Mahima Shukla🤓
Mahima Shukla🤓 Feb 6, 2019

🌹🤓🌹Hare Krishna Radhe Radhe 🌹🤓🌹 🙏Shubh Ratri ji 🙏

🌹🤓🌹Hare Krishna Radhe Radhe 🌹🤓🌹
 🙏Shubh Ratri ji 🙏
🌹🤓🌹Hare Krishna Radhe Radhe 🌹🤓🌹
 🙏Shubh Ratri ji 🙏
🌹🤓🌹Hare Krishna Radhe Radhe 🌹🤓🌹
 🙏Shubh Ratri ji 🙏
🌹🤓🌹Hare Krishna Radhe Radhe 🌹🤓🌹
 🙏Shubh Ratri ji 🙏

+83 प्रतिक्रिया 25 कॉमेंट्स • 48 शेयर

कामेंट्स

Rajendra Prajapati Feb 6, 2019
Jai Shree Krishna ji Radhey Radhey Ji Thakur Ji ki kripa drashti sadaiv aap par bani rahe ji Shubh Ratri ji

,OP JAIN (RAJ) Feb 6, 2019
om ganesaya namhay have a nic day didi..... God bless you DIDI..... shubh Ratri didi

Babita Sharma Feb 6, 2019
Good Night Sister Hare Krishna Be Blessed 🌷🌷🙏

sumitra Feb 6, 2019
Shubh ratri sister God bless you and your family Sister

Rupdhar Chouhan Feb 6, 2019
जय श्री राधे कृष्णा जी 🙏🙏शुभ रात्रि

meghraj chetry Feb 6, 2019
🙏🌹om sai ram ji🌹🙏 🌸🌸🌸🌸🌷🌷🌹🌹🌹🌹 ऐसा चढ़ा साई तेरी प्रीत का रंग, के डूब गए तेरी भक्ति के रंग में.. चढ़ी रहे तेरे भक्ति की खुमारी, छाया रहे तेरे नाम का सरूर… बोलो श्री साई नाथ महाराज जी की जय! 🌸🌸🌸🌸🌷raam raam ji🌷🌹🌹🌹🌹

🌲🌲भोला भैया 🌲🌲🌲 Feb 7, 2019
जटाधारी देवों के देव महादेव की जय माता भवानी जगत कल्याणी रुद्र काली की जय जय श्री राधे माधव की बहिन का जीवन मंगलमय हो परमपिता परमेश्वर आपको और आपके परिवार को हमेशा खुश रख्खे बहिन

🌲🌲भोला भैया 🌲🌲🌲 Feb 7, 2019
जटाधारी देवों के देव महादेव की जय माता भवानी जगत कल्याणी रुद्र काली की जय जय श्री राधे माधव की बहिन का जीवन मंगलमय हो परमपिता परमेश्वर आपको और आपके परिवार को हमेशा खुश रख्खे बहिन

Rajendra Prajapati Feb 7, 2019
Jai Shree Krishna ji Radhey Radhey Ji Thakur Ji ki kripa drashti sadaiv aap par bani rahe ji Shubh Prabhat ji

Sandhya Nagar Feb 7, 2019
हाथ जोड़कर तुम्हे मनाऊँ...आँख के आँसू भेंट चढाऊँ मोती समझकर इन्हें स्वीकार करना शरण में हूँ तेरी “प्यारी राधे”जरा मेरी लाज रखना Զเधे Զเधे__Զเधे Զเधे

Vijay Yadav Apr 18, 2019

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 13 शेयर
Madhuvan Apr 19, 2019

+52 प्रतिक्रिया 10 कॉमेंट्स • 27 शेयर
YASHWANT KUMAR SAHU Apr 18, 2019

+15 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 21 शेयर
Girish Patel Apr 18, 2019

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 15 शेयर
Shiva Gaur Apr 18, 2019

राधाजी की भक्ति तीनों लोकों में राधा की स्तुति से देवर्षि नारद खीझ गए थे। उनकी शिकायत थी कि वह तो कृष्ण से अथाह प्रेम करते हैं फिर उनका नाम कोई क्यों नहीं लेता, हर भक्त ‘राधे-राधे’ क्यों करता रहता है। वह अपनी यह व्यथा लेकर श्रीकृष्ण के पास पहुंचे। नारदजी ने देखा कि श्रीकृष्ण भयंकर सिर दर्द से कराह रहे हैं। देवर्षि के हृदय में भी टीस उठी। उन्होंने पूछा, ‘भगवन! क्या इस सिर दर्द का कोई उपचार है। मेरे हृदय के रक्त से यह दर्द शांत हो जाए तो मैं अपना रक्त दान कर सकता हूं।’ श्रीकृष्ण ने उत्तर दिया, ‘नारदजी, मुझे किसी के रक्त की आवश्यकता नहीं है। मेरा कोई भक्त अपना चरणामृत यानी अपने पांव धोकर पिला दे, तो मेरा दर्द शांत हो सकता है।’ नारद ने मन में सोचा, ‘भक्त का चरणामृत, वह भी भगवान के श्रीमुख में। ऐसा करने वाला तो घोर नरक का भागी बनेगा। भला यह सब जानते हुए नरक का भागी बनने को कौन तैयार हो?’ श्रीकृष्ण ने नारद से कहा कि वह रुक्मिणी के पास जाकर सारा हाल सुनाएं तो संभवत: रुक्मिणी इसके लिए तैयार हो जाएं। नारदजी रुक्मिणी के पास गए। उन्होंने रुक्मिणी को सारा वृत्तांत सुनाया तो रुक्मिणी बोलीं, ‘नहीं, नहीं! देवर्षि, मैं यह पाप नहीं कर सकती।’ नारद ने लौटकर रुक्मिणी की बात श्रीकृष्ण के पास रख दी। अब श्रीकृष्ण ने उन्हें राधा के पास भेजा। राधा ने जैसे ही सुना, तत्काल एक पात्र में जल लाकर उसमें अपने दोनों पैर डुबोए। फिर वह नारद से बोली, ‘देवर्षि, इसे तत्काल श्रीकृष्ण के पास ले जाइए। मैं जानती हूं कि भगवान को अपने पांव धोकर पिलाने से मुझे रौरव नामक नरक में भी ठौर नहीं मिलेगा। पर अपने प्रियतम के सुख के लिए मैं अनंत युगों तक नरक की यातना भोगने को तैयार हूं।’ अब देवर्षि समझ गए कि तीनों लोकों में राधा के प्रेम के स्तुतिगान क्यों हो रहे हैं। उन्होंने भी अपनी वीणा उठाई और राधा की स्तुति गाने लगे। राधै राधै

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Shobha Nakra Apr 18, 2019

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर

+6 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB