charu sharma
charu sharma Apr 16, 2021

🙏🙏 शुभ प्रातः वंदन जी।🙏🙏 🙏🙏🙏जय माता दी।🙏🙏🙏 🌺🌺आप सभी को माता कूष्माण्डा और शुभ शुक्रवार की हार्दिक शुभकामनाएं 🌺🌺माता कूष्माण्डा की कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बनी रहे।🌺🌺 🌷🌷🌷जय माता दी।🌷🌷🌷 🥀🌷🥀🌷🌷🥀🌷🥀🌷🥀🌷🥀🌷🥀🌷 🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

🙏🙏 शुभ प्रातः वंदन जी।🙏🙏

🙏🙏🙏जय माता दी।🙏🙏🙏

🌺🌺आप सभी को माता कूष्माण्डा और शुभ शुक्रवार 

की हार्दिक शुभकामनाएं 🌺🌺माता कूष्माण्डा की 

कृपा आप और आपके परिवार पर हमेशा बनी रहे।🌺🌺

🌷🌷🌷जय माता दी।🌷🌷🌷

🥀🌷🥀🌷🌷🥀🌷🥀🌷🥀🌷🥀🌷🥀🌷
🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹

+372 प्रतिक्रिया 123 कॉमेंट्स • 180 शेयर

कामेंट्स

rajawat sanjay singh Apr 18, 2021
jai mata di 🌹🙏 jai mata di 🙏🌹 jai mata di 🙏🌹 jai mata di 🌹🙏 jai mata di 🌹🙏 jai mata di 🙏🌹 jai mata di 🌹🙏 jai mata di 🙏🌹

saumya sharma Apr 18, 2021
जय माता दी 🙏नवरात्रि का छटा स्वरूप माँ कात्यायिनी सभी के रोग, शोक, संताप तथा भय को नष्ट करें 🙏इसी कामना के साथ शुभ संध्या वंदन प्यारी बहना जी 🌹आप सपरिवार खुश रहें, हँसते मुस्कुराते रहें 😊🌹🙏

Harpal Harpal Apr 18, 2021
jai Shree radhe Krishna ji 🌷🌷🌷 Beautiful good Night ji Sweet dreams ji 🌻🙏🌻☕👈

Sushil Kumar Sharma 🙏🙏🌹🌹 Apr 18, 2021
Good Night My Sister ji 🙏🙏 Jay Mata di 🙏🙏🌹🌹🌹 Mata Rani 🙏🙏🌹🌹 Ki Kripa Dristi Aap Our Aapke Priwar Per Hamesha Sada Bhni Rahe ji 🙏 Aapka Har Pal Har Din Shub Mangalmay Ho ji 🙏🙏🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹.

BK WhatsApp STATUS Apr 19, 2021
जय माता कालरात्रि महागौरी नमो नमो नमः शुभ प्रभात स्नेह वंदन धन्यवाद 🌹🌹🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

🙏🐅SOM DUTT SHARMA🐅🙏 Apr 19, 2021
🥀🔱🕉️🔱🕉️🔱🕉️🔱 jai shiv Gori shankar bhagwan ji ki good morning 🌄 ji 🥀🔱🕉️🔱🕉️🔱🕉️

Nitin Sharma Apr 19, 2021
🙏🙏🙏सुप्रभात, आपका दिन मंगलमय और शानदार रहे।🙏🙏🙏

Harpal Harpal Apr 19, 2021
jai mata rani di 🌷🌷🌷 Beautiful good afternonn ji have a happy monday ji 🌻🙏🏻🌻☕👈

m..s.. Apr 19, 2021
*ऐ दोस्तों, जीने का तुम* *हमेशा यहीं अंदाज रखो,* *उम्र कोई भी हो,* *दिल जवां और चेहरे पर* *मुस्कान रखो.* *जिन्दगी को तन्हा मत* *रहने दो* *खुश रह के जिंदगी* *का मजा** *लीजिए* * गुड इवनिंग🌹🙏 *आपका दिन मंगलमय हो* 🙏🙏🙏🌹🌹🙏🙏🙏 🙏🌹 जय माता जी की जय भोलेनाथ🌹🙏

Poonam Aggarwal Apr 19, 2021
🕉️🔱🕉️🔱🕉️🔱🕉️ 🚩 जय मां कालरात्रि 🚩🙏 ॐ जयंती मंगला काली भद्रकाली कपालिनी, दुर्गा क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तुते 🚩🙏 या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः 🔱🚩 माता रानी सदैव आपकी रक्षा एवं मंगल करे 🌹🙏 आपका हर पल खुशियों से भरा रहे शुभ मंगलमय शुभकामनाओं सहित जय माता दी राधे राधे जी जय भोलेनाथ हर हर महादेव 🌹🙏 🕉️🔱🕉️🔱🕉️🔱🕉️

Harpal Harpal Apr 19, 2021
jai Shree radhe Krishna ji 🌷🌷🌷 Beautiful good Night ji Sweet dreams ji 🌻🙏🌻☕👈

🙏🐅SOM DUTT SHARMA🐅🙏 Apr 19, 2021
🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹🌷 jai mata di 🙏 very very sweet good night ji sweet dreams ji nice 👍🌹🌷🌹🌷🌹🌷🌹

charu sharma Apr 19, 2021
@varshalohar jai mata di 🙏🌹 shubh ratri vandan dear sister 🌹🙏 Dp pasand karne ke liye bahut bahut dhanyawad 🙏🌹🙏🌹

saumya sharma Apr 19, 2021
जय माता दी 🙏इस जगत में सभी जीवों को सामर्थ्य प्रदान करने वाली माँ कालरात्रि की कृपा आपके ऊपर बनी रहे 🙏इसी कामना के साथ शुभ रात्रि वंदन प्यारी बहना जी🌹आप सपरिवार खुश रहें, हँसते मुस्कुराते रहें 😊

Manju_chuahan_ May 10, 2021

+25 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 35 शेयर
Shashi Bhushan Singh May 10, 2021

+23 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर
💗 Geeta 💓 May 10, 2021

+36 प्रतिक्रिया 4 कॉमेंट्स • 37 शेयर

*मनुष्य का स्वभाव है “कमाना, संग्रह करना” फिर चाहे वो धन हो, नाते हो, संबंध हो या हो प्रसन्नता, परन्तु क्या आपने कभी सोचा है? नियति ने ये संग्रह करने की प्रकृति मनुष्य में क्यों डाली ?* *एक बीज से पौधा पनपता है, उसके भोजन से फल संग्रहित होता है क्यों? इसलिए ताकि वृक्ष उसे स्वयं खा सके? नहीं, बल्कि इसलिए ताकि वो भूखे जीवों में बाँट सके। अब आप पूछेंगे कि इसमें वृक्ष का क्या लाभ ?* *लाभ है, क्योंकि जो बांटता है वो मिटता नहीं। जो फल ये जीव खाते है वो उसके बीजों को वातावरण में बिखेर देते है जिससे जन्म लेते है नए वृक्ष, उसकी जाति, उसका गुण, उसकी मिठास अमर हो जाती है !* *इसलिए स्मरण रखियेगा अमीर होने के लिए एक-एक क्षण संग्रह करना पड़ता है।* *!!!...बुराई बड़ी मीठी है,* *उसकी चाहत कम नहीं होती* *सच्चाई बड़ी कड़वी है,* *सबको हजम नहीं होती...!!!* *जय माता दी*🙏🙏 *कुमार रौनक कश्यप*🙏🙏

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
Smt Neelam Sharma May 9, 2021

*माँ* आप सभी मातृ शक्तियों को मातृ दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं। नास्ति मातृसमा छाया, नास्ति मातृसमा गतिः। नास्ति मातृसमं त्राण, नास्ति मातृसमा प्रिया।। *अर्थात, माता के समान कोई छाया नहीं है, माता के समान कोई सहारा नहीं है। माता के समान कोई रक्षक नहीं है और माता के समान कोई प्रिय चीज नहीं है।* 'माँ' यह वो अलौकिक शब्द है, जिसके स्मरण मात्र से ही रोम−रोम पुलकित हो उठता है, हृदय में भावनाओं का ज्वार उमड़ पड़ता है और मनो मस्तिष्क स्मृतियों के अथाह समुद्र में डूब जाता है। 'माँ' वह अमोघ मंत्र है, जिसके उच्चारण मात्र से ही हर पीड़ा का नाश हो जाता है। 'माँ' की ममता और उसके आँचल की महिमा को शब्दों से व्यक्त नहीं किया जा सकता है, नौ महीने तक गर्भ में रखना, प्रसव पीड़ा झेलना, स्तनपान करवाना, रात−रात भर बच्चे के लिए जागना, खुद गीले में रहकर बच्चे को सूखे में रखना, मीठी−मीठी लोरियां सुनाना, ममता के आंचल में छुपाए रखना, तोतली जुबान में संवाद व अठखेलियां करना, पुलकित हो उठना, ऊंगली पकड़कर चलना सिखाना, प्यार से डांटना−फटकारना, रूठना−मनाना, दूध−दही−मक्खन का लाड़−लड़ाकर खिलाना−पिलाना, बच्चे के लिए अच्छे−अच्छे सपने बुनना, बच्चे की रक्षा के लिए बड़ी से बड़ी चुनौती का डटकर सामना करना और बड़े होने पर भी वही मासूमियत और कोमलता भरा व्यवहार.....ये सब ही तो हर 'माँ' की मूल पहचान है। इस सृष्टि के हर जीव और जन्तु की 'माँ' की यही मूल पहचान है। मां का अर्थ ही होता है पृथ्वी पर ईश्वर उपस्थिति वैसे तो मां के साथ हर दिन ही जन्नत सा महसूस होता है पर इसके लिए एक विशेष दिन बनाया गया है *मातृ दिवस* मातृ दिवस मनाने का प्रमुख उद्देश्य मां के प्रति सम्मान और प्रेम को प्रदर्शित करना है। *आइए जानते हैं मातृ दिवस सर्वप्रथम कहां से प्रारंभ हुआ* मातृ दिवस मनाने का शुरुआत सर्वप्रथम ग्रीस देश में हुई थी, जहां देवताओं की मां को पूजने का चलन शुरु हुआ था। इसके बाद इसे त्योहार की तरह मनाया जाने लगा। हर मां अपने बच्चों के प्रति जीवन भर समर्पित होती है। मां के त्याग की गहराई को मापना भी संभव नहीं है लेकिन उनके प्रति सम्मान और कृतज्ञता को प्रकट करना हमारा कर्तव्य है। *भारत में मातृ दिवस मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाता है। इस वर्ष भारत में मातृ दिवस 9 मई को मनाया जाएगा।* मैं अक्सर देखता हूं कि लोग अपनी माताजी को मातृ दिवस पर कोई ना कोई उपहार अवश्य ही भेंट करते हैं। मेरा व्यक्तिगत विचार है कि माँ को देने लायक कोई उपहार नहीं हो सकता है। फिर भी, अगर आप अपनी माँ को मातृ दिवस पर कोई उपहार देना ही चाहते हैं केवल मातृ दिवस पर ही नहीं उन्हें प्रतिदिन सम्मान देना प्रारंभ करें। उनकी इच्छाओं का सम्मान करें। हमारा प्रयास रहना चाहिए जैसे बचपन में हमारी माता हमारा केवल चेहरा देखकर हमारे मन के भाव समझ जाती थी हमें भी बड़े होकर उनके मन के भावों को समझना चाहिए। आप प्रतिदिन उन्हें प्यार से गले भी लगा लेंगे तो उनके लिए सबसे बड़ा सम्मान यही होगा। अपनी सामर्थ्य के अनुसार अपनी इच्छा अनुसार जो भी आप अपनी माता जी को देना चाहें उससे वह प्रसन्न हीं होंगी।🙏🏻🙏🏻 🙏🏻🙏🏻मां🙏🏻🙏🏻

+158 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 163 शेयर
Vinay Mishra May 8, 2021

+164 प्रतिक्रिया 28 कॉमेंट्स • 103 शेयर
💗 Geeta 💓 May 10, 2021

+21 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB