Pandit Raj
Pandit Raj Sep 5, 2017

साधु की सीख

साधु की सीख

साधु की सीख [ज़िन्दगी बदलने वाली हिंदी कहानियां]


किसी गाँव मे एक साधु रहा करता था ,वो जब भी नाचता तो बारिस होती थी . अतः गाव के लोगों को जब भी बारिस की जरूरत होती थी ,तो वे लोग साधु के पास जाते और उनसे अनुरोध करते की वे नाचे , और जब वो नाचने लगता तो बारिस ज़रूर होती.

कुछ दिनों बाद चार लड़के शहर से गाँव में घूमने आये, जब उन्हें यह बात मालूम हुई की किसी साधू के नाचने से बारिस होती है तो उन्हें यकीन नहीं हुआ .

शहरी पढाई लिखाई के घमंड में उन्होंने गाँव वालों को चुनौती दे दी कि हम भी नाचेंगे तो बारिस होगी और अगर हमारे नाचने से नहीं हुई तो उस साधु के नाचने से भी नहीं होगी.फिर क्या था अगले दिन सुबह-सुबह ही गाँव वाले उन लड़कों को लेकर साधु की कुटिया पर पहुंचे.

साधु को सारी बात बताई गयी , फिर लड़कों ने नाचना शुरू किया , आधे घंटे बीते और पहला लड़का थक कर बैठ गया पर बादल नहीं दिखे , कुछ देर में दूसरे ने भी यही किया और एक घंटा बीतते-बीतते बाकी दोनों लड़के भी थक कर बैठ गए, पर बारिश नहीं हुई.

अब साधु की बारी थी , उसने नाचना शुरू किया, एक घंटा बीता, बारिश नहीं हुई, साधु नाचता रहा …दो घंटा बीता बारिश नहीं हुई….पर साधु तो रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था ,धीरे-धीरे शाम ढलने लगी कि तभी बादलों की गड़गडाहत सुनाई दी और ज़ोरों की बारिश होने लगी . लड़के दंग रह गए
और तुरंत साधु से क्षमा मांगी और पूछा-

” बाबा भला ऐसा क्यों हुआ कि हमारे नाचने से बारिस नहीं हुई और आपके नाचने से हो गयी ?”

साधु ने उत्तर दिया – ” जब मैं नाचता हूँ तो दो बातों का ध्यान रखता हूँ , पहली बात मैं ये सोचता हूँ कि अगर मैं नाचूँगा तो बारिस को होना ही पड़ेगा और दूसरी ये कि मैं तब तक नाचूँगा जब तक कि बारिस न हो जाये .”
Friends सफलता पाने वालों में यही गुण विद्यमान होता है वो जिस चीज को करते हैं उसमे उन्हें सफल होने का पूरा यकीन होता है और वे तब तक उस चीज को करते हैं जब तक कि उसमे सफल ना हो जाएं. इसलिए यदि हमें सफलता हांसिल करनी है तो उस साधु की तरह ही अपने लक्ष्य को प्राप्त करना होगा.

Pranam Flower Like +122 प्रतिक्रिया 7 कॉमेंट्स • 283 शेयर

कामेंट्स

Khanuram Bargot Sep 5, 2017
गुरु ब्रम्हा गुरु विशणु गुरु महेश गुरु साक्षात तसमै श्री गुरु देवाय नमः सत गुरु देव की जय हो

Sumitra soni Oct 19, 2018

Flower Pranam Fruits +142 प्रतिक्रिया 101 कॉमेंट्स • 284 शेयर

रेणुका माता जी का यह मंदिर शिरडी से शनि शिंगणापुर के रास्ते मे स्थित है । यहां पर हमने अपने परिवार सहित माता के दर्शन लाभ लिए। प्रेम से बोलो जय माता दी

Pranam Lotus Fruits +86 प्रतिक्रिया 12 कॉमेंट्स • 22 शेयर
sonia rana HP Oct 19, 2018

Pranam Like Flower +28 प्रतिक्रिया 31 कॉमेंट्स • 8 शेयर
santram saini Oct 19, 2018

🙂🙂🙂🙂विजय दशमी🙂🙂🙂🙂
🌼🌼🌼🌼बुराई पर अच्छाई की जीत🌼🌼🌼🌼

Pranam Like Flower +42 प्रतिक्रिया 9 कॉमेंट्स • 77 शेयर
shivani Oct 19, 2018

वीडियो के लिय यहाँ क्लिक करे 👇👇
https://youtu.be/7TO9L7Bs9lU

Pranam Like Milk +28 प्रतिक्रिया 14 कॉमेंट्स • 121 शेयर

Pranam Jyot Like +57 प्रतिक्रिया 8 कॉमेंट्स • 89 शेयर

Pranam Like +3 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 49 शेयर

Pranam Jyot Flower +49 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 55 शेयर
S Pandey Oct 19, 2018

Like Flower Pranam +49 प्रतिक्रिया 21 कॉमेंट्स • 180 शेयर

Pranam Like Fruits +30 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 53 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB