Ramesh purohit ने बद्रीनाथ मंदिर में यह पोस्ट की।

#प्रवचन

+38 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Umesh bhardwaj Aug 2, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 14 शेयर
Umesh bhardwaj Aug 2, 2020

+41 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 7 शेयर

*@@निःस्वार्थ ओर अटूट मित्रता@@* *आज के आधुनिक युग मे विश्व मित्रता दिवस(friendship day) मना रहा है, परन्तु हिन्दू धर्म शास्त्र चाहे द्वापरयुग में भगवान श्रीकृष्णा अवतार हो या त्रेता युग में भगवान श्री राम अवतार हो समस्त शास्त्रों का अध्ययन करने तथा पौराणिक कथाओं का श्रवण करने पर महत्वपूर्ण रूप से* *राम सुग्रीव मित्रता,* *कृष्ण सुदामा मित्रता,* *अर्जुन कृष्ण मित्रता,* *कर्ण दुर्योधन मित्रता,* *निःस्वार्थ, निःसंदेह, निःसंकोच, अटूट,अटल, परोपकारी, मित्रता ने हर युग मे एक आदर्श स्थापित किया है!* *ऐसी मित्रता सदैव वंदनीय है!* *व्यक्ति के जीवन मित्र का अत्यधिक महत्व है, और सिर्फ ऐसा नही है कि, मित्रता सिर्फ मानव तक सीमित रही हो !* *भारतीय हिन्दू संस्कृति में प्रकृति द्वारा प्रदत्त, जीव चराचर,ही नही, समस्त प्रकृति को मित्र मानकर उनके साथ मित्रत्व व्यवहार किये जाने की प्रेरणा प्रदान की है!* *आज भौतिक वाद के समय मे व्यक्ति अपने घर,परिवार, समाज और व्यापार व्यवसाय में इतना व्यस्त होने के बाद भी धर्म शास्त्रों की प्रेरणा से प्रकृति के साथ जीव चराचर को अपना मित्र मानकर उसके साथ जीवन यापन कर रहा है, प्रकृति द्वारा प्रदान किये गए, उपहारों का जीवन मे आनंद प्राप्त कर रहा है!* *मित्रता दिवस मनाने के पीछे ध्येय भी यही है कि, हम अपने व्यक्तिगत व्यस्थता और, निजी स्वार्थ से ऊपर उठकर 24 घंटे में से कुछ समय जीव चराचर, और प्रकृति के बारे में सोचें इन मित्रों को सहयोग करें, इनकी परेशानी को समझें, उनको संकटो से उभारने का प्रयास करे! निःस्वार्थ और अटूट मित्रता को जीवन पर्यन्त निभायें!* *आज आवश्यकता है जीवन मे मित्रता दिवस से प्रेरणा लेकर मित्र भाव को आत्मसात करने की!* *मित्र ही जीवन है* *मित्र है तो हम हैं* *सभी मित्रों को मित्रता दिवस की अनन्त शुभकामनाएं!* *आज संकल्प लेता हूं कि, जीवन मे यदि किसी वक्त किसी भी मित्र की आवश्यकता में यदि मैं कोई काम आ सका तो मेरे लिए जीवन का वह क्षण बहुत ही, आनंदमय, प्रसन्नता दायक होगा! 👏* *आज मैं जो भी हूँ, मेरे परम् स्नेही मित्रों की वजह से ही हूँ, मेरे जीवन मे मेरे मित्रों ने मुझे बहुत सहयोग और मार्गदर्शन किया है ऐसे सभी मित्रों को कोटि कोटि प्रणाम, धन्यवाद*🙏 *मुझसे बड़ों को प्रणाम👏साथियों, और छोटे भाईयों को बहुत बहुत स्नेह और प्यार के साथ* *आपका अपना..* *श्याम सुन्दर शर्मा*🙏🚩

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

+2 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 6 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB