शुभ प्रभात, जय श्रीराम, जय श्री हनुमान, श्री हनुमान जी की भजन वंदना और चालीसा दर्शन,

*शुभ शनिवार जी*
*जय श्री राम जी की*
*जय श्री हनुमान जी की*
@@@@@@@@
::श्री हनुमान चालीसा ::
@@@@@@@@
दोहा:-

श्रीगुरु चरन सरोज रज
निज मनु मुकुर सुधारि!
बरनउँ रघबर बिमल जसु
जो दायकु फ़ल चारि! !

बुद्धिहीन तनु जानिके,
सुमिरौं पवन-कुमार!
बल बुधि बिद्या देहु मोहिं,
हरहु कलेस विकार!!

चौपाई :-
जय हनुमान ज्ञान गुन सागर;
जय कपीस तिहुँ लोक उजागर!
राम दूत अतुलित बल धामा; अंजनी-पुत्र पवन सुत नामा!!

महाबीर बिक्रम बजरंगी;
कुमति निवार सुमति के संगी!
कंचन बरन बिराज सुबेसा; कानन कुंडक कुंचित केसा!!

हाथ बज्र औ ध्वजा बिराजै;
काँधे मूँज जनेऊ साजै!
संकर सुमन केसरीनंदन;
तेज प्रताप महा जग बंदन!!

बिद्यावान गुनी अति चातुर;
राम काज करिबे को आतुर!
प्रभु चरित्र सुनिबे को रसिया; राम लखन सीता मन बसिया!!

सूक्ष्म रुप धरि सियहिं दिखावा; बिकट रुप धरि लंक जरावा!
भीम रुप धरि असुर सँहारे; रामचन्द्र के काज सँवारे!!

लाय सजीवन लखन जियाये;
श्री रघुबीर हराषि उर लाये!
रघुपति कीन्ही बहुत बड़ाई;
तुम ममप्रिय भरतहि समभाई!!

सहस बदन तुम्हरो जस गावैं; अस कहि श्रीपति कंठ लगावैं!
सनकादिक ब्रह्मादि मुनीसा; नारद सारद सहित अहीसा!!

जम कुबेर दिगपाल जहाँ ते;
कबि कोबिद कहि सके कहाँ ते!
तुम उपकार सुग्रीवहिं कीन्हा;
राम मिलाय राज पद दीन्हा!!

तुम्हरो मंत्र बिभीषन माना; लंकेस्वर भए सब जग जाना!
जुग सहस्त्र जोजन पर भानू ; लील्यो ताहि मधुर फ़ल जानू!!

प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माहीं; जलधि लाँघि गये अचरज नाहीं!
दुर्गम काज जगत के जेते;
सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते!!

राम दुआरे तुम रखवारे;
होत न आज्ञा बिनु पैसरे!
सब सुख लहै तुम्हारी सरना;
तुम रच्छक काहू को डर ना!!

आपन तेज सम्हारो आपै;
तीनों लोक हाँक ते काँपै!
भूत पिचास निकट नहिं आवै; महाबीर जब नाम सुनावै!!

नासै रोग हरै सब पीरा;
जपत निरंतर हनुमत बीरा!
संकट से हनुमान छुड़ावै;
मन क्रम बचन ध्यान जो लावै!!

सब पर राम तपस्वी राजा;
तिन के काज सकल तुम साजा!
और मनोरथ जो कोई लावै;
सोइ अमित जीवन फ़ल पावै!!

चारों जुग प्रताप तुम्हारा;
हे प्रसिद्ध जगत उजियारा!
साधु संत के तुम रखवारे;
ससुर निकंदन राम दुलारे!!

अष्ट सिद्धि नव निधि के दाता; अस बर दीन जानकी माता!
राम रसायन तुम्हरे पासा;
सदा रहो रघुपति के पासा!!

तुम्हरे भजन राम को पावै;
जनम जनम के दुख बिसरावे!
अंत काल रघुबर पुर जाई;
जहाँ जन्म हरि भक्त कहाई!!

और देवता चित्त न धरई;
हनुमत से सब सुख करई!
संकट कटे मिटे सब पीरा;
जो सुमिरै हनुमंत बलबीरा!!

जै जै जै हनुमान गोसाई;
कृपा करहु गुरु देव की नाई!
जो सत बार पाठ कर कोई; छूटहि बंदि महा सुख होई!!

जो यह पढ़े हनुमान चालीसा; होय सिद्धि साखी गौरीसा!
तुलसीदास सदा हरि चेरा;
कीजै नाथ हृदय महँ डेरा!

दोहा :-

पवनतनय संकट हरन,
मंगल मूरति रुप!
राम लखन सीता सहित,
हृदय बसहु सुर भूप!!
@@@@@@@@@@
🔔🏆🙏🏆🔔

+175 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 392 शेयर

कामेंट्स

Amar happpy singh Apr 28, 2018
Kijiye darshan shri Ram ke pure ho jayenge Sab Kaam Raksha Karenge Ramji or Raksha Karenge shree Hanuman

Mangal Singh Chauhan Apr 28, 2018
@vonodkumar जय श्री राम जय श्री हनुमान शुभ शनिवार जी 🔔🌹🙏🌹🔔

Mangal Singh Chauhan Apr 28, 2018
@ramkumargujjar जय श्री राम जी की जय श्री हनुमान जी की शुभ शनिवार जी 🔔🌹🙏🌹🔔

Mangal Singh Chauhan Apr 28, 2018
@9141515143 शुभ शनिवार जी जय श्री राम जय श्री हनुमान 🔔🌹🙏🌹🔔

Mangal Singh Chauhan Apr 28, 2018
@snsharma5 जय श्री राम जय श्री हनुमान शुभ शनिवार जी 🔔🌹🙏🌹🔔

Mangal Singh Chauhan Apr 28, 2018
@amarhappysingh शुभ शनिवार जी जय श्री राम जी की जय श्री हनुमान जी की बहुत बहुत धन्यवाद जी 🔔🌹🌹🙏🌹🌹🔔

Sudarshan Bhardwaj May 10, 2020

+203 प्रतिक्रिया 23 कॉमेंट्स • 17 शेयर
kamlash May 10, 2020

+13 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 2 शेयर

🚩 *श्री गणेशाय नम:🚩* *🕉🌞गीताज्ञान🌞🕉* *जितात्मनः प्रशान्तस्य* *परमात्मा समाहितः।* *शीतोष्णसुखदुःखेषु* *तथा मानापमानयोः॥६-७॥* *👉सर्दी-गर्मी, सुख-दुःख और मान-अपमान में जिसने स्वयं को जीता हुआ है, ऐसा पुरुष परमात्मा में सम्यक्‌ प्रकार से स्थित है॥7॥* 📜 *दैनिक-पंचांग* 📜 ☀ *11 - May - 2020* ☀ *पंचांग-श्रीमाधोपुर* 🔅 तिथि चतुर्थी 06:37:11 🔅 नक्षत्र पूर्वाषाढ़ा 28:10:32 🔅 करण : बालव 06:37:11 कौलव 18:10:10 🔅 पक्ष कृष्ण 🔅 योग साघ्य 26:40:22 🔅 वार सोमवार ☀ सूर्य व चन्द्र से संबंधित गणनाएँ 🔅 सूर्योदय 05:41:03 🔅 चन्द्रोदय 23:19:59 🔅 चन्द्र राशि धनु 🔅 सूर्यास्त 19:07:11 🔅 चन्द्रास्त 09:00:00 🔅 ऋतु ग्रीष्म ☀ हिन्दू मास एवं वर्ष 🔅 शक सम्वत 1942 शार्वरी 🔅 कलि सम्वत 5122 🔅 दिन काल 13:26:08 🔅 विक्रम सम्वत 2077 🔅 मास अमांत वैशाख 🔅 मास पूर्णिमांत ज्येष्ठ ☀ शुभ और अशुभ समय ☀ शुभ समय 🔅 अभिजित 11:57:14 - 12:50:59 ☀ अशुभ समय 🔅 दुष्टमुहूर्त : 12:50:59 - 13:44:43 15:32:12 - 16:25:57 🔅 कंटक 08:22:16 - 09:16:01 🔅 यमघण्ट 11:57:14 - 12:50:59 🔅 राहु काल 07:21:49 - 09:02:35 🔅 कुलिक 15:32:12 - 16:25:57 🔅 कालवेला या अर्द्धयाम 10:09:45 - 11:03:30 🔅 यमगण्ड 10:43:21 - 12:24:06 🔅 गुलिक काल 14:04:52 - 15:45:38 ☀ दिशा शूल 🔅 दिशा शूल पूर्व ☀ चन्द्रबल और ताराबल ☀ ताराबल 🔅 अश्विनी, भरणी, कृत्तिका, रोहिणी, आर्द्रा, पुष्य, मघा, पूर्वा फाल्गुनी, उत्तरा फाल्गुनी, हस्त, स्वाति, अनुराधा, मूल, पूर्वाषाढ़ा, उत्तराषाढ़ा, श्रवण, शतभिषा, उत्तराभाद्रपद ☀ चन्द्रबल 🔅 मिथुन, कर्क, तुला, धनु, कुम्भ, मीन 📜 *चौघडिया-मुहूर्त* 📜 🔅अमृत 05:41:03 - 07:21:49 🔅काल 07:21:49 - 09:02:35 🔅शुभ 09:02:35 - 10:43:21 🔅रोग 10:43:21 - 12:24:06 🔅उद्वेग 12:24:06 - 14:04:52 🔅चल 14:04:52 - 15:45:38 🔅लाभ 15:45:38 - 17:26:24 🔅अमृत 17:26:24 - 19:07:11 🔅चल 19:07:11 - 20:26:20 🔅रोग 20:26:20 - 21:45:29 🔅काल 21:45:29 - 23:04:39 🔅लाभ 23:04:39 - 24:23:48 🔅उद्वेग 24:23:48 - 25:42:57 🔅शुभ 25:42:57 - 27:02:07 🔅अमृत 27:02:07 - 28:21:16 🔅चल 28:21:16 - 29:40:26 *🕉🌞लग्न-तालिका🌞🕉* सूर्योदय का समय: 05:41:03 सूर्योदय के समय लग्न मेष चर 25°43′13″ 🔅 मेष चर शुरू: 04:18 AM समाप्त: 05:56 AM 🔅 वृषभ स्थिर शुरू: 05:56 AM समाप्त: 07:52 AM 🔅 मिथुन द्विस्वाभाव शुरू: 07:52 AM समाप्त: 10:07 AM 🔅 कर्क चर शुरू: 10:07 AM समाप्त: 12:26 PM 🔅 सिंह स्थिर शुरू: 12:26 PM समाप्त: 02:43 PM 🔅 कन्या द्विस्वाभाव शुरू: 02:43 PM समाप्त: 04:58 PM 🔅 तुला चर शुरू: 04:58 PM समाप्त: 07:17 PM 🔅 वृश्चिक स्थिर शुरू: 07:17 PM समाप्त: 09:35 PM 🔅 धनु द्विस्वाभाव शुरू: 09:35 PM समाप्त: 11:40 PM 🔅 मकर चर शुरू: 11:40 PM समाप्त: अगले दिन 01:24 AM 🔅 कुम्भ स्थिर शुरू: अगले दिन 01:24 AM समाप्त: अगले दिन 02:52 AM 🔅 मीन द्विस्वाभाव शुरू: अगले दिन 02:52 AM समाप्त: अगले दिन 04:18 AM 1⃣1⃣🌷0⃣5⃣🌷2⃣0⃣ *🕉🌞जयश्रीराम🌞🕉* *ज्योतिषशास्त्री:-सुरेन्द्र कुमार चेजारा व्याख्याता राउमावि होल्याकाबास* *निवास:-श्री सीताराम बाबा बावड़ी आश्रम के पास वार्ड नं 8 श्रीमाधोपुर ☎9461044090* 🍏🌸🍏🌸🍏🌸🍏🌸

+13 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 54 शेयर

+20 प्रतिक्रिया 3 कॉमेंट्स • 39 शेयर
Lalan Singh May 9, 2020

+80 प्रतिक्रिया 17 कॉमेंट्स • 6 शेयर
R.G.P.Bhardwaj May 10, 2020

+14 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 31 शेयर
Umed Dadhich May 11, 2020

+13 प्रतिक्रिया 2 कॉमेंट्स • 11 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB