🍃🌹🌹🎉SUPRABHATAM 🎉🌹🌹🍃 🌻🌻🎉🎉🙏🙏🙏🙏🙏🙏🎉🎉🌻🌻 🍃🌹🌹🙏JAI SHREE RAM 🙏🌹🌹🍃 🌹🙏JAI MAHAVEER HANUMAN JI🙏🌹 💐🙏NAMASKAR VANDAN MITRON🙏💐

🍃🌹🌹🎉SUPRABHATAM 🎉🌹🌹🍃
🌻🌻🎉🎉🙏🙏🙏🙏🙏🙏🎉🎉🌻🌻

🍃🌹🌹🙏JAI SHREE RAM 🙏🌹🌹🍃
🌹🙏JAI MAHAVEER HANUMAN JI🙏🌹

💐🙏NAMASKAR VANDAN MITRON🙏💐

+313 प्रतिक्रिया 69 कॉमेंट्स • 143 शेयर

कामेंट्स

Shivsanker Shukla Apr 12, 2021
सादर सुप्रभात बहन जय श्री राम

Shivsanker Shukla Apr 12, 2021
हर हर महादेव बहन जय भोलेनाथ की

s.r.pareek rajasthan Apr 12, 2021
Good morning have a great day God bless you always be happy my dear sweet sister shree sada khush rahe ji har har mahadev ji 🙏🏻🙏🏻🍁🍁🍀⚘🌿🌿🌻🌻🌠🌠🌠

pawanthakur🙏🙏9716955827 Apr 12, 2021
🙏🌷जय श्रीराम 🌷🙏🚩🚩🚩🚩🚩🚩 🙏🙏शुभ प्रभात वंदन जी 🙏🙏

m..s.. Apr 12, 2021
हर हर महादेव गुड आफ्टरनून जी महादेव की कृपा सदैव बनी रहे जय भोलेनाथ🌹🙏

Kailash Chandra vyas Apr 12, 2021
आपके मोटो का सार सतमदले व कभी तकलीफ मे नहीं रहगा। शु.पभात जी।

Ansouya M 🍁 Apr 12, 2021
ॐ नमः शिवाय 🌹 🙏ॐ नमः शिवाय 🌹 🙏ॐ नमः शिवाय 🌹 🙏ॐ नमः शिवाय 🌹 🙏ॐ नमः शिवाय 🌹 🙏ॐ नमः शिवाय 🌹 🙏ॐ नमः शिवाय 🌹🙏 शुभ प्रभात प्यारी बहना जी 🌷🙏🌷🙏 भोले बाबा और माता पार्वती की कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बना रहे जी मेरी प्यारी बहना जी 🌷🙏🌷🙏 शुभ सोम्वती अमावास्या बहना जी 🌷🙏🌷🙏 जय भोले नाथ की 🙏🙏

Sunil Kumar Saini Apr 12, 2021
jai siya ram 🙏 🌹 🌹 Good afternoon. 🌹 Sister jii. 🌹 🌹 Prbhu राम ji ki kirpa aap or aapke privar par bni rahe. 🌹 Radhe radhe ji. 🌹 🌹

sanjay Sharma Apr 12, 2021
जय श्री राधे कृष्णा जय श्री सीताराम जय शिव शंकर ओम् नमः शिवाय हर हर महादेव शुभ दोपहरी जी मेरी बहन आप कैसे हैं बहन आप सदा खुश रहिए और जीवन में सदैव कामयाबी हासिल करते रहे ईश्वर मेरी बहन की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती रहें आपका हर दिन मंगलमय हो

indraj Apr 12, 2021
Om namo shivay har har Mahadev 🙏 Ram Ram ji sister ji 🙏 prbhu Shri Ram Ji or Shri Hanuman Ji ki Anant kirpa Aap or apke parivar par sadev bni rahe ji bhole baba ji aap or apke parivar ko hamesha swasth sukhi v Khush rakhe ji apka har pal Shubh or mangalmay ho ji 🙏🙏🌹🌹🏵️🏵️🌸🌸

🌷JK🌷 Apr 12, 2021
🙏🏼Har Har Mahadev🙏 Good evening ji 🌷🌷🙏🏼🌷🌷

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Apr 12, 2021
Good Evening My Sweet Sister ji 🙏🙏 Om Namah Shivay 🙏🙏🌹🌹🌷🌹🌹Har Har Mahadev 🙏🙏🌹🌹🌷🌹 Jay Bholenath 🙏🙏🌹🌹 Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Pal Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷🌷.

Harpal bhanot Apr 12, 2021
jai Shree radhe Krishna ji 🌷🌷🌷 Beautiful good Night ji Sweet dreams ji

kamala Maheshwari Apr 12, 2021
जयश्री कृष्णा जी जय श्रीबांके विहारीकी ऊनमशिवाय ऊनमशिवाय ऊनमशिवाय ❤️ जय श्री मांता रानीकीकानहाकीकृपासदैव बनायेरखे। राधे-राधे कहो हर हालमेखुशरहो ❤️🔥❤️🔥❤️🔥❤️🔥❤️🔥❤️🔥❤️

Ramesh Soni.33 Apr 12, 2021
जय श्री राम जय श्री राम 🌹🚩🌹ओम भगवते वासुदेवाय नमः🚩🚩🚩🌹🌹🙏🙏🌹🌹

+10 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 1 शेयर
🌷JK🌷 May 10, 2021

+115 प्रतिक्रिया 30 कॉमेंट्स • 9 शेयर
Ramesh Agrawal May 10, 2021

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 5 शेयर
Gopal Prasad May 9, 2021

#शास्त्रों_में_स्वच्छता_के_सूत्र हमारे पूर्वज अत्यंत दूरदर्शी थे। उन्होंने हजारों वर्षों पूर्व वेदों व पुराणों में महामारी की रोकथाम के लिए परिपूर्ण स्वच्छता रखने के लिए स्पष्ट निर्देश दे कर रखें हैं- 1. लवणं व्यञ्जनं चैव घृतं तैलं तथैव च । लेह्यं पेयं च विविधं हस्तदत्तं न भक्षयेत् ।। - धर्मसिन्धू ३पू. आह्निक नामक, घी, तेल, चावल, एवं अन्य खाद्य पदार्थ चम्मच से परोसना चाहिए हाथों से नही। 2. अनातुरः स्वानि खानि न स्पृशेदनिमित्ततः ।। - मनुस्मृति ४/१४४ अपने शरीर के अंगों जैसे आँख, नाक, कान आदि को बिना किसी कारण के छूना नही चाहिए। 3. अपमृज्यान्न च स्न्नातो गात्राण्यम्बरपाणिभिः ।। - मार्कण्डेय पुराण ३४/५२ एक बार पहने हुए वस्त्र धोने के बाद ही पहनना चाहिए। स्नान के बाद अपने शरीर को शीघ्र सुखाना चाहिए। 4. हस्तपादे मुखे चैव पञ्चाद्रे भोजनं चरेत् ।। पद्म०सृष्टि.५१/८८ नाप्रक्षालितपाणिपादो भुञ्जीत ।। - सुश्रुतसंहिता चिकित्सा २४/९८ अपने हाथ, मुहँ व पैर स्वच्छ करने के बाद ही भोजन करना चाहिए। 5. स्न्नानाचारविहीनस्य सर्वाः स्युः निष्फलाः क्रियाः ।। - वाघलस्मृति ६९ बिना स्नान व शुद्धि के यदि कोई कर्म किये जाते है तो वो निष्फल रहते हैं। 6. न धारयेत् परस्यैवं स्न्नानवस्त्रं कदाचन ।I - पद्म० सृष्टि.५१/८६ स्नान के बाद अपना शरीर पोंछने के लिए किसी अन्य द्वारा उपयोग किया गया वस्त्र(टॉवेल) उपयोग में नही लाना चाहिये। 7. अन्यदेव भवद्वासः शयनीये नरोत्तम । अन्यद् रथ्यासु देवानाम अर्चायाम् अन्यदेव हि ।। - महाभारत अनु १०४/८६ पूजन, शयन एवं घर के बाहर जाते समय अलग- अलग वस्त्रों का उपयोग करना चाहिए। 8. तथा न अन्यधृतं (वस्त्रं धार्यम् ।। - महाभारत अनु १०४/८६ दूसरे द्वारा पहने गए वस्त्रों को नही पहनना चाहिए। 9. न अप्रक्षालितं पूर्वधृतं वसनं बिभृयाद् ।। - विष्णुस्मृति ६४ एक बार पहने हुए वस्त्रों को स्वच्छ करने के बाद ही दूसरी बार पहनना चाहिए। 10. न आद्रं परिदधीत ।। - गोभिसगृह्यसूत्र ३/५/२४ गीले वस्त्र न पहनें। सनातन धर्म ग्रंथो के माध्यम से ये सभी सावधानियां समस्त भारतवासियों को हजारों वर्षों पूर्व से सिखाई जाती रही है। इस पद्धति से हमें अपनी व्यग्तिगत स्वच्छता को बनाये रखने के लिए सावधानियां बरतने के निर्देश तब दिए गए थे जब आज के जमाने के माइक्रोस्कोप नही थे। लेकिन हमारे पूर्वजों ने वैदिक ज्ञान का उपयोग कर धार्मिकता व सदाचरण का अभ्यास दैनिक जीवन में स्थापित किया था। आज भी ये सावधानियां अत्यन्त प्रासंगिक है। यदि हमें ये उपयोगी लगती हो तो इनका पालन कर सकते हैं। सनातन संस्कृति 🚩 यदि सही लगे, तो कृपया इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचायें। कापी करें। रामायण संदेश 🚩🚩🚩 रामायण संदेश 🚩🚩🚩 #जय_श्रीराम

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Ramesh Agrawal May 8, 2021

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 5 शेयर
Neeta Trivedi May 10, 2021

+390 प्रतिक्रिया 71 कॉमेंट्स • 827 शेयर
Mamta Chauhan May 10, 2021

+302 प्रतिक्रिया 59 कॉमेंट्स • 242 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB