का एक ही राशिफल है कि शासन-प्रशासन के निर्देशों का पालन कीजिये, केवल और केवल अपने-अपने घरों में रहें। बार-बार साबुन, sanitizer, फिटकरी या डेटोलयुक्त पानी से अपने हाथ धोते रहें। एक-दूसरे से आवश्यक शारीरिक दूरी मतलब सोशल distancing बनाए रहें (हाँ मन से सभी एक बने रहें) तथा अनुशासन भी बनाये रखेें...! विश्वास करें कि हम पर ईश्वर की कृपा अवश्य होगी और हम हमारे बैरियों के बुरे इरादे नाकाम करते हुए यह लड़ाई जीत लेंगे यानि निश्चित रूप से कोरोना को समूल उखाड़ फैंकेंगें। धन्यवाद...!!! *🏆कोरोना को जड़ से उखाड़ने के लिए "बस अपने घर पर पैर जमाए रहिये -सुरक्षित रहिये"।* ****************************************** *🎊🎉🎁 आज जिनका जन्मदिवस या विवाह की वर्षगांठ हैं, उन सभी प्रिय मित्रो को कोटिशः शुभकामनायें🎁🎊🎉* ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ और ज़रा इन बातों पर भी ज़रूर ध्यान दें मित्रों...! अगर...??? 1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं....? 2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है...? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं...? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं...? 3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..? 4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं...? 5) बिमारी आपको छोड़ ही रही है...? घर का हरएक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है...? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है...? 6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं...? 7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है...? 8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है...? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं...? 9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं...? 10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं...? 11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही...? 12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा...? यदि हाँ...??? तो यह सब अकारण ही नहीं है...! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं...? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें...! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं...! ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※ प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.) (चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai साभार: बाँके बिहारी (धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच) कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा (सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान) अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान) नोट: हमारी या हमारे संस्थान 'एस्ट्रो-वर्ल्ड' तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच 'सातफेरे डॉट कॉम' मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, सियारसिंगी, हत्थाजोड़ी, नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे... सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514 ईमेल आई डी: [email protected] 🌺आपका सप्ताहांत आदि वैद्य (भगवान धन्वंतरि जी) की कृपा से परम मंगलमय हो मित्रो! *🚩जयतु जयतु हिन्दुराष्ट्रम🚩* 🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩 ।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।। ※══❖═══▩ஜ ۩۞۩ ஜ▩═══❖══※

+11 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Lokesh Kumar Meena Aug 9, 2020

+4 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB