Rakesh Das
Rakesh Das Mar 11, 2017

जब एकमात्र भगवान "कबीर" जी की बात आती है, तो कुछ अल्पज्ञानी लोग उन्हें मात्र "कवि" के दायरे में ही ब

जब एकमात्र भगवान "कबीर" जी की बात आती है, तो कुछ अल्पज्ञानी लोग उन्हें मात्र "कवि" के दायरे में ही बांधने की नाकाम कोशिश करने लग जाते है,
वो शायद भूल जाते है की जिसे आप मात्र कवि कहने की भूल कर रहे हो,

वो मुगलो के एकतरफा राज में छाती ठोक कर बोलते थे-

"काकंर पाथर जोड़ के मस्जिद लेई बनाये, ता ते चढ़ मुल्ला भांग देवे, क्या बहरा हुआ खुदाए"!

काशी में ब्राह्मणों, पण्डो के घाट पर
वो फिर छाती ठोक के कहते थे-

"पाथर पूजे हरि मिले तो मै पुजू पहाड़, ता ते तो चक्की भली,पीस खाए संसार"!

फिर छाती ठोक के कह गए-

"12वे पंथ हम ही चले आवे, सब पंथ मिट एक ही पंथ चलावै,
कलयुग बीते 5505, तब ये मेरा वचन होगा साचा"!

ना तो आज तक कोई और कवि ऐसा हुआ जिसने सृष्टि रचना से लेकर पूर्ण परमात्मा तक की जानकारी के सारे भेद खोल दिए हो, और ना ही आज तक कोई ऐसा J.E. हुआ, जिसने संत रामपाल जी की तरह इन नकली गुरुओ की खाल उतारी हो,

कबीर परमात्मा को मात्र कवि समझकर एक बार गलती कर चूके है और वही गलती अब उनको Junior Engineer (J.E) समझकर कर रहे हो,

ना तो उस समय मेरे भगवान को कोई रोक पाया था और ना आज रोक पायेगा, और वो आज भी अपनी कही हुई बात पूरी करके दिखाएंगे!

ये संसार समझदा नांहि, कंहदा श्याम दुपहरे नूं |
गरीबदास ये वक़त जात है, रोवोगे इस पहरे नूं!

सत साहिब!

+1 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Mamta Chauhan May 29, 2020

+25 प्रतिक्रिया 5 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Rakesh. Kumar soni May 29, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
R.R.Sharma May 29, 2020

+1 प्रतिक्रिया 1 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Rakesh. Kumar soni May 29, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Rakesh. Kumar soni May 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Rakesh. Kumar soni May 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 2 शेयर
Praful Tank May 29, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 4 शेयर
Vandana Singh May 29, 2020

+5 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
rajeet sharma May 29, 2020

+4 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर
Rakesh. Kumar soni May 29, 2020

+3 प्रतिक्रिया 0 कॉमेंट्स • 0 शेयर

भारत का एकमात्र धार्मिक सोशल नेटवर्क

Rate mymandir on the Play Store
5000 से भी ज़्यादा 5 स्टार रेटिंग
डेली-दर्शन, भजन, धार्मिक फ़ोटो और वीडियो * अपने त्योहारों और मंदिरों की फ़ोटो शेयर करें * पसंद के पोस्ट ऑफ़्लाइन सेव करें
सिर्फ़ 4.5MB