Sunita Jain
Sunita Jain Jul 29, 2017

*Jai shri krishna ji* 💞 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 *एक बहुत पुरानी कहानी है* 💞 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 *एक र

#प्रभु-भक्ति
*Jai shri krishna ji*
💞 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃
*एक बहुत पुरानी कहानी है*
💞 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃 🍃
*एक राजा बहुत दिनो से पुत्र की प्राप्ती के लिये आशा लगाये बैठा था,पर पुत्र नही हुआ ।उसके सलाहकारों ने तांत्रिकों से सहयोग की बात बताई ।सुझाव मिला कि किसी बच्चे की बलि दे दी जाये तो पुत्र प्राप्ती हो जायेगी ।*
💝💝💝💝💝💝
*राजा ने राज्य में ये बात फैलाई कि जो अपना बच्चा देगा उसे बहुत सारे धन दिये जायेगे ।एक परिवार में कई बच्चें थे ,गरीबी भी थी,एक ऐसा बच्चा भी था जो ईश्वर पर आस्था रखता था तथा सन्तों के संग सत्संग में ज्यादा समय देता था ।*
⛳⛳⛳⛳⛳⛳⛳
*परिवार को लगा कि इसे राजा को दे दिया जाये क्योंकि ये कुछ काम भी नही करता है,हमारे किसी काम का भी नही ।इससे राजा प्रसन्न होकर बहुत सारा धन देगा ।ऐसा ही किया गया बच्चा राजा को दे दिया गया ।*
💧💧💧💧💧💧💧
*राजा के तात्रिकों द्वारा बच्चे की बलि की तैयारी हो गई,राजा को भी बुलाया गया ,बच्चे से पुछा गया कि तुम्हारी आखरी इच्छा क्या है ?क्योंकि अाज तुम्हारा जीवन का अन्तिम दिन है।*
💦💦💦💦💦💦
*बच्चे ने कहा कि ठीक है मेरे लिये रेत मगा दिया जाये,रेत अा गया ।बच्चे ने रेत से चार ढ़ेर* *बनाये ,एक-एक करके तीन रेत के ढ़ेर को तोड़ दिया और चौथे के सामने हाथ जोड़कर बैठ गया और कहा कि अब जो करना है करे ।*
📿📿📿📿📿📿
*ये सब देखकर तॉत्रिक डर गये बोले कि ये तुमने क्या किया है पहले बताओं ।राजा ने भी पुछा तो बच्चे ने कहा कि पहली ढ़ेरी मेरे माता पिता की है,मेरी रक्षा करना उनका कर्तब्य था पर उन्होने पैसे के लिये मुझे बेच दिया ।इसलिये मैने ये ढ़ेरी तोड़ी,दुसरा मेरे सगे-सम्बन्धियों का था,उन्होंने भी मेरे माता-पिता को नही समझाया तीसरा आपका है राजा क्योंकि राज्य के सभी इंसानों की रक्षा करना राजा का ही काम होता है पर राजा ही मेरी बलि देना चाह रहा है तो ये ढ़ेरी भी मैने तोड़ दी ।अब सिर्फ मेरे सत्गुरु और ईश्वर पर मुझे भरोसा है इसलिये ये एक ढ़ेरी मैने छोड़ दी है ।*
🙏 🙏 🙏 🙏 🙏 🙏
*राजा ने सोचा कि पता नही बच्चे की बलि से बाद भी पुत्र प्राप्त हो या न हो क्यों ना इस बच्चे को ही अपना पुत्र बना ले,इतना समझदार और ईश्वर भक्त बच्चा है ।इससे अच्छा बच्चा कहा मिलेगा ।*
🙏 🙏 🙏 🙏 🙏 🙏
*राजा ने उस बच्चे को अपना बेटा बना लिया और राजकुमार घोषित कर दिया*
💞 🍃 💞 🍃 💞
*कहानी का भाव कि जो ईश्वर और सत्गुरु पर यकीन रखते है,उनका बाल भी बाका नही होता है,हर मुश्किल में एक का ही जो आसरा लेते है उनका कही से किसी प्रकार का कोई अहित नही होता है* 💐
*आप सभी ठाकुर प्रेमियो को राधे राधे*

+148 प्रतिक्रिया 19 कॉमेंट्स • 70 शेयर

कामेंट्स

VIKRAM SINGH Jul 29, 2017
बहुत ही सुन्दर हुक्म जय श्री शायम प्रभु

Balnath Mhaise Jul 29, 2017
घट घट पिण्डे व्यापी नाथ सदा रहा सहाई।

ANIL SAHDEV Jul 29, 2017
बहुत ही अछे विचार हैं आप के ईशवर सदैव आप कि रक्षा कर ईश्वर यही प्रर्दशन हैं राधे राधे

ममता Feb 29, 2020

+9 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
ममता Feb 29, 2020

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
arun kumar singh Feb 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Sharmila Singh Feb 29, 2020

+32 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 5 शेयर

+7 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
KRISHNA BABU Feb 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Ratan Verma Feb 29, 2020

+10 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
SHANTI PATHAK Feb 29, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
ManojC Feb 29, 2020

+5 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB