prakash patel
prakash patel Feb 26, 2021

🌱🌱कच्ची हल्दी के 10 सेहतमंद गुण🌱🌱 https://www.facebook.com/groups/367351564605027/permalink/440510280622488/ 🏡हल्दी के खास गुणों से अमूमन हर कोई

🌱🌱कच्ची हल्दी के 10 सेहतमंद गुण🌱🌱
https://www.facebook.com/groups/367351564605027/permalink/440510280622488/

🏡हल्दी के खास गुणों से अमूमन हर कोई

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 1 शेयर
prakash patel Apr 17, 2021

🗣️ વારંવાર ગળામાં ખારાશ, દુખાવો, સોજો અને ઈન્ફેક્શન તરત જ મટાડી દેશે આ દેશી ઉપાય, નહીં જવું પડે ડોક્ટર પાસે 🗣️ હાલ કોરોનાએ ફરી હાહાકાર મચાવ્યો છે. એવામાં જો તમને શરદી, ખાંસી, ઈન્ફેક્શન કે ગળામાં પ્રોબ્લેમ થાય તો તરત જ આ ઘરેલૂ ઉપચાર કરો. કોરોનાકાળમાં બેસ્ટ છે આ ઉપચાર ગળામાં થતાં ઈન્ફેક્શનને મટાડી દેશે નાના મોટા સૌના કામ લાગશે આ ઉપાય ગળામાં ખારાશ અને અન્ય સમસ્યાઓનો સંબંધ આપણા શ્વસનતંત્રમાં કોઈ ગરબડ સાથે હોય છે. સિઝન બદલાતા આ સમસ્યા ખૂબ જ વધી જાય છે. જ્યારે ગળાના આંતરિક ભાગમાં ઈન્ફેક્શન થઈ જાય છે ત્યારે ગળામાં સોજો, ખાસી અને ખારાશ થવા લાગે છે. જેના કારણે શરદી અને ખાંસી પણ થઈ જાય છે. જેથી આ સમસ્યામાં ડોક્ટર પાસે જવા કરતાં ઘરે જ અહીં જણાવેલા ઉપાયો અજમાવો. તમને ચોક્કસ ફાયદો થશે અને આ સમસ્યા પણ દૂર થશે. 📌 ગરમ પાણીના કોગળા : ગળાની સમસ્યા થાય તો ડોક્ટર પર ગરમ પાણી અને મીઠાંના કોગળા કરવાની સલાહ આપે છે. તે ગળામાં ઈન્ફેક્શન, સોજો અને ખારાશને પણ દૂર કરે છે. જેનાથી ગળામાં દુખાવો પણ દૂર થાય છે. 📌 લીંબુ પાણી : 1 ગ્લાસ નવશેકા પાણીમાં 1 લીંબુનો રસ અને ચપટી મીઠું અને તમને જરૂર લાગે તો થોડી ખાંડ નાખીને પીવો. તેનાથી ગળાને ખારાશથી આરામ મળશે. 💎 खूबसूरत त्वचा, वजन कम करने के & हर गंभीर बिमारी के एक्यूप्रेशर पॉइंट की जानकारी के लिए 📞👉 +91 9974592157 🌀 MSG 👉 +91 7016609049 हमारा संपर्क करें। ✅और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/ 📌 લસણ ચાવીને ખાઓ : લસણ એક ઉત્તમ ઔષધી છે. તેમાં એલિસિન નામનું તત્વ હોય છે. જે ગળામાં ઈન્ફેક્શન પેદા કરતાં બેક્ટેરિયાને ખતમ કરી દે છે. જેથી રોજ સવારે અથવા જ્યારે ગળાની સમસ્યા બહુ વધી જાય ત્યારે 1 કળી લસણની ચાવીને ખાઈ લો. 📌 આદુ : પેટથી લઈને વાળ અને અન્ય રોગોમાં પણ બહુ જ ગુણકારી છે આદુ. આદુમાં રહેલું જિન્જેરોલ અને અન્ય તત્વો શિયાળામાં બહુ જ ફાયદો કરે છે. તેની તાસીર ગરમ હોય છે અને તેના એન્ટીબેક્ટેરિયલ તત્વ ગળામાં સોજાની સમસ્ય દૂર કરે છે. જેથી આદુનું સેવન કરો. તમે આદુની ચા બનાવીને પણ પી શકો છો. 📌 જેઠીમધ ખાઓ : જેઠીમધ શિયાળામાં થતી સમસ્યાઓ માટે રામબાણનું કામ કરે છે. સાથે જ તેના ઔષધીય ગુણ ઘણી સમસ્યાઓમાં લાભકારક છે. સિઝનલ ચેન્જિસમાં ગળામાં ઈન્ફેક્શન અને દુખાવો થાય તો જેઠીમધનું ચૂર્ણ મોંમાં રાખી ચૂસવાથી તરત આરામ મળે છે. 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/groups/367351564605027/ ☘️सभी जानकारी, घरेलू और आयुर्वेदिक चिकित्सा के इस इलाज केवल शैक्षिक हेतु के लिए है.. उपचार के लिए हमेशा चिकित्सक की सलाह ले। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट की जानकारी के लिए 📞👉 +91 9974592157 🌀 MSG 👉 +91 7016609049 हमारा संपर्क करें। और हर गंभीर बिमारी मिटाये।

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
prakash patel Apr 15, 2021

☘️ *_बद्ध पद्मासन : पद्मासन का एडवांस रूप खासतौर पर रीढ़हड्डी के लिए जानिए इस योग के कायदे फायदे_* बद्ध पद्मासन संस्कृत का एक शब्द हैं जिसमें ‘बद्ध’ का अर्थ ‘बाध्य या बंद’ हैं और ‘पद्मा’ का अर्थ ‘कमल का फूल’ और “आसन” जिसका अर्थ “मुद्रा” होता हैं। बद्ध पद्मासन को अंग्रेजी में “लॉक लोटस पोज़” के रूप में भी जाना जाता हैं, क्योंकि इस आसन में आपका शरीर एक बंद कमल के सामान हो जाता हैं। बद्ध पद्मासन एक ध्यान हैं जो के शारीरिक और मानसिक स्थिरता बनाये रखता हैं। बद्ध पद्मासन का उल्लेख घेरण्ड संहिता में किया गया हैं। यह एक श्वास तकनीक हैं, यह दिमाग और रीढ़ की हड्डी के के लिए बहुत ही अच्छा योग हैं। दुनिया में हर व्यक्ति स्वस्थ रहना चाहता हैं और वह इसके लिए बहुत से तरीके अपनाता हैं, हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए योग एक बहुत अच्छा माध्यम होता हैं। यह आज दुनिया भर में सबसे लोकप्रिय हैं और योग करना सभी के लिए बहुत ही आसन होता हैं। *बद्ध पद्मासन के लाभ* बद्ध पद्मासना हमारी मानसिक और शारीरिक स्थिरता को बढ़ता हैं जिससे दिमाग शांत रहता हैं और मानसिक शांति का अनुभव होता हैं। यह मुद्रा हमारे मस्तिष्क के ओर बहने वाली धारा का एक निश्चित प्रवाह बनाता हैं जो कि हमारे मन को शांत रखता हैं, बद्ध पद्मासन योग हमारे मन को ध्यान की उच्च अभ्यास करने के लिए फिट बनाती हैं। यह योग करने में आपकी रीढ़ की हड्डी पूरी तरह से सीधी रहती हैं जिसके कारण आपकी रीढ़ की हड्डी की कमजोरी दूर हो जाती हैं और वह मजबूत हो जाती हैं, इसके साथ यह कंधे, कलाई, पीठ, कोहनी, कूल्हों, घुटनों के दर्द को भी कम कर देता हैं। इसके अभ्यास में आपको दोनों पैर अपनी जांघ पर रख के पीछे हाथ से पकड़ना पड़ता हैं जिससे आपके घुटनों पर जोर पड़ता हैं बद्ध पद्मासन आपके पैरों को लचीला और मजबूत करता हैं। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/groups/367351564605027/ बिमारियों को ठीक करने के लिए बद्ध पद्मासन एक अच्छा योग हैं, इस योग के नियमित अभ्यास से दिल, पेट, फेफड़ों, यकृत आदि की बीमारियों में मदद मिलती हैं, इसके अलावा इस आसन से अपचन, पेट फूलना, सिर दर्द, माइग्रेन और गर्भाशय ग्रीवा स्पोंडिलिटिस की समस्याओं से राहत मिलती है। यह कब्ज में फायदेमंद है और पाचन तंत्र के कार्यों में सुधार करता है। *बद्ध पद्मासन क़ी विधि* सर्व प्रथम एक साफ शांत व समतल स्थान पर आसान बिछाकर आप पद्मासन या कमल की मुद्रा में बैठ जाएं, इसके लिए आप अपने दायें पैर को बाएं जांघ पर रखे और बाएं पैर को दाएं जांघ पर रखें, यह एक शास्त्रीय क्रॉस पैर वाली लोटस मुद्रा हैं। इसके बाद अपने दोनों हाथों को पीछे की ओर ले जाएं विपरीत स्थिति में अपने अंगूठों को पकड़े अर्थात अपने दाएं हाथ से बाएं पैर के अंगूठे को पकड़े और बाएं हाथ से दाएं पैर के अंगूठे को पकड़ें। अधिकांस लोगो को पहली बार इस मुद्रा को करने में पैर के अंगूठे को पकड़ने में कठिनाई होती हैं तो वो लोग एक महीने तक अर्द्ध पद्मासन बद्ध (Half Lotus) के साथ अभ्यास कर सकते हैं। बद्ध पद्मासन में अपने रीढ़ की हड्डी और सिर को एक सीधी रेखा में रखें। इसमें आप आँखों को बंद या खुली भी रख सकते हैं। आप इस मुद्रा में कम से कम 30 सेकंड या इससे अधिक जब तक आप रह सकते हैं रहने का प्रयास करें। अपनी साँस को सामान्य रखें। इसके बाद आप अपने हाथों को छोड़ के पैर के लॉक को खोल दें, और धीरे धीरे अपनी प्रारंभिक स्थिति में आ जाएं। इस प्रकार एक चक्र पूरा हुआ निरंतर अभ्यास से इसकी अवधि और चक्रों क़ी संख्या आप अपने शारीरिक क्षमतानुसार बढ़ा सकते है *बद्ध पद्मासन क़ी सावधानियां* अगर आपके पैर य़ा घुटनों में दर्द, चोट ,मोच य़ा सर्जरी हो तो इस मुद्रा का अभ्यास ना करें। 💎 खूबसूरत त्वचा, वजन कम करने के & हर गंभीर बिमारी के एक्यूप्रेशर पॉइंट की जानकारी के लिए 📞👉 +91 9974592157 🌀 MSG 👉 +91 7016609049 हमारा संपर्क करें। ✅और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/ तीव्र ज्वर ,पीठ दर्द और कन्धों के दर्द से परेशान लोग इसके अभ्यास से बचे गर्भवती महिलाओं को बद्ध पद्मासन नहीं करना चाहियें। सभी प्रकार के आसन का अभ्यास और प्रदर्शन योगा शिक्षक के सामने करें। ☘️सभी जानकारी, घरेलू और आयुर्वेदिक चिकित्सा के इस इलाज केवल शैक्षिक हेतु के लिए है.. उपचार के लिए हमेशा चिकित्सक की सलाह ले। 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट की जानकारी के लिए 📞👉 +91 9974592157 🌀 MSG 👉 +91 7016609049 हमारा संपर्क करें। और हर गंभीर बिमारी मिटाये।

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
prakash patel Apr 15, 2021

🏡 त्वचा के लिए & दूर करे खून की कमी.. गोमूत्र का सेवन... 💎 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट अपनाये और हर गंभीर बिमारी मिटाये। 🏡 त्वचा के लिए कई बार शरीर पर सफेद दाग या कुष्ठ हो जाता है। ऐसी स्थिति में, बावची/बाकुची को गोमूत्र में मिलाकर पीस लें और इससे सफेद दागों पर रात्रि के समय लगाएं और सुबह इस गोमुत्र से ही धोएं। ऐसा प्रतिदिन करने से कुछ दिनों में दाग बिल्कुल ठीक हो जाएँगे। अगर शरीर में अत्यधिक खुजली होती हो तो जीरा में गोमुत्र मिलाकर इसके लेप को शरीर पर लगाना चाहिए। इससे भी खाज-खुजली दूर होती है। गोमुत्र अन्य त्वचा की बीमारियों जैसे एक्जिमा, सोरायसिस आदि में भी फायदेमंद है। 🏡 दूर करे खून की कमी अगर गौमूत्र, त्रिफला और गाय का दूध एक साथ मिक्‍स कर के सेवन किया जाए तो शरीर में एनीमिया की कमी दूर होती है। साथ ही खून भी साफ होता है। https://play.google.com/store/apps/details?id=com.iskm.cowuricfayde ☘️सभी जानकारी, घरेलू और आयुर्वेदिक चिकित्सा के इस इलाज केवल शैक्षिक हेतु के लिए है.. उपचार के लिए हमेशा चिकित्सक की सलाह ले। https://www.facebook.com/એક્યુપ્રેશર-પ્લેનેટ-101139925132263/ 🌀 एक्यूप्रेशर 🔑ट्रीटमेंट की जानकारी के लिए 📞👉 +91 9974592157 🌀 MSG 👉 +91 7016609049 हमारा संपर्क करें। और हर गंभीर बिमारी मिटाये। https://www.facebook.com/groups/367351564605027/

0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
HEMANT JOSHI Apr 18, 2021

*_ 🚩🙏🏼🔱जय श्री महाकालेश्वर महादेव 🙏🏻 🔱*🌺🌿🌿🌿🌿 _*🔱~❗अंत ही आरंभ है❗~🔱*_ 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 *_ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम् ।_* *_उर्वारुकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय माऽमृतात् ||_*🌿🌿 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 *_🚩जय श्री🕉 महाकालेश्वर ज्योतिर्लिन्गं नमो नम:||_*🚩🌿🌿 🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺 *_संपूर्ण ब्रह्मांड के राजा भस्माङ्गधारी स्वयम्भू 🕉 श्री ॐ महाकालेश्वर महाकाल महादेव जी के आज के दिव्य भस्मा आरती श्रृंगार दर्शन_*🚩🌿 🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺 *_🕉श्री महाकालेश्वर ॐ ज्योतिर्लिंग मन्दिर उज्जैन मध्यप्रदेश से_*🚩🌿 🌺🌿🌺🌿🌺🌿🌺 *18/ अप्रैल /(रविवार)* 🌿 🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺 _🌿🕉🕉🕉🕉🌿 🌹🌹🌹🌹🌹 _*❗🚩❗🚩❗🚩❗🚩❗~श्री महाकाल प्रभु* ❗🚩❗🚩❗🚩🌹🌹🌹🌹 *🙏🏻शुभ शिवमय प्रभात वंदन 🙏*

+21 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 8 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB